युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

29 नवंबर 2014

सिरसा में बेची जानी थी दुर्गा मंदिर से चोरी ज्वेलरी, एक गिरफ्तार

-पुलिस ने आरोपी के हिसार स्थित घर से बरामद की टुकड़ों में बंटी ज्वेलरी
-डबवाली निवासी नमन् ने दिया था वारदात को अंजाम

डबवाली (लहू की लौ) दुर्गा मंदिर में चोरी किये स्वर्ण आभूषणों का सौदा करने के लिये सिरसा में घूम रहे एक युवक को सीआईए डबवाली ने दर दबोचा। पुलिस ने युवक की निशानदेही पर उसके हिसार स्थित घर से स्वर्ण आभूषण बरामद करने में सफलता अर्जित की है।
बुधवार शाम को सीआईए डबवाली को मुखबरी मिली कि सिरसा में देवीलाल पार्क के नजदीक एक युवक घूम रहा है। जो स्वर्ण आभूषणों को बेचने की बात कर रहा है। सूचना मिलते ही सीआईए प्रभारी राकेश कुमार अपने दलबल सहित मौका पर पहुंचे। युवक ने अपनी पहचान रवि उर्फ रविंद्र कुमार निवासी हिसार के रूप में करवाते हुये डबवाली के दुर्गा मंदिर में चोरी हुये स्वर्ण आभूषण उसके पास होने की बात कही। पुलिस ने वीरवार को उसे उपमंडल न्यायिक दंडाधिकारी परवेश सिंगला की अदालत में पेश किया। अदालत ने रवि को एक दिन के पुलिस रिमांड पर पुलिस को सौंप दिया। रिमांड अवधि के दौरान सीआईए डबवाली ने हिसार स्थित रवि के घर से छत्र, मुकुट बरामद कर लिये। जिसे रवि ने टुकड़ों में विभाजित कर रखा था।
रवि ने नहीं नमन् ने की चोरी
पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि दुर्गा मंदिर में चोरी उसने नहीं, बल्कि नमन् उर्फ काकू पुत्र मदन लाल ग्रोवर, नजदीक पुराना हनुमान मंदिर, डबवाली ने की थी। जोकि उसका मित्र है। चोरी का आधा सामान उसके पास है। पता चला है कि रवि पर पांच मामले चल रहे हैं। जिनमें से तीन चोरी, एक एक्साईज तथा एक लड़ाई-झगड़े का मामला शामिल है।
कौन है नमन्
चोरी के एक मामले में शहर थाना पुलिस ने नमन् को 2 जून 2014 को गिरफ्तार किया था। पुलिस के समक्ष नमन् ने 3 फरवरी 2014 को दुर्गा मंदिर में गल्ले से एक हजार रूपये की नकदी उड़ाने की पुष्टि की थी। अपना जुर्म कबूल करते हुये उसने 8 अप्रैल 2014 को शनि मंदिर में 10 हजार रूपये चोरी करने की बात स्वीकारी थी। इतना ही नहीं 31 मई 2014 को उसने दुर्गा मंदिर में दूसरी बार चोरी करके 35 हजार 961 रूपये की नकदी, 1500 रूपये के हार सहित दस हजार रूपये कीमत का डीवीआर चोरी करने का जुर्म कबूला था। 1 अक्तूबर 2014 को सिरसा स्थित यूनाईल कोर्ट ने नमन् के व्यवहार में सुधार की आशा करते हुये उसे सरकारी अस्पताल की चद्दर बिछाने के लिये कहा था। रिहा होने के दिन वह एक बार घर पर पहुंचा। उसके बाद घर से फरार था।
नमन् की गिरफ्तारी के प्रयास शुरू
चोरी की गुत्थी सुलझने के बाद शहर थाना पुलिस ने नमन् की तालाश में छापामारी शुरू कर दी है। शुक्रवार को पुलिस पकड़े गये आरोपी रवि को अदालत में पेश करेगी।

कोई टिप्पणी नहीं: