युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

29 सितंबर 2009

बाबा रामदेव ने योग को बना दिया है परचून की दुकान-कर्मवीर

डबवाली (लहू की लौ) पतंजलि योग फाउंडेशन, लोनावाल महाराष्ट्र तथा महर्षि पंतजलि अंतर्राष्ट्रीय योग विद्यापीठ के संस्थापक, योग प्रचार में बाबा रामदेव के सबसे पुराने साथी स्वामी कर्मवीर ने कहा कि परचून की दुकान चलाना संयासियों का काम नहीं है। योग को योग के हिसाब से ही चलाया जाना चाहिए अन्यथा लोगों का योग और सन्यासियों से विश्वास उठ जाएगा। वे सोमवार को हिसार से फाजिल्कां जाते समय कुछ समय के लिए पत्रकारों से डबवाली में बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि रामदेव योग के मिशन को लेकर चले थे और यह मिशन बहुत अच्छा था। जिससे लोगों को लाभ भी हुआ। लेकिन अब बाबा रामदेव अपने उद्देश्य से भटक गये हैं। उन्होंने तो बिस्कुट और आटा तक बेचना शुरू करके योग को परचून की दुकान बना दी है और इस व्यापार में सरकारी नियमों की भी धज्जियां उडाई जा रही हैं, जोकि राष्ट्र के हित में नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि उद्देश्य से भटकते हुए बाबा रामदेव ने पैप्सी और कोका कोला के खिलाफ भी बोलना बन्द कर दिया है। उन्होंने कहा कि एक साधु-सन्यासी को सुरक्षा के लिए इतने कमांडों की जरूरत नहीं होती और उन्होंने सलाह दी कि बाबा रामदेव को स्वामी दयानन्द की तरह निर्भय होकर घूमना चाहिए और सत्य भाषण निर्भय होकर करते रहना चाहिए। बल्कि बाबा रामदेव को प्रयोग करो और फेंक दो की नीति नहीं करनी चाहिए और झूठे भाषण से बचना चाहिए। उन्होंने बीमारियों का कारण बढ़ते हुए प्रदूषण को बताया और कहा कि सरकार और लोगों को मिलकर प्रदूषण के खिलाफ अभियान चलाना चाहिए। जो उद्योग प्रदूषण फैलाते हैं, उन पर नियंत्रण स्थापित करना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि योग केवल रोग ही नहीं भगाता बल्कि जीवन में संयम पैदा करके जनसंख्या नियंत्रण में कारगर साबित हो सकता है। उन्होंने यह भी कहा कि भारतीय योग और संस्कृति अपनाने से नैतिकता जीवन में आती है और इसका अनुसरण करने से भ्रष्टाचार से स्वयं ही मुक्ति मिल सकती है।

अपनी सरकार बना लो, बाकी काम मेरे जिम्मे छोड़ दो-अजय चौटाला

डबवाली (लहू की लौ) एक बार आप राजनैतिक ताकत देकर अपनी सरकार बना लो, बाकी काम मेरे जिम्मे छोड़ दो, कोई कोर कसर नहीं रहने दूंगा। आपके हक में जो भी होगा, वही कानून बना कर नीचे लिख दिया जाएगा....ओमप्रकाश चौटाला। उक्त शब्द डबवाली से इनेलो प्रत्याशी अजय सिंह चौटाला ने कहे। वे आज डबवाली हलके के गांवों में जनसभाओं को संबोधित कर रहे थे। गांवों में पंहुचने पर अजय सिंह चौटाला का जोरदार स्वागत किया और अपना समर्थन व्यक्त किया। पार्टी महासचिव ने आज मु़ख्यमंत्री के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि इनेलो कहने में नहीं काम करने में विश्वास करती है। प्रदेश का राजनीतिक इतिहास इस बात का गवाह है कि इनेलो ने जो बात कही है, उसे पूरा करके दिखया है। उन्होंने कहा कि चौधरी देवीलाल ने 1987 में कर्ज माफ करने व वृद्धों को पेंशन देने का वायदा किया था तो कांग्रेसी नेताओं ने इसे वोट लेने का स्टंट बताते हुए कहा था ऐसे कानून तो बन ही सकता पर चौधरी देवीलाल ने सत्ता संभालते ही कर्ज माफी व वृद्धावस्था पेंशन योजना लागू कर कांग्रेसियों की बोलती बंद कर दी थी। आज ऐसी योजनाओं का अनुसरण पूरे देश में किया जा रहा है। अब भी हम वायदा करते हैं जो कहा है सरकार आने पर उसे पहली कलम से पूरा करके दिखाएंगे। उन्होंने कहा कि इस बार भी पार्टी को बहुमत मिलने के बाद हम विधानसभा में कानून बनाने के लिए जाएंगे न कि भेड़ चराने। जो कहा है उसे करके दिखाएंगे। उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर पलटवार करते हुए कहा कि घोषणाएं करने में मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा का विश्वास है, इनेलो का नहीं। इनेलो को जनहित योजनाएं लागू करने में विश्वास रखती है। इनेलो प्रत्याशी अजय चौटाला ने कहा कि यदि आप चाहते हैं कि हर वर्ग का एक लाख रूपये तक का कर्ज माफ हो,सभी वृद्धों को समान रूप से 1200 रूपये पेंशन व तीन हजार रूपये बेरोजगारी भत्ता मिले। हर घर में निशुल्क गैस कनेक् शन चूल्हे समेत व हर घर में स्वच्छ पेयजल हर घर में पहुंचे और हर गरीब व पिछड़े वर्ग के बीपीएल कार्ड बनें और स्कूल के बाद उनकी बेटियां स्कूटी पर मोपेड जाएं तो, 13 अक्टूबर को सभी एक झंडे के नीचे आज कर चश्मे का बटन दबा देना। सारी समस्याओं का समाधान हो जाएगा। आज अजय सिंह चौटाला ने गांव किंगरे, मिलकपुरा, ओंढो, चोरमार, सालमखेड़ा, नूईयांवाली, घूंघावाली आदि गांवों का दौरा किया। दौरे में उनके साथ निवर्तमान विधायक डा. सीताराम, राधेराम गोदारा, सरदार जगरूप सिंह, बलराम जाखड़, महेंद्र डूडी, भरत सिंह ओंढा, सुखमिंदर सिंह, सीतादेवी सहित अन्य इनेलो नेता उपस्थित थे।

इनेलो की सरकार आने पर डबवाली में बनाएंगे पोलटेक्निकल कॉलेज-मीनू

डबवाली (लहू की लौ) चौ. देवीलाल विद्यापीठ के वाईस चेयरमैन मनिन्द्र पाल सिंह मीनू फताकेरा ने कहा कि डबवाली में पोलटेक्निक कॉलेज की जरूरत है ताकि इस क्षेत्र के बच्चे रोजगारोन्मुखी शिक्षा प्राप्त करके स्वयं के कार्य चला सकें। वे इनेलो द्वारा वार्ड नं. 3, 4 और 5 के युवाओं की डॉ. गिरधारी लाल गर्ग के क्लीनिक पर आयोजित एक सांझी बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अजय सिंह चौटाला को मतदान करने का मतलब मुख्यमंत्री को मत देना है। चौटाला के विधायक बनने और इनेलो की सरकार बनने पर वह डबवाली में पोलटेक्निक कॉलेज खोले जाने की उनकी मांग को प्राथमिक आधार पर पूरा करवायेंगे। उन्होंने युवाओं को आश्वस्त करते हुए क हा कि इनेलो की सरकार में प्रत्येक युवा को फ्री शिक्षा दी जायेगी। इस मौके पर इनेलो नेता रणवीर सिंह राणा ने कहा कि छात्रों की सुविधा के लिए विशेष आर्थिक जोन बना जायेगा। जिसमें छात्रों को शिक्षा से लेकर रोजगार तक की सुविधा मिलेगी। उन्होंने कहा कि गौ धन की रक्षा के लिए तत्कालीन चौटाला सरकार ने 15 रूपये प्रति गौ धन के हिसाब से गौशालाओं को देने की घोषणा की थी और इसे अदालत ने भी मंजूरी दे दी थी लेकिन हुड्डा सरकार ने यह कह कर इसे देने से इंकार कर दिया कि सरकार इतना आर्थिक बोझ सहन नहीं कर सकती। इस मौके पर मार्किट कमेटी बठिंडा के चेयरमैन गुरतेग सिंह गीकू, पूर्व विधायक डॉ. सीता राम, बिल्लू जुनेजा, बलदेव भीटीवाला, सुभाष गुप्ता गोरीवाला, सुरेन्द्र बर्तन, प्रिंस जुनेजा, ऋषि गुप्ता, मल्ली ग्रोवर, आकाशदीप, मि_ू, दीपक ग्रोवर, लवली धमीजा, विक्की सिंगला, विनोद नारंग, राकेश बांसल, काका मोंगा उपस्थित थे।

हुड्डा के राज में पैसे दो काम करवाओ-अभय

सिरसा : वरिष्ठ इनेलो नेता खेल रतन चौधरी अभय सिंह चौटाला ने गांव बगूवाली में सरपंच बुधसिंह के निवास पर एक प्रैस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस के साढ़े चार साल के शासनकाल से प्रदेश की जनता कांग्रेस सरकार से परेशान है। न बिजली, न पानी, न कानून व्यवस्था यदि कोई अपनी शिकायत लेकर थाने में जाते है तो थानेदार भी पैसे मांगते है कि पैसे दो और अपना काम करवाओ। गांव बग्गूवाली निवासी मिट्ठू सिंह पुत्र बोगा सिंह को कोर्ट ने रास्ता दे रखा है इस बात को लेकर जब मिट्ठू सिंह थाने में गए तो थानेदार ने कहा कि आप पैसे लाओ तो आपको रास्ता मिलेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश का मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा दावा करते नहीं थकते कि हरियाणा के अंदर भयमुक्त भ्रष्टाचार मुक्त सरकार है इससे बड़ा उदाहरण क्या है इसकी पोल खोलते हुए उन्होंने कोर्ट के आदेश पत्रकारों को दिखाया। लोग 13 अक्तूबर का बेस्रबी से इंतजार कर रहे हैं। इस भ्रष्ट सरकार से पीछा छुड़ाया जाए। चौधरी अभय सिंह चौटाला ने कहा कि लोगों की इच्छा तो यह है कि नतीजा दिवाली से पहले आए ताकि जीत की खुशी का जश्र दिवाली से पहले ही बनाया जाए। आज महंगाई की मार से आम आदमी दुखी है जबकि केंद्रीय कृषिमंत्री कहता है कि चावल और महंगे होंगे, कभी कहता है कि चीनी महंगी होगी। आज किसान का इतना बुरा हाल है कि उसे फसल के लागत के भाव भी नहीं मिलते। उन्होंने कहा कि आज गेहूं का भाव सरकारी तौर पर 1080 रूपए है जबकि खर्चों 1150 रूपए आता है और विदेशों से सरकार 2200 रूपए क्ंिवटल के भाव से गेहंू आयात करती है। कांगे्रस की हमेशा यह नीति रही है कि लालच लोभ देकर वोट हासिल करना सत्ता में आने के बाद वो बड़े घरानों के साथ पांच वर्ष तक जेबें भरने का काम करती है। एक प्रश्र के उत्तर में चौधरी अभय सिंह चौटाला ने कहा कि यदि कांग्रेस सारी इक_ी हो जाए तब भी इनेलो अपने बलबूते पर सरकार बनाएगी। एक अन्य प्रश्र के उत्तर में उन्होंने कहा कि इनेलो फतेहबाद व सिरसा की सभी सीटों पर काबिज होगी और प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बनाएगी। इस अवसर पर कालांवाली से अकालीदल बादल प्रत्याशी चरणजीत सिंह, विनोद कम्बोज, हरदयाल सिंह गदराना, जिला पार्षद सदस्य बुद्ध सिंह, सुभाष कम्बोज, भोला सिंह सरपंच, कुलवंत सिंह पूर्व सरपंच उपस्थित थे।

मतदान अधिकारियों को ईवीएम का प्रशिक्षण दिया जाएगा: ख्यालिया

डबवाली (लहू की लौ) विधानसभा चुनाव के मद्देनजर नियुक्त किए नोडल व मतदान अधिकारियों को ईवीएम का प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिला सिरसा के अंतर्गत आने वाले पांच विधानसभा क्षेत्रों में चुनाव संबंधित अधिकारियों को प्रशिक्षण देने के लिए विभिन्न स्थानों पर रिहर्सल कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी युद्धवीर सिंह ख्यालिया ने बताया कि सभी अधिकारियों को पांच अक्तूबर को चौ.दलबीर सिंह इंडोर स्टेडियम सिरसा में पायलट रिहर्सल करवाई जाएगी। उन्होंने बताया कि द्वितीय रिहर्सल 9 अक्तूबर अलग-अलग स्थानों पर करवाई जाएगी। उन्होंने बताया कि रानियां विधानसभा क्षेत्र के अधिकारियों की रिहर्सल सुबह 10 बजे ओर ऐलनाबाद विधानसभा क्षेत्र के अधिकारियों की रिहर्सल दोपहर 2 बजे चौ.दलबीर सिंह इंडोर स्टेडियम सिरसा में करवाई जाएगी। उन्होंने बताया कि 9 अक्तूबर को सिरसा व कालांवाली विधानसभा क्षेत्र के अधिकारियों की रिहर्सल सीएमके गल्र्ज कालेज के आडिटोरियम हाल में सुबह 10 बजे और दोपहर 2 बजे करवाई जाएगी और डबवाली विधानसभा क्षेत्र के अधिकारियेां की रिहर्सल महाराणा प्रताप महिला कालेज डबवाली में सुबह 10 बजे करवाई जाएगी। उन्होंने बताया कि ईवीएम से संबंधित अंतिम रिहर्सल 12 अक्तूबर को प्रात: 9 बजे अलग-अलग स्थानों पर करवाई जाएगी। कालांवाली विधानसभा क्षेत्र के अधिकारियों की रिहर्सल पंचायत भवन सिरसा डबवाली विधानसभा क्षेत्र के अधिकारियों की रिहर्सल महाराणा प्रताप महिला कालेज में, रानियां विधानसभा क्षेत्र के अधिकारियों की अंतिम रिहर्सल राजकीय बहुतकनीकी कालेज (लड़के) सिरसा, सिरसा विधानसभा क्षेत्र के अधिकारियों की रिहर्सल सीएमके गल्र्ज कालेज आडिटोरियम हाल और ऐलनाबाद विधानसभा क्षेत्र के अधिकारियों की रिहर्सल उपमंडल अधिकारी ऐलनाबाद के कार्यालय में करवाई जाएगी।

बुर्जुग दे रहे हैं दिग्विजय को विजय भव का आशीर्वाद

डबवाली (लहू की लौ) विधानसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहे हैं वैसे-वैसे लोगों में जागरूकता भी बढ़ती जा रही है और चुनावों के प्रति दिलचस्पी भी। हल्का डबवाली से इनेलो के प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लड़ रहे अजय सिंह चौटाला के बेटे दिग्विजय सिंह अपने पिता के लिए दिन-रात एक करके डबवाली नगर में डोर-टू-डोर जा रहे हैं। उनके स्वभाव से केवल पार्टी के कार्यकर्ता ही नहीं बल्कि आम मतदाता भी अभिभूत है। वे जब भी किसी मतदाता के पास मत देने का अनुरोध करने के लिए जाते हैं तो हमउम्र को हाथ जोड़कर मतदान की अपील करते हैं और जब किसी बुजुर्ग के सामने जाते हैं तो सीधे ही उसके पांवों को पकड़ लेते हैं और विजयीभव का आशीर्वाद देने के बाद जैसे ही बुजुर्ग उसके गले में हार डालने का प्रयास करते हैं तो उसे अपनी मधुर भाषा में सिर्फ इतना ही कहते हैं कि आपने आशीर्वाद दे दिया यही हमारे लिए हार और धन है। दिग्विजय के इस स्वभाव का डबवाली के उन लोगों पर गहरा असर दिखाई देने लगा है जिनमें कल तक चौटाला परिवार के प्रति कई प्रकार की भ्रांतिया फैलाकर उन्हें दिग्भ्रमित कर दिया गया था। दिग्विजय के चुनाव प्रचार से लोग इनेलो प्रत्याशी अजय सिंह चौटाला की ओर आकर्षित होने लगे हैं। वैसे भी आम मतदाता अजय के स्वभाव से पहले से ही परिचित हैं और वे इस हल्के में उन्हें अच्छे प्रत्याशी के रूप में मानकर चल रहे हैं।