युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

08 मार्च 2010

अग्निकांड पीडि़त 10 मार्च को डीएवी के खिलाफ निकालेंगे कैंडल मार्च

डबवाली (लहू की लौ) अग्निकांड पीडि़त एसोसिएशन की एक आवश्यक बैठक अग्निकांड स्मारक स्थल पर रविवार शाम को विनोद बांसल की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। जिसमें पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट द्वारा अग्निकांड पीडि़तों के पक्ष में सुनाये गये मुआवजा के विरोध में डीएवी द्वारा उच्चतम न्यायालय में जाने पर कड़ी आपत्ति जताई गई। यह जानकारी देते हुए विनोद बांसल ने बताया कि बैठक में निर्णय लिया गया कि डीएवी की इस नीति के खिलाफ अग्निकांड पीडि़त 10 मार्च बुधवार को शाम 5 बजे कैंडल मार्च का आयोजन करेंगे। यह मार्च अग्रवाल धर्मशाला से शुरू होकर मुख्य बाजार में से होता हुआ अग्निकांड स्मारक स्थल तक पहुंचेगा।
इस मौके पर अग्निकांड पीडि़तों में से डॉ. अरूण बांसल, राजीव वढ़ेरा, सुनील सेठी, शमशेर सिंह, सुच्चा सिंह आदि उपस्थित थे।

अग्निकांड पीडि़तों के लिए मुआवजा राशि घोषित करना इनेलो के संघर्ष की जीत

डबवाली (लहू की लौ) प्रदेश सरकार द्वारा अग्निकांड पीडि़तों के लिए मुआवजा राशि जारी करने के कदम को इनेलो के संघर्ष की जीत बताते हुए इनेलो नेताओं ने विधायक अजय सिंह चौटाला का आभार जताया है।

पूर्व विधायक डॉ. सीता राम, रणवीर सिंंह राणा जिला प्रधान महासचिव इनेलो तथा पूर्व अध्यक्ष नगर सुधार मंडल डबवाली, दर्शन मोंगा, सतपाल महाश्य, पार्षद सुखमन्दर सिंह सरां, हरबन्स लाल भीटीवाला, मदन लाल गुप्ता, सुभाष मित्तल पार्षद, डॉ. ओमप्रकाश सचदेवा, मल्ली ग्रोवर, ओमकार गोयल, मलकीत सिंह सूच, सुरेन्द्र छिन्दा पार्षद, बिल्लू जुनेजा, नसीब गार्गी, अशोक सिंगला, अजनीश कैनेडी ने संयुक्त रूप से कहा कि लगभग तीन माह पूर्व उच्च न्यायालय ने अपने महत्वपूर्ण फैसले में प्रदेश सरकार को निर्देश जारी किये थे कि अग्निकांड पीडि़तों को तयशुदा मुआवजा राशि प्रदान करे। परन्तु प्रदेश सरकार ने जनभावनाओं की अनदेखी करते हुए उच्चतम न्यायालय में जाने की तैयारी करके अग्निकांड पीडि़तों के जख्मों को कुरेदने का काम किया। इस बारे में जब स्थानीय विधायक अजय सिंंह चौटाला को जानकारी मिली तो उन्होंने लोकतांत्रिक प्रक्रिया अपनाते हुए अग्निकांड पीडि़तों के लिए संघर्ष का बिगुल बजा दिया।
इनेलो नेताओं ने आगे कहा कि अजय सिंह चौटाला ने कार्यकर्ताओं के साथ अग्रिकांड पीडि़तों के लिए धरना दिया और उपमण्डलाधीश की मार्फत राज्यपाल को एक ज्ञापन भेजकर सरकार को उच्चतम न्यायालय में जाने से रोकने का आग्रह किया था। परिणाम स्वरूप प्रदेश सरकार को उच्चतम न्यायालय में अपील करने की हठधर्मिता छोड़कर मुआवजा राशि जारी करने के लिए विवश होना पड़ा। नेताओं ने कहा कि अगर कांग्रेस सरकार ने मानवीय भावनाओं को समझती तो उच्च न्यायालय का फैसला होते ही राशि जारी कर देती। उन्होंने मांग की कि प्रदेश कांग्रेस सरकार को अग्निकांड पीडि़तों को अन्य प्रमुख मांगों जैसे सरकारी नौकरी प्रदान करना, बर्न यूनिट स्थापित करने जैसी मांगों को तुरन्त प्रभाव से स्वीकार कर लेना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि अजय चौटाला ने डबवाली अग्निकांड के शहीदों की पुण्यतिथि पर पांच पीडि़त परिवारों को नौकरी देने की घोषणा करके तीन को तो नौकरी दे दी है।

जरूरतमंद को गरीब कहना गलत-काण्डा

डबवाली (लहू की लौ) श्री सालासर पैदल यात्रा संघ ने रविवार को यहां के कम्युनिटी हाल में 51 कन्याओं की सामूहिक शादियों का 10वां आयोजन मुख्यातिथि गोबिन्द काण्डा मुख्य सेवक तारा बाबा कुटिया, सिरसा के सानिध्य में सम्पन्न किया। जिसमें 15 शादियां हिन्दू रीति-रिवाज से और 36 शादियां आनन्द कारज से करवाई गई।

सालासर पैदल यात्रा संघ ने करवाई 51 कन्याओं की सामूहिक शादियां
इस मौके पर नवविवाहित जोड़ों को आशीर्वाद देते हुए गोबिन्द काण्डा ने कहा कि जो लड़कियां सामूहिक आयोजन के दौरान विवाह बंधन में बंधी है, वे गरीब नहीं, जरूरतमंद जरूर हैं। उन्होंने यह भी कहा कि दुनियां में कोई गरीब नहीं है और किसी को भी गरीब कहकर अपमानित नहीं किया जाना चाहिए। काण्डा ने इस मौके पर सामाजिक संस्थाओं से भ्रूण हत्या के खिलाफ भी आवाज बुलन्द करने का आह्वान किया।
उन्होंने कहा कि उनके तथा उनके भाई गोपाल काण्डा के दरवाजे डबवाली के लोगों के लिए हमेशा से खुले हैं। वे कोई भी अपनी समस्या उनके समक्ष रखकर उसका समाधान पा सकते हैं।
संघ के प्रधान मामराज शर्मा ने बताया कि 10 वर्षों में संघ 448 सामूहिक शादियां करवा चुका है। उन्होंने यह भी बताया कि इस मौके पर श्री राम शरणम् डबवाली ने भी विशेष सहयोग दिया।
इस अवसर पर स्वामी शंकरानन्द, लाल जी महर्षि, एसडीएम मुनीश नागपाल, विकास गर्ग दिल्ली, भागीरथ गुप्ता एडवोकेट सिरसा ने भी अपने विचार रखे। इस मौके पर नगरपालिका अध्यक्षा सिम्पा
जैन, डॉ. प्रेमकान्ता आहलुवालिया, रामलाल बागड़ी, दरिया सिंह नामधारी, राजेन्द्र जैन, राकेश बांसल जेई, बख्तावर मल दर्दी, मुरारी लाल शर्मा, राकेश वधवा, मोहन लाल कौशिक, बलवन्त तायल, रमेश झालरिया, रमेश काला ठेकेदार, राजेन्द्र कुमार बिट्टू ठेकेदार, राजकुमार पटवारी, श्याम सुन्दर मित्तल, राकेश सिंगला, सुरेश मित्तल, गोपाल मित्तल, पार्षद रमेश बागड़ी, यशपाल गर्ग, महावीर प्रसाद गोयल, सतपाल बागड़ी, विजय बागड़ी, सुभाष मित्तल, मास्टर प्रकाश चन्द गुप्ता, लेडीज कब मास्टर शेरगढ़ मंजू बाला, मनोज कुमार, जगदीश राय आदि उपस्थित थे। मंच संचालन बंटी गोयल ने किया। इस मौके पर गोबिन्द काण्डा ने संघ को 31,000 रूपये, राजन सिंगला चण्डीगढ़ ने 51,000 रूपये की सहयोगी राशि दी।

गर्मी से पहले आया जल संकट

औढ़ां (जितेन्द्र गर्ग) गर्मी अभी शुरू भी नहीं हुई लेकिन गांव नुहियांवाली में ग्रामीणों को अभी से पानी की किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। गांववासियों के अनुसार इस समस्या का कारण पानी की सप्लाई सुचारू रूप से न होना है। गांववासी रायसिंह, बद्रीराम, दलीप कुमार, रामकुमार व रोशन लाल आदि ने बताया कि गांव के जलघर में पानी स्टोर करने हेतु दो बड़ी डिग्गियां हैं और एक नलकूप लगा हुआ है लेकिन जलघर कर्मियों द्वारा सुचारू ढंग से जल सप्लाई न किए जाने के कारण गांव के सभी हिस्सों में पानी नहीं पहुंच पाता। ऐसी स्थिति में गांव के मुख्य चौक व फिरनी वाले क्षेत्र में पानी नहीं पहुंच पाता। गांववासियों ने आरोप लगाया कि कर्मचारी पानी सप्लाई करते समय भेदभाव करते हैं जिसके कारण लोगों को पानी खरीदना पड़ रहा है।
इस विषय में विभाग के कनिष्ठ अभियंता एसपी जैन से बात किए जाने पर उन्होंने बताया कि पूरे गांव में जल सप्लाई सुचारू रूप से करने की व्यवस्था शीघ्र कर दी जाएगी और यदि कोई जलघर कर्मी लापरवाही करता पाया गया तो उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

वाहन चालक परेशान

औढ़ां (जितेन्द्र गर्ग) सिरसा से संगरिया लिंक रोड खस्ता हालत में है और गांव घुकांवाली से लेकर रामपुरा बिश्रोइया तक सड़क बेहद खराब स्थिति है जिसके कारण मात्र 15 किलोमीटर का यह मार्ग पार करने में वाहन चालकों को अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इस मार्ग पर सड़क धंस गई है और सड़क ऊबड़ खाबड़ हो गई है जिसके कारण वाहनों के दुघर्टनाग्रस्त होने की संभावना बनी रहती है।
वाहन चालकों नुहियांवाली के रामेश्वर, रत्ताखेड़ा के सही राम, घुकांवाली के मेजर सिंह व निहाल बैनिवाल तथा गांव राजपुरा के सरदारा सिंह व सर्वजीत आदि ने बताया कि सड़ का यह टुकड़ा बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया है और जगह जगह गड्ढे हो जाने के कारण उन्हें भारी परेशानी होती है। उन्होंने बताया कि इस विषय में विभाग के अधिकारियों को अनेक बार अवगत करवाया गया है लेकिन इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया गया। उल्लेखनीय है कि सिरसा संगरिया नामक इस मार्ग के आसाखेड़ा से गोरीवाला व पन्नीवाला मोटा से घुकांवाली तक के हिस्से को नए सिरे से बना दिया गया है लेकिन यह 15 किलोमीटर का टुकड़ा अभी भी खस्ताहाल है जिसे अतिशीघ्र ठीक किए जाने की आवश्यकता है।
इस विषय में पीडब्ल्यूडी सिरसा के एसडीओ बुधराम से बात किए जाने पर उन्होंने बताया कि इस सड़क की रिपेयर सन 2001-02 में करवाई गई थी। अब अगले वित्त वर्ष के शुरू में इस सड़क की रिपेयर करवा दी जाएगी।

अघोषित कटों से किसान परेशान

बनवाला (जसवन्त जाखड़) बनवाला क्षेत्र में बिजली के अघोषित कट लगने के कारण किसानों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। किसानों ने मांग की है कि बिजली सप्लाई में शीघ्र ही सुधार न किया गया तो वे बिजलीघर के समक्ष प्रदर्शन करने व ताला जड़ देने को मजबूर हो जाएंगे। साहिब राम नंबरदार, जगदीश जाखड़, महावीर कुम्हार, श्रवण गोदारा, जयबीर जाखड़, बनवारी जाखड़, राममूर्ति जाखड़, सुशील व प्रवीण शर्मा आदि किसानो ने बताया कि उन्हें नियमानुसार बिजली 5 घंटे मिल रही थी लेकिन अब इन 5 घंटों में इतने कट लगा दिए जाते हैं कि खेतों में सिंचाई कार्य पूरा नहीं पाता इसलिए किसानों को डीजल फंूककर सिंचाई करनी पड़ती है। उन्होंने बताया कि गांव को मिलने वाली बिजली में भी कट बढ़ा दिए गए हैं जिसके कारण बच्चों को पढ़ाई करने में वाधा उत्पन हो रही है। किसानों ने बताया कि 5 घंटे में कई बार कट लगा दिए जाते हैं जिसके कारण किसानों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। किसानों ने बताया कि यदि इस प्रकार से बिजली के कट लगते रहे तो सभी किसानों को एकजुट होकर बिजली घर पर ताला लगाने पर मजबूर होना पडेगा। उन्होंने बताया कि किसानों को पिछले 10 दिन से यह परेशानी आ रही है जिसके कारण किसानों को पूरी रात जागते हुए काटनी पड़ती है। उन्होंने मांग की कि उन्हें पूरे 5 घंटे बिजली दी जाए ताकि परेशानी का सामना न करना पड़े। इस विषय में विभाग के उपमंडल अधिकारी डबवाली गुलशन वधवा से बात किए जाने पर उन्होंने बताया कि बिजली के कट ऊपर से मिले आदेशों के अनुसार लगाए जाते हैं और ज्यादा लोड होने के कारण वोल्टेज कम हो जाती है लेकिन लोड की समस्या को शीघ्र ही दूर कर दिया जाएगा।

दोनों कार चोर कार सहित काबू

औढ़ां (जितेन्द्र गर्ग) शनिवार को गांव नुहियांवाली से चोरी की गई कार को चुराने वाले दोनों कार चोरों को ओढ़ां पुलिस ने कार सहित गिरफ्तार कर लिया है। सोमवार को उन्हें अदालत में पेश किया जाएगा। यह जानकारी देते हुए थाना प्रभारी हीरा सिंह ने बताया कि नुहियांवाली में निर्माणाधीन 400 केवी पावर हाऊस में कार्यरत कनिष्ठ अभियंता भरत कुमार का भाई भाल सिंह पुत्र मोहन लाल गांव धोतड़ सफेद रंग कर मारूति कार में अपने भाई से मिलने आया और रोड पर डिग्गी के पास कार खड़ी करके अपने भाई से मिलने चला गया। एक घंटे बाद जब वो वापिस आया तो देखा कार वहां पर नहीं थी। इधर उधर पूछताछ किए जाने पर पता चला कि ईश्वर पुत्र कालूराम व मंगतू पुत्र गुरदयाल दोनों निवासी नुहियांवाली कार को चोरी करके ले गए हैं। ओढ़ां पुलिस ने भाल सिंह के बयान पर इन दोनों के खिलाफ चोरी का मामला दर्ज करके छानबीन शुरू कर दी। रविवार को उन दोनों की तलाश में हंसराज एएसआई के नेतृत्व में मुद्दई भाल सिंह के साथ गई पुलिस टीम ने दोनों को घुकांवाली के बस अड्डे पर काबू कर लिया। उन्होंने बताया कि घुकांवाली के बस स्टेंड पर कार में सवार उन दोनों को भाल सिंह ने पहचान लिया। कार को ईश्वर चला रहा था और मंगतु उसके साथ बैठा था। पुलिस ने दोनों को कार सहित काबू कर लिया तथा सोमवार को उन्हें अदालत में पेश किया जाएगा।

मांगों के समर्थन में ज्ञापन सौपेंगे वन मजदूर

डबवाली (लहू की लौ) वन विभाग मजदूर यूनियन रेंज शाखा डबवाली की साधारण बैठक रेंज प्रधान अजमेर सिंह की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। जिसमें वन विभाग मजदूर यूनियन के 26 मार्च को होने वाले जिला सम्मेलन के बारे में बताया गया। इस मौके पर यूनियन के जिला प्रधान भाला राम भारूखेड़ा ने कहा कि वामपंथी पार्टी के आह्वान पर महंगाई के विरोध में 12 मार्च को संसद का घेराव किया जाएगा। जिसमें हजारों मजदूर भाग लेंगे। वन विभाग रेंज डबवाली के प्रधान अजमेर सिंह ने कहा कि सोमवार को वे अपनी मांगों को लेकर रेंज ऑफिसर का मांग पत्र देंगे। मांग पूरी न होने पर सभी मजदूर आंदोलन करेंगे। इस बैठक में वीरचन्द, सुभा राम, विजय, राजकुमार, गोगी आदि भी शामिल हुए।

सरकार को बदनाम करने वाले अधिकारियों की सूचि मुख्यमंत्री को सौंपेंगे कांग्रेसी

डबवाली (लहू की लौ) ब्लाक कांग्रेस कमेटी डबवाली ने यहां के रैस्ट हाऊस में ब्लाक प्रधान रामजी लाल की अध्यक्षता में एक बैठक करके संगठन को मजबूत करने, कांग्रेस कार्यकर्ताओं को मान-सम्मान देने और जो अधिकारी सरकार को बदनाम करने की साजिश रखते हैँ उनकी सूचि सरकार को उपलब्ध करवाने का निर्णय लिया है। यह जानकारी देते हुए ब्लाक प्रधान रामजीलाल ने बताया कि हर महीने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को बैठक होगी और जो अधिकारी कार्यकर्ताओं के काम के लिए अनदेखी करेगा उसके खिलाफ कार्य अमल में लाई जायेगी। इस बैठक में नवरतन बांसल शहरी प्रधान, सतपाल जैन, बलदेव राज शर्मा, नन्द लाल धानक, कश्मीर सिंह तनेजा, जगपाल सिंह, प्रकाश चन्द बांसल, बख्तावर मल दर्दी, आरके वर्मा, लेखराज धमीजा, गोपाल मित्तल महासचिव, पार्षद जगदीप सूर्या, सुरजीत चावला, भूषण बांसल, ओमप्रकाश खटीक, जयदयाल मैहता, सतपाल जिन्दल, हेमराज जिन्दल, मूलचन्द जोईया आदि उपस्थित थे। जानकार सूत्रों के अनुसार इस बैठक में एक सात सदस्यीय कमेटी का भी गठन किया गया है। जो कांग्रेसियों में चल रहे अंत: कलह को खत्म करेगी।

डबवाली रेलवे स्टेशन की समस्याओं के समाधान के लिए महाप्रबन्धक ने दिलाया विश्वास

डबवाली (लहू की लौ) उत्तर पश्चिम रेलवे जयपुर के महाप्रबंधक जनशिकायत राजीव सिंह ने यहां के तरसेम कुमार पुत्र नारायण की शिकायत के जवाव में भेजे पत्र में डबवाली रेलवे स्टेशन की समस्याओं व सुधार के बारे में विश्वस्त किया है।

महाप्रबंधक जन शिकायत ने कहा है कि मंडी डबवाली रेलवे स्टेशन पर दूसरा प्लेटफार्म बनाने के लिए औचित्य मंडल अभियन्ता बीकानेर को भेज दिया गया है। वर्तमान लदान के लिए लाईन नं. 4 को सीधा कर एक प्लेसमैंट तैयार किया गया है एवं अनाज मंडी की ओर जाने का कोई औचित्य नहीं बनता है। स्टेशन पर शौचालय (पे एंड यूज) तैयार है। ठेका कार्यवाही होते ही चालू करवा दिया जायेगा। उन्होंने डबवाली रेलवे स्टेशन की समस्याओं व सुधार के बारे में आगे लिखा है कि कोच गाइडैंस बोर्ड व टच स्क्रीन को ठीक रखने के लिए वरिष्ठ मंडल संकेत एवं दूर संचार अभियन्ता/बीकानेर को अवगत करवा दिया गया है। सवारी गाडिय़ों के रूकने का समय मंडी डबवाली स्टेशन समुचित है। उनके अनुसार रेलवे स्टेशन पर सब्जी, पूड़ी, दहीबढ़ा, नमकीन ट्रॉली का कोर्ट केस लाईसैंस फीस बकाया होने के संबंध में लम्बित है। हनुमानगढ़-जयपुर गाड़ी को बठिण्डा या मंडी डबवाली तक बढ़ाये जाने बाबत वाणिज्य औचित्य नहीं बनता है। उन्होंने यह भी अपने उत्तर में यह भी बताया है कि बठिण्डा-जम्मुतवी गाड़ी का अनुरक्षण बठिण्डा में होता है। इस गाड़ी का 9223/9224 पश्चिम रेलवे की गाड़ी से लिंक है, इसके आने-जाने के कनेक्शन में 237 व 238 पैसेंजर गाड़ी उपलब्ध है।

विकलांग बच्चों के लिए 43 स्कूलों में बनेंगे रैंप

डबवाली (लहू की लौ) जिला के सरकारी स्कूलों में पढऩे विकलांग बच्चों की सुविधा को मद्देनजर रखते हुए जिला में 2 लाख 79 हजार रुपए की राशि खर्च करके 43 स्कूलों में रैंप बनवाएं जाएंगे।

यह जानकारी देते हुए विभागीय प्रवक्ता ने बताया कि सर्व शिक्षा अभियान के तहत पूरे प्रदेश में 774 सरकारी स्कूलों में रैंप की व्यवस्था करवाने की योजना है। इस योजना के तहत प्रदेश के सरकारी स्कूलों में 50 लाख रुपए की राशि खर्च की जा रही है। सबसे अधिक राशि सोनीपत जिला में 5 लाख 73 हजार, हिसार जिले में 4 लाख 42 हजार, भिवानी में 3 लाख 96 हजार, फरीदाबाद में 3 लाख 65 हजार तथा सिरसा जिला में 2 लाख 79 हजार की राशि खर्च की जाएगी। उन्होंने बताया कि रैंप बनवाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा चयनित प्रत्येक स्कूल में 6500 रुपए की राशि खर्च की जाएगी। उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत सरकारी उच्च विद्यालयों, माध्यमिक तथा प्राथमिक विद्यालयों को शामिल किया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्राथमिकता के आधार पर स्कूलों में रैंप बनवाए जाएंगे अर्थात जिन स्कूलों में ज्यादा जरुरुत है उनमें रैंप बनवाने का कार्य पहले किया जाएगा। जो स्कूल शेष रह जाएंगे उनके लिए आगामी सत्र मेंऔर अधिक राशि स्वीकृत की जाएगी।
उन्होंने बताया कि जिन स्कूलों में शारीरिक रुप से विकलांग बच्चें पढ़ते है और जो ट्राई साईकिल पर स्कूल आते है, स्कूल के कमरों का लैवल ग्राउंड से ऊंचा होने के कारण इन बच्चों की ट्राई साइकिलें कमरों के द्वार तक नहीं पहुंच पाती जिससे विकलांग बच्चों को जमीन पर चलकर कक्षाओं तक पहुंचना पड़ता है। इस समस्या को दूर करने के लिए हरियाणा प्राथामिक शिक्षा परियोजना परिषद ने स्कूलों में रैंप बनाने की स्वीकृति दी है।