युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

05 जून 2011

63 वर्ष की आयु में 23 का जज्बा

डबवाली- सेवानिवृत्त डाक सहायक एवं वरिष्ठ नागरिक कल्याण संघ के सदस्य मुख्तियार सिंह ने 63 वर्ष की आयु में वह कर दिखाया जो 23 वर्ष के युवा भी कठिनता से कर पाते हैं।
फरवरी 2008 में डाकघर मंडी डबवाली से सेवाविृत्त मुख्तियार सिंह अपने बचपन के एलएलबी कर वकील बनने के चिर स्वपन को साकार करने के लिए नेहरू मैमोरियल लॉ कॉलेज हनुमानगढ़ में दाखिला लेकर सभी विद्यार्थी व गुरूजनों से आयु में बड़े होकर एक अच्छे विद्यार्थी बन सदैव अग्रिम पंक्ति में रहे और अच्छे अंकों में एलएलबी परीक्षा पास की। गांव देसू मलकाना कालांवाली में 15 फरवरी 1948 में मुकन्द सिंह के घर जन्में मुख्तियार सिंह ने 1975 में बीए व 1979 में डाक विभाग में सेवा कार्य शुरू किया परन्तु वकील बनने की इच्छा सदैव बनी रही। जिसे उन्होंने सेवानिवृत्ति के बाद एलएलएम करके गरीब व बेसहारा लोगों की नि:शुल्क सेवा करने का मन बनाया है। डाक विभाग के सेवानिवृत कर्मचारी चमन लाल मिढ़ा, पीडी शर्मा और मेजर सिंह गिल ने इसका स्वागत किया है।

छेड़छाड़ में फंसे डॉक्टर की डेपूटेशन

डबवाली (लहू की लौ) एएनएम से छेड़छाड़ मामले में माफी मांगकर अपना पिंड छुड़वाने वाले डॉक्टर का अभी भी यह विवाद पीछा नहीं छोड़ रहा है। हरियाणा स्वास्थ्य विभाग ने मामले का ठीकरा डॉक्टर पर फोड़ते हुए उसको डेपूटेशन पर भेज दिया है। विभाग के गांव मांगेआना में बने सब सैन्टर पर तैनात एएनएम सत्या देवी ने आरोप लगाया था कि 25 मई को चैकिंग पर आए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र देसूजोधा के प्रभारी डॉ. गुरजीत सिंह ने उससे छेड़छाड़ की है। एएनएम के इस आरोप से हरियाणा स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। इधर मामले की भनक एमपीएचडब्ल्यू एसोसिएशन हरियाणा को लग गई।
डॉक्टर के विरूद्ध कार्रवाई की मांग को लेकर विभिन्न सरकारी कर्मचारी संगठनों के कार्यकर्ता लामबंद हो गए। डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर संगठनों ने एसोसिएशन की अध्यक्षा निर्मल बुलारा के नेतृत्व में 30 मई को अस्पताल में खूब बवाल काटा। पूरा दिन धरना, प्रदर्शन, नारेबाजी होती रही। यहां तक की डॉक्टर से मारपीट भी हुई। बाद में डॉक्टर ने अपने किए पर सार्वजनिक तौर पर माफी मांगकर अपना पिंड छुड़वाया था।
हाथ जोड़कर माफी मांगने वाले डॉक्टर का अभी भी यह विवाद पीछा नहीं छोड़ रहा। अब हरियाणा स्वास्थ्य विभाग ने इसका नजला डॉ. गुरजीत सिंह तथा उनकी पत्नी अमनदीप कौर पर गिराया है। डॉक्टर दम्पति को चौदह दिन के लिए डेपूटेशन पर दड़बा कलां भेज दिया गया है। वहीं विभाग के आला अधिकारी गुपचुप तरीके से मामले की टोह लेने में जुटे हुए हैं।

पीएम इस्तीफा दें, बोले चौटाला

डबवाली (लहू की लौ) पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने कहा कि देश में कुशासन का अंत करने के लिए वकीलों को आगे आना होगा। बात चाहे पाकिस्तान की हो या फिर मिस्र की क्रांति की। यहां भी वकील आगे आए वहां जनता को दबाने वाले शासन का खात्मा हो गया। चौटाला शनिवार को बार रूम में वकीलों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ने कार्यपालिका और मीडिया को भ्रष्टाचार की दलदल में धकेल दिया है। अब न्यायपालिका जो अभी तक भी ईमानदार है उसे भी भ्रष्ट बनाने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार की गलत नीतियों से जनता बुरी तरह त्रस्त है। जो भी कोई भ्रष्टाचार, महंगाई या अन्य मुद्दों को लेकर बोलता है, जनता उसके साथ हो जाती है। उन्होंने कहा कि बाबा रामदेव और अन्ना हजारे के आंदोलनों से कुछ भी नहीं होने वाला। यह तभी संभव है, जब लोग जागरूक होंगे।उन्होंने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को बेचारा कहते हुए संबोधित किया और कहा कि बेचारा ईमानदार है और जानता भी है कि सरकार की गलत नीतियां और भ्रष्टाचार देश को डूबा रहा है। लेकिन फिर भी परिस्थितियावश गद्दी से चिपका हुआ है। उन्होंने मनमोहन सिंह को सलाह दी कि वे नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे दे। इस अवसर पर एडवोकेट सुरेंद्र गर्ग, कुलदीप सिंह सिधू, सुखबीर सिंह बराड़, रामसरूप मैहता, रणजीत सिंह, बलजीत सिंह, दीपक कौशल, सुभाष गुप्ता, गंगा बिशन गोयल, जगदीश चंद्र गुप्ता, एससी शर्मा, युधिष्ठिर शर्मा, रमेश बिश्नोई, राजेश यादव, केके सेठी, डॉ. गिरधारी लाल आदि उपस्थित थे।

संचार और पेयजल सुविधा ठप्प

रेल पटरी के नीचे से पुली बनाते समय रेलवे ने तोड़ी पेयजल पाईप, बीएसएनएल की केबल कटी
डबवाली (लहू की लौ) रेलवे ने अपनी पुरानी पुली को बदलने में यहां तीन घंटे लगाए। वहीं इस पुली के नीचे से गुजरने वाली बीएसएनएल की तार को काट देने से पुराना डबवाली क्षेत्र के करीब 1500 लैंडलाईन फोन तथा उनसे संबंधित इंटरनेट सरवर ठप्प हो गया। इससे व्यापारियों के साथ-साथ आम उपभोक्ता को भी परेशानी झेलनी पड़ रही है। पेयजल पाईप टूटने के कारण लोगों को पेयजल आपूर्ति में बाधा आई।
नई अनाज मण्डी रोड़ के साथ जा रही रेलवे लाईन के नीचे रामलीला ग्राऊंड के नजदीक एक पुली बनी हुई थी। जोकि रेलवे ट्रेक पर आने वाले बरसाती पानी को सड़क पर निकालने का काम करती थी। पुली की हालत खस्ता हो चुकी थी। बरसात के दिनों में रेलमार्ग को कोई नुक्सान न हो इसके दृष्टिगत शनिवार को उत्तर-पश्चिम रेलवे के बीकानेर डिविजन के इंजीनियरों द्वारा इसे बदलने का काम किया गया।
सुबह 7.15 पर पुली बदलने का काम शुरू हुआ। लेकिन इसको बदलते-बदलते रेलवे को मात्र तीन घंटे लगे। इस काम को बीकानेर से मण्डलीय अभियंता विशाल गुप्ता, इंस्पेक्टर ऑफ वक्र्स लक्ष्मण बाई, एडीजीएन घनश्याम दबे, एसएसई बठिंडा आनंद स्वरूप की देखरेख में अंजाम दिया गया। इस कार्य को भले ही निबटाने में बहुत कम समय लगा। लेकिन जेसीबी ने पुरानी पुली को उखाड़ते समय भारत दूरसंचार निगम लिमिटेड की केबल भी उखाड़ डाली। जिससे डबवाली का पुराना क्षेत्र प्रभावित हुआ। टेलीफोन से जुड़ा यह क्षेत्र मिनटों में ही एक्सचैंज से कट गया।
बीएसएनएल उपमण्डल डबवाली के एसडीई मनमोहन शर्मा ने बताया कि रेलवे ने बीएसएनएल को सूचना दिए बिना उपरोक्त कार्य किया। जिससे बीएसएनएल को लगभग दो लाख रूपए का नुक्सान हुआ है। उनके अनुसार क्षेत्र के करीब 1500 लैंडलाईन फोन तथा इंटरनेट सेवा प्रभावित हुई। रविवार तक सेवा बहाल कर दी जाएगी।
जनस्वास्थ्य विभाग के जेई सतपाल ने बताया कि रेलवे विभाग द्वारा उन्हें कोई सूचना नहीं दी गई थी। इसके बावजूद कर्मचारियों ने मौके पर पहुंचकर पाईप लाईन बिछी होने के बारे में रेलवे अधिकारियों को बताया था। लेकिन इसके बावजूद पेयजल पाईप तोड़ दी गइ्र। पाईप टूटने से एक साईड की पेयजल आपूर्ति बाधित हुई है। शीघ्र ही पाईप को ठीक किया जाएगा।
रेलवे के एसएसई बठिंडा आंनद स्वरूप ने बताया पुली की हालत खराब होने के कारण इसे बदला गया है। पुलिस के साथ होकर जाने वाली बीएसएनएल की केबल अनाधिकृत है। इस बारे में करीब छह माह पहले बीएसएनएल को पत्र लिखकर केबल हटाने का अनुरोध किया जा चुका है। लेकिन बीएसएनएल ने इस बारे में कोई कदम नहीं उठाया। अब भी बीएसएनएल को सूचना दी गई थी।

मुख्यमंत्री बादल के हल्के में छह साल के बच्चे को पोलियो

डबवाली (लहू की लौ) सरकार सालों से पोलियो के खिलाफ अभियान चलाते हुए लाखों रूपए खर्च कर रही है। लेकिन इसके बावजूद भी पोलियो का संदिग्ध मरीज पाए जाने पर सरकार का टीकाकरण के द्वारा बनाया जा रहा पोलियो का सुरक्षा चक्र टूटता हुआ दिखाई दे रहा है।
मण्डी किलियांवाली की चर्च वाली गली में रहने वाले गाड़ी चालक राकेश कुमार के 6 वर्षीय बेटा विष्णु को करीब बीस दिन पूर्व तेज बुखार हुआ था। जोकि बाद में टाईफाईड में बदल गया। लेकिन पिछले 10 दिनों से वह बिल्कुल स्वस्थ था और विद्यालय में भी जाना आरंभ कर दिया था। गुरूवार सुबह अचानक वह लडख़ड़ाते हुए गिर गया। राकेश ने उसे उठाया और पुन: चलने के लिए कहा। लेकिन विष्णु लंगड़ाने लगा। राकेश के अनुसार बुधवार शाम को उसका बेटा बिल्कुल ठीक था। लेकिन आज सुबह चलते हुए अचानक गिर गया। उसके बाद वह अपनी दाईं टांग पर वजन सहन नहीं कर पा रहा। लंगड़ाकर चलते हुए गिरने लगा है।
विष्णु को पोलियो होने के संदेह के चलते यहां के सरकारी अस्पताल में लेजाया गया। यहां बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. सरवन बांसल ने उसकी जांच की। चिकित्सक को उसमें पोलियो के लक्षण प्रतीत हुए। लेकिन मामला पंजाब का होने के कारण उन्होंने उसे पंजाब के जिला श्री मुक्तसर साहिब के हल्का लंबी के अस्पताल में रैफर कर दिया।
बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. सरवन बांसल ने बताया कि छह वर्षीय विष्णु में पोलियो के लक्षण पाए गए हैं। लेकिन पक्के तौर पर अभी कुछ नहीं कहा जा सकता। विष्णु साथ लगते पंजाब की मण्डी किलियांवाली का रहने वाला है। इसके चलते उसे लम्बी रैफर कर दिया गया। चिकित्सक के अनुसार इस बारे में पत्र भेजकर हरियाणा स्वास्थ्य विभाग के जिला सिरसा के अधिकारियों को भी अवगत करवा दिया गया है।
जिला श्री मुक्तसर साहिब के लम्बी में स्थित सरकारी अस्पताल की कार्यकारी एसएमओ डॉ. रीटा गुप्ता ने बताया कि फिलहाल उनके पास ऐसा कोई रोगी नहीं आया है।

एक रात में लूटे पांच पेट्रोल पंप

थाना लम्बी पुलिस के लॉकप से फरार हुए आरोपियों ने दिया वारदात को अंजाम
डबवाली (लहू की लौ) डबवाली-बठिंडा मार्ग पर पंजाब क्षेत्र में स्थित पांच पेट्रोल पंपों से गुरूवार रात को कार सवार लुटेरे करीब ढाई लाख रूपए की नकदी, मोबाइल सैट तथा मोबिल लूट ले गए। रात करीब 11 बजे से शुरू हुआ वारदातों का सिलसिला शुक्रवार सुबह 4.30 बजे तक चलता रहा। पिस्तौल, नलके की हत्थी, रॉड बगैरा से लैस लुटेरे बेखौफ पेट्रोल पंप के करिंदों से मारपीट करके लूटपाट करते रहे। थाना संगत प्रभारी एसआई रिछपाल सिंह ने बताया कि लुटेरों की मारपीट का शिकार हुए करिंदों को कुछ तस्वीरें दिखाई गई। जिसमें से करिंदों ने दो की पहचान की है। पहचान के आधार पर कुलविंद्र तथा जसविंद्र सिंह निवासी जय सिंहवाला (बठिंडा) बगैरा के खिलाफ मामला दर्ज करके उनकी तालाश शुरू कर दी है। उनके अनुसार लुटेरे 21 अप्रैल को जिला श्री मुक्तसर साहिब (पंजाब) के लॉकप से फरार हो गए थे।
डीएसपी (आर) बठिंडा गुरमेल सिंह ने बताया कि पेट्रोल पंप लूट की घटनाओं के बाद सीमाओं को सील कर दिया गया है। पड़ौसी राज्य हरियाणा की पुलिस को भी इसकी जानकारी दे दी गई है। संदिग्ध स्थानों पर छापामारी शुरू करके लुटेरों की तालाश जारी है। शीघ्र ही लुटेरे पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

झुंबा पेट्रोल पंप, गांव झुबां
(थाना सदर बठिंडा)
पेट्रोल पंप मालिक गुरजीत सिंह पटवारी ने बताया कि गुरूवार रात को करीब 11.00 बजे उसके पंप पर लुटेरे आए। करिंदे जीत पाल से सात हजार रूपए की नकदी। दो मोबाइल तथा 90 लीटर मोबिल लूट ले गए। जिसमें दो टीन बीस-बीस लीटर के तथा पांच टीन दस-दस लीटर के थे।


मै. स्वर्ण पेट्रो प्वाईंट, डूमवाली
(थाना संगत, जिला बठिंडा)
शुक्रवार सुबह करीब सवा दो बजे ग्रे रंग की होंडा सिटी कार आई। कार से तीन व्यक्ति निकले। दो ने अपने हाथ में रिवॉल्वर पकड़ी हुई थी। जबकि एक के हाथ में नलके की हत्थी थी। इन लोगों ने पंप के कमरे में सोये वीरेंद्र (18), अमनदीप (20), चमकौर सिंह (22), कुलविंद्र (20) निवासीगण मलोट, केहर सिंह (26) निवासी गांधीबड़ी (हनुमानगढ़) को पीटना शुरू कर दिया। मोबाइल, पर्स तथा अन्य सामान छीन लिया। रिवॉल्वर दिखाकर इन लोगों ने चमकौर तथा कुलविंद्र को बाथरूम में कैद कर दिया। जबकि वीरेंद्र, अमनदीप तथा केहर सिंह को सेल्जमैन रूम में रिवॉल्वर दिखाकर पीटते रहे। केहर सिंह के पास से 20 हजार रूपए की नकदी छीन ली। पंप के भीतर पड़ी सेफ को भी तोड़ डाला। लेकिन कुछ नहीं मिला। कुछ देर बाद तेल डलवाने के लिए पंप पर एक ट्राला आया। जान से मार देने की धमकी देकर लुटेरों ने केहर सिंह को तेल डालने के लिए कहा। दो घंटे तक तेल डलवाने के लिए पंप पर गाडिय़ों की कतार लगी रही। इस दौरान करीब 98 हजार 620 रूपए की सेल हुई। लुटेरे कुल एक लाख आठ हजार 620 रूपए लूट ले गए। वारदात के बाद लुटेरे कार को बठिंडा की ओर भगा ले गए। जाते हुए सभी को पंप के अंदर बंद कर गए। पंप के ऑफिस का शीशा तोड़कर बाहर निकले वीरेंद्र ने इसकी सूचना अपने पिता प्रभुदयाल निवासी मलोट को दी।
मै. गणेश पेट्रो वेज, पथराला
(थाना संगत, जिला बठिंडा)
सुबह करीब 4.30 बजे पेट्रोल पंप पर एक कार आकर रूकी। जिसमें से तीन व्यक्ति उतरे। सेल्जमैन हरपाल को कार में तेल डालने के लिए कहा। इंकार करने पर सेल्जमैन की कनपटी पर रिवॉल्वर लगा लिया। काऊंटर में पड़ी 22 हजार रूपए की नकदी निकाल ली। पंप पर लगे अन्य सेल्जमैन प्रिंस, बलवीर तथा रणदीप की नजर लुटरों पर पड़ी। वे चुपचाप छुपकर खड़े रहे। मौका पाकर प्रिंस ने चिल्लाना शुरू कर दिया। जिससे पंप के साईड में खड़ी गाडिय़ों के चालक तथा एक अन्य सेल्जमैन जेठू राम की आंख खुल गई। अपने तरफ लोगों को आता देख लुटेरे भाग खड़े हुए।

पंजाब एग्रो फूड ग्रेन (रायकेकलां) गांव झंडिय़ा
(थाना संगत, जिला बठिंडा)
गुरूवार रात करीब 12.30 बजे पंप पर एक कार आकर रूकी। जिसमें से चार व्यक्ति उतरे। इनमें से दो ने अपने हाथों में रिवॉल्वर तथा दो ने नलके की हत्थी तथा रॉड उठाई हुई थी। पंप के सेल्जमैन सुनील का नलके की हत्थी मारकर सिर फोड़ दिया। अन्य सेल्जमैन पिंटू, राजू से भी मारपीट की। यहां से लुटेरे 26 हजार रूपए की नकदी लूटकर चलते बने।

सेठ भानचंद एचपी सेंटर, बल्लुआना
(थाना सदर बठिंडा)
पंप मालिक अजय कुमार निवासी गिदड़बाहा ने बताया कि गुरूवार रात को एक कार आकर उनके पंप पर रूकी। उस समय पंप के कार्यालय की छत पर करिंदे सोये हुए थे। लुटेरों ने कार्यालय के शीशे तोड़ दिए। कार्यालय में पड़ी 80 हजार रूपए की नकदी और मोबाइल फोन उठाकर फरार हो गए।

पुलिस अधिकारी ने रिश्वत में लिए 30 लाख-अभय सिंह चौटाला

डबवाली (लहू की लौ) प्रदेश में बिगड़ी कानून व्यवस्था को लेकर इनेलो द्वारा 11 जून को प्रस्तावित सिरसा बंद ऐतिहासिक होगा। जिसमें करीब 30 हजार महिला पुरूष कार्याकत्र्ता सड़कों पर उतर कर सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेंगे।
ऐलनाबाद के विधायक चौ. अभय सिंह चौटाला ने गांव गंगा में पैक्स गोरीवाला के चेयरमैन संदीप सिंह गंगा के निवास स्थान पर आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि विधानसभा चुनावों में भयमुक्त और भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन देने का वायदा कर सत्ता में आई हुड्डा सरकार प्रदेश में कानून व्यवस्था लागू करने में पूरी तरह से असफल रही है। प्रदेश में जहां अपराधियों का बोलबाला है वहीं प्रदेश का संतरी से लेकर मंत्री, मंत्री से लेकर मुख्यमंत्री तक भ्रष्टाचार में डूबा हुआ है।
उन्होंने बताया कि प्रदेश में कानून व्यवस्था का इस कदर जनाजा निकल चुका है कि मुख्यमंत्री के गृह क्षेत्र में ही औसतन रोजाना एक हत्या होती है। सिरसा जिले में पिछले दो वर्षों में 106 हत्याएं हो चुकी है। जिसमें अधिकांश अभी तक अनसुलझी पहेली बनी हुई है। उन्होंने जिले के एक आला पुलिस अधिकारी पर एक दोहरे हत्याकांड में एक आरोपी को बाहर निकालने के लिए 30 लाख रुपये की कथित तौर पर रिश्वत लेने का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर इसकी जांच करवाये जाने की मांग की है।
ऐलनाबाद के विधायक ने बताया कि हजकां के बागी 5 विधायकों का फैसला जल्द आने की उम्मीद है और पांचों विधायकों की सदस्यता रद्द होना तय है और इसके साथ ही प्रदेश की हुड्डा सरकार की रवानगी भी जल्द होगी और प्रदेश में इनेलो की सरकार बनने का रास्ता साफ होगा। इस मौके पर जिला परिषद के अध्यक्ष सीता राम, राधे राम गोदारा, रणवीर सिंह राणा, दर्शन मोंगा, लभू सेठी, गुलजारी सिंह सोना, सर्वजीत मसीतां, अधिवक्ता कुलदीप सिंह सिधू कुलदीप जम्मू, लवली मेहता, महिंद्र डूडी, टेक चंद छाबड़ा, सहित भारी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे।