युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

17 अप्रैल 2011

किसानों को मिले फसल भाव का अधिकार

 डबवाली (लहू की लौ) किसानों को अपनी जिनस का भाव स्वयं तय करने की अनुमति मिलनी चाहिए। ताकि किसान अपनी फसल को लागत मूल्य और महंगाई के स्तर के अनुसार बेच सकें। ये शब्द महाराष्ट्र के जिला अमरावती की तहसील दर्यापुर की कृषि उत्पन्न बाजार समिति के चेयरमैन मदन राव ने डबवाली मार्किट कमेटी कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहे। उन्होंने बताया कि वे अपने अन्य सदस्यों साहिब राव वाईस चेयरमैन, निदेशक अभिजीत सिंह एडवोकेट, विनायक मोहोड, महेन्द्र देशमुख, विजय कुमार, बबराओ बरबत, ईश्वर बुंदेल, हिम्मत मातकर, मिलिनो टारल, पाटकर, अम्बेडकर के साथ देश की विभिन्न अनाज मण्डियों के भ्रमण पर निकले हैं। वे 11 अप्रैल को दर्यापुर से चले थे। चेयरमैन ने कहा कि हरियाणा की मण्डी डबवाली अनाज मण्डी का दौरा करने पर उन्होंने पाया कि यह मण्डी एक अच्छी मण्डी है। यहां किसानों के लिए विश्रामगृह बना हुआ है और किसानों को भाव भी अच्छा मिल रहा है। लेकिन फिर भी सरकार को चाहिए कि वह किसानों को अपनी जिनस का भाव उसी प्रकार तय करने का अवसर दे, जिस प्रकार से व्यापारी अपनी वस्तु का भाव तय करता है। उनके अनुसार उनकी खेती पूर्णतय: बरसात पर निर्भर है। सिंचाई का अन्य कोई साधन नहीं है। हालांकि बरसात अच्छी होने पर बीटी कॉटन, चना, मूंग अच्छी होती है। उन्होंने बताया कि देश की अन्य अनाज मण्डियों का दौरा करने का उनका उद्देश्य अपने क्षेत्र की अनाज मण्डियों को अधिक किसानोंन्मुखी बनाना है। देश की अन्य मण्डियों की सुविधाओं को वहां भी क्रियान्वित करवाना है। चेयरमैन के अनुसार उनका यह भ्रमण 11 अप्रैल से शुरू हुआ था। वे परतवाडा, इंदौर, उज्जैन, अजमेर, अमृतसर, जम्मू, पठानकोट, शिमला, चण्डीगढ़, कुरूक्षेत्र, दिल्ली, ग्वालियर, भोपाल से होते हुए वापिस 25 अप्रैल को दर्यापुर पहुंचेंगे।

कागजों में भाग्य ढूंढ रहे बीपीएल परिवार

प्रदर्शन कर, एसडीएम को सौंपा ज्ञापन
डबवाली (लहू की लौ) बीपीएल परिवारों ने अपनी मांगों को लेकर हरियाणा खेत मजदूर यूनियन सिरसा के अध्यक्ष कामरेड गणपत राम के नेतृत्व में शुक्रवार को एसडीएम कार्यालय के आगे धरना दिया। सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने अपनी मांगों के समर्थन में मुख्यमंत्री के नाम उपमण्डलाधीश को एक ज्ञापन भी सौंपा।
प्रदर्शनकारी खेमचंद, मंगल सैन, राज रानी, लाजवंती, सोमा देवी, चमेली देवी, मुन्नी देवी, पाल कौर, काली देवी, पुष्पा, दर्शना रानी आदि ने बताया कि वे मजदूरी करके अपना तथा अपने परिवार का पेट पालते हैं। करीब दो साल पूर्व खाद्य एवं आपूर्ति विभाग द्वारा उनके कार्डों पर बीपीएल कार्ड होने की मुहर लगाई गई थीं। लेकिन अभी तक उन्हें बीपीएल कार्ड होने का कोई लाभ नहीं मिल पा रहा। इतना ही नहीं वे कागज के इन पन्नों को राशन कार्ड के तौर पर भी प्रयोग करने में असमर्थ हैं। चूंकि सरकारी या प्राईवेट सैक्टर में भी कागज के इन पन्नों को राशन कार्ड नहीं समझा जाता। हरियाणा खेत मजदूर यूनियन सिरसा के अध्यक्ष कामरेड गणपत राम ने चेतावनी दी कि अगर बीपीएल परिवारों की समस्या का समाधान जल्द न किया गया तो खेत मजदूर यूनियन 1 मई से एसडीएम कार्यालय डबवाली के समक्ष भूख हड़ताल पर जाने को विवश होगी।
प्रदर्शनकारियों ने करीब चार घंटे तक एसडीएम कार्यालय के समक्ष धरना दिया और अपनी मांगों के समर्थन में प्रदेश सरकार के विरूद्ध नारेबाजी की। बाद में उपमण्डलाधीश डॉ. मुनीश नागपाल को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। उपमण्डलाधीश डॉ. मुनीश नागपाल ने बताया कि ज्ञापन को आवश्यक कार्रवाई के लिए उच्च अधिकारियों के पास भेज दिया जाएगा।

पार्लर संचालिका से रेप

डबवाली (लहू की लौ) मलोट रोड़ पर ब्यूटी पार्लर का कार्य करने वाली एक महिला ने अपने पुराने सांझीदार पर नशीला कोल्ड ड्रिंक्स पिला कर बलात्कार करने का आरोप लगाया है।
मलोट रोड़, डबवाली में ब्यूटी पार्लर के नाम पर व्यवसाय करने वाली 35 वर्षीय महिला निवासी कालचराणी (बठिंडा) ने बताया कि वह पिछले दो वर्ष से ब्यूटी पार्लर और मनियारी की दुकान डबवाली में चला रही है। उसके साथ जगमालवाली के एक व्यक्ति पार्टनर था। लेकिन 11 अगस्त 2010 को उसने अपने पार्टनर को 90 हजार रूपये की राशि देकर उसके हिस्सेदारी खत्म कर दी।
वीरवार शाम को लगभग 7 बजे जब वह अपना ब्यूटी पार्लर बन्द करके घर जा रही थी तो उसका पुराना पार्टनर कार पर आया और उससे कहने लगा कि उससे कोई जरूरी बात करनी है और वह उसे कार में बैठा कर ले गया। जीटी रोड़ रेलवे फाटक बन्द होने के कारण वह उसे मालवा बाईपास की ओर से डबवाली के गोल चौक में ले आया और कार को एक साईड में लगा कर उसे कोल्ड ड्रिंक्स पिलाया। कोल्ड ड्रिंक्स पीते ही वह बेहोश हो गई। शुक्रवार सुबह जब उसकी जाग खुली तो उसने अपने आपको एक कमरे में नग्न अवस्था में पाया और देखा कि साथ में ही उसका पुराना पार्टनर नग्न अवस्था में सोया हुआ है।
महिला के अनुसार उसने कपड़े पहने और इसी दौरान उसका पुराना पार्टनर भी जाग पड़ा और वह उसे कार में डाल कर गोल चौक डबवाली में उतार गया। इसकी सूचना उसने अपने पति को दी और अपने पति के साथ वह थाना शहर डबवाली में पहुंची। लेकिन पुलिस ने यह कह कर कार्यवाही करने से इंकार कर दिया कि यह मामला पंजाब क्षेत्र का है। इस सन्दर्भ में मामले की जांच कर रहे एएसआई राजकुमार से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि उनके पास शिकायत आई थी लेकिन मामला साथ लगते पंजाब क्षेत्र का होने के कारण महिला के ब्यान पर रपट लिख कर आवश्यक कार्यवाही के लिए किलियांवाली पुलिस को भेज दी गई है।