युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

26 नवंबर 2010

चार घण्टे बाद उठाया शव, गवाह को सुरक्षा की मांग

डबवाली। पुराना कचहरी रोड़ पर बुधवार शाम को बाईक सवार युवकों के कापों का शिकार होकर दम तोड़ गए मण्डी किलियांवाली के 18 साल के युवक जसवीर सिंह उर्फ जस्सी के शव का गुरूवार को डबवाली के सरकारी अस्पताल में पोस्टमार्टम हुआ। लेकिन आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग को लेकर जसवीर के परिजनों ने शव उठाने से इंकार कर दिया। स्थिति तनावपूर्ण होती देख मौका पर पहुंचे डबवाली के डीएसपी के समझाने-बुझाने पर शव उठाने को अभिभावक सहमत हो गए।
मण्डी किलियांवाली निवासी जसवीर प्रजापत उर्फ जस्सी की बुधवार शाम को बाईक सवार चार युवकों ने कापों से वार करके हत्या कर दी थी। जबकि जसवीर के साथ रिक्शा पर जा रहे उसके मित्र रवि कम्बोज निवासी अबूबशहर ने भागकर अपनी जान बचाई थी। गुरूवार को सरकारी अस्पताल के डॉ. एमके भादू तथा डॉ. सुखवंत पर आधारित टीम ने जसवीर के शव का पोस्टमार्टम किया। लेकिन पोस्टमार्टम के बाद अभिभावकों ने शव को उठाने से इंकार कर दिया। पोस्टमार्टम के बाद शव करीब चार घण्टे तक मोर्चरी में पड़ा रहा।
जस्सी के अभिभावक दर्शन सिंह, चरणजीत सिंह तथा पूर्व पार्षद दाना राम, अमरनाथ बागड़ी, दर्शन कुमार, खुम्भा राम सेठी, गणपत राम ने कहा कि घटना बुधवार शाम की है। लेकिन अभी तक जस्सी के हत्यारोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर चल रहे हैं। जब तक पुलिस जस्सी के हत्यारोपियों को गिरफ्तार नहीं करती तब तक वे शव को नहीं उठाएंगे। आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद ही शव का संस्कार किया जाएगा।
अस्पताल में स्थिति गंभीर होने की सूचना पाकर डीएसपी बाबू लाल अपने दलबल सहित मौका पर पहुंचे। उन्होंने शव न उठाने पर अड़े लोगों को समझाया-बुझाया। उन्होंने बताया कि जसवीर उर्फ जस्सी निवासी मण्डी किलियांवाली की हत्या करने के आरोप में जस्सी के मामा दर्शन सिंह निवासी मण्डी किलियांवाली के ब्यान पर विनोद निवासी रविदास नगर तथा मोनू निवासी प्रेम नगर, डबवाली व अन्य दो नामालूम के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया है। आरोपी दो दिनों के भीतर पुलिस की गिरफ्त में होंगे। डीएसपी से आश्वासन मिलने के बाद लोग शांत हुए और शव को उठाने पर सहमत हुए।
गवाह को पुलिस सुरक्षा की मांग
इस मौके पर लोगों ने जस्सी हत्या प्रकरण में मुख्य गवाह रवि कम्बोज निवासी अबूबशहर पर भी आरोपियों के हमले की आशंका जताई और पुलिस सुरक्षा दिए जाने की मांग की। डीएसपी बाबू लाल ने रवि को पुलिस सुरक्षा मुहैया करवाने का आश्वासन दिया। उन्होंने बताया कि विनोद बगैरा की धरपकड़ के लिए पुलिस ने तीन टीमों का गठन किया है। साथ में साईबर क्राईम की मदद भी ली जा रही है। 48 घण्टों के अंदर आरोपी पुलिस गिरफ्त में होंगे।

बदमाश ने मैडम का सिर फोड़ा

डबवाली। नगर में लगातार असामाजिक तत्वों के हौसले बढ़ रहे हैं। दिन-दिहाड़े बदमाश वारदात करके फरार हो जाते हैं। गुरूवार दोपहर को रिक्शा से घर लौट रही अध्यापिका के सिर पर प्रहार करके एक बदमाश ने उसे घायल कर दिया। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी मौका से फरार हो गया।
बुधवार शाम को युवक जसवीर उर्फ जस्सी की हत्या की स्याही अभी सूखी ही नहीं थी कि वीरवार शाम को पुराना कचहरी रोड़ पर राजकीय प्राथमिक पाठशाला नं. 1 की अध्यापिका के सिर पर अज्ञात युवक तेजधार हथियार से चोट मार कर फरार हो गया।
घायल अध्यापिका तेजपाल कौर (36) पत्नी अमरप्रीत निवासी बठिंडा ने बताया कि वह राजकीय प्राथमिक पाठशाला नं. 1 में बतौर जेबीटी अध्यापिका कार्यरत है। आज स्कूल से छुट्टी के बाद 3 बजे रिक्शा से बस स्टेंड के लिए सवार हुई थी। उसकी रिक्शा जैसे ही स्कूल से 100 गज की दूरी पर स्थित मोंगा टाईप कॉलेज के पास पहुंची तो  अचानक उस पर एक युवक ने लोहे की हत्थी से हमला कर दिया। पहला वार तो उसके नहीं लगा लेकिन दूसरा वार सिर पर लगते ही वह वहीं गिर गई। इतनी देर में विद्यालय की अन्य अध्यापिकाएं भी वहां पहुंच गईं और उसे घायल अवस्था में एक प्राईवेट अस्पताल में उपचार के लिए पहुंचाया।
लोगों में भय
पुराना कचहरी रोड़ पर दो दिनों में लगातार दो वारदातें होने से लोगों में भय व्याप्त है। बुधवार शाम को एक बाईक पर सवार होकर आए चार युवकों द्वारा कापा मारकर रिक्शा पर जा रहे मण्डी किलियांवाली निवासी जसवीर उर्फ जस्सी को मौत के घाट उतार दिया था। गुरूवार को दिनदिहाड़े रिक्शा पर जा रही एक अध्यापिका के सिर पर नल्के की हत्थी से वार करके उसे घायल करने से क्षेत्र में डर का माहौल है।
घटना की सूचना पाकर गोल बाजार पुलिस चौकी के एएसआई राजेन्द्र सिंह मौका पर पहुंंचे और उन्होंने वारदात के संंबंध में पीडि़त अध्यापिका से जानकारी प्राप्त की।
पुलिस गश्त बढ़ाई गई
नगर में बढ़ती असामाजिक तत्वों की वारदातों के संबंध में जब जिला पुलिस कप्तान सत्येंद्र गुप्ता से बातचीत की गई तो उन्होंने बताया कि असामाजिक तत्वों पर नकेल कसने के लिए पुलिस गश्त बढ़ा दी गई है। शीघ्र ही आरोपी सलाखों के पीछे होंगे।

यूं खत्म हो जाएगी दोस्ती, मालूम ना था...

डबवाली। लोग उन दोनों की दोस्ती की दाद दिया करते थे। अढ़ाई साल पूर्व हुई दोस्ती यूं खत्म हो जाएगी यह किसी को मालूम ना था। लेकिन स्कूल समय की दुश्मनी ने दोनों को जुदा कर दिया।
गांव अबूबशहर के रहने वाले रवि कम्बोज (18) और मण्डी किलियांवाली की महाशा मोहल्ला के रहने वाले जसवीर उर्फ जस्सी (18) दोनों गहरे मित्र थे। उनकी मित्रता प्लस वन में राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय डबवाली में हुई। दोनों प्लस वन पास करके 12वीं में हुए। जसवीर प्रजापत उर्फ जस्सी आर्टस ग्रुप का छात्र था। जबकि रवि कॉमर्स ग्रुप का। दोस्ती की खातिर रवि ने कॉमर्स ग्रुप को अलविदा कह 12वीं में आर्टस ग्रुप ज्वाईन किया। रवि 12वीं में फेल हो गया और जस्सी पास। लेकिन दोस्त द्वारा दी गई कुर्बानी जस्सी ने व्यर्थ न जाने दी। 12वीं के बाद उसने पढ़ाई छोड़ दी। दोनों ने फैशन डिजाईनिंग कोर्स करने का मन बनाया।
रवि कम्बोज के अनुसार फैशन डिजाईनिंग में जस्सी की गहरी रूचि थी। इसी के कारण वे लोग बुधवार सुबह बठिंडा गए। फैशन डिजाईनिंग कोर्स की जानकारी जुटाने के बाद उन्होंने वहां शॉपिंग की। शाम को करीब 5.30 बजे वे लोग डबवाली के बठिंडा चौक में पहुंचे। यहां वे लोग रिक्शा से जस्सी के घर के लिए रवाना हुए। लेकिन उसकी रंजिश उसके दोस्त जसवीर उर्फ जस्सी पर भारी पड़ी। बाईक पर सवार होकर आए 4 युवकों ने उसकी डबवाली में भनक पाकर उन्हें पुराना कचहरी रोड़ पर घेर लिया और कापों तथा डंडों से ताबड़तोड़ हमला बोल दिया। वह जान बचाकर भाग निकला। लेकिन उसकी रंजिश का शिकार उसका मित्र जस्सी हो गया।
रवि कम्बोज ने यह भी बताया कि हमलावरों की अगुवाई विनोद निवासी रविदास नगर तथा मोनू निवासी प्रेमनगर निवासी डबवाली कर रहे थे। विनोद से उसकी स्कूल समय की रंजिश है। विनोद बगैरा स्कूल में दादागिरी किया करते थे। लेकिन उसे रौब सहना पसंद नहीं था। उसकी दुश्मनी का सिला जस्सी को उठाना पड़ेगा, यह उसने कभी सपने में भी नहीं सोचा था।
मृतक जसवीर उर्फ जस्सी के परिवार में उसका एक बड़ा भाई सुखबीर सिंह तथा माता हरपाल कौर (40) निवासी मण्डी किलियांवाली (पंजाब) हैं। हरपाल कौर पंजाब के गांव पथराला में बतौर क्लर्क के पद पर तैनात हैं। जबकि जस्सी का भाई सुखबीर सिंह जालंधर में जेबीटी कर रहा है। हरपाल कौर (40) के अनुसार जब उसका बेटा जस्सी गर्भ में था तो उसके पति बलदेव की मृत्यु हो गई थी। बलदेव सिंह मानसा (पंजाब) के एक गुरूद्वारा में सेवादार थे। पिता का साया बच्चों के सिर से उठने के बाद उसने बड़े लाड़-प्यार से दोनों को पाला पोसा।
जबकि रवि कम्बोज पुत्र झींडा राम कम्बोज का परिवार गांव अबूबशहर में किसानी करता है। वह अपने मां-बाप का इकलौता पुत्र है।

स्कूली रंजिश में युवक की हत्या

डबवाली। बुधवार शाम को पुरानी रंजिश के चलते कुछ युवकों ने घर लौट रहे दो युवकों पर हमला कर दिया। हमले में एक युवक घायल हो गया। जबकि एक भागने में सफल रहा। घायल की अस्पताल पहुंचने से पहले ही मौत हो गई। मृतक की पहचान जसवीर सिंह (18) निवासी मण्डी किलियांवाली के रूप में हुई है।
उपमंडल डबवाली के गांव अबूबशहर निवासी रवि (19) ने बताया कि बुधवार को वह अपने मित्र जसवीर उर्फ जस्सी के साथ बठिंडा में शॉपिंग करने केे लिए गया था। जस्सी ने फैशन टेक्नोलॉजी का कोर्स करने संंबंधी जानकारी भी लेनी थी। वे लोग शाम को लगभग 5.30 बजे डबवाली के बठिंडा चौक में उतरे और एक रिक्शा पर सवार होकर जसवीर के घर की ओर जा रहे थे कि पुराना कचहरी रोड़ पर अग्निहोत्री अस्पताल के पुराना भवन के पास नीले रंग के बाईक पर सवार होकर आए चार युवकों ने उन पर डंडों, तेजधार हथियारों से हमला कर दिया। वह तो जैसे-तैसे अपनी जान बचा कर भाग खड़ा हुआ लेकिन उसका दोस्त उनके हत्थे चढ़ गया।
रवि ने यह भी बताया कि हमला करने वाले युवकों का नेतृत्व विनोद निवासी रविदास नगर तथा मोनू निवासी प्रेम नगर डबवाली कर रहे थे। वे उससे स्कूल समय की रंजिश रखते हैं। रंजिश का कारण वे लोग स्कूल में दादागिरी करते थे और वह उनका विरोध करता था। इसी बात को लेकर उनमें कई बार हाथापाई भी हो चुकी थी। इसी के चलते इन युवकों ने उन पर हमला किया।
सुनील (22) निवासी पब्लिक क्लब क्षेत्र, डबवाली ने बताया कि उसे सूचना मिली कि उनकी गली का एक युवक डॉ. अग्निहोत्री अस्पताल के पुराना भवन के पास खून से लथपथ पड़ा है। वह मौका पर पहुंचा और जसवीर को घायल अवस्था में डबवाली के सरकारी अस्पताल में पहुंचाया। यहां जसवीर को डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। सुनील ने बताया कि जस्सी 20 मिनट तक मौका पर पड़ा तडफ़ता रहा लेकिन किसी ने भी इसको उठा कर अस्पताल पहुंचाने की जहमत नहीं की।
इस घटना की सूचना पाकर एसपी सिरसा सत्येन्द्र गुप्ता, डीएसपी डबवाली बाबू लाल अस्पताल पहुंचे और रवि से घटना की पूरी जानकारी ली। इस मौके पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए डीएसपी डबवाली बाबू लाल ने बताया कि रवि के ब्यान पर हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है और इस मामले की जांच थाना शहर पुलिस के कार्यकारी प्रभारी एसआई मंदरूप सिंह कर रहे हैं।
डॉ. एमके भादू ने बताया कि युवक जसवीर उर्फ जस्सी मौत कनपटी पर कापा लगने के कारण हुई है। अस्पताल आने से पूर्व ही युवक की मौत हो चुकी थी।