युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

12 दिसंबर 2010

दोस्ती की चाह में किया हमला

डबवाली | पसंदीदा लड़की से दोस्ती जब परवान नहीं चढ़ सकी तो दोस्ती के पेंच लड़ाने वाले युवक ने लड़की के घर जाकर तेजधार हथियार से प्रहार कर उसे घायल कर दिया और बाद में खुद कीटनाशी दवा पी कर अस्पताल में दाखिल हो गया। उधर, घायल लड़की को भी अस्पताल में ले जाया गया है।
वार्ड नंबर 13 की गली प्रेरणा पब्लिक स्कूल वाली में ऐसा ही कुछ हुआ। अस्पताल में उपचाराधीन घायल लड़की रजनी (19) पुत्री ओम शंकर ने बताया कि शुक्रवार देर शाम सात बजे उसके पिता हिंदी साहित्य सदन लाइब्रेरी में गए हुए थे और मां उसके भाई के इलाज के लिए बरनाला गई हुई थी। उसी दौरान उनके घर के सामने रहने वाला कुलदीप नामक युवक उसके घर में घुस आया। उसके हाथ में तेजधार हथियार था। युवक ने घर में घुसते ही उससे गोदरेज की अलमारी की चाबियां मांगी। रजनी ने बताया कि उसके इंकार करने पर वह उस पर तेजधार हथियार से टूट पड़ा और सिर पर प्रहार किया जिससे वह घायल हो गई। जब बचाओ बचाओ शोर किया तो आसपास के एकत्रित लोगों को देखकर वह युवक मौके से फरार हो गया। बाद में वह कीटनाशी दवा पीकर अस्पताल में दाखिल हो गया। 
रजनी ने आरोप लगाया कि कुलदीप दो माह पूर्व भी उनके घर में नशे में घुस आया था। उस समय पंचायती तौर पर माफी मांग लेेने पर समझौता हो गया था। कुलदीप ने बताया कि शुक्रवार शाम को रजनी ने ही उसे फोन करके बुलाया था। लेकिन उसके मन में आशंका थी कि कहीं उस पर हमला न हो जाए इसलिए वह घर से ईंटें तोडऩे वाली तेसी को साथ ले गया। कुलदीप के अनुसार वह जैसे ही रजनी के घर पहुंचा तो रजनी ने पहले से बैठे एक युवक को उसकी पिटाई करने के लिए कहा। उसके तेसी दिखाने पर वह युवक तो भाग गया और उसने गुस्से में आकर रजनी के सिर पर तेसी का प्रहार कर दिया और घर आकर कीटनाशी दवा पी गया। एसआई मंदरूप सिंह ने बताया कि रजनी के बयान पर युवक कुलदीप के खिलाफ केस दर्ज करके आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।