युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

14 अप्रैल 2010

पानी के लिए शीत युद्ध

डबवाली (लहू की लौ) पेयजल किल्लत को लेकर मंगलवार को डबवाली के वार्ड नं. 7 और 17 के लोगों के बीच विवाद उत्पन्न हो गया। एक धड़े के लोगों ने दूसरे धड़े के लोगों के पेयजल कनैक्शन तक काट डाले। इस मौके पर लोगों ने खाली मटकों के साथ जनस्वास्थ्य विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।
वार्ड नं. 17 में स्थित रविदास नगर की गली नं. 4 के निवासी सुरेन्द्र, देवेन्द्र, गोपाल, धर्मपाल, सतनाम, कान्ता, राधा, गंगा देवी, तारावंती ने बताया कि करीब दो माह से उनके घरों में पेयजल की आपूर्ति नहीं हो रही है। वे पूर्णतय जमीनी पानी पर निर्भर हो चुके हैं। यहां एक ओर उनके घरों में पेयजल की आपूर्ति नहीं हो रही, वहीं उनकी गली की पेयजल पाईप से वार्ड नं. 7 को जाने वाले अवैध पेयजल कनेक्शनों को बिना बाधा के पेयजल पहुंच रहा है। सुबह वे लोग इक्ट्ठे हुए और अवैध पेयजल कनेक्शनों की जानकारी जनस्वास्थ्य विभाग के जेई सतपाल को दी। जेई के निर्देश पर उन्होंने वार्ड नं. 7 को जाने वाले पेयजल कनेक्शनों को काट दिया। पेयजल किल्लत को लेकर लोगों ने जनस्वास्थ्य विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।
उधर पेयजल कनेक्शनों को काटे जाने के चलते वार्ड नं. 7 में स्थित प्रेमनगर निवासी सोहन लाल, रमेश कुमार, जीत राम, रमनदीप, परमजीत कौर, राम सिंह, हरीश, कमला देवी, मदन लाल बगैरा मौका पर पहुंचे। पेयजल कनेक्शन काटे जाने पर एतराज जताया। दोनों पक्षों में काफी देर तक बहस होती रही। स्थिति तनावपूर्ण होती देख क्षेत्र के अन्य निवासियों ने बीच-बचाव पेयजल को लेकर बिफरे लोगकरते हुए दोनों धड़ों को समझाया। मामला ठण्डा पडऩे पर प्रेमनगर वासी जनस्वास्थ्य विभाग डबवाली के कनिष्ठ अभियन्ता सतपाल से मिले। उन्हें अपनी समस्या से अवगत करवाया।
कनिष्ठ अभियन्ता सतपाल ने बताया कि वार्ड नं. 17 के लोगों की नजायज कनेक्शन सम्बन्धी शिकायत पाकर वे मौका पर पहुंचे थे। लेकिन कनेक्शन काटने सम्बन्धी उन्होंने किसी को कोई निर्देश नहीं दिये। जिन कनेक्शनों को अवैध करार दिया जा रहा है, उनकी जांच की जा रही है। अवैध होने पर कनेक्शन कटवा दिये जाएंगे। कनिष्ठ अभियन्ता के अनुसार सम्बन्धित क्षेत्र की पेयजल समस्या को दूर करने के लिए क्षेत्र में नई पेयजल पाईप बिछाई जा रही है। जिसका कार्य 1-2 दिन में पूरा हो जाएगा।