युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

09 दिसंबर 2010

भेदभाव की राजनीति पर लगा विराम

चंडीगढ़। सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा है कि राजनैतिक द्वेष के चलते प्रदेश के जिस हिस्से को अतीत की सरकारों ने पिछड़ा रखा, मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के नेतृत्व वाली वर्तमान प्रदेश सरकार उन क्षेत्रों को विकास के पथ पर अग्रणी कर भेदभाव की राजनीति पर विराम लगा दिया है।
    दीपेंद्र हुड्डा ने आज झज्जर के बादली हलके के गांव पेलपा, निमाणा, सौंधी, नंगला व कुतानी सहित अनेक गांवों में पहुंचकर 17 दिसंबर को बादली में होने वाली रैली का न्यौता दिया।
सांसद ने कहा बादली सहित राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के बड़ेे हिस्से को हरियाणा निर्माण के करीब 40 वर्षों तक जानबूझ कर पिछड़ा रखा गया। पिछले पांच वर्षों में वर्तमान सरकार की दूरदर्शी सोच का नतीजा है कि दशकों से पिछड़े रहे क्षेत्र विकास पथ पर तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के साथ सटे हरियाणा के विकास के लिए पिछले पांच वर्षों में जिन योजनाओं का धरातल स्तर पर कार्य शुरू हुआ अब उसके परिणाम दिखाई देने लगे हैं। बादली के विकास का जिक्र करते हुए सांसद ने कहा कि देश का सबसे बड़ा चिकित्सा संस्थान एम्स-2 बादली में स्थापित होने जा रहा है। उन्होंने कहा कि जब भी कोई एक बड़ी परियोजना दस्तक देती है तो साथ ही अनेक सहायक विकास योजनाएं स्वयं ही साथ आती है। उन्होंने कहा कि दिल्ली के साथ सटा बादली का स्वरूप तेजी से स्वर्णिम हो रहा है।
दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि बादली के विकास की अनेक परियोजनाओं के साथ 17 दिसंबर को बादली के विकास को गति देने वाली रैली होगी। इस रैली में मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत करेंगे। उन्होंने कहा कि इस बीच गांव-गांव से मिलने वाली जरूरतों के आधार पर समस्त क्षेत्र की मुख्य मांगें मुख्यमंत्री के समक्ष रखी जाएगा। उन्होंने कहा कि बादली की प्रगति की प्रतीक यह रैली इलाके के विकास के उत्सव जैसी होगी, इस लिहाज से जरूरी है कि रैली में हर गांव बड़ी संख्या में महिला-पुरुष हलके की रैली में पहुंचेगे।
सांसद ने कहा कि पिछले साढ़े पांच बरस के अरसे में मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के नेतृत्व में प्रदेश में जो फैसले लिए गए उनका लाभ प्रदेश के हर आम आदमी को मिला है। उन्होंने कहा वायदों से परे एक ही कलम से 1600 करोड़ रुपए के बिजली के बिल माफ करने का फैसला सरकार ने लिया तो उस राहत का लाभ प्रदेश के हर इलाके के किसान को मिला। उन्होंने कहा एक बाद एक करके जनहित की योजनाएं धरातल स्तर पर लागू कर प्रदेश को अग्रणी करने का कार्य वर्तमान सरकार ने किया है। उन्होंने कहा कि इसी का नतीजा है कि चालीस बरस के अरसे में पहली बार प्रदेश की जनता ने हरियाणा की राजनैतिक परंपराओं को तोड़ते हुए लगातार दूसरी बार मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के नेतृत्व को समर्थन देते हुए कांग्रेस की सरकार बनाई।
    इसके अतिरिक्त, उन्होंने कहा है कि सार्वजनिक निर्माण के कार्य समाज के सांझे कार्य होते हैं। उन्होंने कहा कि सड़क, गलियों अथवा अन्य सार्वजनिक निर्माण कार्य के दौरान संबंधित क्षेत्र के लोग निर्माण कार्य में प्रयुक्त की जाने वाली निर्माण संबंधी सामग्री की निगरानी में स्वयं भी रूचि लें। उन्होंने विभागीय अधिकारियों से भी आह्वान किया कि निर्माण कार्यों के दौरान गुणवत्ता में किसी तरह का समझौता न करें। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक निर्माण किसी भी समाज और राष्ट्र की सांझी धरोहर है ऐसे में निर्माण कार्य हर हाल में ईमानदारी से पूरे कराए जाएं।
बादली विधानसभा क्षेत्र के विधायक नरेश शर्मा ने कहा कि 17 दिसंबर की रैली में मुख्यमंत्री बादली की जनता के बीच पहुंचकर बादली के विकास को और अधिक मजबूती प्रदान करेंगे। उन्होंने कहा कि बादली क्षेत्र को गुडग़ांव-फरीदाबाद की तर्ज पर विकसित करने के लिए जो खाका मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा और सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने खींचा तो उस पर तेजी से काम जारी है।

हरियाणा में बनेगा हरियाणा मिट्टी कला बोर्ड

चण्डीगढ। हरियाणा सरकार ने प्रदेश में मिट्टïी के बर्तन व सजावटी कलाकृत्तियां बनाने की परम्परागत हस्तकला को बढ़ावा देने के लिए 'हरियाणा मिट्टïी कला बोर्डÓ का गठन किया है।
हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डïा ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि बोर्ड एक स्वायत निकाय होगी और इसकी कार्यावधि प्रथत दृष्टïांत में दो वर्ष के लिए होगी, जिसे सरकार द्वारा समय समय पर बढ़ाया जा सकता है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि बोर्ड की एक स्थाई सील होगी। उन्होंने कहा कि वाणिज्यिक उद्देश्य से मिट्टïी के बर्तन बनाने वाले और कुंभकारी करने वाले कलाकारों सहित और कलाकारों को बड़े पैमाने पर बढ़ावा दिया जाएगा। देश के प्रतिष्ठिïत कलाकारों को लगाकर मिट्टïी के बर्तन, कुंभकारी और  कलाकृत्तियों के निर्माण में कौशल विकास सुविधाएं स्थापित की जाएंगी।
श्री हुड्डïा ने कहा कि बोर्ड इन वस्तुओं को बड़े पैमाने पर बढ़ावा देने के लिए जागरूकता अभियान भी आयोजित करेगा। बोर्ड विपणन तंत्र के लिए आरम्भिक उपाय करेगा और बिक्री आऊॅटलेट के प्रावधान के माध्यम से निर्मित वस्तुओं  की बिक्री को बढ़ावा देगा और नई रेंज के उत्पादों के विकास में पहल करेगा। बोर्ड कलाकारों द्वारा निर्मित और विकसित उत्पादों की प्रदर्शनियां भी आयोजित करेगा और उत्कृष्टï कलाकारों के लिए पुरस्कार का गठन करके प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा दिया जाएगा।
श्री हुड्डïा ने कहा कि बोर्ड में पांच सदस्य होंगे, जिसमें एक अध्यक्ष, सदस्य सचिव सहित दो सरकारी सदस्य और सरकार द्वारा समय-समय पर नियुक्त दो गैर-सरकारी सदस्य शामिल होंगे। हरियाणा खादी एवं ग्राम उद्योग बोर्ड का मुख्य क ार्यकारी अधिकारी बोर्ड का पदेन सदस्य सचिव होगा। बोर्ड के अध्यक्ष और अन्य सदस्यों की नियुक्ति और कार्यकाल की नियम एवं शर्तें सरकार द्वारा निर्धारित किए जाएंगे।
    उन्होंने कहा कि बोर्ड राज्य सरकार की स्वीकृति से इसके प्रशासन के लिए नियम और विनियम बनाएगा। यह वर्ष में कम से कम एक बार या बोर्ड द्वारा निर्धारित कम से कम अन्तराल पर बैठक करेगा। बोर्ड की प्रत्येक बैठक की प्रोसिडिंगस की एक प्रति राज्य सरकार को भेजी जाएगी।
    श्री हुड्डïा ने कहा कि बोर्ड सरकार की पूर्व स्वीकृति से प्रशासनिक, तकनीकी,लिपिकीय और अन्य पद सजृत करेगा और समय समय पर जारी नियमों और निर्देशों के अनुसार नियुक्तियां करेगा। बोर्ड के खर्च राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध किए जाने वाले सहायता अनुदान में से किए जाएंगे।
    यहां यह उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री ने कुरूक्षेत्र में हाल ही में आयोजित एक समारोह में मिट्टïी के बर्तनों के जीर्णोद्घार और बढ़ावा देने के लिए 'हरियाणा मिट्टïी कला बोर्डÓ का गठन करने की घोषणा की थी।
    हिसार में 12 दिसम्बर को आयोजित किए जाने वाले राज्य स्तरीय बीसी-ए समारोह के संयोजक कांगे्रस विधायक श्री राम निवास घोडेला ने इस बोर्ड के गठन का स्वागत किया है। उन्होंने समाज के पिछड़े और कमजोर वर्गों के सामाजिक आर्थिक उत्थान के लिए यह पहल करने हेतू इस समुदाय की ओर से मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।

ऑर्केस्ट्रा की आड़ में चल रहे वेश्यावृत्ति के अड्डे का भंडाफोड़

सिरसा। शहर सिरसा पुलिस ने न्यू हाउसिंग बोर्ड कालोनी में स्थित एक मकान पर छापामार कर आरके्रस्टा पार्टी की आड़ में चलाए जा रहे वेश्यावृति के ठिकाने का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने मौके से दो युवतियों सहित पांच लोगों को काबू किया है।
जानकारी देते हुए शहर थानाप्रभारी निरीक्षक कृष्णा यादव ने बताया कि वह देर रात्रि को गश्त के दौरान बरनाला रोड़ के हाउसिंग बोर्ड क्षेत्र में मौजूद थी। इसी दौरान किसी मुखबिर के माध्यम से सूचना मिली कि नई हाउसिंग बोर्ड स्थित एक मकान में वेश्यावृति का धंधा हो रहा है। इस सूचना के आधार पर उन्होने  पुलिस पार्टी के साथ मौके पर दबिश दी। पुलिस ने मौके से युवती रिंकी व सुमन को दो युवकों गोबिंद व बलजिंद के साथ आपत्तिजनक अवस्था में पाया। इसके अलावा पुलिस ने वेश्यावृति का अड्डा चलाने वाले काशीनाथ पुत्र आशुतोष निवासी जलधा, पश्चिमी बगाल को भी काबू कर लिया। पकड़े गए आरोपियों में रिंकी, वेश्यावृति के अड्डा संचालक काशीनाथ की पत्नी है। जबकि सुमन पत्नी विजय दिल्ली की रहने वाली है। इसके अलावा पकड़े गए दो युवकों बलजिंद्र पुत्र चरणङ्क्षसह निवासी खैरपुर तथा गोबिंद पुत्र टेकचंद निवासी कोटली को काबू किया है। पकड़े गए आरोपियों ने पुलिस पुछताछ में स्वीकारा की कि वे सिरसा में पिछले काफी समय से आरके्रस्टा की आड़ में अनैतिक धंधा चला रहे थे।