युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

29 नवंबर 2014

रामबाग के साथ गंदगी में बरामद हुई दो किलो चांदी

डबवाली (लहू की लौ) सीआईए डबवाली ने दुर्गा मंदिर में हुई चोरी की गुत्थी को सुलझाते हुये दो लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों से चार किलो 540 ग्राम चांदी की ज्वेलरी बरामद की है।
सीआईए प्रभारी राकेश कुमार ने बताया कि बुधवार शाम को मुखबरी मिली थी कि एक युवक सिरसा में ज्वेलरी बेचने के लिये ग्राहक तालाश कर रहा है। पुलिस ने उसे काबू कर लिया। पूछताछ के दौरान उसने अपनी पहचान रविंद्र उर्फ रवि निवासी हिसार के तौर पर करवाते हुये दुर्गा मंदिर से चोरी ज्वेलरी उसके पास होना स्वीकार किया। डबवाली अदालत से एक दिन का रिमांड प्राप्त करने के बाद रवि की निशानदेही पर उसके घर से दो किलो 500 ग्राम चांदी बरामद की। उसने बताया कि वारदात को डबवाली निवासी नमन् ने अंजाम दिया था। पुलिस ने मुखबरी के आधार पर शुक्रवार सुबह डबवाली के बठिंडा चौक से नमन् उर्फ काकू को गिरफ्तार कर लिया। उसकी निशानदेही पर पुलिस ने रामबाग की दीवार के साथ गंदगी में छुपाकर रखी गई 2 किलो 40 ग्राम चांदी बरामद कर ली। ज्वेलरी को दोनों ने लोहे के कतिया से काटकर हिस्सों में बांट रखा था। जबकि हिसार में इसको किसी ने खरीदा नहीं, तो नमन् उर्फ काकू अपने हिस्से को लेकर डबवाली आ गया। जबकि रवि ने सिरसा में ग्राहक ढूंढना शुरू कर दिया।
सीआईए प्रभारी ने बताया कि हिसार में 26 वर्षीय रवि ने बीकानेर स्थित आईटीआई से वेल्डर का कोर्स किया हुआ है। नशे की पूर्ति के लिये वह चोरियों को अंजाम देने लगा। रवि को उपमंडल न्यायिक दंडाधिकारी परवेश सिंगला की अदालत में पेश किया गया। अदालत ने उसे जेल भेजने के आदेश दिये। जबकि नमन् को युनाईल कोर्ट सिरसा में पेश किया गया। अदालत ने उसे बाल सुधार गृह हिसार भेजने के आदेश दिये।

कोई टिप्पणी नहीं: