युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

22 मार्च 2010

बिजली को लेकर मसीतांवासी भड़के

डबवाली (लहू की लौ) गांव मसीतां के किसान रविवार को अचानक हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम लि. के गांव डबवाली स्थित कार्यालय में आ धमके। चल रही बिजली में बार-बार ट्रिपिंग की समस्या और निगम के एक अधिकारी पर अभद्र व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए किसानों ने नारेबाजी भी की। जबकि बिजली विभाग के सम्बन्धित अधिकारी ने किसी प्रकार की अभद्रता से इंकार किया है।
गांव मसीतां के किसान सर्वजीत सिंह, मनजीत सिंह दलहे पूर्व सरपंच, गमदूर सिंह नम्बरदार, दर्शन सिंह, वीरेन्द्र सिंह, कुलविन्द्र सिंह, पिरती सिंह, मेजर सरां, काकू सरां आदि ने बताया कि बिजली निगम द्वारा उनको जो लाईट दी जा रही है, वह भी शैड्यूल मुताबिक नहीं दी जा रही। शैड्यूल अनुसार उनको मिलने वाली बिजली में भी एक-दो घण्टे का कट लगा दिया जाता है। इसके अतिरिक्त ट्रिपिंग अलग से होती है। जिससे उन्हें भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।
किसानों ने आरोप लगाया कि जब इस सम्बन्धी उन्होंने निगम के एसडीओ जी.डी. मैहता से सम्पर्क किया तो उन्होंने उनके साथ अभद्र व्यवहार किया। किसानों ने मैहता तथा बिजली निगम के खिलाफ नारेबाजी भी की। हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम लि. के एसडीओ जी.डी. मैहता ने किसी भी ग्रामीण के साथ अभद्र व्यवहार किये जाने से साफ इंकार करते हुए कहा कि ट्रिपिंग को लेकर उनके पास फोन अवश्य आया था। जिसका उन्होंने उचित उत्तर दिया। उनके अनुसार ट्रिपिंग का लोड अधिक या कम होने से कोई सम्बन्ध नहीं होता। बल्कि लाईन में अचानक फाल्ट आने से ऐसा होता है। मैहता के अनुसार गांव मसीतां को बिना किसी समस्या के बिजली मिले इसके लिए सम्बन्धित फीडर को दो भागों में विभाजित कर दिया गया है। इस अवसर पर दक्षिण हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम के एसडीओ गुलशन वधवा भी उपस्थित थे।

भाभी ने देवर पर लगाया घर को आग लगाने का आरोप

डबवाली (ल$हू की लौ) गांव मिठड़ी बुधगिर की मनप्रीत कौर पत्नी गुरचरण सिंह ने लम्बी पुलिस को एक शिकायत देकर अपने देवर मनजीत सिंह पर उसे जलाने के लिए उस पर मिट्टी का तेल डालने का आरोप लगाया है और साथ में यह भी कहा है कि वह उसका घर का सामान जला गया।
मनप्रीत कौर ने बताया कि उसका पति गुरचरण सिंह दुबई गया हुआ है और पीछे से उसकी सास, देवर और ननद उससे मारपीट करते हैं। लेकिन शुक्रवार की रात को उसे अकेले पाकर उसका देवर मनजीत सिंह उसके घर आया और उसकी पहले पिटाई की फिर से उसे तेल डाल कर जलाने का प्रयास किया। लेकिन वह अपने बेटे सहित भाग कर गांव में जा पहुंची और बच गई।
शिकायतकात्री के अनुसार पीछे से उसका देवर उसके घर के सामान को जला गया। उसने आरोप लगाया कि उसका देवर उससे नशे के लिए पैसे की मांग करता है। शिकायत में उसने यह भी आरोप लगाया है कि आग से उसका टीवी, बैड, फ्रिज, पेटी, अलमारी जल गई तथा उसे संदेह है कि उसका देवर उसकी सोने की चैन, अंगूठियां व कड़ा आदि भी ले गया।

लोक अदालत में 114 में से निपटाए 77 केस

बनवाला (जसवन्त जाखड़) गांव रिसालियाखेड़ा में स्थित राजकीय प्राथमिक कन्या विद्यालय में शनिवार को लोक अदालत का आयोजन किया गया। इस अवसर पर एसडीजेएम महावीर सिंह की अदालत में 20 दीवानी, दो चैक बाऊंस, एक रिकवरी, 20 मोटर वाहन व 9 छोटे मुकदमों सहित कुल 53 मुकदमे आए जिनमे से 49 मुकदमे मौके पर निपटाए गए तथा जेएमआइसी अमरजीत सिंह की अदालत में 56 दीवानी, 3 आबकारी अधिनियम, दो मोटर वाहन सहित कुल 61 मुकदमे आए जिनमे से 28 का मौके पर निपटारा किया गया। इस लोक अदालत में 10 हजार 500 रुपए जुर्माने की रिकवरी की गई और 60 इंतकाल मंजूर किए गए। इस अवसर पर एडवोकेट जेएस दंदीवाल, युधिष्टर शर्मा, जसविंद्र सिंह, एसके गर्ग, बीएस यादव, एसके मेहता, जगदीप सिंह, बलजीत सिंह, आइडी मेहता, कमलजीत कंबोज, जीपीएस बराड़, राजेश यादव, महावीर सिंह, अमनदीप विर्क व कानूनगो मनोहर लाल सहित अन्य वकील उपस्थित थे। इस अवसर पर ग्राम सरपंच दलीप सिंह व ग्राम पंचायत सदस्यों सहित काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थित हुए और न्यायधीशों व वकीलों का स्वागत किया। मंच का संचालन करते हुए एडवोकेट युधिष्टर शर्मा व बलवंत यादव ने बताया कि ग्रामीण लोक अदालत में समय व धन की बचत होती है और इसमें न किसी की हार व जीत होती है। इस अदालत में निपटाए गए केसों की आगे अपील भी नहीं की जा सकती। लोक अदालत का शुभारंभ करते हुए उपमंडीलीय मुक्तकालीनी सेवा समिति डबवाली के सदस्य सुरेंद्र गर्ग व जसविंद्र सिंह ने महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना अधिनियम की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस अधिनियम के अनुसार एक वर्ष में 365 दिन माने जाते हैं जिसमें बेरोजगार लोगों को सौ दिन का रोजगार सरकार की ओर से दिया जाता है। जसविंद्र सिंह ने जजों का स्वागत करते हुए कहा कि कहा कि इस लोक अदालत के ज्यादा से ज्यादा केस निपटाए जाएं ताकि लोगों को बार बार अदालत के चक्कर न लगाने पड़ें।

महंगाई का विरोध : बिना दूध और चीनी के चाय पिलाई

डबवाली (लहू की लौ) देशव्यापी मंहगाई का विरोध शनिवार को डबवाली भाजपा ने अनूठे अंदाज से किया। यहां के बस स्टैण्ड पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने लोगो को बिना दूध और चीनी की चाय पिलाई एवं राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल के नाम मंहगाई के खिलाफ ज्ञापन पर हस्ताक्षर करवाये। भाजपा की चाय और बढ़ती मंहगाई से खफा अन्य राजनैतिक दलों से संबधित लोग भी ज्ञापन पर हस्ताक्षर करते देखे गये।
इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्षा रेणू शर्मा ने अपने संबोधन में कहा कि बेकाबू मंहगाई से त्रस्त भारत की जनता के सामने जहां अपने परिवार के लालन-पालन का संकट खड़ा हो गया है, वहीं कांग्रेस की सरकार के मंत्री इस समस्या के प्रभावी निदान की जगह जमाखोरी कर अपनी जेबें भरने में लगे हैं।
डबवाली भाजपा प्रभारी सतीश जग्गा, कर्मचारी प्रकोष्ठ के प्रभारी एस.डी.कपूर, मण्डल महामंत्री बलदेव सिंह मांगेआना आदि वक्ताओं ने कांग्रेस सरकार को कोसते हुये कहा कि आम आदमी का नारा देकर सत्ता हथियाने वाली कांग्रेस के राज में आज आम आदमी अपने बदहाली पर खून के आंसू रो रहा है और केन्द्र सरकार की फाईव स्टार केबिनेट हर मौके पर नकारा साबित हो रही है। हस्ताक्षर अभियान में भाजपा के वरिष्ठ नेता हेमराज बांसल, कृष्ण ग्रोवर, नरेश बागड़ी, प्रवेश घई, महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष शकुन्तला बरेजा, शकुन्तला बागड़ी, कृष्ण कीनिया, राम किशन मैहता, डा. रितेश शर्मा, नन्द लाल, मन्नू राम शर्मा, रणधीर सिंह पन्नीवाला, जंगीर सिंह दिवानखेड़ा, पूर्ण चन्द, दाता राम, सतीश गर्ग सहित कई कार्यकर्ता मौजूद थे।

बर्थ-डे पर लगाया चिकित्सा शिविर

डबवाली। यहां के स्पेयर पार्टस विक्रेता दरिया सिंह नामधारी ने गुरूद्वारा बाबा विश्वकर्मा मन्दिर में अपने जीवन के 50 वर्ष पूरे होने पर अनोखे ढंग से अपना जन्मदिवस मनाया। इस मौके पर भारी संख्या में नामधारी के दोस्त, रिश्तेदार व जान पहचान के लोग उपस्थित थे।
दरिया सिंह नामधारी के जन्मदिवस के संदर्भ में शनिवार को गुरूद्वारा में रखे गये श्री सुखमणि साहिब के पावन पाठ का भोग डाला गया। इसके बाद प्राकृ तिक चिकित्सक अमर सिंह शास्त्री तथा सुभाष चन्द शास्त्री के सानिध्य में आयोजित नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर में रोगियों की मुफ्त रजिस्टे्रेशन की गई। जिनका इलाज डबवाली के सतयुग आरोग्य  मन्दिर में 10 दिन तक नि:शुल्क किया जायेगा।
इससे पूर्व दरिया सिंह के जन्मदिवस पर बोलते हुए रणजीत सिंह एडवोकेट ने कहा कि कुछ लोग देश में पिछले कुछ समय से समाज को तोडऩे की साजिश रच रहे हैं फिर भी समाज को जोडऩे वालों की कमी नहीं है। उनके अनुसार दरिया सिंह ने एक स्थान पर सभी धर्मों के लोगो को केवल इक्ठ्ठा ही नहीं किया बल्कि नि:शुल्क शिविर लगाकर बीमार पड़ रहे लोगो को मार्गदर्शन देने का प्रयास भी किया है ताकि वे लोग बीमारियों से बच सकें।
उन्होंने कहा कि हमेशा अच्छी बात को लोगों तक पहुंचाने का प्रयास किया जाना चाहिए। उनके अनुसार 90 प्रतिशत लोग आज कल तनाव के कारण रोगग्रस्त हैं और उन्हें सही मार्ग दिखाये जाने की जरूरत है। उनके अनुसार तनाव का कारण भी हमारे इर्द-गिर्द का वातावरण ही है। उन्होंने पत्रकारों से अनुरोध किया कि वह समाज में फैली कुरीतियों के खिलाफ अपनी कलम को ओर तीखी करें। रणजीत सिंह एडवोकेट ने लोगों को सचेत किया कि अगर हिन्दुस्तान रूपी नाव को बचाना है तो भाईचारा स्थापित करना होगा और भाईचारे में बाधक तत्वों से अलग थलग करना होगा।
गुरूद्वारा श्री कलगीधर सिंह सभा के प्रधान बघेल सिंह ने कहा कि अच्छाई उस समय ही प्रकट होती है जब ईश्वर कृपा करता है। गो सेवक रामलाल बागड़ी ने कहा कि हमें हमेशा ही धार्मिक रीतियों के अनुसार जन्म दिन मनाना चाहिए, ताकि हमारे बच्चों में अच्छे संस्कार पैदा हों और वह बड़े होकर अच्छे नागरिक बनें।
प्राकृतिक चिकित्सक अमर सिंह शास्त्री फरीदाबाद ने शिविर प्रारम्भ होने से पूर्व बताया कि शरीर को स्वस्थ रखने का मूल सूत्र आहार में छुपा हुआ है। जब हमारी जीवन शैली में किसी प्रकार की विकृति आती है तो रोग पैदा होता है। फिर इसमें सही ढंग से उपचार न करके बल्कि इसे दवा से दबाने का प्रयास किया जाता है, जो बाद में केवल घातक रोगों का कारण ही नहीं बनता बल्कि हमारी मौत का कारण बन जाता है। उन्होंने मरीजों को आश्वस्त किया कि शिविर के 10 दिन में वह उन्हें प्राकृतिक तरीके से जीने की शैली बताकर रोगो से राहत दिलाने का प्रयास करेंगे। उनके अनुसार नहाना, भोजन करना और सोना शरीर की दैनिक क्रियाओं को नियमानुसार करना भी रोग से मुक्ति का कारगर उपाय है।
इस मौके पर कुमार चन्द्रिका आश्रम स्कूल प्रबंधक समिति के अध्यक्ष कृष्ण जाखड़ ने आर्गेनिक खेती और गोपालन के बारे में बताया और वायुमण्डलीय प्रदूषण के प्रभाव की जानकारी दी।
इस मौके पर फतेह सिंह आजाद, बहादुर सिंह कूका ने भी अपने विचार रखे। जबकि मंच का संचालन बंटी गोयल ने किया। इस कार्यक्रम में नगर के अनेक गणमान्य व्यक्ति भारी संख्या में उपस्थित थे। इस अवसर पर गुरूद्वारा बाबा विश्वकर्मा मन्दिर की प्रबन्धक कमेटी के प्रधान सुखविन्द्र सिंह भी उपस्थित थे।