युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

22 सितंबर 2009

माओवादियों व माकपा समर्थकों में जमकर गोलीबारी


कोलकाता, 22 सितंबर। पश्चिम बंगाल के इनायतपुर कस्बे में माओवादी और माक्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी समर्थकों के बीच जमकर गोलीबारी हुई। दोनों तरफ से करीब पांच राउंड गोलियां चलाई गई। इसमें 10-15 लोगों को हताहत होने और कई के घायल होने की खबर है, मगर मृतकों के बारे में औपचारिक पुष्टि नहीं हुई है। सोमवार शाम शुरू हुई गोलीबारी मंगलवार सुबह भारी तादाद में पुलिस के वहां पहुंचने के बाद माओवादी पीचे हट गए हैं और गोलीबारी थम गई है। माओवादियों ने सोमवार सायं पश्चिमी मिदनापुर के इनायतपुर गांव में माकपा के एक पार्टी कार्यालय को यह आरोप लगाते हुए घेर लिया था कि कार्याल के अंदर उसके कार्यकर्ताओं के पास हथियार हैं। उन्होंने धमकी दी थी कि अगर रात में अपने हथियार नहीं सौंपे, तो वे कार्यालय को उडा देंगे। उस समय कार्यालय में माकपा के करीब अस्सी हथियारबंद कार्याकर्ता थे। माओवादियों ने अपनी धमकी का असर नहीं देख गोलीबारी शुरू कर दी, जवाब में कार्यालय के भीतर मौजूदा माकपा कार्यकर्ताओं ने गोलीबारी की। माना जा रहा है कि माकपा कार्यकर्ताओं की जवाबी गोलीबारी के कारण ही माओवादी कार्यालय के पास नहीं फटक सके और कोई धमाका करने में विफल रहे। कोलकाता में माकपा कार्यकर्ता अनौपचारिक तौर पर कह रहे हैं कि दोनों तरफ के लोग मारे गए हैं, मगर वे भी कोई पुष्ट जानकारी नहीं दे पाए हैं। दूसरी माओवादी नेता किशनजी ने दावा किया है कि उनका कोई कार्यकर्ता हताहत नहीं हुआ है। इस मुठभेड की खास बात यह है कि माकपा समर्थकों ने इस बार माओवादियों का जमकर उन्हीं की तर्ज जवाब दिया है।
जून में लालगढ इलाके में माओवादियों के खिलाफ पुलिस अभियान की शुरूआत के बाद भी राज्य की सत्ताधारी पार्टी माकपा के कम से कम 35 समर्थक माओवादियों का निशाना बन चुके हैं। माकपा कार्यकर्ताओं का कहना है कि उन्हें पुलिस बल पर भरोसा नहीं है और वे अपनी रक्षा की जिम्मेदारी अपने कंधों पर उठा रहे हैं।
दूसरी ओर माओवादी नेता किशनजी बताया कि इनायतपुर के माकपा कार्यालय में बडी संख्या में हथियार हैं और वे इसका इस्तेमाल माओवादियों को समर्थन दे रहे ग्रामीणों के खिलाफ करने वाले हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि माकपा कार्यकर्ता स्थानीय महिलाओं को परेशान करते हैं इसीलिए हजारों ग्रामीणों ने हमारे छापामारों की अगुआई में माकपा कार्यालय को घेर लिया। अभी भी हमारे लोग वहां मौजूद हैं मगर जनता के अनुरोध पर हम पीछे हट गए हैं।

कश्मीर : आतंकियों से मुठभेड में जवान शहीद

श्रीनगर, 22 सितंबर। जम्मू एवं कश्मीर के बारामूला जिले में आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच जारी गोलीबारी में एक जवान शहीद हो गया, जबकि एक आतंकवादी मारा गया। सेना की 21वीं कोर के प्रवक्ता कर्नल उमा माहेश्वर ने बताया कि बारामूला के तंगमूला जंगलों में आतंकवादियों के छुपे होने का सुराग मिलने पर राष्ट्रीय राइफल्स के जवानों ने जंगल में खोजबीन शुरू की। उन्होंने बताया कि जब आतंकवादियों से समर्पण के लिए कहा गया तो उन्होंने गोलीबारी शुरू कर दी। इस गोलीबारी में एक जवान शहीद हो गया और एक घायल हो गया। सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई एक आतंकवादी भी मारा गया। उन्होंने बताया कि आतंकवादियों के खिलाफ अभियान अभी जारी है।

स्वाइन फ्लू की देशी दवा को नहीं मिल रही मंजूरी

नई दिल्ली, 22 सितंबर। वनस्पतियों से दवाइयां बनाने वली भारत की एक कम्पनी ने स्वाइन फ्लू की वनस्पतीय औषधि बनाने का दावा किया है, जिसे उसने इस संक्रामक बीमारी की परम्परागत दवाई टेमीफ्लू से अधिक कारगर बताया है। उसका कहना है कि इसका व्यावसायिक स्तर पर उत्पादन करने पर यह यह 20 से 30 फीसदी सस्ती पडेगी। पुणे स्थित इंडस बायोटेक के कार्यकारी निदेशक राजन आर. श्रीनिवासन ने बताया कि भारतीय बाजार में इस उपलब्ध कराने के संबंध में भारतीय औषदि नियंत्रक के पास प्रस्ताव दिया गया है। उन्होंने बताया कि पहले इस दवा को एचआीवी वायरस के लिए तैयार किया गया था, मगर परीक्षणों से इ दवाई को स्वाइन फ्लू के लिए भी कारगर पाया गया है। इस औषधि के प्रयोगशाला परीक्षण हो चुके हैं और अमरीका के फैडरल ड्रग्स एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) से इसे इन्वेस्टीगेशनल न्यू ड्रग्स (आईएनडी) के रूप में अनुमति मिल चुकी है। आईएनडी किसी नई दवा को मंजूरी दिलाने की दिशा में पहला कदम है। इसके बाद मानव पर इसके परीक्षण किए जाते हैं। श्रीनिवासन ने बताया कि कम्पनी पहले ही एचआईवी के मामले में एफडीए से अनुमति प्राप्त कर चुकी है, पूर्व नैदानिक परीक्षण एक समान ही रहेंगे, चाहे वह एचआईवी के लिए हो या एच1एन1 के लिए।
श्रीनिवासन ने बताया कि बायोटेक ने भारतीय औषधि नियंत्रक के पाास भारत में इस दवा के मानव पर परीक्षण के लिए अनुमति की अर्जी दाखिल की है। हालांकि भारतीय औषदि नियंत्रक बॉटेनिकल श्रेणी की दवाओं का समर्थन करता है पर फिर भी इस दवा को एनसीई के वर्ग में रखवा होगा जबकि एनसीई तथा बॉटेनिकल दवाओं की प्रकृति भिन्न है।

सीबीआई टीम फिर सिरसा पहुंची

सिरसा (लहू की लौ) डेरा सच्चा सौदा के पूर्व प्रबंधक फकीरचंद की गुमशुदगी के मामले में जुटी सीबीआई की टीम आज फिर सिरसा पहुंची। इंस्पेक्टर राजेश तिवारी के नेतृत्व में चार सदस्यीय टीम ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय में रिकार्ड खंगाला। ज्ञातव्य हो कि डेरा सच्चा सौदा के पूर्व प्रबंधक फकीरचंद 1990 में डेरा से एकाएक लापता हो गया था। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत सिंह के चालक गोबिंद सिंह ने फकीर चंद की हत्या किए जाने का खुलासा किया था। इसके उपरांत गांव गंगा निवासी एवं डेरा के पूर्व साधु रामकुमार बिश्रोई ने फकीरचंद की गुमशुदगी के मामले को लेकर सीबीआई जांच करवाने के लिए न्यायालय की शरण ली थी। पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय ने मामला सीबीआई के सुपुर्द कर दिया। कुछ दिन पूर्व सीबीआई के डीएसपी सतीश डागर के नेतूत्व में पहुंची टीम ने इस मामले में अनेक तथ्य जुटाए थे। आज फिर इंस्पेक्टर राजेश तिवारी के नेतृत्व में टीम सिरसा पहुंची।

करंट लगने से करिंदे की मौत

ऐलनाबाद (लहू की लौ) एक फैक्टरी में कार्यरत कारिंदे की करंट लगने से मौत हो गई। पुलिस ने शव सामान्य अस्पताल पहुंचाया। अंत: परीक्षण के बाद शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया। मिली जानकारी के अनुसार जिला गया (बिहार) के अंतर्गत गांव गड़ीझाम निवासी राजेश यादव पुत्र ब्रह्मदेव यादव विगत काफी समय से सेतिया फैक्टरी में कार्यरत था। आज प्रात: कार्य करते समय उसे करंट लग गया। करंट की चपेट में आने से राजेश की मौके पर ही मौत हो गई। फैक्टरी में कार्यरत अन्य लोगों ने मामले की जानकारी पुलिस को दी।

101 उम्मीदवारों ने नामांकन पत्र दाखिल किये

डबवाली (लहू की लौ) हरियाणा विधानसभा-2009 के लिए 13 अक्तूबर को हो रहे आम चुनावों के लिए नामांकन पत्र भरने आज पांचवें दिन 101 उम्मीदवारों ने अपने-अपने नामांकन पत्र दाखिल किये। इस प्रकार, अब तक कुल 130 उम्मीदवारों द्वारा नामांकन पत्र भरे जा चुके हैं, जिनमें 110 पुरूष एवं 20 महिला उम्मीदवार शामिल हैं। जिन प्रमुख उम्मीदवारों द्वारा आज नामांकन पत्र दाखिल किये गये, उनमें तोशाम विधानसभा क्षेत्र से इंडियन नेशनल कांग्रेस की ओर से श्रीमती किरण चौधरी तथा डबवाली विधानसभा क्षेत्र से इंडियन नेशनल लोकदल के अजय सिंह चौटाला शामिल हैं। इसी प्रकार, पंचकूला जिला की कालका विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से इंडियन जस्टिस पार्टी के मनोज कुमार तथा पंचकूला विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से भाजपा के ज्ञान चंद गुप्ता तथा उनकी पत्नी श्रीमती बिमला ने नामांकन पत्र भरा। जिला अंबाला से नारायणगढ़ विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से हजकां (बीएल) के भूम सिंह राणा, हरियाणा लोकतंत्र पार्टी के राम कुमार तथा निर्दलीय मूलक राज ने, अंबाला छावनी से जरनैल सिंह तथा अमरीक सिंह ने निर्दलीय, अंबाला शहर से रजनीश कुमार तथा श्रीमती ऋतु ने भी निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में नामांकन पत्र भरें। यमुनानगर जिला के जगाधरी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से निर्दलीय उम्मीदवार जय चंद चौहान तथा रादौर से श्याम सिंह राणा ने भाजपा के उम्मीदवार के रूप में अपना नामांकन दाखिल किया। कुरुक्षेत्र जिला की लाडवा विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से इनेलो के शेर सिंह बड़शामी, पेहवा विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से इनेलो के जसविंदर सिंह एवं रघबीर चंद ने लोक जनशक्ति की ओर से अपना नामांकन पत्र भरा। कैथल जिला के गुहला (आरक्षित) विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से इनेलो की ओर से फूल सिंह तथा श्रीमती कमलेश ने, कैथल विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से निर्दलीय उम्मीदवार शमशेर सिंह तथा पुंडरी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से इनेलो के सज्जन सिंह ने अपने-अपने नामांकन पत्र दाखिल किये। करनाल जिला की नीलोखेड़ी (आरक्षित) विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से एकता शक्ति के जय सिंह तथा संजय कुमार, निर्दलीय रणबीर सिंह, सुश्री सलोचना एवं राजेन्द्र कुमार ने, इंद्री विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से हजकां (बीएल) के राकेश कुमार, करनाल विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से निर्दलीय आनंद प्रकाश शर्मा तथा असंध विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (माक्र्सवादी) की ओर से बलजीत सिंह ने तथा जय भगवान से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में नामांकन पत्र भरें। पानीपत जिला की पानीपत ग्रामीण विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से इनेलो की ओर से ओम प्रकाश, पानीपत शहर से राष्टï्रीय गरीब दल की ओर से धर्मपाल, इसराना (आरक्षित) भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (माक्र्सवादी) की ओर से कृष्ण कुमार ने तथा समालखा विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से हजकां (बीएल) की ओर से धर्म सिंह छौकर ने नामांकन पत्र दाखिल किये। इसी प्रकार, सोनीपत जिला की विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों से जिन उम्मीदवारों ने नामांकन पत्र भरे, उनमें राई विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से सुशील कुमार ने निर्दलीय, खरखौदा (आरक्षित) विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से राजू ने निर्दलीय तथा बरौदा विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से हरियाणा जन रक्षक दल की ओर से सतबीर सिंह चहल तथा सत्यवान नरवाल शामिल हैं। जींद जिला की जुलाना विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से इनेलो की ओर से परमिंदर सिंह ढुल एवं लोक जनशक्ति के मुकेश जोगी ने नामांकन भरे। फतेहाबाद जिला की टोहाना विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से इनेलो की ओर से निशांत सिंह, समस्त भारतीय पार्टी की ओर से बजरंग ने, फतेहाबाद विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से समस्त भारतीय पार्टी की ओर से नरिंदर कुमार तथा सुरेन्द्र सिंह ने तथा रतिया (आरक्षित) से समस्य भारतीय पार्टी के रोशन लाल तथा भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मॉक्र्सवादी) के श्री पीरा राम ने अपने-अपने नामांकन दाखिल किये। सिरसा जिला की डबवाली विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से इनेलो के अजय सिंह चौटाला और हरियाणा शिअद के जगदेव सिंह ने, रानिया विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मॉक्र्सवादी) की ओर से स्वर्ण सिंह तथा जसवंत सिंह ने, सिरसा विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मॉक्र्सवादी) की ओर से श्रीमती बलबीर कौर ने तथा ऐलनाबाद से इंडियन नेशनल कांग्रेस की ओर से सुश्री कमलेश ने अपने-अपने नामांकन पत्र भरें। इसी प्रकार, हिसार जिला की हांसी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से हजकां (बीएल) के विनोद भ्याना एवं श्रीमती सुनीता ने, बरवाला विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से हजकां (बीएल) की ओर से सुभाष ने तथा हिसार विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से सुश्री रचना कपूर ने निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में अपना नामांकन पत्र भरा। भिवानी जिला के लोहारू तथा दादरी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों से क्रमश: रतन लाल व सत्यपाल ने निर्दलीय, तोशाम विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से इंडियन नेशनल कांग्रेस की ओर से श्रीमती किरण चौधरी ने, हजकां (बीएल) की ओर से कंवल सिंह तथा निर्दलीय सत्य नारायण ने और बुवानीखेड़ा (आरक्षित) विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से नरेन्द्र सिंह एवं करन सिंह ने निर्दलीय उम्मीदवारों के रूप में अपने-अपने नामांकन पत्र दाखिल किये। रोहतक जिला के गढ़ी-सांपला किलोई विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से इनेलो की ओर से सतीश कुमार एवं प्रदीप ने, समस्त भारतीय पार्टी की ओर से धर्मवीर ने, रोहतक विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से निर्दलीय जिले सिंह तथा कलांनौर (आरक्षित) विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से इनेलो की ओर से नागा राम एवं कमला देवी ने, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मॉक्र्सवादी) की ओर से विजेन्द्र सिंह और निर्दलीय पृथी ने अपने नामांकन पत्र भरें। झज्जर जिला की विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों से इनेलो पार्टी की ओर से जिन उम्मीदवारों ने नामांकन पत्र दाखिल किये, उनमें बहादुरगढ़ से कपूर सिंह और नफे सिंह राठी, बादली से राजिंदर अहेरी, झज्जर (आरक्षित) से श्रीमती कांता तथा सुश्री नीरज तथा बेरी से ओम प्रकाश बेरी शामिल हैं। इसके अलावा, बेरी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से चत्तर सिंह ने भी निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। महेन्द्रगढ़ जिला के अटेली विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से इनेलो के अजीत सिंह एवं हजकां (बीएल) के रोशन लाल ने, महेन्द्रगढ़ विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से निर्दलीय संजय कुमार एवं रमेश कुमारी ने, नारनौल विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से हजकां (बीएल) के प्रीति ने तथा निर्दलीय उमाकांत तथा जितेन्द्र ने और नांगल चौधरी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से हजकां (बीएल) के मूला राम एवं निर्दलीय सुश्री मंजू ने अपने-अपने नामांकन पत्र दाखिल किये, जबकि रेवाड़ी जिला के रेवाड़ी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से भाजपा के रणधीर सिंह तथा निर्दलीय अजय एवं सतीश ने अपने-अपने नामांकन पत्र भरे। इसी प्रकार, गुडग़ांव जिला के पटौदी (आरक्षित) विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से इनेलो के गंगाराम और निर्दलीय बस्ती राम ने, बादशाहपुर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से इनेलो के गोपीचंद तथा निर्दलीय राकेश भारद्वाज ने, गुडग़ांव विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से प्यारे लाल कटारिया ने निर्दलीय तथा सोहना विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से साहिदा खान ने इनेलो की ओर से, राम निवास ने लोक जनशक्ति पार्टी की ओर से एवं निकाल सिंह ने निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में अपने-अपने नामांकन पत्र दाखिल किये। पलवल जिला की हथीन विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से आल इंडिया रक्षक पार्टी की ओर से विजय पाल और महिपाल ने नामाकंन पत्र भरा, जबकि फरीदाबाद जिला की बडख़ल विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से प्रताप सिंह ने निर्दलीय, बल्लभगढ़ विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से अनीता एवं के जी गोस्वामी ने इनेलो की ओर से अपने-अपने नामांकन पत्र भरे।