युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

07 सितंबर 2009

ट्रेक्टर-ट्राली की चपेट में आने से युवक की मौत

सिरसा (लहू की लौ) गांव नानकपुर के निकट ट्रैक्टर-ट्राली की चपेट में आने से एक युवक की मौत हो गई। पुलिस ने शव सामान्य अस्पताल पहुंचाया। अंत:परीक्षण के पश्चात शव वारिसों के हवाले कर दिया गया। मिली जानकारी के अनुसार मसीतां निवासी लखबीर सिंह पुत्र गुरदयाल सिंह किसी कार्यवश गांव नानकपुर आया हुआ था। गत सायं लखबीर सड़क किनारे जा रहा था। पीछे से जा रहे ट्रैक्टर-ट्राली ने उसे टक्कर मार दी। घटनास्थल पर ही लखबीर की मौत हो गई। राहगीरों ने मामले की जानकारी सदर थाना पुलिस को दी। पुलिसकर्मी घटनास्थल पर पहुंचे और शव सामान्य अस्पताल पहुंचाया।

कन्या का भ्रूण मिला

सिरसा (लहू की लौ) वैदवाला रोड स्थित सिरसा मेजर में आज एक कन्या भ्रूण मिला। सूचना मिलने पर हुड्डा चौकी पुलिस मौके पर पहुंची। भ्रूण को सामान्य अस्पताल पहुंचाया। पुलिस ने अज्ञात महिला के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मिली जानकारी के अनुसार आज प्रात: राहगीरों ने वैदवाला रोड से गुजर रही सिरसा मेजर में एक भ्रूण पड़ा देखा। लोगों ने इसकी सूचना हुड्डा चौकी पुलिस को दी। पुलिस ने भ्रूण कब्जे में लिया और सामान्य अस्पताल पहुंचाया। चिकित्सकों के अनुसार भ्रूण कन्या का है। पुलिस ने इस संबंध में अज्ञात महिला के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

किसानों का धरना 17वें दिन में प्रवेश

ऐलनाबाद (लहू की लौ) शेरांवाली माइनर में टेल तक पानी न पहुंचने के विरोधस्वरूप अखिल भारतीय किसान सभा के नेतृत्व में किसानों का धरना आज 17वें दिन में प्रवेश कर गया। कर्मशाना रोड स्थित मिठनपुरा पुल पर दिए जा रहे धरने में एलनाबाद क्षेत्र के अनेक गांवों के किसान शामिल हैं। सभा ने प्रशासन को चेतावनी दी है कि आज सायं तक अंतिम छोर तक पानी नहीं पहुंचा तो किसान जिलास्तरीय आंदोलन करेंगे। आंदोलन की शुरुआत कल नहर को पाटकर की जाएगी।
धरने पर बैठे अखिल भारतीय किसान सभा के इकाई अध्यक्ष रमेश सहारण ने कहा कि एलनाबाद क्षेत्र हरियाणा के अंतिम छोर पर स्थित है। नहराना से निकलने वाली शेरांवाली माइनर विभिन्न गांवों से होती हुई एलनाबाद पहुंचती है। उन्होंने कहा कि एलनाबाद तक के रास्ते में किसानों द्वारा कई स्थानों पर पानी की चोरी कर ली जाती है। इसमें विभागीय अधिकारियों की मिलीभगत से भी इन्कार नहीं किया जा सकता। ऐसे में एलनाबाद क्षेत्र के लोगों को सिंचाई तो दूर, पीने को भी पानी मुहैया नहीं हो पा रहा है। उन्होंने कहा कि महिलाएं तीन किलोमीटर से भी अधिक दूरी से पेयजल सिर पर ढो कर लाने को मजबूर हैं। एक ओर तो सरकार घर-घर तक पानी पहुंचाने का ढिंढोरा पीट रही है, वहीं एलनाबाद क्षेत्र के लोगों को पीने के पानी के लाले पड़े हुए हैं। किसान नेता सुखदेव भादू ने कहा कि इस संबंध में अनेक बार कार्यकारी अभियंता से बातचीत की गई लेकिन वे टालमटोल की नीति अपनाए हुए हैं। इससे किसानों में और अधिक रोष है। धरने में खारी सुरेरां, मीठी सुरेरां, कर्मशाना, मैहनाखेड़ा, भुर्टवाला, पोहड़कां, मल्लेकां, ढाणी शेरांवाली तथा रानियां के सैंकड़ों किसान शामिल हैं। किसानों का कहना है कि उनकी मांगें पूरी न होने पर कल सुबह वे नहर ध्वस्त करने से जिलास्तरीय आंदोलन की शुरुआत करेंगे। प्रदर्शन कर उपायुक्त को ज्ञापन सौंपा जाएगा।

प्लॉट विवाद में जिन्दा जलाया

सिरसा (लहू की लौ) प्लॉट के विवाद को लेकर एक युवक ने अपने भाई को जला कर मार डाला। पुलिस ने मृतक के मृत्युपूर्व दर्ज किए बयानों के आधार पर उसके भाई सहित चार लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवा वारिसों के सुपुर्द कर दिया। आरोपी अभी गिरफ्त से बाहर है।
मिली जानकारी के अनुसार थेड़ मोहल्ला निवासी राजकुमार पुत्र कुंदन लाल का अपने बड़े भाई कुलभूषण के साथ प्लाट को लेकर विवाद चल रहा था। राजकुमार गत सायं किसी कार्यवश गांव मीरपुर गया हुआ था। इस दौरान कुलभूषण अपने तीन अन्य साथी अशोक कुमार, प्रवीण व बोबी के साथ राजकुमार के पीछे जा पहुंचा। उक्त लोगों ने राजकुमार पर मिट्टी का तेल छिड़क कर आग लगा दी। लोगों ने झुलसी अवस्था में उसे सामान्य अस्पताल दाखिल करवाया। मामले की जानकारी शहर थाना पुलिस को दी गई। पुलिस ने अस्पताल पहुंच कर राजकुमार के बयान कलमबद्ध किए। राजकुमार के बयान के आधार पर पुलिस ने उक्त चारो आरोपियों पर जान से मारने के प्रयास का मामला दर्ज किया।
आज सुबह राजकुमार की मौत हो गई। पुलिस ने मृत्यु पूर्व दिए गए बयानों के आधार पर राजकुमार के सगे भाई कुलभूषण सहित अशोक, प्रवीण तथा बोबी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है।

बादल ने बांटे 1 करोड़ 30 लाख

डबवाली (लहू की लौ) मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने रविवार देर शाम को लम्बी विधानसभा हल्का के 9 गांवों के संगत दर्शन कार्यक्रम के तहत इन गांवों के विकास के लिए करीब डेढ़ करोड़ रूपये के चैक वितरित किये।

गांव कुत्तियांवाली में संगत दर्शन को सम्बोधित करते हुए प्रकाश ङ्क्षसह बादल ने कहा कि उसे दु:ख है कि इस क्षेत्र में सैंकड़ों एकड़ रकबा सेम की मार तले आने से इस क्षेत्र के किसान फसलों से वंचित हैं और इसके चलते किसान परिवार आर्थिक मंदी का शिकार हैं। जबकि पंजाब सरकार द्वारा लगातार इस क्षेत्र में सेम के समाधान के लिए ठोस कदम उठाये जा रहे हैं। उन्होंने गांव वासियों से यह भी कहा कि वे पक्के खाल करवाने के लिए दी गई ग्रांटों का इस्तेमाल करने के लिए बनता हिस्सा जमा करवायें। ताकि इस ग्रांट को उनके उपयोग में लाया जा सकें।
उन्होंने यह भी कहा कि जो गांव अपना बनता हिस्सा दो माह में जमा नहीं करवाएगा, तो मजबूरन उन गांवों के लिए खाल पक्के करने के लिए जारी की गई ग्रांट अन्य गांवों को जारी कर दी जाएगी। इस मौके पर टयूब्बैल कारपोरेशन के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री पंजाब को विभाग द्वारा शुरू किये गये खाले पक्के करने के प्रौजेक्ट की जानकारी देते हुए बताया कि कोटला ब्रांच नहर के खाले पक्के करने का कार्य पूरा कर लिया गया है और इस समय तीन प्रौजेक्टों सरहन्द फीडर, बठिण्डा ब्रांच और यूवीडीसी प्रौजेक्ट पर खाले पक्के करने का कार्य तेजी से चल रहा है।
उन्होंने बताया कि पंजाब की उपरोक्त तीन मुख्य नहरों के अतिरिक्त अबोहर ब्रांच और भाखड़ा मेन ब्रांच के प्रौजेक्ट तैयार करके नाबार्ड के पास भेजे जा चुके हैं। राज्य में चल रहे तीन प्रौजेक्टों के कार्यो की विस्तारपूर्वक जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि सरहन्द फीडर प्रौजेक्ट का काम 2011-12 तक 628 करोड़ रूपये की लागत से पूरा कर दिया जाएगा। जिससे 314496 हैक्टेयर मुक्तसर, फरीदकोट, फिरोजपुर आदि जिलों में आने वाले क्षेत्र को आवश्यकता अनुसार सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध हो जाएगा।
उन्होंने जानकारी दी कि अब तक सरहन्द फीडर प्रौजेक्ट पर 52 करोड़ रूपये खर्च करके खाले पक्के किये जा चुके हैं और इससे 28 हजार हैक्टेयर रकबा को लाभ पहुंचा है। बठिण्डा ब्रांच प्रौजेक्ट सम्बन्धी बताया कि यह प्रौजेक्ट भी 2011-12 तक पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है और इस प्रौजेक्ट के खाले पक्के करने के लिए 366 करोड़ रूपये का खर्च आएगा और खाले पक्के होने से 181707 हैक्टेयर कृषि योग्य भूमि को सिंचाई की बेहतर सुविधा उपलब्ध होगी। बठिण्डा ब्रांच प्रौजेक्ट अधीन मुक्तसर, बठिण्डा और मानसा जिलों की जमीन आती है और इस प्रौजेक्ट पर अब तक 49 करोड़ रूपये खाल पक्के करने के लिए खर्च किये जा चुके हैं। जिससे 25 हजार हैक्टेयर रकबा को सिंचाई की बेहतर सुविधा उपलब्ध हो गई है। यूवीडीसी प्रौजेक्ट के बारे जानकारी देते हुए बताया कि इस प्रौजेक्ट का काम 2010-11 तक पूरा करने का लक्ष्य है और 358 करोड़ रूपये खाले पक्के करने के लिए खर्च किये जाएंगे। जिससे 184861 हैक्टेयर रकबा को सिंचाई की सुविधा मिलेगी। इस प्रौजेक्ट के अन्तर्गत मुख्य तौर से अमृतसर और तरनतारण के इलाके कवर होंगे। इस्टन कैनाल प्रौजेक्ट जिसका मुख्य तौर से फिरोजपुर जिला के किसानो ंको लाभ होगा, के कार्य पर 8.75 करोड़ रूपये का खर्च आएगा। कारपोरेशन का अबोहर प्रौजेक्ट पर 339 करोड़ रूपये का खाले पक्के करने का प्रौजेक्ट और भाखड़ा मेन ब्रांच का 181 करोड़ रूपये का प्रौजेक्ट तैयार करके नाबार्ड के पास आर्थिक आवश्यकता की पूर्ति के लिए भेजा गया है।
रविवार के संगत दर्शन कार्यक्रम के दौरान कुत्तियांवाली को करीब 9 लाख, फतूहीवाला को 28 लाख से अधिक, रोड़ांवाली को 13 लाख 28 हजार, तरमाला को 23 लाख और भीटीवाला को 20 लाख रूपये के चैक मौका पर अलग-अलग कार्यो के लिये दिये गये। इन समारोहों के दौरान बादल ने 15 गरीब परिवारों को शगुन स्कीम के चैक वितरित किये। इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री ने ढाणी तेलियांवाली, कंदूखेड़ा और भुल्लरवाला में भी गांवों की पंचायतों के दलित वर्गो के परिवारों और नौजवान भलाई और खेल क्लबों के प्रतिनिधियों से बातचीत की और उनकी समस्याएं सुनकर उनका मौका पर ही हल किया और ग्रांट के चैक वितरित किये। मुख्य तौर पर दलित वर्ग की धर्मशालाओं, स्कूलों, वाटर सप्लाई स्कीमों, गलियों, नालियों, जोहड़ों आदि की चारदीवारी के लिए अनुदान राशि दी गई। इसके अतिरिक्त मौका पर उन्होंने पेश हुए बीमार पीडि़त परिवारों को आर्थिक सहायता दी।

आज से दौड़ेगी होली-डे एक्सप्रैस

डबवाली (लहू की लौ) यहां के रेलवे स्टेशन अधीक्षक सुलतान सिंह ने बताया कि 7 सितम्बर से हनुमानगढ़ से जयपुर के लिए एक नई गाड़ी होली डे एक्सप्रेस शुरू हो रही है। जिसका लाभ जयपुर जाने वाले डबवाली, बठिंडा, मलोट के आस-पास के क्षेत्र के यात्रियों को मिलेगा।उन्होंने आगे बताया कि यह एक्सप्रैस गाड़ी हनुमानगढ़ से शाम को 18.15 पर जयपुर के लिए रवाना होगी और अगले दिन सुबह 7 बजे जयपुर पहुंच जाएगी। फिर जयपुर से शाम को 21.05 पर रवाना होगी तथा सुबह 8.45 पर हनुमानगढ़ पहुंच जाएगी। उनके अनुसार यह गाड़ी बाया सूरतगढ़, बीकानेर, मेडता रोड़ होती हुई फुलेरा से जयपुर पहुंचेगी। उन्होंने यह भी बताया कि छोटी लाईन को बड़ी किया जा रहा है, इसके चलते सादुलपुर से श्री डूंगरपुर तक जाने वाला रेलमार्ग बन्द रहेगा। जबकि रतनगढ़-सरदार शहर-रतनगढ़ के लिए तीन पेयर रेल बस रविवार से शुरू हो चुकी है।

दुर्घटना में बलेरो सवार पांच घायल

डबवाली (लहू की लौ) शनिवार देर रात को मण्डी किलियांवाली के मलोट रोड़ पर स्थित भट्ठा के नजदीक एक बलेरो के ट्रेक्टर-ट्राली से टकरा जाने से बलेरो सवार पांच जने घायल हो गये। जिन्हें इलाज के लिए डबवाली के सिविल अस्पताल में लाया गया।
घायल सतनाम सिंह पुत्र गुरमेल सिंह निवासी अलूना मियाना (लुधियाना) ने बताया कि वे लोग मधुमक्खी पालने का काम करते हैं। गांव मैहना में बने उनके मधुमक्खी के फार्म पर मधुमक्खियां मर रही थी। जिसको वे उत्तर प्रदेश में स्थानांतरित करना चाहते थे। इसी इरादे से वह अपनी बलेरो में सवार होकर शनिवार रात को करीब 11 बजे गांव मैहना की ओर जा रहे थे की कि आगे से गुजर रही पराली की भरी ट्रेक्टर-ट्राली को मलोट रोड़ पर भट्ठा के नजदीक ओवरेटेक करते समय मलोट साईड से आ रहे कैंटर की लाईट पडऩे से बलेरो चालक दलबीर सिंह पुत्र हरभजन सिंह निवासी अलूना मियाना (लुधियाना) नियंत्रण खो बैठा और बलेरो गाड़ी ट्रेक्टर-ट्राली से जा टकराई।
उसने बताया कि दलबीर सिंह को गंभीर हालत में सिरसा रैफर कर दिया गया। लेकिन वे लोग उसे बठिण्डा एक प्राईवेट अस्पताल में ले गये। इस बलेरो गाड़ी में सवार अन्य नछत्तर निवासी गांव मकसूद (लुधियाना), राजेश कुमार पुत्र रामचन्द्र, जय राम पुत्र श्रीचन्द निवासीगण बेदी जिला डोंसा (नेपाल) घायल हो गये। जिन्हें उपचार के लिए डबवाली के सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया गया।

गौशाला को अढ़ाई लाख दिये

डबवाली : यहां के सुप्रसिद्ध कपड़ा फर्म हंस राम मदन लाल के मदन लाल गर्ग तथा कृष्ण गर्ग ने अपने पिता स्व. हसंराज के अग्रवाल सभा में आयोजित श्रद्धांजलि समारोह में गौशाला में शैड के निर्माण के लिए दो लाख पचास हजार रूपये की राशि दान में देने की घोषणा की। यह जानकारी गौशाला प्रबंधक समिति के कार्यकारी प्रधान जवाहर कामरा तथा उपप्रधान सतीश गर्ग ने दी।

डांस प्रतियोगिता में मुकेश कामरा-सुधा कामरा विजेता घोषित

डबवाली (लहू की लौ) लायन क्लब सुप्रीम द्वारा महाराजा पैलेस में शनिवार रात को आयोजित क्लब सदस्यों की बैठक में शिक्षक दिवस मनाया। जिसमें शिक्षक पूनम वधवा के अतिरिक्त मधु गुप्ता, सुमन पाहूजा, इंदु पाहूजा, सुरेन्द्र कौर अरोड़ा, राकेश वधवा, सुमन चावला, सीमा वर्मा और सुधा कामरा को सम्मानित किया गया। इसके अतिरिक्त मेहमानों में से शिक्षिका कंचन हरचन्द, सविता गोयल, रेणू बाला को भी सम्मानित किया गया।

यह जानकारी देते हुए क्लब के पीआरओ गुरदीप कामरा ने बताया कि इस मौके पर रंगारंग कार्यक्रम के दौरान युगल डांस प्रतियोगिता में मुकेश कामरा-सुधा कामरा को विजेता घोषित किया गया। जबकि मेहमानों में म्यूजिक चेयर प्रतियोगिता लेडी डॉ. भाटी ने जीती। एक अन्य गेम में डॉ. लोकेश्वर वधवा विजयी रहे। इस मौके पर मंच का संचालन गुरदीप कामरा ने किया। इस अवसर पर प्रधान विनय सेठी, राजकुमार मिढ़ा, सुरेन्द्र चावला, मनोहर लाल ग्रोवर, भूपिन्द्र पाहूजा, राजेन्द्र छाबड़ा, पुनीत गर्ग, डॉ. अश्विनी बत्तरा, डॉ. दीपक पाहूजा, सुदेश वर्मा, दीपक सिंगला, राजेश सचदेवा, प्रेम गुप्ता, संदीप जिन्दल, संजीव गर्ग, नरेश गुप्ता, विपिन अरोड़ा, प्रेम सिंह सेठी, संजय कटारिया, बीएस अरोड़ा, अमरजीत अनेजा, इन्द्रप्रीत सिंह मोंगा भी उपस्थित थे।

शाम-ए-गज़ल चुनाव के बाद

डबवाली (लहू की लौ) यहां के वरच्युस क्लब की एक बैठक अग्निकांड स्मारक स्थल पर हरियाणा साहित्य एकेडमी के निदेशक सीआर मुदगिल की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। जिसमें चुनावों के बाद पंजाबी कवि शिव कुमार बटालवी की याद में शाम-ए-गज़ल कार्यक्रम आयोजित करने का निर्णय लिया गया।
यह जानकारी देते हुए क्लब के प्रवक्ता संजीव शाद ने बताया कि इस अवसर पर एकेडमी के तरफ से अग्नि स्मारक पर चल रही लाईब्रेरी, महाराणा प्रताप कालेज और बीएड कॉलेज की लायब्रेरी को पंजाबी भाषा के प्रचार के लिए पुस्तकें दी गई। इस मौके पर शिक्षाविद् आत्माराम अरोड़ा को क्लब की ओर से हरियाणा पंजाबी साहित्य एकाडमी के डायरेक्टर सीआर मुदगिल ने सम्मानित किया। इस अवसर पर कल्ब के प्रधान वीरचन्द गुप्ता और क्लब प्रबंधक समिति के सदस्य परमजीत सिंह कोचर उपस्थित थे ।

अपने आप को जानो और पूर्ण बनो-वकील साहब

डबवाली (लहू की लौ) मस्ताना शाह बिलोचिस्तानी आश्रम के गद्दीनशीन संत वकील साहिब ने मासिक सत्संग के दौरान फरमाया कि कुल मालिक अर्थात परमपिता परमात्मा सदा सबके साथ रहता है लेकिन उसे वही पहचान सकता है जो उसकी र•ाा में रहते हुए उसके आगे अपनी दलीलें नहीं देता।
उन्होंने कहा कि दुख:-सुख कर्मों के हिसाब से आते हैं, मालिक की मर्जी के आगे किसी का कोई चारा नहीं है। मन काल का एजैन्ट है और इसके पास कर्मों का हथियार होता है। इसका काम है जीव को विषय-विकारों में भटकाना और भक्ति तथा राम-नाम का सिमरन न करने देना। जब तक हमारे पुराने पाप कर्म खत्म नहीं होते तब तक सिमरन या भक्ति हो ही नहीं सकती। सन्तों द्वारा बताया राम नाम का सिमरन करना मालिक सेे प्यार करना है।
उन्होंने उदाहरण देते हुए फरमाया कि बच्चे स्कूल जाते हैं और अपने मास्टर का कहना मानते हैं और मेहनत करते हैं तो धीरे-धीरे पढ़ाई करके उनमें से कोई बड़ा आफीसर, डाक्टर, इंजीनियर, साईंसदान व कोई वकील बन जाता है। ठीक इसी तरह जो संतों का हुक्म मानते हैं तथा उनके द्वारा बताए रामनाम का सिमरन करते हैं, उनकी आत्मा परमात्मा से मिल जाती है और जन्म मरण के बन्धनों से वे मुक्त हो जाते हैं।
संत ने आगे फरमाया कि हम दुनियां की लज्जतों, परिवारिक झंझटों व इंद्रियों के भोगों में उलझे रहते हैं। हम सोचते हैं कि मरने वाला कोई और है, हमें तो मरना ही नहीं है। मौत ने इक दिन जरूर आना है और यमदूत जब सिर पर आ जाते हैं तब होश आता है, पर उस समय कुछ हो नहीं सकता। मालिक हमारे अन्दर बैठा हमारी हर करतूत देखता है। जब तक हम मालिक की बंदगी नहीं करते, हमारा एक दूसरे से प्यार हो ही नहीं सकता। इन्सान वह है जिसने जीते जी अर्थात जीवन काल में ही मालिक को प्रगट कर लिया है बाकी सब पशुओं के समान हैं।
उन्होंने फरमाया कि धार्मिक किताबों के पढऩे से मालिक की प्राप्ति नहीं होती। क्योंकि अगर इनके पढऩे से मालिक मिलता तो अनपढ़ कहां जाएंगे। मालिक की प्राप्ति केवल संतों द्वारा बताए नाम-सिमरन से ही हो सकती है। इसलिए संत कभी घर बार नहीं छुड़वाते बल्कि घर में रहते हुए भक्ति व सिमरन करने की हिदायत देते हैं। क्योंकि अगर घर बार छोड़ोगे तो कहीं जंगल, मंदिर, मस्जिद या गुरूदारा में जा कर रहोगे। अर्थात रहे तो दुनिया में और ख्याल भी दुनिया के। फिर घर बार छोडऩे का फायदा ही क्या। उन्होंनेे फरमाया कि जग में रहो पर जग से अलग रहो। कितने लोग आपको जानते हैं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता, तुम अपने आपको जानते हो या नहीं सवाल तो यह है अर्थात अपने आप को जानो और पूर्ण बनो।
इस अवसर पर देश विदेश से श्रदलुओं ने भाग लिया। अखुट लंगर बरताया गया और इच्छुक जीवों को संत वकील साहिब जी दारा नाम दान की दीक्षा भी दी गई। आश्रम की ओर से निशुल्क चिकित्सा शिविर लगाया गया।

अच्छे काम को करने में धन का अभाव आड़े नहीं आता-डीआईजी


डबवाली (लहू की लौ) फरीदकोट रेंज के डीआईजी डॉ. जितेन्द्र जैन ने कहा कि किसी भी अच्छे काम को करने में धन का अभाव आड़े नहीं आता, बशर्ते काम करने वाले की नियत और दिल साफ हों।

वे रविवार को यहां के श्री महावीर जैन विकास संस्थान के दूसरे वार्षिक समारोह एवं वृद्ध आश्रम के उद्घाटन के अवसर पर उपस्थित लोगों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से विशेष बच्चों में उत्साह और उमंग है, उससे हमें भी हमेशा लेते हुए अपने जीवन को उत्साह और उमंग से जीना चाहिए।
उन्होने कहा कि विशेष बच्चों के लिए इस प्रकार का सहयोग किया जाना चाहिए कि वे बड़े होकर आत्मनिर्भर बनें और स्वयं को किसी पर बोझ न समझें। इस मौके पर विशेष बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करके श्रोताओं का मन मोह लिया।
इस अवसर पर पूर्व सैशन जज एन.सी. नाहटा, कैलाश चन्द जैन फत्तेहाबाद, वेदप्रकाश जैन फत्तेहाबाद, नगरपालिका अध्यक्षा सिम्पा जैन, राजेन्द्र जैन, लवलीन जैन कालांवाली, पवन जैन गोलूवाला, रामलाल बागड़ी, प्रिंसीपल रणवीर सिंह, सुरेन्द्र गुप्ता, जितेन्द्र शर्मा, डॉ. आर.के. वर्मा, रणजीत सिंह सांवतखेड़ा, बंटी गोयल, जगदीप सूर्या पार्षद, तरसेम गर्ग, डॉ. संतोष अरोड़ा, केशव सिंघल सीए, अंजू सिंघल, कृष्ण गुप्ता, अशोक पाहूजा, इन्द्र शर्मा, गुरचरण सिंह आदि उपस्थित थे। इस मौके पर मंच का संचालन मोहन लाल कौशिक ने किया। संस्थान के अध्यक्ष सुमति जैन ने आये हुए मेहमानों का धन्यवाद किया।

डबवाली ब्लॉक की नामचर्चा, 22 परिवारों को सामग्री वितरित

डबवाली : गांव डबवाली के नामचर्चा घर में डेरा प्रेमियों ने ब्लाक भंगीदास गोविन्द इन्सां के नेतृत्व में नामचर्चा की।

यह जानकारी देते हुए सात मैंबर गिरधर इंसा व सतीश इंसा ने बताया कि साध-संगत ने 10 मिनट सामूहिक नाम सिमरन किया। इसके बाद सप्ताह में एक दिन भूखे रह कर साध-संगत द्वारा संचय की गई भोजन सामग्री ब्लॉक के फूड बैंक के माध्यम से 22 अति जरूरतमंद परिवारों में वितरित की गई। इस अवसर पर 25 मैंबर राकेश इंसा, अमरजीत इंसा, 15 मैंबर पवन इंसा, बिट्टु इंसा, 7 मैंबर शिव नारायण इंसा, मोहन लाल इंसा, भगवान इंसा, अमरजीत इंसा, वीरभान इंसा, बृजलाल सागर, लीलू राम, कर्मतेज, तोता राम इंसा, सरदारी लाल इंसा, दर्शन सिंह इंसा, शाह सतनाम जी ग्रीन-एस वैल्फेयर फोर्स ङ्क्षवग के सेवादार भाई-बहन सुजान व सहयोगी बहनें, नौजवान व बुजुर्ग समिति के सेवादार व भारी गिनती में साध-संगत उपस्थित थी।

डकैती का दूसरा आरोपी न्यायिक हिरासत में

औढ़ां (जितेंद्र गर्ग) औढ़ां पुलिस ने डकैती मामले के दूसरे आरोपी बलतेज उर्फ बलदेव उर्फ बिट्टू निवासी पंजावा थाना लंबी को 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। यह जानकारी देते हुए थाना प्रभारी ओढ़ां हीरा सिंह ने बताया कि बलदेव सिंह उर्फ बिट्टू को दो दिन के पुलिस रिमांड के बाद आज डबवाली में न्यायधीश अमरजीत सिंह की अदालत में पेश किया गया जहां से उसे उसे 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।
उल्लेखनीय है कि गत 24 जुलाई की रात्रि एक ट्रक नंबर आरजे 20 जी 5829 बठिंडा पंजाब से ईंट भ_े वाली राख लेकर रेवाड़ी जा रहा था। रात्रि 10 बजे के लगभग ट्रक जब जीटी रोड पर स्थित जूट मिल के नजदीक पहुंचा तो पीछे से आ रही एक सफेद रंग की एस्टीम कार ने ट्रक को इशारा देकर रोक लिया तथा कार में सवार तीन युवकों ने ट्रक के चालक परिचालक को कागजात दिखाने को कहा।
ट्रक चालक गुरमीत सिंह पुत्र हरि सिंह निवासी कोटकपुरा ट्रक से नीचे उतरकर जब कागजात दिखाने लगा तो उनमें से एक युवक ने चालक को पिस्तौल की नोक पर लेते हुए कहा कि जो कुछ है हमारे हवाले कर दो। इस पर चालक ने 2 हजार रुपए उसके हवाले कर दिए। इतने पर संतुष्ट न होते हुए उन्होंने चालक गुरमीत सिंह, परिचालक राजू शर्मा व ट्रक की तलाशी ली तो उनके हाथ एक मोबाइल लगा। नकदी और मोबाइल छीनकर उन्होंने कार को वापिस ओढ़ां की ओर मोड लिया और फरार हो गए थे और ट्रक चालक चालक ने पन्नीवाला मोटा स्थित नाके पर पहुंचकर पुलिस को सूचना दे दी थी।