युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

07 जनवरी 2011

तस्करी में प्रेमी जोड़ा काबू

डबवाली (लहू की लौ) पोस्त तस्करी में एक महिला और पुरूष को कार के साथ पुलिस ने गिरफ्तार किया है।
पिछले कई दिनों से पुलिस को सूचना मिल रही थी कि संगरिया से कुछ लोग पोस्त लाकर आसपास के गांवों में बेच रहे हैं और साथ में यह लोग पंजाब में भी ले जाकर पोस्त की स्मगलिंग करते हैं। इसी मुखबरी के आधार पर थाना सदर के एएसआई आत्मा राम ने गुरूवार शाम को गांव आसाखेड़ा क्षेत्र में नाकाबंदी की हुई थी।
संगरिया साईड से पुलिस को एक मारूति कार आती हुई दिखाई दी। जिसको रूकवा कर तालाशी ली गई तो कार की डिग्गी में रखा 10 किलोग्राम चूरा पोस्त बरामद हुआ। कार में सवार लोगों में से पुरूष ने अपनी पहचान सुखपाल (30) पुत्र मिट्ठू सिंह निवासी रामा मंडी तथा महिला ने अपनी पहचान सर्वजीत कौर (28) पत्नी अवतार सिंह निवासी रामा मंडी के रूप में करवाई। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज करके आगामी कार्यवाही शुरू कर दी है।
एएसआई आत्मा राम ने बताया कि आरोपियों ने स्वीकार किया कि वह इससे पहले पांच बार कार पर चूरा पोस्त की तस्करी कर चुके हैं। उन्होंने बताया कि पकड़े गये आरोपियों में से महिला सर्वजीत कौर ने बताया कि 10 माह पूर्व उसके पति अवतार सिंह ने उसे छोड़ दिया था। इस दौरान उसकी मुलाकात सुखपाल सिंह से हुई और तभी से वह सुखपाल सिंह के साथ रह रही है। उन दोनों में प्रेम संबंध हैं।

दवाई एजेंट से पिस्तौल की नोक पर कार छीनी

डबवाली (लहू की लौ) राष्ट्रीय राजमार्ग नं. 10 पर थाना औढ़ां क्षेत्र में निर्माणाधीन एक पुलिया के पास कारों पर सवार होकर आए सात अज्ञात व्यक्ति पिस्तौल की नोक पर एक दवाई एजेंट से उसकी आई20 गाड़ी छीनकर फरार हो गए।
बठिंडा के एलोपेथिक दवाई एजेंट जतिन कीनरा (37) ने थाना औढ़ां पुलिस में दी शिकायत में कहा है कि वह बुधवार शाम को फतेहाबाद से बठिंडा वापिस अपनी आई20 गाड़ी से लौट रहा था। वह बड़े शहरों में मेडिकल स्टोर पर दवाई सप्लाई करने का कार्य करता है। वह जब फतेहाबाद से बठिंडा लौट रहा था तो मार्ग में एक निर्माणाधीन पुली के पास सामने से आ रहे ट्रक को देखकर उसने अपनी कार एक साईड पर लगा ली। इसी दौरान उसके पास आकर एक स्विफट और वरना गाड़ी रूकी। जिसमें से छह-सात युवक उतरे और उन्होंने उसे डराया-धमकाया तथा पिस्तौल लगाकर गाड़ी से उसे नीचे उतार लिया तथा उसकी गाड़ी लेकर फरार हो गए।
थाना औढ़ां प्रभारी हीरा सिंह ने बताया कि जतिन किनरा के ब्यान पर कार छीनने का मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी गई है।

लाल चौक में हर हाल में फहराएंगे तिरंगा

कालांवाली (नरेश सिंगला) भारतीय अस्मिता का प्रतीक तिरंगा जिसके लिए कुर्बानी देकर हर हिन्दुस्तानी धन्य महसूस करता है। तिरंगा आस्था का प्रतीक है उसी तिरंगे के बारे में कुछ देशद्रोही तत्वों द्वारा यह कहना कि लाल चौंक पर तिरंगा नहीं फहराने देंगे उनकी संकुचित मानसिकता को प्रदर्शित करता है, ऐसे लोगों को हिन्दुस्तान में रहने का कोई हक नहीं है। परन्तु केन्द्र सरकार की नपुंसकता के चलते मोहम्मद यसिन मलिक जैसा कुच्चा सा नेता आए दिन ऐसे बयान देता रहता है।
ये शब्द भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा जिला सिरसा के अध्यक्ष नरेश गर्ग ने गुरूवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहे। उन्होंने कहा कि तिरंगा न फहराने देने की बातें करने वाले लोग भारत में रहते हैं। भारत की खाते हैं और पैरवी करते हैं, पाकिस्तान जैसे आतंकी मुल्क की, ऐसे लोगों को जेल में बन्द करके उन पर देशद्रोह का मुकद्दमा दर्ज होना चाहिए। यदि उन्होंने पाकिस्तान सांसद पर भी तिरंगा ध्वज लहराने की ठान ली तो भारतीय युवा मोर्चा पाकिस्तान में भी तिरंगा लहराने की हिम्मत रखता है और यासीन मलिक जैसे गिदड़ भारतीय युवा शेरों का कुछ नहीं बिगाड़ सकते।
इस मौके पर युवा मोर्चा के जिला महामंत्री जितेन्द्र गर्ग औढां, जिला सचिव संजय गर्ग, जिला उपाध्यक्ष राजेन्द्र सोनी भी उपस्थित थे।

3 लाख से अधिक महिलाएं बनी मतदाता

डबवाली (लहू की लौ) भारत निर्वाचन आयोग एवं मुख्य निर्वाचन अधिकारी, हरियाणा के निर्देशानुसार 5 जनवरी को जिला की मतदाता सूची का सभी प्रकाशन स्थलों पर सफलतापूर्वक प्रकाशन कर दिया गया। इस मतदाता सूची में कुल 7 लाख 39 हजार 604 मतदाताओं को शामिल किया गया है। जिनमें 3 लाख 96 हजार 222 पुरुष तथा 3 लाख 43 हजार 382 महिला मतदाता है।
यह जानकारी देते हुए उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी सीजी रजिनीकांथन ने बताया कि मतदाता सूची का आरंभिक प्रकाशन 10 नवम्बर 2010 को किया गया था। जिसमें 7 लाख 21 हजार 120 मतदाता शामिल थे। इस प्रकार अब 18 हजार 884 नए मतदाता शामिल किए गए है। इस प्रकार से इस बार पूरे जिला में 2.56 प्रतिशत मतदाताओं की वृद्धि हुई है जिनमें 18 से 20 आयु के 5427 नए मतदाता जुड़े हैं। उन्होंने बताया कि 42-कालांवाली 4709, 43-डबवाली में 3032, 44-रानियां में 3448, 45-सिरसा में 5378 तथा 46-ऐलनाबाद में 1717 मतदाताओं की वृद्धि हुई है।
उनके अनुसार मतदाता संबंधित मतदान केंद्रों पर जाकर मतदाता सूची में अपने नामों की जांच कर ले। यदि किसी पात्र व्यक्ति का मतदाता सूची में दर्ज न हुआ हो तो वह अपना नाम दर्ज करवाने के लिए संबंधित निर्वाचक पंजीयन अधिकारी के पास किसी भी कार्य दिवस में फार्म नंबर-6 भरकर दर्ज करवा सकता है। इसी प्रकार किसी दर्ज नाम के बारे में आक्षेप हो तो वह फार्म नंबर-7 भरकर दे सकता है। किसी मतदाता के नाम में व अन्य दस्तावेज में त्रुटि हो तो वह फार्म नंबर-8 भरकर त्रुटि दूर करवा सकता है। फार्म नंबर-6, 7 व 8 संबंधित बूथ लैवल अधिकारियों से निशुल्क प्राप्त किए जा सकते है।

चोर गिरोह का पर्दाफाश

डबवाली। जिला की सीआईए सिरसा पुलिस ने चोर गिरोह का पर्दाफाश करते हुए तीन आरोपियों को काबू किया है। आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने शहर के विभिन्न क्षेत्रों से हुई चोरी की करीब दो लाख रूपए की संपत्ति भी बरामद कर ली है। पुलिस ने गिरफ्तार किए गए आरोपियों से पुछताछ कर शहर की कोर्ट कालोनी, तेलियान वाली गली व द्वारकापुरी में हुई चार चोरियों की गुत्थी सुलझाने में सफलता हासिल की है। सीआईए सिरसा पुलिस ने आरोपियों से पुछताछ के दौरान उनके दो अन्य साथियों की भी पहचान कर ली है, जिन्हे शीध्र दबिश देकर गिरफ्तार किया जाएगा। विस्तृत जानकारी देते हुए सीआईए सिरसा के प्रभारी निरीक्षक किशोरी लाल ने बताया कि सिरसा के पुलिस अधीक्षक सत्येंद्र कुमार गुप्ता ने शहर सिरसा में हुई चोरी की वारदातों का जांच करने का जिम्मा उन्हें सौंपा था। उन्होंने बताया कि घटनाओं की गुत्थी सुलझाने के लिए सहायक उपनिरीक्षक ओमप्रकाश, तरसेम लाल व रण ङ्क्षसह पर आधारित स्टाफ की कई टीमों का गठन कर महत्वपूर्ण सुराग जुटाए गए।
सीआईए प्रभारी ने बताया कि महत्वपूर्ण सुराग जुटाते हुए सर्वप्रथम घटना के दो आरोपियों संजय उर्फ संजू पुत्र लोकनाथ निवासी प्रीतनगर सिरसा व शकीलखान पुत्र अमीनखान निवासी कीर्तीनगर को 2 जनवरी को शहर सिरसा क्षेत्र से काबू किया गया। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपियों से पूछताछ पर इनके तीसरे साथी रवि पुत्र राजकुमार निवासी कीर्तिनगर की पहचान हुई, जिसे 3 जनवरी को सिरसा क्षेत्र से काबू किया गया। सीआईए प्रभारी ने बताया कि गिरफ्तार किए गए तीनों आरोपियों को 3 जनवरी को सिरसा अदालत में मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी एनके सिंघल की अदालत में पेश कर पूछताछ हेतू तीन दिन का पुलिस रिमांड हासिल किया गया।
उन्होने बताया कि रिमांड अवधि के दौरान आरोपियों की निशानदेही पर करीब दो लाख रूपए की चोरीशुदा संपत्ति बरामद कर ली है, जिसमें नकदी तथा सोने के जेवरात शामिल है। उन्होंने बताया कि आरोपियों के दो अन्य साथियों की भी पहचान कर ली गई है, जिनकी गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है।

छेड़छाड़ की वारदातों को रोकने के लिए सादी वर्दी में तैनात होंगे पुलिस वाले

डबवाली (लहू की लौ) जिला पुलिस अधीक्षक सत्येंद्र गुप्ता ने जिलाभर में गैर कानूनी धंधा करने वालों व असमाजिक तत्वों के खिलाफ अभियान में तेजी लाने के आदेश दिए हैं। वे बुधवार सायं अपने कार्यालय में जिला के सभी उपपुलिस अधीक्षकों, थाना प्रभारियों एवं सैलों के इंचार्जों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मादक पदार्थ तस्करों, सट्टाखाईवाली करने वालों ,जुआ खेलने वालों, बेलजंपरों तथा संपत्ति विरूद्ध अपराधियों के खिलाफ जोरदार अभियान चलाया जाए।
पुलिस अधीक्षक ने कहा कि जनसहयोग से असमाजिक तत्वों के खिलाफ चलाई जा रही मुहिम को और अधिक गति प्रदान करें। सभी पुलिस अधिकारी वैज्ञानिक तरीकों से मुकद्दमों की जांच करें, ताकि आरोपी किसी खामी का फायदा न उठा पाए। अदालत में विचाराधीन मुकद्दमों की सही ढंग से पैरवी की जाए ताकि कोई भी मुजरिम सजा से बच न पाए। गुप्ता ने राजस्थान से सटी सीमा पर स्थित इलाकों पर विशेष चैकिंग अभियान चलाकर मादक पदार्थ तस्करों पर शिकंजा कसने के निर्देश भी दिए। पुलिस अधीक्षक ने सभी थाना प्रभारियों से कहा कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में दूसरे राज्यों के साथ लगते संदिग्ध रास्तों पर अचानक नाकेबंदी कर अपराधियों पर नकेल कसे। उन्होंने सभी थाना प्रभारियों को अपने-अपने क्षेत्र के गांवों में ठीकरी पहरा सुनिश्चित करवाए जाने के भी निर्देश दिए, ताकि किसी घटना की पुनरावृति न हो पाए।
इस अवसर पर उन्होंने यातायात थाना प्रभारियों को निर्देश दिए कि वे बिना नंबर वाले वाहनों, ट्रिपल राइडिंग तथा बिना अनुमति के काली फिल्म लगाने वाले वाहनों पर कार्रवाई करें।
एसपी सत्येंद्र गुप्ता ने शिक्षण संस्थानों के आस-पास बिना नंबर वाले वाहनों पर घूमने वाले मनचले युवकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए। ताकि छेडख़ानी व छीनाझपटी जैसी वारदातों पर नकेल कसी जा सकें। इसके लिए शिक्षण संस्थानों के आसपास सिविल वर्दी में कर्मचारी भी तैनात करने को कहा।