युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

22 फ़रवरी 2010

नीरज सचदेवा मिस्टर एनपीएस, रेखा शर्मा मिस एनपीएस चुने गये

डबवाली (लहू की लौ) नव प्रगति सीनियर सैकेण्डरी स्कूल में रविवार को जश्न-ए-रूख्सत के बैनर तले 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों का विदाई समारोह धूमधाम से सम्पन्न हुआ। इस मौके पर मुख्यातिथि के रूप में वेदप्रकाश भारती डायरेक्ट एनपीएस स्टार महक कल्चरल विंग ने शिरकत की।
समारोह के दौरान मॉडलिंग प्रतियोगिता भी करवाई गई। जिसमें नीरज सचदेवा पुत्र रमेश सचदेवा ज्योतिषी मिस्टर एनपीएस, रेखा शर्मा पुत्री रामपाल शर्मा मिस एनपीएस चुने गये। पूरे वर्ष की कारगुजारी के आधार पर एनपीएस मोस्टर ओबिडंट मोहित बांसल, बेस्ट सोशल वर्कर संजीव सांवतखेड़ा, इंटेलीजेंट नरेश , बेस्ट व्बॉय कुलदीप सिंह, बेस्ट गर्ल कुलदीप कौर, बेस्ट डांसर गगनदीप कौर, सिम्पलसिटी अवार्ड सारिस मैहता, बेस्ट स्पीकर अमनदीप, थ्रू आउट मेरिटोरियस वनिता बांसल घोषित किया गया। निर्णायक मण्डल की भूमिका पंजाबी प्रवक्ता बलजिन्द्र कौर, एचओडी प्राईमरी विभाग की संतवन्त कौर ने अदा की। जबकि मंच का संचालन अर्थशास्त्र प्रवक्ता नवजीत कौर ने किया।
कार्यक्रम के अन्त में अपने सम्बोधन में प्राचार्या चन्द्रकान्ता ने कहा कि शॉर्टकट रास्तों से मुकाम नहीं मिलता। सफलता प्राप्ति के लिए जी जान से मेहनत और लग्न की आवश्यकता होती है।

आज का विद्यार्थी शिक्षा से भटका-श्याम बिहारी

डबवाली (लहू की लौ) हिन्दू शिक्षा समिति हरियाणा के प्रांतीय अध्यक्ष डॉ. श्याम बिहारी गर्ग ने कहा कि समिति द्वारा संचालित विद्यालयों में अंकों की बात के साथ-साथ ज्ञान सिखाने का कार्य किया जा रहा है।

वे रविवार को हिन्दू शिक्षा समिति द्वारा संचालित शहीद अशोक वढ़ेरा सरस्वती विद्या मंदिर के 20वें वार्षिक उत्सव एवं पारितोषिक वितरण समारोह के अवसर पर उपस्थित लोगों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि विद्यालयों में अंक लेने पर अधिक जोर दिये जाने और ज्ञान के अभाव के चलते आज का विद्यार्थी शिक्षा से भटक कर अपने ही सहपाठियों की हत्या पर उतर आया है। इस प्रकार की देश में करीब 15 घटनाएं घटित हो चुकी हैं। उन्होंने उपस्थित अभिभावकों से कहा कि वे बच्चों में ऐसे संस्कार पैदा करें जिससे बच्चा अपने हित के साथ-साथ अपने माता-पिता, समाज और देश के बारे में सोचे। उनके अनुसार बच्चा केवल नौकरी प्राप्त करने के लिए डिग्री प्राप्त करता है और डिग्री व नौकरी पाने के बाद अपने माता-पिता व समाज और देश को ही भूल जाता है।
इस मौके पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ. एमएल बागला ने कहा कि बच्चों को पढ़ाई के साथ-साथ खेल और सामाजिक गतिविधियों में भी बढ़ चढ़ कर भाग लेना चाहिए। कार्यक्रम के दौरान विद्यालय के प्रिंसीपल रणवीर सिंह नरवाल ने विद्यालय की वार्षिक रिपोर्ट पढ़ी और विद्यालय प्रबंधक समिति के अध्यक्ष ओमप्रकाश धमीजा ने आये हुए मेहमानों का धन्यवाद किया। मंच का संचालन मंजू ने किया। जबकि उत्सव के दौरान नन्हें-मुन्ने बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम, मार्च पास्ट, डम्बल, लेजियम, योग और पीटी द्वारा अपनी प्रतिभा प्रदर्शित करके उपस्थित लोगों को अपना कायल बना लिया। इस मौके पर जिला प्रचारक आरएसएस सिरसा के विजय कुमार, आरएसएस डबवाली के चीफ संतोष कुमार दुआ, शहीद अशोक वढ़ेरा सरस्वती विद्या मंदिर प्रबंधक समिति के प्रबंधक अमृतपाल, कोषाध्यक्ष कुलदीप बांसल, सदस्य राकेश भसीन, विजय वढ़ेरा, बिशना मल जैन सरस्वती विद्या मंदिर कालांवाली के प्रबंधक दर्शन सिंगला, प्राचार्य सुनील चलाना, प्रबंधक समिति लूना राम सरस्वती विद्या मंदिर गंगा के सदस्य अनूप कुमार गोरीवाला, रिटायर्ड पीएनबी अधिकारी राजकुमार गर्ग, प्रेम सिंह सेठी, सतीश जग्गा, बलदेव सिंह मांगेआना, बीएस कूका आदि उपस्थित थे।
कार्यक्रम के दौरान विद्यालय के मेधावी विद्यार्थियों को मुख्य अतिथि एवं अध्यक्ष द्वारा पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।

पत्नी और उसके प्रेमी को गोली से उड़ाया

डबवाली (लहू की लौ) बठिण्डा जिले के गांव गहरी बुट्टर में शनिवार देर शाम एक पति ने पत्नी व उसके आशिक की गोली मारकर हत्या कर दी। गोली मारने के लिए उसने बीवी के आशिक की राइफल का ही इस्तेमाल किया।
मिली जानकारी के अनुसार गहरी बुट्टर निवासी सुखजीत कौर उर्फ वीरपाल कौर पत्नी केवल सिंह उर्फ (मनजीत) का गांव के ही नछत्तर सिंह पुत्र झंडा सिंह नामक एक व्यक्ति के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। इस बात की भनक केवल सिंह उर्फ मनजीत को लग चुकी थी। उसने कई बार अपनी बीवी को समझाने की कोशिश की लेकिन वह नहीं मानी। शनिवार को मनजीत सिंह अपनी पत्नी को कहीं बाहर जाने का बहाना बनाकर निकल गया। शाम लगभग छह बजे के बाद जैसे ही केवल सिंह (मनजीत ) घर पहुंचा, तो उसने देखा कि अंदर उसकी पत्नी का आशिक नछत्तर सिंह अपनी राइफल लेकर बैठा था। नछत्तर सिंह को घर में बैठा देख केवल सिंह तैश में आ गया। दोनों में झगड़ा शुरू हो गया। वे झगड़ते हुए घर के बाहर तक आ गए। केवल सिंह ने नछत्तर सिंह से राइफल छीनकर गोली से उसके सिर को उड़ा दिया। इसके बाद पास खड़ी पत्नी सुखजीत कौर को भी गोली मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया, बीवी को तुरंत बठिंडा के सिविल अस्पताल लाया गया। जहां कुछ समय बाद उसने दम तोड़ दिया।
उधर, पुलिस सूत्रों के अनुसार करीब छह साल पहले विवाह के बाद से ही सुखजीत कौर के अवैध संबंधों के चलते उसका पति केवल सिंह के साथ विवाद होने लगा था। कई बार इनके बीच झगड़ा हुआ तथा पंचायती समझौते के माध्यम से भी मामला शांत करवाने की कोशिश की गई लेकिन फिर भी मसला हल न हुआ। सूत्रों की मानें तो सुखजीत कौर के अवैध संबंधों के चलते पहले भी उसके ससुराल पक्ष की तरफ से उसकी पिटाई की गई थी। पुलिस ने आरोपी केवल सिंह के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। आरोपी मौके से फरार होने में सफल रहा।

पाठशाला और भगवान के घर में चोरी, काबू

बनवाला (जसवन्त जाखड़) गांव बनवाला की प्राथमिक पाठशाला और राम मन्दिर में एक ही रात में चोरी को अंजाम देने वाले व्यक्ति को पंचायत के सहयोग से पुलिस ने चोरी हुए सामान सहित काबू कर लिया।

प्राप्त जानकारी अनुसार गांव बनवाला की प्राथमिक पाठशाला के अध्यापक इन्द्र सैन ने रविवार को देखा कि पाठशाला के स्टोर का ताला टूटा हुआ है और उसमें पड़ा कुकिंग गैस सिलेण्डर, गैस चूल्हा, मोटर पम्प और सिल्वर की बाल्टी आदि गायब है। उसने इसकी सूचना गांव की पंचायत को दी।
दूसरी ओर गांव में स्थित बाबा रामदेव मन्दिर के पुजारी ज्योति राम ने सुबह मन्दिर खोलते समय देखा कि मन्दिर में लगा एम्पलीफायर डैक, सिल्वर का टॉप तथा 175 रूपये की नकदी गायब है और मन्दिर के प्रमुख दरवाजे का ताला टूटा हुआ है। उसने इसकी जानकारी श्रद्धालुओं को दी।
एक ही रात में दो स्थानों पर हुई चोरी की सूचना जैसे ही गांव के सरपंच सतवीर सिंह और पूर्व सरपंच गिरधारी लाल को मिली तो उन्होंने संदेह के आधार पर गांव के ही जगदीश पुत्र दयाला के घर पर दबिश दी। उस समय जगदीश घर पर था और सोया हुआ था।
बताते हैं कि जगदीश को साथ लेकर ग्रामीणों ने जब उसके घर की तालाशी ली तो घर में पड़ा मन्दिर का एम्पलीफायर डैक और सिल्वर का टॉप मिल गया। इससे गांव वासियों को पक्का यकीन हो गया कि दूसरी चोरी भी जगदीश ने ही की होगी। चोरियों की सूचना पाकर मौका पर औढ़ां पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस ने जगदीश से पूछताछ की तो जगदीश तोते की तरह सबकुछ उगल गया। उसने बताया कि प्राथमिक पाठशाला के स्टोर से भी चोरी उसी ने ही की है और जो सामान चुराया है, वह शमशान घाट के पीछे स्थित विनोद कुमार पुत्र लाल चन्द के खेत में छुपाया हुआ है।
पुलिस जगदीश की निशानदेही पर शमशान घाट के पीछे स्थित खेत में पहुंची और मौका से पुलिस ने ग्रामीणों की उपस्थिति में स्कूल से चुराया गया गैस सिलेण्डर, गैस चूल्हा, मोटर पम्प और बाल्टी बरामद कर लिये। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 457/380 आईपीसी के तहत केस दर्ज कर लिया है।

आतंकवाद को हवा देने में अकाली दल की महत्वपूर्ण भूमिका-बिट्टू

डबवाली (लहू की लौ) पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री बेअन्त सिंह के पौत्र एवं आनन्दपुर साहिब से सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने कहा कि पंजाब के आतंकवादियों ने कश्मीर के आतंकवादियों से हाथ मिला लिया है और ये आतंकवादी अब पंजाब में फिर से दहशत फैलाकर पंजाब को बर्बाद करने की योजनाएं बना रहे हैं। हलवारा, पटियाला और जीरकपुर में हाल ही में मिले भारी विस्फोटकों से इस बात की पुष्टि भी हो जाती है।
वे शनिवार को अपने लम्बी हल्का के दौरे के दौरान गांव खुड्डियां में पूर्व सरपंच रिछपाल सिंह के घर पर इस संवाददाता से विशेष बातचीत कर रहे थे। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि पंजाब में आतंकवाद को हवा देने में अकाली दल की भी महत्वपूर्ण भूमिका है। उनके अनुसार सिमरनजीत सिंह मान सरेआम खालिस्तान की वकालत करता हुआ घूम रहा है और अकाली सरकार तथा मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल उस पर नकेल डालने में असफल साबित हो रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि यदि वर्तमान अकाली सरकार ने आतंकवादी तत्वों पर समय रहते नकेल न कसी तो पंजाब में फिर से 1984 जैसे हालात पैदा हो सकते हैं।
इस मौके पर उन्होंने केन्द्रीय गृह मंत्री पी. चिदम्बरम के इस ब्यान पर सहमति व्यक्त की कि जिन सिक्ख युवकों के नाम काली सूचि में हैं, उन्हें समाज की मुख्यधारा में लाने के लिए आम माफी दी जानी चाहिए। उन्होंने इस बात को स्वीकार किया कि 80 के दशक में सरकार किसी भी पार्टी की रही हो लेकिन पंजाबी नौजवानों पर उस समय राजनीतिक दबाव के चलते झूठे केस बनाये गये थे। अब समय आ गया है कि इन झूठे केसों को वापिस लेकर इन युवाओं का फिर से पुनर्वास किया जाये।
सांसद ने एक सवाल के जवाब में कहा कि इस समय पंजाब आतंकवाद के साथ-साथ नशों की गिरफ्त में है और नशे के कारोबार में लगे लोग ही आतंकवाद को बढ़ावा दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को चाहिए कि वह नशे के कारोबारियों पर शिकंजा कसे।
इससे पूर्व वे गांव खुड्डियां में ही दिहाड़ीदार मजदूर बिट्टू पुत्र रोशा सिंह के घर गये और चाय पी। इस सम्बन्ध में उन्होंने कहा कि वे राहुल गांधी से प्रेरणा लेकर आम आदमी तक जा रहे हैं और वे चाहते हैं जिस प्रकार उन्हें प्रेरणा मिली है। इसी प्रकार की प्रेरणा आम कार्यकर्ता भी ले।

बादल के गढ़ में कांग्रेस ने रखी आम आदमी का सिपाही की नींव

डबवाली (लहू की लौ) पंजाब युवा कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष एवं आनन्दपुर साहिब से एमपी रवनीत सिंह बिट्टू ने कहा कि राहुल गांधी की नीति आम लोगों को कांग्रेस के साथ जोड़कर आम लोगों की समस्या को सुनने और उनका समाधान करने की है। इसी के तहत आम आदमी का सिपाही प्रत्येक शहर और गांव में बनाया जा रहा है।
वे शनिवार को गांव लम्बी के बाबा मान सिंह स्टेडियम में आयोजित जनसभा के साथ-साथ हल्का लम्बी के विभिन्न गांवों में अपने तूफानी दौरे के दौरान आयोजित कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठकों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से कहा कि वे आम आदमी के सिपाही को अपना आशीर्वाद दें। यही सिपाही पंजाब में अकालीदल की जन विरोधी नीतियों और अफसरशाही की काली करतूतों की पोल जनता के समक्ष खोलेगा।
उन्होंने इस मौके पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं से कहा कि वे जनता में जायें और लोगों को बतायें कि अकाली सरकार जिस आटे को 4 रूपये प्रति किलो के हिसाब से बीपीएल परिवारों को दे रही है, उस आटे को केन्द्र सरकार राज्य सरकार को दो रूपये प्रति किलो के हिसाब से मुहैया करवा रही है। उन्होंने यह भी कहा कि कितना बड़ा दुर्भाग्य है कि देश का अन्नदाता कहलाने वाले पंजाब की सरकार आटे में भी दलाली कर रही है।
उन्होंने यह भी कहा कि केन्द्र सरकार पंजाब सरकार को भारी वित्तीय सहायता भेज रही है, लेकिन इसे या तो अधिकारी निगल जाते हैं या फिर अकाली अपने चेहतों पर खर्च करते हैं। उन्होंने कहा कि बादल परिवार करोड़ों-अरबों रूपये लगाकर अपने महल और होटल खड़े कर रहा है, जबकि आम आदमी कर्जदार बनता जा रहा है। उनके अनुसार इस समय पंजाब पर 67 हजार करोड़ रूपये का कर्ज है और पंजाब सरकार को 17 करोड़ रूपये प्रतिदिन के हिसाब से ब्याज अदा करना पड़ रहा है। इस प्रकार से इस समय राज्य का प्रत्येक व्यक्ति लाखों रूपये का कर्जदार है। इसके लिए मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल की जनविरोधी नीतियां जिम्मेवार हैं।
इस अवसर पर उन्होंने विभिन्न गांवों में पांच-पांच आम आदमी के सिपाही की नियुक्ति की घोषणा की और इन सिपाहियों को सिरोपे देकर सम्मानित किया। इस मौके पर उनके साथ महेन्द्र इन्द्र सिंह बादल, नरेन्द्र सिंह कोनी जिला प्रधान यूथ कांग्रेस, रमन बख्शी, राजेश अत्री, लखवीर लक्खा, रणधीर सिंह धीरा, गुरमीत सिंह खुड्डियां, गुरबाज सिंह बनवाला, गुरसेवक सिंह लम्बी, जगविन्द्र सिंह काला, बलराज सिंह लम्बी, गुरविन्द्र सिंह लम्बी, हरचरण सोथा, रघुवीर सिंह पूर्व विधायक गिदड़बाहा, संदीप जाखड़ फिरोजपुर, गोगी चहल मुक्तसर आदि चल रहे थे।

प्रदेश भर में सम्पूर्ण स्वच्छता अभियान की शुरूआत कालूआना से होगी-उपायुक्त

डबवाली (लहू की लौ) राज्य सरकार द्वारा जिला के ग्रामीण क्षेत्र के लिए चलाई जाने वाली सभी योजनाओं की शुरुआत प्रदेश भर में संपूर्ण स्वच्छता अभियान में प्रथम रहे गांव कालुआना से की जाएगी।

यह बात सिरसा के उपायुक्त युद्धवीर सिंह ख्यालिया ने शनिवार को गांव कालुआना में ग्रामोथान दिवस के अवसर पर आयोजित सम्मान समारोह में बोलते हुए कही। उन्होंने आज इस समारोह में कालुआना गांव को हरियाणा भर में और जिला भर में प्रथम आने पर 25 लाख रुपए की राशि का चैक ग्राम पंचायत को प्रदान किया। इसके साथ-साथ संपूर्ण स्वच्छता अभियान में निर्मल ग्राम पुरस्कार योजना के तहत खण्ड स्तर पर प्रथम रहने वाले सात गांव की पंचायतों को भी दो-दो लाख रुपए की राशि के चैक प्रदान किए। खंड स्तर पर प्रथम रहने वाले औढ़ा खंड में रोहिड़ावाली गांव को, रानियां खंड में फिरोजाबाद को, नाथूसरी चौपटा में जसानियां को, ऐलनाबाद बाद में धोलपालिया को, सिरसा खंड में हांड़ी खेड़ा को, बड़ागुढा में शेखुपुरिया को तथा डबवाली खंड में चौटाला गांव को चुना गया है।
उन्होंने कहा कि गांव के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में छात्रों के लिए सभी सुविधाओं से सुसज्जित एक बड़े हॉल का निर्माण करवाया जाएगा जिसमें साईंस म्यूजियम भी स्थापित होगा। इस म्यूजियम में विज्ञान से जुड़े नवीनतम उपकरण रखे जाएंगे जो साईंस पढऩे वाले बच्चों के लिए प्रयोगशाला का भी काम देंगे।
उपायुक्त ने कहा कि गांव के सभी राजकीय वरिष्ठ प्राथमिक विद्यालय व प्राईमरी स्कूलों में आवश्यकता अनुरुप कमरों का निर्माण करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि महिलाओं को आर्थिक रुप से सशक्त बनाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा विभिन्न योजनाएं शुरु की जाएंगी। इसके साथ-साथ गांव के सभी सरकारी स्कूलों में आवश्यकता अनुसार लड़कियों/लड़कों के लिए ओर अधिक शौचालयों का निर्माण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि गांव में चल रहे सभी आंगनवाड़ी केंद्रों के लिए भवनों का निर्माण करवाया जाएगा। उन्होंने ग्रामवासियों को आश्वस्त किया कि गांव में खेती योग्य भूमि को सिंचाई की व्यवस्था से वंचित नहीं रहने दिया जाएगा। इसके लिए गांव की जमीन में पाईप लाईन बिछाई जाएगी। इसके साथ-साथ गांव के युवाओं/युवतियों के लिए स्टेडियम निर्माण के साथ-साथ दो जिमों का निर्माण भी किया जाएगा। एक जिम पुरुषों के लिए और एक महिलाओं के लिए होगा। पूरे गांव में सोलर सिस्टम स्थापित किया जाएगा। इसके साथ-साथ साक्षर महिला समूह के लिए फर्नीचर आदि की समुचित व्यवस्था होगी जिसमें बड़ी मेज के साथ-साथ 40 कुर्सियां उपलब्ध करवाई जाएंगी ताकि गांव की साक्षर महिलाएं एक जगह बैठकर गांव के विकास से संबंधित बिंदुओं पर चर्चा कर सके। उन्होंने कहा कि गांव में इन सारी योजनाओं का क्रियान्वयन इंटरग्रेटिड वाटर शैड मैनेजमेंट योजना और पिछड़ा क्षेत्र अनुदान निधि योजना के तहत किया जाएगा।
उन्होंने मौके पर ही अधिकारियों को निर्देश दिए कि अगले सप्ताह में सभी विकास कार्यों के लिए ग्रांट रिलीज कर दी जाए। उन्होंने गांव के सरपंच जगदेव सहारण से अपील की कि वे इन सभी कार्यों का अस्टीमेट तैयार करवाकर आगामी तीन दिन के अंदर-अंदर जिला प्रशासन को दे ताकि सभी विकास कार्यों पर शीघ्र कार्य शुरु किया जा सके। उन्होंने आश्वासन दिया कि उपरोक्त सभी योजनाओं पर आगामी 31 मार्च से पहले कार्य शुरु कर दिया जाएगा। इससे पूर्व जिला उपायुक्त ने पिछड़ा क्षेत्र अनुदान निधि योजना के तहत खरीदी गई बस को ग्राम पंचायत को दिया और बस को हरी झंडी देकर रवाना भी किया। इस मौके पर उपायुक्त ने रक्तदाता समिति, ग्राम शिक्षा समिति के सदस्यों, स्कूली अध्यापकों, गौशाला समिति के सदस्यों, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं, हैल्परों, राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना के सभी सदस्यों और सभी स्कूली बच्चों को सम्मानित किया। उपायुक्त ने समारोह में फंडामैंटल इंग्लिश अन इजी वे नामक किताब का विमोचन किया। यह किताब प्रो. शुभम तंवर द्वारा लिखी गई है। उन्होंने इस किताब को बच्चों के लिए अंग्रेजी भाषा सीखने में सहायक बताया। इस मौके पर उपमण्डलाधीश मुनीश नागपाल, जिला के अतिरिक्त उपायुक्त डा. जे.गणेशन उपस्थित थे।