युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

09 सितंबर 2010

मलेरिया के खिलाफ उठ खड़ा हुआ पंजाब स्वास्थ्य विभाग

डबवाली (लहू की लौ) स्वास्थ्य विभाग पंजाब ने लम्बी हल्के में मलेरिया से लडऩे के लिए कमर कस ली है। गांव सिंघेवाला में मलेरिया से एक युवती की मौत के बाद विभाग ने गांव के लोगों को मलेरिया से मुक्ति दिलाने के लिए दो टीमों का गठन किया है।
एसएमओ लम्बी डॉ. अजमेर सिंह धालीवाल ने स्वीकार किया कि लम्बी हल्के में मलेरिया अपने पांव पसार रहा है। उनके अनुसार अगस्त माह से लेकर अब तक इस हल्के में लगभग 1650 बीमार लोगों की सलाईडें तैयार की गईं, जिनमें से तीन केस पॉजीटिव पाये गये। उनके अनुसार लालबाई में बलजिन्द्र सिंह पुत्र कौर सिंह, अबुलखुराना में जसकरण सिंह पुत्र बलवीर सिंह, किलियांवाली में चमकौर सिंह पुत्र प्रीतम सिंह मलेरिया का शिकार पाया गया और उन्हें मौका पर ही इसकी चिकित्सा भी उपलब्ध करवा दी गई।
लेकिन हाल में गांव सिंघेवाला में लक्ष्मी (17) पुत्री जसवन्त सिंह की मलेरिया से मौत की खबर विभाग को मिली है। तभी से विभाग ने इस गांव में मलेरिया पर सर्वे करवाने का निर्णय लेते हुए इसके लिए हैल्थ वर्करों पर आधारित दो टीमें गठित की हैं। इन टीमों को दो या तीन दिन के भीतर गांव सिंघेवाला तथा इसी गांव के स्कूल के बच्चों पर सर्वे करके इसकी रिपोर्ट सौंपने के आदेश दिये गये हैं।
धालीवाल के अनुसार यह टीमें 8 और 9 सितम्बर को गांव और स्कूल में जाकर बुखार से प्रभावित लोगों की सलाईडें बनायेंगी। सलाईडों की जांच के बाद जो भी मलेरिया से प्रभावित पाया जायेगा उनका इलाज भी सरकारी खर्चे पर करवाया जायेगा।

ट्रक ने युवक सहित दो कुचले

गांव चौटाला स्थित टैक्स बैरियर पर मंगलवार रात करीब 1 बजे घटित हुआ हादसा
डबवाली (लहू की लौ) चौटाला के सेल्ज टैक्स बैरियर पर मंगलवार रात को करीब एक बजे एक अज्ञात ट्रक दो जनों को कुचल कर फरार हो गया। घायलों की कुछ समय बाद मौत हो गई।
चौटाला टैक्स बैरियर पर कार्यरत इंस्पेक्टर बलराज सिंह ने बताया कि रात को वह डयूटी पर था। रात के करीब एक बजे डबवाली साईड से तेजगति से आया ट्रक बैरियर पर पहले खड़े सीमेंट के भरे ट्रक से जा टकराया। इसके बाद जब ट्रक चालक ट्रक को भगाने लगा तो बैरियर पर तैनात चतुर्थश्रेणी कर्मी सोहन लाल (36) पुत्र साहब राम निवासी कर्मगढ़ जिला सिरसा अपने साथियों के साथ ट्रक को रोकने लिए इसके नजदीक पहुंचा तो ट्रक चालक ने साईड मार कर सोहन लाल को घायल कर दिया।
इंंस्पेक्टर के अनुसार तेजगति से दौड़ता यह ट्रक वहीं पर स्थित कीकर से जा टकराया और ट्रक की पाईपें कीकर में धंस गईं। ट्रक चालक इसके बावजूद ट्रक को कीकर से निकाल कर संगरिया की ओर फरार हो गया। जाते-जाते बैरियर के नजदीक ही यह ट्रक एक अन्य युवक को रौंद गया। बलराज सिंह ने बताया कि घायल अवस्था में सोहन लाल को सिरसा के सरकारी अस्पताल में ले जाया गया। लेकिन चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया।
थाना सदर के अन्तर्गत आने वाली चौटाला चौकी के प्रभारी एसआई जीत सिंह ने बताया कि इंस्पेक्टर बलराज सिंह के ब्यान पर अज्ञात ट्रक चालक के खिलाफ लापरवाही से ट्रक चला कर दो व्यक्तियों को कुचलने के आरोप में धारा 279/304ए/427 आईपीसी के तहत मामला दर्ज करके ट्रक चालक की तालाश शुरू कर दी है। उन्होंने बताया कि बैरियर के पास मृत मिले युवक की पहचान नहीं हो पायी है।

जोरदार होगा क्वींस बैटन का स्वागत

डबवाली (लहू की लौ) आगामी 26 सितम्बर को डबवाली में प्रवेश करने पर क्वींस बैटन रिले का जोरदार स्वागत किया जाएगा। स्वागत के लिए उपमंडल स्तर पर एक दर्जन से भी अधिक कमेटियों का गठन किया है। यह जानकारी डबवाली के उपमंडल अधिकारी (ना.) मुनीश नागपाल ने विभिन्न कमेटियों में शामिल सभी अधिकारियों की बैठक में दी। उन्होंने कहा कि क्वींस बैटन रिले के स्वागत के लिए विभिन्न विभागों को जिम्मेवारियों सौंपी गई है। उन्होंने बताया कि क्वींस बैटन के आगमन पर सुरक्षा व यातायात के नियंत्रण की जिम्मेवारी उपपुलिस अधीक्षक, डबवाली तथा सचिव परिवहन प्राधिकरण अधिकारी, सिरसा को सौंपी गई है। इसी प्रकार से वरिष्ठ सुरक्षा अधिकारी, डबवाली सहित एक मैडीकल टीम द्वारा एंबुलेस आदि की व्यवस्था की जिम्मेवारी सांैपी गई है। इसके साथ-साथ मार्केट कमेटी के सचिव व फायर ब्रिगेड ऑफिसर मार्केट कमेटी डबवाली की भी फायर टैंडर संबंधी जिम्मेवारी सुनिश्चित की गई है। नागपाल ने बताया कि सफाई आदि की व्यवस्था सुचारु रखने संबंधी जिम्मेवारी सचिव नगरपालिका, डबवाली, गांवों मेंसफाई आदि की व्यवस्था के लिए खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी, पीने के पानी व्यवस्था की जिम्मेवारी खाद्य एवं आपूर्ति अधिकारी, डबवाली, सचिव मार्केट कमेटी डबवाली तथा एसएमओ डबवाली को सौंपी गई है। इसके साथ-साथ शहर में सड़कों आदि की मरम्मत संबंधी जिम्मेवारी व लोक निर्माण विश्राम गृह को सुज्जित करने का कार्य राष्ट्रीय राजमार्ग के उपमंडल अभियंता सिरसा को सौंपा गया है। उन्होंने आगे बताया कि रिले के दौरान आने वाले सभी खिलाडिय़ों के ठहरने व अन्य सुविधाओं के लिए जिला खेल अधिकारी अपने स्तर पर स्वयं प्रबंध करेंगे। रिले के दौरान क्रेन आदि की व्यवस्था के लिए यातायात प्रबंधक हरियाणा राज्य परिवहन डबवाली को जिम्मेवारी सौंपी गई है। बिजली आपूर्ति के लिए कार्यकारी अभियंता दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम, रैली के मार्ग में पडऩे वाले गांवों में पंचायतों के माध्यम से स्वागत गेट लगवाने का कार्य सचिव नगरपालिका, खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी डबवाली व उपमंडल जन स्वास्थ्य अधिकारी, डबवाली का होगा। इसके अतिरिक्त दोपहर के खाने की व्यवस्था जिला खेल एवं युवा कल्याण अधिकारी व सहायक खाद्य एवं आपूर्ति विभाग  की देखरेख में होगी। वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डबवाली भोजन की शुद्वता की जांच करेंगे। जिला खेल एवं युवा कल्याण अधिकारी द्वारा सेना बैंड भी सुनिश्चित किया जाएगा। रिले के मार्ग में पडऩे वाले टेढे मेढ़े वृक्षों आदि की ठीक प्रकार से काट छांट का कार्य वन राजिक अधिकारी डबवाली द्वारा किया जाएगा।

बिज्जूवाली-बनवाला मार्ग किया जाम

बनवाला (जसवंत जाखड़) विद्यार्थियों ने बस सुविधा की मांग को लेकर गांव बिज्जूवाली-बनवाला रोड़ पर जाम लगा दिया। यह जाम दो घंटे तक लगा रहा।
गांव रिसालियाखेड़ा, औढां तथा कालांवाली में पढऩे के लिए जाने वाले गांव बिज्जूवाली के विद्यार्थियों ने बस सुविधा का अभाव होने का आरोप लगाते हुए सुबह 8 बजे अचानक गांव के बनवाला रोड़ पर जाम लगा दिया। जोकि दो घंटे तक चला। विद्यार्थी अनु, सतपाल, पवन, राजेन्द्र, मोहन लाल, हेमराज, मनीराम और पवन कुमार ने बताया कि कालूआना-कालांवाली मार्ग पर सुबह केवल एक प्राईवेट बस चलती है और उसमें विद्यार्थी पूरे नहीं आते। विद्यार्थियों की संख्या उस समय ज्यादा होने के कारण अक्सर प्राईवेट बस चालक भी बस का यह समय मिस कर देते हैं। जिसके चलते उन्हें भारी परेशानी होती है और लेट होने पर अध्यापक भी उन्हें विद्यालय में प्रवेश नहीं देते।
उनकी मांग है कि सरकार उनके लिए इस रूट पर रोड़वेज की बस चलाये और विद्याािर्थयों को समय पर पहुंचाने का दायित्व संभाले। जाम की सूचना पाकर गांव के सरपंच राजाराम, पंच देवपाल, राजपाल, दिनेश कुमार, रामपाल भी मौका पर पहुंच गये। इधर गोरीवाला पुलिस चौकी के प्रभारी एसआई रमेश कुमार अपने दलबल के साथ पहुंचे। उनके समझाने बुझाने और उनकी समस्या को सरकार तक पहुंचाने व प्राईवेट बस मालिक के साथ  बातचीत करके इस समस्या का समधान निकलवाने का आश्वासन देने पर ही छात्र शांत हुए। दो घंटे का बाद जाम खुल सका।
इस संबंध में एसआई रमेश कुमार ने बताया कि विद्यार्थियों की मांग जायज है और उन्हें पूरा करवाने के लिए प्राईवेट बस मालिक के साथ बातचीत की जायेगी। बस मालिक को इसके लिए थाना में बुलाया गया है।