युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

21 नवंबर 2009

गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज करवाना चाहते हैं गुप्ता

औढ़ां (जितेन्द्र गर्ग) विश्व में सुखशांति व स्मृद्धि की मंगल कामना हेतु बठिंडा के 49 वर्षीय राजेंद्र गुप्ता गत 21 वर्षों से अनेक धार्मिक तीर्थ स्थानों की लगभग साढ़े तीन लाख किलोमीटर यात्रा साइकिल पर कर चुके हैं।
आज बठिंडा से मेहंदीपुर धाम जाते समय राजेंद्र गुप्ता ने ओढ़ां में पत्रकारों को बताया कि वे अब तक 65 बार माता वैष्णों देवी की यात्रा कर चुके हैं और छह बार बर्फानी बाबा अमरनाथ की यात्रा के अलावा बाबा रामदेव, जैसलमेर, बाडमेर, खाटूजी श्याम, सालासर, कर्मी माता मंदिर, माता मनसा देवी, चिंतपूर्णी, ज्वालाजी, मां चामूंडा व माता कांगड़ा सहित अनेक दर्शनीय स्थानों की साइकिल पर यात्रा कर चुके हैं।
उन्होंने बताया कि यात्रा के दौरान रास्ते में कई भक्तजन व श्रद्धालु उन्हें सहयोग देते रहते हैं। उनकी धर्म के प्रति इतनी आस्था है कि उन्होंने शादी नहीं करवाई और वे हर जगह धर्म का प्रचार करते हुए भाईचारे का संदेश देते हैं। राजेंद्र गुप्ता ने बताया कि वे एक साल में नौ महीने साइकिल पर यात्रा करते हैं और एक दिन में 60—70 किलोमीटर के लगभग यात्रा करने के बाद रात्रि विश्राम करते हैं। वे जहां भी जाते हैं वहां के अधिकारी व उनके बड़े भाई एडवोकेट अशोक गुप्ता उन्हें समय समय पर सहयोग देकर प्रोत्साहित करते रहते हैं।
अपने लक्ष्य के बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि वे अपना नाम गिनीज बुक आफ बल्र्ड रिकार्ड में दर्ज करवाना चाहते हैं। उन्होंने केंद्र सरकार से मांग की है कि उन्हें साइकिल यात्रा पर पाकीस्तान जाने की अनुमति दी जाए ताकि वे शांति का संदेश लेकर पाकिस्तान जा सकें। उनका कहना है कि गिनीज बुक आफ बल्र्ड रिकार्ड व लिम्का बुक आफ रिकार्ड में अभी तक 4 लाख किलोमीटर तक साइकिल यात्रा का रिकार्ड दर्ज है जिसे तोडऩे की इच्छा उनके मन में है। उन्होंने कहा कि उनकी इच्छा है कि वे मरते दम तक साइकिल यात्रा करते हुए शांति का पैगाम देने का अभियान जारी रखेंगे।

स्कूल बस से गिरकर छात्र की मौत

डबवाली (लहू की लौ) यहां के सतलुज पब्लिक स्कूल की बस से गिरकर शुक्रवार सुबह एक छात्र की मौत हो गई।
गांव शेरगढ़ निवासी यादविन्द्र सिंह ने बताया कि उसका 8 वर्षीय भतीजा गगनदीप पुत्र मानमिन्द्र सिंह उर्फ विक्की सतलुज पब्लिक स्कूल डबवाली में तीसरी कक्षा में पढ़ता था। शुक्रवार सुबह गगनदीप गांव से स्कूल बस में सवार हुआ था। बस को उन्हीं के गांव का जगदेव सिंह चला रहा था। बताते हैं कि जब बस डबवाली के चौटाला रोड़ पर स्थित हैफेड गोदाम के पास पहुंची और वहां पर खड़े विद्यालय के दो बच्चों को चढ़ाने के लिए रूकी। बस में कोई हैल्पर न होने की वजह से गगनदीप ने उन बच्चों के लिए बस का दरवाजा खोला तो अचानक वह दरवाजे से नीचे गिर गया और उसके सिर पर चोट आई। घायल अवस्था में बस चालक उसे डबवाली के सिविल अस्पताल में लाया। यहां पर डॉक्टर ने गगनदीप को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने छात्र गगनदीप के दादा नायब सिंह के ब्यान पर धारा 174 सीआरपीसी के तहत कार्यवाही करते हुए गगनदीप के शव का डबवाली के सिविल अस्पताल से पोस्टमार्टम करवाने के बाद उसे उसके वारिसों को सौंप दिया। गांव वासी गुरपाल सिंह पाली और दरबारा सिंह शेरगढ़ ने बताया कि रिटायर्ड कानूनगो नायब सिंह के परिवार को यह दूसरा शोक है। उन्होंने बताया कि इससे पूर्व करीब दो माह पूर्व नायब सिंह के पुत्र यादविन्द्र सिंह के बेटे आकाशदीप (8 वर्षीय) की लम्बी बीमारी के चलते मौत हो गई थी। वह भी सतलुज पब्लिक स्कूल में तीसरी कक्षा का छात्र था।

आपने जीते हैं 25 लाख रूपये...

डबवाली (लहू की लौ) स्थानीय नगर में मोबाइल पर विदेशों से यह फोन आ रहे हैं कि उनका 25 लाख रूपये का ईनाम निकला है, वह अपना बैंक खाता नम्बर बतायें।
इस बात का रहस्य खोलते हुए एयरटेल के उपभोक्ता मुरारी लाल डोडा ने बताया कि उनके मोबाइल पर नं. 00923055563108 से मिस कॉल आई और जब उसने इस पर सम्पर्क किया तो उन्होंने बताया गया कि वह 00923426901930 पर बात करें। उन्होंने इस नम्बर पर बात की तो उनसे कहा गया कि उन्हें एयरटेल कम्पनी की ओर से 25 लाख रूपये का पुरस्कार निकला है। इस पुरस्कार को पाने के लिए वे अपना बैंक खाता नम्बर दें।
डोडा के अनुसार उसके यह कहने पर कि उसका तो बैंक खाता ही नहीं है, उन्होंने उसका नम्बर कहां से लिया। इस पर बात करने वाले ने उसका पता मांगा। लेकिन डोडा द्वारा यह जवाब देने पर की वह कोर्ट में ही अपना पता देगा, इस पर फोन उन्होंने रख दिया।

अजय सिंह चौटाला के उपाध्यक्ष बनने पर खेल प्रेमियों में उत्साह

डबवाली (लहू की लौ) विधायक अजय सिंह चौटाला के एशियाई टेबल टेनिस संघ के उपाध्यक्ष चुने जाने पर खेल प्रेमियों में भारी उत्साह है।
अजय सिंह चौटाला वर्तमान में भारतीय टेबल टेनिस संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष है उनके नेतृत्व में टेबल टेनिस खेल ने देश में नई उंचाइयो को छुआ है। इनेलो कार्यकर्ताओं डा0 सीता राम, डा0 गिरधारी लाल, टेकचन्द छाबड़ा, जगरूप सिंह सक्ता खेड़ा, रणवीर राणा, गुरजीत सिंह पार्षद, महेन्द्र डूडी, नरेन्द्र बराड़, सर्वजीत मसीतां, दर्शन मोंगा, बलदेव गर्ग, महावीर सहारण, गुरचरण सिंह, राजेन्द्र सिंह व प्रहलाद सिंह ने अजय चौटाला की इस नियुक्ति पर उन्हें बधाई संदेश देते हुए उम्मीद जाहिर की है कि वे इस उच्च पद पर आसीन होकर अपने कुशल नेतृत्व द्वारा प्रदेश एंव देश में टेबल टेनिस को उच्च आयाम प्रदान करेंगे।
उल्लेखनीय है कि अजय सिंह चौटाला व अभय सिंह चौटाला हमेशा से ही परम्परागत खेलो में विशेष रूचि लेते रहें है तथा अभय चौटाला जब से मुक्केबाजी संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने हैं मुक्केबाजी में आज हरियाणा प्रदेश का पूरे विश्व में विशेष स्थान है। इनेलो कार्यकर्ताओं ने आशा व्यक्त की कि टेबल टेनिस के खिलाड़ीयों को हर प्रकार की सुविधा उपलब्ध करवाने हेतु श्री चौटाला विशेष प्रयास करेंगे तथा इस खेल के ढांचागत विकास में अहम योगदान करेंगे।

नकली नोट बनाने के अड्डे का पर्दाफाश

हरियाणा पुलिस के एएसआई की पत्नी-पुत्र सहित तीन जने गिरफ्तार

श्रीगंगानगर। हरियाणा पुलिस के एक एएसआई की पत्नी और उसके पुत्र को हजार-हजार रूपये के नकली नोट चलाते हुए रंगे हाथ पकड़े जाने पर पुलिस ने हिसार के एक मकान पर छापा मारकर नकली नोट बनाने के अड्डे का पर्दाफाश किया है। इस अड्डे के संचालक को गिरफ्तार कर 2 लाख 18 हजार की असली मुद्रा, प्रिंटर, स्केनर और सफेद कागज की 13 गड्डियां बरामद की हैं।
भादरा के थानाधिकारी नंदराम भादू ने बताया कि नकली नोट चलाते हुए पकड़ी गई 40 वर्षीय सुनीता का पति चंद्रभान जाट हरियाणा के फतेहबाद जिले में एएसआई के पद पर नियुक्त है। सुनीता के साथ उसके पुत्र दीपक (20) को पकड़ा गया था। इनके पास से एक-एक हजार के 14 नकली नोट बरामद हुए थे। सुनीता ने पूछताछ में बताया कि उसने यह रूपये कृष्ण कुमार (40) पुत्र खुशीराम जाट निवासी सैक्टर 16-17, हिसार से लिये थे। रात को कृष्ण कुमार के इस मकान पर छापा मारा तो लोहे की एक अलमारी में से नोट के साइज के सफेद कागज की 13 गड्डियां, स्केनर व प्रिंटर बरामद हुआ। इसके अलावा दो लाख 18 हजार रूपये के असली नोट बरामद हुए। कृष्ण कुमार ने नकली नोट बेचकर यह असली नोट प्राप्त किए थे।
उन्होंने बताया कि सुनीता का ससुराल हरियाणा के हांसी उपखंड क्षेत्र के थाना बरवाली अधीन दाता गांव में है। कृष्ण कुमार भी मूलत: इसी गांव का वासी है। फिलहाल यह दोनों हिसार में रह रहे हैं। कृष्ण कुमार ने मकान किराये पर लिया हुआ है। विवाहित दीपक बीए का छात्र है। रिमांड मिलने पर नकली नोटों के बारे में इनसे गहन पूछताछ की जाएगी।
पुलिस के अनुसार बरामद हुए हजार रूपये के 14 नकली नोट- 3 ईए 647701 की सीरिज के हैं। सभी नोटों के नंबर अलग-अलग हैं। यह नोट कम्प्यूटर-स्केनर और प्रिंटर से तैयार किए गए हैं। सूत्रों के अनुसार सुनीता की भादरा क्षेत्र में कोई रिश्तेदारी नहीं है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि मां-बेटा नकली नोट चलाने के लिए भादरा आये थे। इन दोनों ने एक होटल पर नाश्ता किया, जिसके तीस रूपये देने के लिए हजार रूपये का नोट दिया। बाद में एक अन्य दुकान पर बिस्कुट-भुजिया खरीदने पर दुकानदार को हजार रूपये का नोट दिया। इस दुकानदार को नोट पर संदेह हुआ, तब उसने पड़ोसी दुकानदार को बुलाया। इसी बीच मां-बेटे ने बिस्कुट-भुजिया वापिस देकर नोट ले लिया और अपनी कार में बैठकर रवाना हो गए।
दुकानदार की सूचना पर पुलिस ने राजस्थान बैंक की शाखा के पास इन दोनों को पकड़ा और थाने में ले गई, जहां तलाशी लेने पर नकली नोट बरामद हुए। एक बैंक के मैनेजर को बुलवाकर नोट चैक करवाये गए। मैनेजर ने नोट नकली होने की पुष्टि कर दी।