युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

24 नवंबर 2009

उठी आवाज कुडी चंगी के मुंडा चंगा


डबवाली (लहू की लौ) यूथ वैल्फेयर फेडरेशन महिला विंग के तत्वाधान में नशा उन्मूलन, कन्या भ्रूण हत्या विरोधी और वेश्यावृति उन्मूलन को लेकर सोमवार को जागरूकता रैली निकाली गई। जिसको एसएमओ डॉ. राजकुमार तथा थाना शहर प्रभारी वीरेन्द्र सिंह ने हरी झण्डी देकर रवाना किया।
इस रैली का नेतृत्व महिला विंग की अध्यक्ष रूपा मिढ़ा कर रही थी। यह रैली नई अनाज मण्डी ए ब्लाक के सामने से शुरू होकर मुख्य बाजार से होती हुई नगर की विभिन्न गलियों व सड़कों से गुजरती हुई वापिस नई अनाज मण्डी में पहुंची। इससे पूर्व नई अनाज मण्डी के सामने एक नाटक द्वारा उपरोक्त सामाजिक बुराईयों के खिलाफ लोगों को जागरूक किया गया।
इस मौके पर महिला विंग की सदस्यों ने भ्रूण हत्या व नशाखोरी पर अपने विचार प्रकट किये। नाटक *कुडी चंगी-के मुंडा चंगा* द्वारा सामाजिक कुरीतियों पर कटाक्ष किया गया। उपस्थित लोगों ने हाथ खड़े करके उपरोक्त बुराईयों के खिलाफ संघर्ष करने का संकल्प लिया।
इस मौके पर जागरूकता रैली के मुख्यातिथि एसएमओ डॉ. राजकुमार ने कहा कि स्वच्छता का मतलब केवल साफ कपड़े पहनना नहीं है। बल्कि मानसिक रूप से भी साफ होकर सामाजिक बुराईयों के खिलाफ लडऩा भी है। उनके अनुसार अल्ट्रासाऊंड का आविष्कार वैज्ञानिकों ने विभिन्न बीमारियों की रोकथाम की सहायता के लिए किया था, लेकिन मनुष्य की गलत विचारधारा के चलते इसे कुछ लोगों ने भ्रूण हत्या के रूप में प्रयोग करना शुरू कर दिया। उनके अनुसार नशों की प्रवृत्ति भी बदली है। पहले केवल शराब नशा थी लेकिन अब आयोडेक्स और खांसी की दवाएं भी नशेडिय़ों के लिए नशा बन गई हैं।
इस अवसर पर पूर्व विधायक डॉ. सीता राम, तहसीलदार राजेन्द्र कुमार, दीपक कौशल एडवोकेट, पार्षद विनोद बांसल, पार्षद सुखविन्द्र सरां, पार्षद सुभाष मित्तल, एसडीई रमेश कम्बोज, रामलाल बागड़ी, प्रकाश चन्द बांसल, जसवन्त सिंह बराड़, बहादर सिंह कूका, पवन गर्ग, आचार्य रमेश सचदेवा, वेदप्रकाश भारती, राजकुमार पटवारी, आशा वाल्मीकि, रविन्द्र छाबड़ा, ओमप्रकाश कानूनगो, राजेश जुनेजा बिल्लू, अमरजीत इन्सां, जवाहर कामरा, राजेन्द्र सरां एडवोकेट, जगदीप सिंह एडवोकेट, प्यारे लाल ब्लाक समिति सदस्य आदि उपस्थित थे। इस मौके पर मंच का संचालन विंग की सदस्य महक ने किया।

रॉड मारकर सरपंच की कार क्षतिग्रस्त की

बनवाला (जसवंत जाखड़) गांव रिसालियाखेड़ा के सरपंच दलीप सिंह की कार को उसी गांव के एक व्यक्ति ने राड से प्रहार करके क्षतिग्रस्त कर दिया।
बताया जाता है कि रविवार को रिसालियाखेड़ा सरपंच दलीप सिंह अपनी 1996 मॉडल कार नंबर डीएल 3 सीएफ 7227 पर सवार होकर मोहन लाल शर्मा की लड़की की शादी में गया और कार को घर के बाहर रोककर शगुन देने घर के अंदर चला गया। थोड़ी देर बाद सरपंच दलीप सिंह को गांववासी लेखराम मूंड ने बताया कि ओमप्रकाश पुत्र भोमाराम उसकी कार को राड़ से तोड़ रहा है। इतना सुनते ही सरपंच मोहन लाल के घर से बाहर आया तो देखा कि ओमप्रकाश ने राड़ मारकर कार के शीशे व बाड़ी को तोड़ फोड़ दिया है और सरपंच को आता देख वो मौके से फरार हो गया। सरपंच ने इसकी सूचना तुरंत गोरीवाला स्थित पुलिस चौकी को दी और पुलिस मौके पर पहुंची।
इस संबंध में पुलिस चौकी इंचार्ज कृष्ण कुमार से बात किए जाने पर उन्होंने बताया कि सरपंच के बयान पर ओमप्रकाश के खिलाफ रपट लिख ली है और जांच की जा रही है कि उसने कार को क्षति क्यों पहुंचाई।

झगड़ों में वृद्ध महिलाओं सहित तीन घायल

डबवाली (लहू की लौ) यहां के इन्दिरा नगर में रविवार रात को ऊंची आवाज में अश्लील गीत लगाने को रोकने पर तेजधार हथियार चले। जिसमें एक पक्ष के वृद्ध महिला सहित दो जने घायल हो गये। जिन्हें उपचार के लिए डबवाली के सिविल अस्पताल में लाया गया।
परमजीत कौर पत्नी प्रितपाल सिंह ने बताया कि रविवार रात को उनके पड़ौसी बलदेव के लड़के सतपाल ने ऊंची आवाज में अपने मोबाइल पर अश्लील गीत लगाये हुए थे। जिस पर उसके पति प्रितपाल सिंह ने एतराज किया और उसे उलाहना देने के लिए वह गली में सतपाल के पास गया। लेकिन सतपाल नहीं माना और उसने अपने पिता बलदेव सिंह के साथ तेजधार हथियारों से प्रितपाल सिंह व उसकी सास सुरजीत कौर पत्नी मुख्तियार सिंह पर हमला करके उन्हें घायल कर दिया। घायल अवस्था में उन्हें डबवाली के सिविल अस्पताल में लाया गया।
इधर गांव हैबूआना में सोमवार सुबह पानी की मोटर को लेकर हुए एक झगड़े में एक महिला घायल हो गई। डबवाली के सामान्य अस्पताल में उपचाराधीन अमरजीत कौर पत्नी जसवीर सिंह ने बताया कि आज सुबह अचानक उनके पड़ौसी अजमेर सिंह पुत्र हजूर सिंह, सेवक सिंह, गाशी सिंह पुत्रान राज सिंह, बलकरण, बलविन्द्र सिंह पुत्रान इकबाल सिंह बगैरा ने उनके घर में घुसकर उसके पुत्र गुरदीप पर तेजधार हथियार से हमला कर दिया। लेकिन जब उसने अपने पुत्र को आरोपियों से छुड़वाने का प्रयास किया तो आरोपियों ने उसके चोटें मारी।

बस अड्डा पर धूम्रपान, भुगतना पड़ा जुर्माना

डबवाली (लहू की लौ) बस अड्डा पर धुम्रपान करने वालों पर जैसे-जैसे स्वास्थ्य विभाग का शिकंजा कसता जा रहा है। वैसे उसके कारगर परिणाम भी सामने आने लगे हैं। धुम्रपान करने वाले लोगों की संख्या कम होने लगी है।
यह जानकारी देते हुए हरियाणा रोड़वेज डबवाली के बस अड्डा इंचार्ज जगदीश बिश्नोई ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग हिसार के रविन्द्र मोंगा के नेतृत्व में बस अड्डा पर अचानक तीन बार धुम्रपान के खिलाफ छेड़े गये अभियान के तहत अब तक करीब 85 लोगों को 9000 रूपये जुर्माना किया जा चुका है जो उनसे मौका पर ही वसूल लिया गया।
बिश्नोई ने बताया कि शनिवार को तीसरी बार बस स्टैंड पर धुम्रपान करते हुए 20 व्यक्तियों को पकड़ा गया। जिन पर स्वास्थ्य विभाग ने 1500 रूपये जुर्माना किया।

कॉटन फैक्ट्री में आग से 4.50 लाख का नरमा जला

डबवाली(लहू की लौ) गांव शेरगढ़ के बडिंगखेड़ा रोड़ पर स्थित डबवाली राईस एण्ड कॉटन फैक्टरी में अचानक आग लग जाने से करीब 150 क्विंटल नरमे को नुक्सान हुआ।

फैक्टरी में तैनात महावीर ने बताया कि सुबह नरमा की बिलाई का काम चल रहा था कि अचानक रोलर जीन के सपरेटर से चिंगारी निकलने से नरमा रूई में आग लग गई। इसकी सूचना फायरब्रिगेड को दी गई और मौका पर पहुंचे लीडिंग फायर मैन श्याम सुन्दर, अग्निशमक कर्म सिंह, कर्ण सिंह, नन्द राम, चालक इन्द्रजीत और राजवीर ने करीब एक घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद मशीनों के प्लेटफार्म पर पड़ी नरमा की आग पर काबू पाया।
फैक्टरी ठेकेदार दीपक गोयल ने बताया कि इस आग से करीब साढ़े 4 लाख रूपये की कीमत का 150 क्विंटल नरमा जल गया।

नरेगा में धांधली को लेकर सरपंच को कारण बताओ नोटिस

डबवाली (लहू की लौ) उपायुक्त सिरसा ने ग्राम पंचायत सुकेराखेड़ा की सरपंच को एक पत्र भेजकर जांच रिपोर्ट में सरपंच पद का दुरूपयोग करने का प्रथम दृष्टि में दोषी ठहराया है और कारण बताओ नोटिस जारी करके सरपंच से 7 दिन के भीतर जवाब मांगा है।

जानकार सूत्रों के अनुसार गांव की सरपंच पार्वती देवी को भेजे गये अपने पत्र में उपायुक्त ने कहा है कि नरेगा स्कीम के तहत वर्ष 2008 में पंचायत द्वारा भूमि विकास का कार्य करवाया गया था। जिसमें इस कार्य स्थल पर सुनीता पत्नी पृथ्वी, सुमन पत्नी वेदप्रकाश आया का कार्य करती थीं। लेकिन उसे पैसे कम दिये गये और हस्ताक्षर अधिक रूपयों पर करवाये गये हैं। जांच में रिकॉर्ड के अवलोकन के बाद पाया गया कि उसने आया को दिये गये 6862 रूपये पर हस्ताक्षर करवाये हैं, जबकि वास्तव में उनको 1400 और 700 रूपये की राशि का भुगतान किया गया है।
पत्र में यह भी कहा गया है कि गांव के मजदूरों द्वारा कार्य की मांग करने पर खण्ड विकास एवं पंचायत अधिकारी, डबवाली के कार्यालय ने 18 सितम्बर को कार्य के लिए 1 लाख 71 हजार 500 रूपये की राशि जारी की थी और इस राशि को जारी करते हुए पंचायत को लिखा गया था कि मजदूरों को शीघ्र-अतिशीघ्र कार्य दिया जाये। लेकिन मजदूरों को कार्य नहीं दिया गया। 29 सितम्बर को मौका पर जाकर निरीक्षण करने पर उस जमीन पर ज्वार की फसल की बिजाई पाई गई। जिसकी सूचना खण्ड कार्यालय को नहीं दी गई थी।
हरियाणा पंचायती राज अधिनियम 1994 की धारा 51 (1) (बी) के तहत सरपंच को नोटिस भेजकर उपरोक्त जांच रिपोर्ट में सरपंच पद का दुरूपयोग करने का उत्तर 7 दिन के भीतर देने के लिए कहा गया है।

1 लाख की अफीम के साथ गिरफ्तार

डबवाली(लहू की लौ) किलियांवाली पुलिस ने रविवार सुबह एक व्यक्ति को दो किलो अफीम के साथ गिरफ्तार किया है। जिसकी बाजार कीमत करीब एक लाख रूपये आंकी जा रही है।
प्राप्त जानकारी अनुसार जिला मुक्तसर के एसएसपी गुरप्रीत सिंह गिल द्वारा चलाये गये नशा विरोधी अभियान और डीएसपी मलोट मुखविन्द्र सिंह भुल्लर की हिदायतों पर एएसआई गुरमेज सिंह ने अपने साथी हवलदार हरबन्स सिंह, अमरीक सिंह के साथ किलियांवाली-बडिंगखेड़ा रोड़ पर गश्त चल रही थी कि अचानक शेरगढ़ से लौहारा कच्चा रास्ते पर एक व्यक्ति पैदल आता हुआ दिखाई दिया जिसके कंधे पर थैला था। पुलिस ने उसे संदेह के आधार पर रोक लिया और इधर इस संबंध में डीएसपी जगजीत सिंह भगताना गिदड़बाहा को सूचित किया और वह मौका पर पहुंचे। थैला की तालाशी लेने पर उसमें दो किलोग्राम अफीम बरामद हुई। पुलिस सूत्रों के अनुसार अफीम के साथ पकड़े गये व्यक्ति ने अपनी पहचान मदन लाल पुत्र फकीर चन्द निवासी खजूरी बड़ा तेल्ला थाना 22बी, जिला मंदसौर (मध्यप्रदेश) के रूप में करवाई। पकड़ी गई इस अफीम कीमत एक लाख रूपये आंकी जा रही है। आरोपी ने इस अफीम को पंजाब के विभिन्न गांवों में 70 हजार रूपये प्रति किलो के हिसाब से सप्लाई करना था। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है।