युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

17 दिसंबर 2010

होया की ये नच्च दी, दी तेरी बांह फड लई...

डबवाली (लहू की लौ) गांव आसाखेड़ा के राजकीय मिडिल स्कूल में खण्ड स्तरीय ग्रामीण खेलकूद प्रतियोगिता से पूर्व गुरूवार को बीडीपीओ कार्यालय डबवाली द्वारा सांसद तथा मुख्यातिथि अशोक तंवर के सम्मान में आयोजित कार्यक्रम में खूब ठुमके लगे तथा द्विआर्थी गीतों पर बच्चों से नृत्य करवाया गया।
गांव आसाखेड़ा में गुरूवार को बीडीपीओ कार्यालय द्वारा खण्ड स्तरीय तीन दिवसीय ग्रामीण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इससे पूर्व इस प्रतियोगिता के मुख्यातिथि तथा सिरसा के सांसद अशोक तंवर के सम्मान में गाने-बजाने का कार्यक्रम भी आयोजित किया गया। अभी सांसद आए नहीं थे, लेकिन शिक्षा के इस मंदिर में बैठे दूसरी, तीसरी कक्षा के विद्यार्थियों, अध्यापिकाओं, ग्रामीणों को बांधकर रखने के लिए गाने-बजाने के कार्यक्रम में ऐसे द्विआर्थी रखे गए, जिनको सुनकर ग्रामीणों के सिर तो झुके ही साथ में अध्यापकों को भी शर्मसार होना पड़ा। इस मौके पर परोसे गए गीतों में होया की ये नच्च दी, दी तेरी बांह फड लई....., पट्टा ते हाथ मार के कहना गल सुन जा मुटियारे...., तेरा क्या होगा जानब ए आली......, छल्ला-छल्ला...., तेरा-तेरा सरूर..... शामिल थे।
इस संदर्भ में स्कूल के मुख्याध्यापक रमेश कुमार बांसल से बातचीत की गई तो उन्होंने कहा कि उन्हें इस प्रकार के कार्यक्रम की कोई जानकारी नहीं थी। बल्कि यह कार्यक्रम बीडीपीओ कार्यालय द्वारा अचानक ही प्रस्तुत किया गया। उन्होंने इस बात को स्वीकार किया कि इस प्रकार के गाने शिक्षा के मंदिर में नहीं बजाए जाने चाहिए थे। इसका प्रभाव बच्चों की कच्ची मानसिकता पर बुरा पड़ेगा। उसे भी गीत सुनकर इतनी शर्म आई कि उसे अपना सिर छुपाने के लिए इस कार्यक्रम को छोड़कर कार्यालय में आना पड़ा।
सांसद अशोक तंवर से पत्रकारों ने इस बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि यह घटना उसके आने से पूर्व हुई है, इस प्रकार के गीत स्कूल के मंच पर प्रस्तुत नहीं किए जाने चाहिए थे। इस बारे में कार्यक्रम के आयोजकों से पूछताछ की जाएगी।
उपरोक्त मामले के संबंध में बीडीपीओ राम सिंह ने कहा कि स्कूल में बजाए गए उपरोक्त गीत जायज हैं। इस प्रकार के गीत मनोरंजन के लिए गाए ही जाने चाहिए।

18 महिलाएं सर्वोत्तम माताएं चुनी गई

डबवाली (लहू की लौ) सीडीपीओ कार्यालय में ब्लाक डबवाली के छह सर्कलों, 44 गांवों और 144 आंनगवाडिय़ों में से 200 प्रतिभागियों ने सर्वोत्त माता प्रतियोगिता में हिस्सा लिया। यह प्रतियोगिता सर्कल वाईज थी। जिसकी अध्यक्षता सीडीपीओ दर्शना सिंह ने की। इस मौके पर डॉ. सुखवन्त सिंह भी उपस्थित थे।
इस प्रतियोगिता में 22 से 42 वर्ष तक की माताओं ने हिस्सा लिया। सर्वोत्तम माता प्रतियोगिता में चयन इंटरव्यू के आधार पर किया गया। इस मौके पर सर्कल डबवाली-1 से मोनिका पत्नी फतेहचन्द खुइयांमलकाना प्रथम, हरविन्द्र पत्नी यादविन्द्र गांव डबवाली द्वितीय, वीरपाल कौर पत्नी मौजू मसीतां तृतीय रही। डबवाली द्वितीय सर्कल से जसवीर पत्नी राजेन्द्र पन्नीवाला रूलदू प्रथम, वीरपाल पत्नी बलवीर सिंह देसूजोधा द्वितीय, राजवीर पत्नी प्रकाश जोगेवाला तृतीय रही।
इसी प्रकार गोरीवाला सर्कल से रजनी पत्नी बन्ता राम गोरीवाला प्रथम, सरोज बाला पत्नी विजय कुमार मौजगढ़ द्वितीय, अंग्रेज पत्नी प्रेम कुमार लखुआना तृतीय, अबूबशहर सर्कल से विमलेश पत्नी रमेश राजपुरा माजरा प्रथम, राज रानी पत्नी सोनू लोहगढ़ द्वितीय, रीना पत्नी बिट्टू अबूबशहर तृतीय, गंगा सर्कल से मनप्रीत पत्नी महिन्द्र पाल गंगा प्रथम, सरोज रानी पत्नी सुरेन्द्र भारूखेड़ा द्वितीय, सर्वजीत पत्नी सुखपाल चौटाला तृतीय रही। सर्कल बिज्जूवाली से कविता पत्नी राजेश कालूआना प्रथम, कृष्णा पत्नी सुरेन्द्र रिसालियाखेड़ा द्वितीय, सुनीता पत्नी ओमप्रकाश दारेवाला तृतीय रही।
यह जानकारी देते हुए सुपरवाईजर सतिन्द्र कौर ने बताया कि इन चयनित माताओं में से सर्वोत्तम माता को 500, द्वितीय रहने वाली माता को 300 और तीसरे स्थान पर रहने वाली माता को 200 रूपया बतौर पुरस्कार दिया गया। अब इनमें से खण्ड स्तर पर माता का चयन किया जायेगा। इस प्रतियोगिता में महिलाएं अपने बच्चों के साथ इंटरव्यू के लिए आई।

पशु चोर गिरोह का सरगना चोरी की पिकअप के साथ गिरफ्तार

डबवाली (लहू की लौ) सीआईए डबवाली पुलिस ने 23 दिन पूर्व जलालाबाद पंजाब के दशमेश नगर क्षेत्र से चोरी हुई टाटा पिकअप गाड़ी को बरामद कर लिया है। पुलिस ने चोरीशुदा गाडी के साथ आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी के विरूद्ध थाना शहर डबवाली में अभियोग दर्ज कर दिया गया है।
मामले की जानकारी देते हुए सीआईए डबवाली के उपनिरीक्षक अमरनाथ ने बताया कि उनके नेतृत्व में मलोट रोड़ डबवाली में पुलिस ने नाकेबंदी की हुई थी। इसी दौरान आरोपी चैकिंग के दौरान चोरीशुदा टाटा पिकअप गाडी के साथ पकड़ा गया। उन्होने बताया कि गिरफ्तार किए आरोपी की पहचान सुक्खा उर्फ सुखचैन पुत्र रूलदू सिंह निवासी साहबचंद जिला मुक्तसर के रूप में हुई है।
उपनिरीक्षक अमरनाथ ने बताया कि सदर डबवाली पुलिस को सुक्खा की पशु चोरी के एक मामले में भी तलाश थी। उन्होने बताया कि सदर डबवाली पुलिस ने पशु चोरी के मामले में कुछ रोज पूर्व गांव जोतांवाली से तीन लोगों को गिरफ्तार किया था।  गिरफ्तार किये गये आरोपियों ने पुछताछ के दौरान चोरी की वारदात में सुक्खा की संलिप्तता बतलाई थी। उपनिरीक्षक अमरनाथ ने बताया कि सुक्खा से पूछताछ के दौरान चोरी की अन्य वारदातों के सुलझने की संभावना से भी इंकार नहीं किया जा सकता है। उन्होने बताया कि चोरीशुदा पिकअप गाड़ी जलालाबाद के दशमेश नगर निवासी जगदीश कुमार पुत्र शाम लाल की थी। जिसे वहां से 22 नवंबर की रात को आरोपी ने चोरी किया था। सीआईए ने गुरूवार को आरोपी सुक्खा को उपमंडल न्यायिक दंडाधिकारी महावीर सिंह की अदालत में पेश करके पूछताछ के लिए एक दिन का पुलिस रिमांड ले लिया। पुलिस सूत्रों के अनुसार पकड़ा गया सुक्खा अन्तर्राज्यीय पशु चोर गिरोह का सरगना है। पुलिस से शातिर चोर मानकर चल रही है। पुलिस पूछताछ में चोरियों की कई अहम कडिय़ां खुलने की संभावना है।

डबवाली हलके में भय पैदा करती थी चौटाला सरकार की राजनीति-तंवर

डबवाली (लहू की लौ) सांसद डॉ. अशोक तंवर ने कहा कि पिछली चौटाला सरकार ने इस हलके का विकास न करके भय पैदा करने की राजनीति की थी, लेकिन कांग्रेस पार्टी ने हर व्यक्ति को अपनी बात रखने का हक दिया। उन्होंने कहा कि शिक्षित समाज ही देश व प्रदेश को नई दिशा दिखा सकता है। अब हलका डबवाली को विकास के मामले में पीछे नहीं रहने दिया जाएगा।
वे गुरूवार को हल्का डबवाली के सकताखेड़ा, लोहगढ़, जोतांवाली, आसाखेड़ा, भारुखेड़ा, जण्डवाला बिश्नोईयां, गंगा, कालूआना, गोदिकां व मोडी के गांवों में लोगों को 25 दिसम्बर को सिरसा में रैली में भारी तादाद में पहुचने का आह्वान करते हुए संबोधित कर रहे थे।
इस मौके पर डा. सिंह ने कहा कि पिछले 6 वर्ष में जितना विकास जिला सिरसा का किया गया है, उतना विकास पहले कभी नहीं हुआ। यदि हम इनेलो सरकार के समय के तथा चौधरी भूपिन्द्र सिंह के समय में किए गये विकास कार्यों की तुलना करें तो गत 6 वर्ष में पहले से दो गुणा धनराशि खर्च की गई है। चौ. ओमप्रकाश चौटाला किसान हितैषी न होकर किसान विरोधी है। गांव लोहगढ़ व जोतांवाली में जब सेम की समस्या से किसान खेतीहर मजदूर बन रहा था तो लोगों ने चौधरी ओम प्रकाश चौटाला से सेम की समस्या हल करने की गुहार लगाई थी, लेकिन उन्होंने एक भी नहीं सुनी। हरियाणा में कांग्रेस सरकार बनने के बाद भूपिन्द्र सिंह हुड्डा ने किसान हितेषी होने का परिचय देते हुए यहां के किसानों को सेम की समस्या से निजात दिलाई।
इस अवसर पर डबवाली ग्रामीण प्रधान दरबारा सिंह, ब्लॉक औढ़ा के प्रधान जगसीर सिंह मिठड़ी, डा. सुरेन्द्र पाल जस्सी, मलकीत सिंह खालसा, विनोद पूर्व सरपंच गोदिकां, युवा उप प्रधान हलका डबवाली विजय सहारण, जसकरण सिंह भाटी, भालईन्द्र सिंह, कीरत सिंह सरपंच, प्रेम सरपंच, रामकुमार सरपंच, संदीप भारुखेड़ा, भीमसैन, राजेन्द्र सिंह गंगा, गुरादित्ता सरपंच, रामकुमार बिश्रोई, कशमीरा सरपंच, जगदेव सरपंच, साहबराम गोदिकां, लालचंद मुन्नावाली, राजीव सिहाग सहित अनेक कांग्रेस कार्यकत्र्ता मौजूद थे।

होते हैं दीदार दाता, ओ मेरे करतार दाता

डबवाली (लहू की लौ) आर्य समाज के तत्वाधान में आयोजित वाॢषक उत्सव के अंतर्गत पांच दिवसीय सामवेदीय यज्ञ महोत्सव की सरिता में पारिवारिक कार्यक्रम गुरूवार को धर्मवीर के निवास पर वैदिक हवन यज्ञ के साथ प्रारम्भ हुआ। बाद में द्रोणस्थली आर्ष कन्या गुरूकुल की कन्याओं द्वारा ''होते हैं दीदार दाता, ओ मेरे करतार दाताÓÓ प्रस्तुत मधुर भजन ने समां बांध दिया। दिल्ली से विशेष तौर पर डबवाली पहुंचे राजवीर शास्त्री ने भी अपनी मधुर वाणी से ''पाएगा भगवान के दर्शन पाएगा, मन अपने को निर्मल करकेÓÓ द्वारा अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई। आर्य जगत की विदूषी सुश्री डॉ. अन्नपूर्णा ने अपने आशीष वचनों के माध्यम से श्रोताओं को बुराई को छोडऩे तथा अच्छाई को धारण करने के लिए प्रेरित किया तथा भारतवर्ष के प्राचीनतम ग्रंथ वेदों के बताए मार्ग पर चलने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि महॢष देव दयानंद ने वेदों का प्रचार-प्रसार किया तथा हवन यज्ञ करने पर बल दिया।
इस अवसर पर सूत्रधार का दायित्व प्रचार मन्त्री डॉ. अशोक आर्य ने निभाया। इस मौके पर प्रधान एसके दुआ, कोषाध्यक्ष भारत मित्र छाबड़ा, महामन्त्री सुदेश आर्य, प्रदीप सुखीजा सहित अनेक गणमान्य व्यक्तियों सहित काफी संख्या में महिलाएं भी उपस्थित थी।

नहीं है ब्लड बैंक, रक्त के लिए दूसरों का मुंह ताक रहे मरीज

डबवाली। युवा रक्तदान सोसाईटी (रजि.) द्वारा 1995 को हुए भीषण अग्निकाण्ड के शहीदों के स्मृति में 23 दिसम्बर को प्रात: 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक श्री अग्रवाल धर्मशाला में 81वां विशाल रक्तदान शिविर लगाया जा रहा है। संस्था के संस्थापक सुरेन्द्र सिंगला ने बताया कि संस्था की एक आवश्यक बैठक 18 दिसम्बर को रात्रि 7 बजे श्री वैष्णों माता मन्दिर में अध्यक्ष राकेश गर्ग भीटीवाला की अध्यक्षता में रखी गई है। जिसमें शिविर की सफलता के लिए गहन विचार-विमर्श किया जाएगा। सिंगला ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग, हरियाणा सरकार द्वारा 20 वर्ष पूर्व यहां स्वीकृत किए गए ब्लड बैंक को आज तक स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की लापरवाही के कारण प्रारम्भ नहीं किया गया। जबकि 1 दिसम्बर, 2005 से प्रारम्भ किए गए ब्लड स्टोरेज सैंटर द्वारा आज तक 2785 यूनिट रक्त जरूरतमंद मरीजों के लिए दिया गया है। सिंगला ने बताया कि यहां सम्पूर्ण ब्लड बैंक न होने के कारण कैंसर, थैलासीमिया, डेंगू से पीडि़त मरीजों को आपातकालीन परिस्थितियों में रक्त लेने के लिए सिरसा एवं बठिण्डा जाना पड़ता है। उन्होनें कहा कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा सम्पूर्ण ब्लड बैंक प्रारम्भ करने की कार्यवाही को जानबूझ कर ठप्प कर दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों द्वारा की जा रही इस लापरवाही की जानकारी मुख्यमंत्री चौ. भूपेन्द्र सिंह हुड्डा को 25 दिसम्बर को सिरसा आगमन पर दी जाएगी।

राजकीय महाविद्यालय में मनेगा राष्ट्रीय मतदाता दिवस

डबवाली (लहू की लौ) मतदाता पहचान पत्र की अहम भूमिका को मद्देनजर रखते हुए मतदाताओं को जागरुक करने के उद्देश्य से आगामी 25 जनवरी 2011 को 11 बजे स्थानीय राजकीय महाविद्यालय के प्रांगण में राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जाएगा।
यह जानकारी आज डबवाली के उपमंडल अधिकारी नागरिक डा. मुनीश नागपाल ने राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाए जाने बारे उपमंडल स्तर के अधिकारियों की बैठक में दी। इस बैठक में उक्त दिवस को मनाए जाने बारे संबंधित अधिकारियों को रुपरेखा तैयार करके आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए। उन्होंने कहा कि शहरों, कस्बों और विशेष तौर पर गांव स्तर पर मतदाताओं को मतदाता पहचान पत्र के बारे में जागरुक करे कि मतदाता पहचान पत्र की जीवन में अहम भूमिका होती है।
उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर संबंधित मतदाता केद्र पर बूथ लैवल अधिकरियों द्वारा मतदान केंद्रों में मुख्याध्यापक/ गांव के सरपंच/पंच/ब्लाक सदस्य/नंबरदार/स्वतंत्रता सेनानी इत्यादि की उपस्थिति में मतदाता सूची वर्ष 2011 से संबंधित तैयार किए गए फोटोयुक्त पहचान पत्र 25 जनवरी 2011 को वितरित कर दिए जाएंगे।
इस अवसर पर तहसीलदार डबवाली, खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी, महाविद्यालय के प्राचार्य, खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय के प्रतिनिधि, वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के प्राचार्य, /औढ़ा कार्यालय के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

केवल कृष्ण आहूजा नहीं रहे

डबवाली (लहू की लौ) सब्जी मंडी में स्थित हरियाणा साईकिल स्टोर के मालिक केवल कृष्ण आहूजा का वीरवार सुबह 9 बजे अचानक 76 वर्ष की आयु में निधन हो गया। उनके पार्थिव शरीर का दाह संस्कार शुक्रवार सुबह 9 बजे डबवाली के रामबाग में किया जायेगा। आहूजा का एक बेटा आरके आहूजा भारतीय स्टेट बैंक की सिरसा शाखा में मैनेजर के पद पर कार्यरत है जबकि दूसरा प्रेम रत्न आहूजा ओबीसी बैंक लखनऊ में शाखा प्रबंधक है।

बिज्जूवाली में ग्राम सभा की बैठक आयोजित

बिज्जूवाली (हेमराज बिरट) गांव बिज्जूवाली के पंचायत घर में ग्राम सभा की बैठक का आयोजन किया गया।
इस बारे में जानकारी देते हुए सरपंच राजाराम बिरट ने बताया कि ग्राम सभा की बैठक पंच वर्षीय कार्य योजना के तहत लोगों की समस्याएं जैसे राजकीय उच्च विद्यालय के तीन कमरे जो खस्ता हालत में हैं और वह किसी कार्य में भी नहीं आते उनको तुड़वाना, स्कूल का स्टैज बड़ा करवाना, स्कूल के अन्दर एक खेल अध्यापक की नियुक्ति, मुन्नांवाली माईनर 18132-आर व राजपुरा माईनर 41726-आर जो की खस्ता हालत में हैं उनका निर्माण करवाना, पुरानी आंगनबाड़ी में दो कमरे व पीने के पानी के लिए प्रबंध व शौचालय बनवाना, गांव की फिरनी को दुबारा बनवाना, हरिजन चौपाल की चारदीवारी, बीसी चौपाल का निर्माण, पूरे गांव की निशानदेही, पीले कार्ड बनवाना, गांव की सफाई, वाटर वक्र्स से लेकर गऊशाला व स्कूल तक पीने के पानी की पाईप लाईन का प्रबंध करवाना, गांव में खिलाडिय़ों के लिए खेलने के लिए मैदान व खेलने के सामान का प्रबंध करना, गांव में जो बिजली की तारें ढीलीं हैं, उनको सही करवाना व गांव का स्कूल जोकि 10वीं तक हैं, उसको 12वीं तक अपग्रेड़ करवाना ताकि गांव के छात्र-छात्राओं को परेशानियों का सामना ना करना पड़े सहित गांव के लोगों की सांझी समस्याओं व सांझे कार्यों को पंच वर्षीय कार्य योजना तहत करवाने की ग्राम सभा की बैठक में मांग रखी गई।
इस मौके पर पंच चमेली देवी, शारदा देवी, सिलोचना देवी, पंच राजकुमार, ओमप्रकाश, वेदप्रकाश, देवपाल सोनी, धर्मपाल कैथ, रामप्रताप, पटवारी हरपाल सिंह, पंचायत सचिव नारायण सिंह, एएनएम वीना कुमारी, आंगनबाड़ी वर्कर आशा रानी व स्कूल स्टाफ रमेश कुमार, लखीराम, प्रेम कुमार व गांववासी दिनेश धींगड़ा, नंदी मैहता, रमेश मैहता, सतीश कुमार, जगदीश, रणवीर माकड़ सहित गांव के अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे।