युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

11 सितंबर 2009

सगे भाईयों ने अलग-अलग मनाया पिता का श्रद्धांजलि समारोह

डबवाली (लहू की लौ) बदलते समय के साथ-साथ यहां इंसान आसमान को छू चुका है और इंसान के जीवन की तह तक पहुंचने का प्रयास कर रहा है। वहीं इंसानी रिश्ते और सामाजिक ताना-बाना भी तार-तार हो रहा है। कभी बेटे बाप के लिए और बाप बेटों के लिए जान देता था। लेकिन अब यह रिश्ता भी बिखरने लगा है। ऐसा ही कुछ डबवाली के इन्दिरा नगर में इस सप्ताह घटित हुआ। जब दो सगे भाईयों ने अपने पिता की मृत्यु के बाद रखे गये पाठ का भोग डालने की रस्म अलग-अलग की। वह भी एक दूसरे के आमने-सामने। जानकार सूत्रों के अनुसार इन्दिरा नगर में रहने वाले रमेश और ज्योति के पिता तीर्थ राम की इस माह अचानक मौत हो गई थी। पिता के पार्थिव शरीर का संस्कार कर दिया गया। लेकिन ज्योति ने अपने बड़े भाई रमेश को संस्कार के बाद होने वाले धार्मिक रीति-रिवाजों में नहीं बुलाया। जिसके चलते रमेश ने लोक-लाज के चलते अपने स्तर पर अपने पिता की स्मृति में अलग से पाठ रख लिया। एक ही तिथि और एक ही समय आमने-सामने टैंट लगाकर दोनों भाईयों ने अपने पिता का श्रद्धांजलि समारोह आयोजित किया। ज्ञातव्य रहे यह पहला मौका है जब दो सगे भाईयों ने अपने-अपने घरों में वह भी एक-दूसरे के आमने-सामने अपने पिता का श्रद्धांजलि समारोह आयोजित किया। लेकिन भाईयों में विवाद का कारण क्या था, यह तो अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया। लेकिन यह सोचना जरूरी हो गया कि ऐसे मौकों पर ही सामाजिक ताने-बाने में एकता टूटने लगे तो उस समाज का क्या होगा।

एक शाम-अमर शहीदों के नाम 26 को

डबवाली (लहू की लौ)भारत की जनवादी नौजवान सभा ने गांव भारूखेड़ा में एक बैठक करके 26 सितम्बर को शहीदे आजम भगत सिंह के जन्म दिवस पर सिरसा में एक शाम-अमर शहीदों के नाम का आयोजन करने का निर्णय लिया है। यह जानकारी देते हुए जिला प्रधान टोनी सागू ने बताया कि इस कार्यक्रम में देश के प्रसिद्ध रंगकर्मी गुरशरण सिंह उर्फ भाई मना सिंह की नाटक टीम बुत जाग पया, तमाशा मोटयां दा, सरपंचनी आदि नाटकों का मंचन व कारियोग्राफी प्रस्तुत की जायेगी। इस बैठक में डीवाईएफआई की अस्थाई कमेटी का सर्वसम्मति से चुनाव किया गया जिसमें सुनिल, राजपाल, मनसुख, रमेश, संजय, विनोद, अजय, राजेन्द्र, प्रवीण,सोनू, रवि, अनिल, अमित, मांगेराम, रजनीश, विजय, पवन, मुकेश आदि शामिल किये गये।

हजकां ने की 26 विधानसभा सीटों के उम्मीदवारों की घोषणा

डबवाली (लहू की लौ) काफी समय तक गठबंधन के फेर में उलझे रहे हरियाणा जनहित कांग्रेस ने सभी उम्मीदें ध्वस्त होने के बाद आज आखिरकार प्रदेश की 26 विधानसभा सीटों पर उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी। हजकां के अध्यक्ष कुलदीप बिश्नोई ने आज गुडग़ांव में हुई एक बैठक के दौरान यह घोषणा की। कुलदीप ने जहां स्वयं आदमपुर से चुनाव मैदान में उतरने की घोषणा की है, वहीं सिरसा की हॉट सीट के लिए हजकां के एकमात्र दावेदार वीरभान मेहता को चांस दिया गया है। मेहता ने कुलदीप के इस निर्णय को जनता की आवाज करार देते हुए स्वागत किया है। इसके अलावा प्रदेश के इंद्री विधानसभा क्षेत्र से राकेश कम्बोज, गन्नौर से निर्मल चौधरी, तोशाम से कमल सिंह,अटेली से प्रो. रोशन लाल, समालखा से धर्मसिंह छोकर, उकलाना से राजबाला धानक, हांसी से विनोद भयाना, बाढड़ा से रणसिंह, कैथल से सुरेंद्र मदान, नांगल चौधरी से मूलाराम, चरखी दादरी से सतपाल सांगवान, बल्लभगढ़ से चंद्रभाटिया, जींद से बृजमोहन सिंगला, पानीपत ग्रामीण से बिजेंद्र सिंह कादियान, नारनौल से राव नरेंद्र सिंह, हथीन से शक्तिसिंह रावत, रतिया से मंगतराम, बरवाला से सुभाष टांक, फिरोजपुर झिरका से अमन अहमद, थानेसर से बलकार सिंह, अम्बाला शहर से पूर्णप्रकाश सैनी, बहादुरगढ़ से पंडित राज सिंह, नारायणगढ़ से भूपसिंह राणा को उम्मीदवार बनाया गया है।

सीबाआई टीम के डेरा पहुंचने पर डेरा प्रेमियों में हड़कम्प

सिरसा (लहू की लौ) डेरा सच्चा सौदा के पूर्व प्रबंधक फकीरचंद की हत्या मामले की जांच में जुटी सीबीआई टीम आज फिर सिरसा पहुंची। टीम के सिरसा पहुंचने पर डेरा प्रेमियों में हडकंप मच गया। केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो के डीएसपी सतीश डागर के नेतृत्व में पांच सदस्यीय टीम आज फकीरचंद हत्याकांड मामले की छानबीन में सिरसा पहुंची है। ज्ञातव्य हो कि गंगा निवासी रामकुमार बिश्रोई द्वारा डेरा सच्चा सौदा के पूर्व प्रबंधक फकीर चंद के लापता होने के पीछे हत्या का संदेह जताया गया था। बिश्रोई ने मामले की सीबीआई जांच करवाने के लिए पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय ने याचिका लगाई थी। न्यायालय ने मामला सीबीआई को सौंप दिया।

सीबाआई टीम के डेरा पहुंचने पर डेरा प्रेमियों में हड़कम्प

सिरसा (लहू की लौ) डेरा सच्चा सौदा के पूर्व प्रबंधक फकीरचंद की हत्या मामले की जांच में जुटी सीबीआई टीम आज फिर सिरसा पहुंची। टीम के सिरसा पहुंचने पर डेरा प्रेमियों में हडकंप मच गया। केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो के डीएसपी सतीश डागर के नेतृत्व में पांच सदस्यीय टीम आज फकीरचंद हत्याकांड मामले की छानबीन में सिरसा पहुंची है। ज्ञातव्य हो कि गंगा निवासी रामकुमार बिश्रोई द्वारा डेरा सच्चा सौदा के पूर्व प्रबंधक फकीर चंद के लापता होने के पीछे हत्या का संदेह जताया गया था। बिश्रोई ने मामले की सीबीआई जांच करवाने के लिए पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय ने याचिका लगाई थी। न्यायालय ने मामला सीबीआई को सौंप दिया।

राजकीय बहुतकनीकि महाविद्यालय पर छात्रों ने जड़ा ताला

डबवाली (लहू की लौ) विभिन्न मांगों को लेकर शुक्रवार को छात्र संगठन आल इंडिया स्टूडेंट फेडरेशन (एआईएसएफ) के कार्यकर्ताओं ने राजकीय बहुतकनीकि महाविद्यालय पर प्रदर्शन कर सरकार के विरूद्ध जमकर नारेबाजी की और मुख्यद्वार पर ताला डाल दिया। प्रदर्शनकारियों ने चेतावनी दी है कि अगर सोमवार तक उनकी मांगों पर विचार न किया गया तो प्रदेश भर में आंदोलन शुरू कर दिया जाएगा। एआईएसएफ के कार्यकर्ता शुक्रवार को राजकीय बहुतकनीकि महाविद्यालय पहुंचे और मुख्य द्वार पर धरना देकर बैठ गए। छात्रों ने विभिन्न मांगों को लेकर सरकार के विरूद्ध नारेबाजी की और मुख्यद्वार पर ताला डाल दिया। इस मौके पर उपस्थित छात्रों को संबोधित करते हुए एआईएसएफ के प्रदेश संंयोजक रोशन लाल सूचान ने कहा कि प्रदेश सरकार की तानाशाही के चलते प्रदेश के हजारों विद्यार्थियों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। उन्होंने कहा कि पिछले एक माह से शिक्षक हड़ताल पर है और विद्यार्थियों की एक भी कक्षा नहीं लगी है। उन्होंने कहा कि अगर सोमवार तक सरकार ने प्राध्यपकों की समस्या का समाधान न किया तो सोमवार से प्रदेश भर में उनके संगठन की ओर से आंदोलन शुरू कर दिया जाएगा। एआईएसएफ के जिला अध्यक्ष अजीत ङ्क्षसह ने कहा कि प्राध्यापकों की हड़ताल के कारण पढ़ाई प्रभावित हो रही है ऐसे में सरकार को चाहिए कि सबसे पहले वह पढ़ाई को बहाल करे। उन्होंने कहा कि प्रदेश के महाविद्यालयों में प्राध्यापकों के रिक्त पदों पर निुयक्तियां की जाए। महाविद्यालय शाखा के प्रधान जगतीत सिंह सचिव तेजेंद्र जीत ङ्क्षसह ने कहा कि सोमवार तक कक्षाएं बहाल न हुई तो आंदोलन तेज कर दिया जाएगा। इस मौके पर छात्र नेता विदुर, विक्रांत राठी, तेजेंद्र कुमार, पवन कुमार, सचिन कुमार, अंकुर, वीरेंद्र सिंह, रोहित कुमार आदि ने विचार व्यक्त किए।

बाढ़ की स्थिति से निपटने के लिए जिला प्रशासन पूरी तरह तैयार

अम्बाला (लहू की लौ) अम्बाला जिला प्रशासन, बाढ़ जैसी किसी भी स्थिति से निपटने के लिये पूरी तरह तैयार है और बाढ सम्बन्धी सूचनाओं के आदान-प्रदान के लिये पहले से ही नियंत्रण कक्ष स्थापित किये गये हैं। इन नियंत्रण कक्षों पर 24 घंटे कर्मचारी तैनात किये गये हैं जो अधिक पानी होने की स्थिति में तुरंत ब्लाक, तहसील, उपमंडल और जिला स्तर पर गठित किये गये नियंत्रण कक्षों को सूचित करेगें। जिला उपायुक्त श्री समीर पाल सरो ने सिंचाई, जनस्वास्थ्य, राजस्व और स्थानीय निकाय के अधिकारियों के साथ जिला के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर पिछले तीन दिन से लगातार हो रही बारिश के कारण पानी की स्थिति का जायजा लिया और कहा कि अभी तक जिला में बाढ जैसी कोई स्थिति नही है। जिला प्रशासन घग्गर, टांगरी और सतलुज-यमुना लिंक नहर में चल रहे पानी के जल स्तर पर भी निरंतर निगरानी रखे हुए है ताकि अधिक पानी आने की स्थिति में तुरंत आवश्यक कदम उठाए जा सकें। उन्होंने कहा कि हर वर्ष नग्गल ऐरिया में नहर टूटने के कारण होने वाले नुकसान से बचने के लिये जिला प्रशासन द्वारा विशेष कार्य योजना तैयार की गई है। इस योजना के तहत सतलुज-यमुना लिंक नहर की पंजाब सीमा के 0 बिन्दु से जनसुई हैड तक प्रत्येक आधे किलोमीटर पर रेत से भरे हुए एक हजार से 1500 थैले रखे गये हैं और इन स्थानों पर पत्थर इत्यादि का प्रबन्ध भी पहले से किया गया है। उन्होने कहा कि 11 किलोमीटर क्षेत्र में दो टै्रक्टर-ट्राली और प्रत्येक टै्रक्टर-ट्राली के साथ पांच व्यक्तियों को तैनात किया है ताकि जैसे ही किसी स्थान पर पानी के रिसाव की सूचना मिले तो तुरंत रेत और पत्थर उस स्थान तक पहुंचाया जा सके। उन्होने सिंचाई, जनस्वास्थ्य एवं स्थानीय निकाय विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वह पानी भराव वाले स्थानों पर पानी निकासी के लिये लगाये गये पम्पों को निरंतर चालू रखें और जहां अतिरिक्त पम्प लगाने की आवश्कता है उसका भी तुरंत प्रबन्ध करें। उन्होने कहा कि सतलुज-यमुना लिंक नहर पर पहली बार इलैक्ट्रिक गेट लगाये गये हैं ताकि पंजाब की ओर से अधिक पानी आने की स्थिति में इन गेटों को तुरंत उठाकर फालतू पानी को आगे निकाला जा सके और नहर टूटने के कारण नग्गल ऐरिया में आने वाली बाढ से बचा जा सके। उन्होने बताया कि जिला मुख्यालय पर जिला राजस्व अधिकारी के कार्यालय में मुख्य नियंत्रण कक्ष की स्थापना की गई है और यह नियंत्रण कक्ष राजस्व अधिकारी की देखरेख में कार्य कर रहा है। इस नियंत्रण कक्ष का दूरभाष नम्बर 0171-2530401 तथा 2631599 है। इसी प्रकार उपमंडल अम्बाला स्तर पर स्थापित किये गये नियंत्रण कक्ष पर बाढ सम्बन्धित सूचना दूरभाष नम्बर 0171-2530350 पर तथा तहसील स्तर के नियंंत्रण कक्ष में मोबाईल नम्बर 92153-89242 पर दी जा सकती है। नारायणगढ क्षेत्र से सम्बन्धित ऐसी कोई भी सूचना उपमंडल स्तर के नियंत्रण कक्ष के दूरभाष नम्बर 01734-284008 पर तथा तहसील कार्यालय नारायणगढ के दूरभाष नम्बर 01734-284002 पर दी जा सकती है। बराड़ा क्षेत्र के लिये उपमंडल स्तर के नियंत्रण कक्ष के दूरभाष नम्बर 01731-286711 अथवा तहसील कार्यालय बराड़ा के दूरभाष नम्बर 01731-283271 पर दी जा सकती है। श्री सरो ने बताया कि सभी खण्ड मुख्यालयों पर भी नियंत्रण कक्ष स्थापित किये गये हैं। उन्होने बताया कि अम्बाला प्रथम विकास खण्ड से सम्बन्धित बाढ सम्बन्धी सूचना दूरभाष नम्बर 0171-2530550 अथवा मोबाईल नम्बर 9215389288 पर, अम्बाला द्वितीय विकास खण्ड से सम्बन्धित सूचना मोबाईल नम्बर 9215389289 पर, बराड़ा से सम्बन्धित सूचना 01731-283021 तथा मोबाईल नम्बर 9215389287, नारायणगढ से सम्बन्धित सूचना 01734-284022, शहजादपुर के लिये मोबाईल नम्बर 9215389293 तथा साहा से सम्बन्धित सूचना दूरभाष नम्बर 9215389290 पर दी जा सकती है। उन्न्होने जिला की जनता से भी अनुरोध किया कि अधिक वर्षा की इस स्थिति में वह संयम बनाये रखें और प्रशासन को अपना पूर्ण सहयोग दें। उन्होने यह भी कहा कि किसी भी क्षेत्र में अधिक पानी आने की स्थिति में तुरंत जिला प्रशासन को सूचित करें और नालियों व नालों में पोलिथीन, कुडा-कर्कट व गोबर इत्यादि न डालें क्योंकि पानी निकासी के नाले बाधित होने के कारण भी जल भराव की समस्या उत्पन्न होती है।

पार्टी के प्रति समर्पित कार्यकर्ता को ही बनाया जाएगा उम्मीदवार-पर्यवेक्षक

सिरसा (लहू की लौ) कांग्रेस पार्टी ने संगठनात्मक ढांचे को मजबूत करने और पार्टी के प्रति समर्पित रहने वाले कार्यकर्ताओं को उम्मीदवार बनाने का फैसला किया है और आज यही तलाश करने के लिए पार्टी पर्यवेक्षक यहां आए है। ये कहना है कांग्रेस पर्यवेक्षक पवन गोदारा और कुलदीप नंदा का। वे आज यहां कांग्रेस भवन में पत्रकारों से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि वे जमीन से जुड़े हुए कार्यकर्ताओं की सूचि बना कर हाईकमान को सौंप देंगे तथा बाद में शेष कार्य हाई कमान खुद करेगा। उन्होंने कहा कि पार्टी निष्ठावान कार्यकर्ताओं को उम्मीदवार बनाएगी और प्रदेश में कांग्रेस की लहर चल रही है। आज उमड़े जम सैलाब से साफ हो गया है कि राज्य में कांग्रेस अभूतपूर्व जीत की ओर बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि यह कार्यकर्ताओं का जोश है तथा यह चुनाव में चमत्कार दिखाएगा।

पर्यवेक्षकों के समाने कांग्रेसियों में धक्का-मुक्की

सिरसा (लहू की लौ) कांग्रेस की टिकट के सही उम्मीदवार की तलाश में आए पार्टी के पर्यवेक्षकों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। कांग्रेस भवन में टिकटार्थियों और उनके समर्थकों के भारी हंगामें के कारण व्यवस्था बिगड़ गई और दिनभर तनाव की स्थिति बनी रही। गोल डिग्गी पर जाम लगा रहा और यातायात को नियंत्रित करने में पुलिस को भारी मशक्कत करनी पड़ी। बरसात ने भी टिकटार्थियों और व्यवस्थापकों के प्रयासों में खूब विघन पैदा किया। आज कांग्रेस पार्टी के दो पर्यवेक्षक राजस्थान युवा कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष पवन गोदारा और पंजाब कांग्रेस के महासचिव कुलदीप नंदा के पहुंचते ही कांग्रेस भवन जनसैलाब में डूब गया तथा लोगों ने कांग्रेस के साथ-साथ अपने दावेदारों के समर्थन में जमकर नारेबाजी की। पर्यवेक्षकों ने सबसे पहले पत्रकारों से बात की और बाद में उम्मीदवरों को आमंत्रित किया। इस बीच जो हंगामा हुआ उसे देखकर पर्यवेक्षक भयभीत हो गए और सुरक्षा कर्मियों को कई बार लोगों से दो-चार होना पड़ा। हालात इतने खराब होते चले गए कि लोग एक-दूसरे के ऊपर से होकर आगे निकलने की होड़ करते रहे। हंगामे के कारण व्यवस्था चरमरा गई और शहरवासियों को इसका शिकार होना पड़ा। कांगे्रस भवन के आसपास वाहनों का जमघट परशुराम चौक तक पहुंच गया और यह रास्ता पूरी तरह जाम हो गया। एक-एक हल्के से 20-20 दावेदार अपने समर्थकों के साथ आए तथा एक-दूसरे से उलझते रहे। हालात बिगड़ते देखकर पर्यवेक्षकों को कांग्रेस भवन के ऊपरी तल पर बैठाया गया। इसके बावजूद हंगामा कम नहीं हुआ।

महिला प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित

डबवाली (लहू की लौ) इफको ने गांव सांवतखेड़ा में महिला एवं बाल विकास विभाग के सहयोग से महिला प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन गांव सांवतखेड़ा के सरकारी स्कूल में किया। जिसमें गांव सांवतखेड़ा व नीलियांवाली की 150 महिलाओं ने भाग लिया। प्रशिक्षण कार्यक्रम में मंच का संचालन रणजीत सिंह सांवतखेड़ा ने किया। इस मौके पर आर.एस. नान्दल क्षेत्रीय प्रबन्धक इफको डबवाली ने उपस्थित भागीदारों व लोगों को इफको द्वारा किसानों एवं ग्रामीणों के हित में चलाई जा रही इफको की विभिन्न गतिविधियों की जानकारी दी। इस अवसर पर डॉ. अमरदीप कौर ने महिलाओं को अपने स्वास्थ्य को किस प्रकार से ठीक रखें विशेषकर गर्भधारण के समय, के सम्बन्ध में जानकारी दी। कार्यक्रम की मुख्यातिथि धनपति मलिक जिला परियोजना अधिकारी ने कहा कि महिलाओं को अपने व अपने बच्चों के शारीरिक विकास के लिए संतुलित पोषाहार पर ध्यान देना चाहिए ताकि परिवार का स्वास्थ्य ठीक रह सकें। इस अवसर पर उपस्थित विभिन्न प्रतियोगिताएं भी करवाई गई। बेबी शो में गांव सांवतखेड़ा के पारसमणी पुत्र सुखपाल सिंह, देव कुमार पुत्र रामचरण, गुरसिमरन पुत्र मुखदान, रेस्पीज में विद्या देवी सांवतखेड़ा, परमजीत कौर नीलियांवाली, जसविन्द्र कौर नीलियांवाली, क्विज में सांवतखेड़ा की सलोचना, सुनीता, पुष्पा, मलकीत कौर ने क्रमश: प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त किया। विजेताओं को पुरस्कृत किया गया। इस मौके पर सरोज कम्बोज बाल विकास एवं परियोजना अधिकारी भी उपस्थित थीं।

न्यायाधीश ने लगाई कसाब को फटकार


मायावती को सुप्रीम कोर्ट का तगडा झटका

नई दिल्ली, 11 सितंबर। सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती को तगडा झटका देते हुए राज्य में चल रहे सभी तरह के पार्को के निर्माण को तुरंत प्रभाव से बंद करने और छह घंटे में उन स्थानों को खाली करने के आदेश दिए हैं साथ ही मुख्य सचिव, बसपा नेता एवं सुप्रीम कोर्ट अधिवक्ता सतीश मिश्रा को नोटिस जारी कर पूछा है कि इन स्थानों पर 8 सितंबर के बाद भी कार्य कैसे चलाया गयाक् सुप्रीम कोर्ट ने यह सख्त कदम पार्को में चल रहे कार्यो की मीडिया रिपोट्स सामने आने के बाद उठाया है। सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश में अंबेडकर पार्को में मूर्तियां लगाने से संबंधित याचिका पर गत मंगलवार को सुनवाई करते हुए वहां तुरंत प्रभाव से कार्य रोकने के निर्देश दिए थे। सर्वोच्चा अदालत ने उत्तर प्रदेश में कांशीराम, मायावती और अन्य दलित नेताओं की प्रतिमाओं पर 2600 करोड रूपए की भारी भरकम राशि खर्च करने पर सरकार को लताड लगाते हुए कहा था कि करदाताओं के पैसे का मनमाना उपयोग नहीं किया जा सकता। न्यायाधीश बीएन अग्रवाल और न्यायाधीश आफताब आलम की खंडपीठ ने बेहद तल्ख लहजे में पूछा था कि जब देश के सबसे बडे राज्य की जीडीपी महज दो फीसदी से स्तर पर है, तो ऎसे में इतनी भारी-भरकम राशि मूर्तियों पर कैसे खर्च की जा सकती है। साथ ही खंडपीठ ने निर्देश दिया था कि लखनऊ के उन विभिन्न स्थलों पर और कोई निर्माण न किया जाए जिनको लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट में सुनवाई चल रही है।

निठारी कांड : कोर्ट के फैसले से गुस्साए लोगों ने किया पथराव

नोएडा, 11 सितंबर। बहुचर्चित निठारी कांड के मुख्य आरोपी के इलाहाबाद हाईर्को से बरी होने पर गुस्साए पीडितों ने शुक्रवार को खूनी कोठी पर जमकर पथराव किया। गौरतलब है कि पूर्व गाजियाबाद की सीबीआई कोर्ट ने निम्पा हलधर नाम की युवती के अपहरण, बलात्कार और हत्या के मामले में में निठारी कांड के मुख्य अभियुक्त मनिंदर सिंह पंढेर और उसके नौकर सुरेंद्र कोली को फांसी की सजा सुनाई थी, लेकिन इलाहाबाद हाईकोर्ट ने शुक्रवार को मनिंदर सिंह को साक्ष्य के अभाव में बरी कर दिया और सुरेंद्र की सजा बरकरार रखा। अदालत के इस फैसले के बाद मतका के माता-पिता और निठारी कांड के अन्य पीडितों का गुस्सा फूट पडा। वे खूनी कोठी पर जमा हो गए और जमकर पथराव किया। रिम्पा के पिता अनिल हलधर ने कोर्ट के फैसले को गलत बताते हुए इसे गरीबों के साथ अन्याय बताया। उत्तेजित निठारी पीडितों ने मीडिया वाहनों और मौके पर पहुंची पुलिस पर भी पथराव किया। मनिंदर के खिलाफ रिम्पा हलधर मामले के अलावा 17 और आपराधिक मामले दर्ज हैं।

23 हजार परमाणु बमों पर सवार दुनिया


वाशिंगटन, 11 सितंबर। शीत युद्ध का काल बीते डेढ दशक हो गया है पर दुनिया में परमाणु हथियारों की होड खत्म होने के बजाय बढती जा रही है। विश्व में अब तक 23,000 परमाणु घोषित रूप से बनाए जा चुके हैं। इनमें से 8100 से ज्यादा बम कभी भी दागे जाने की स्थिति में हैं।
फैडरेशन ऑफ अमरीकन सीइंटिस्ट (एफएएस) द्वारा जारी एक रिपोर्ट में विश्व में सभी देशों के पास परमाणु हथियारों की विस्तृत जानकारी दी गई है, जिसके मुताबिक विश्व के नौ देशों के पास कुल 23,375 परमाणु आयुध हैं। रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान के परमाणु हथियारों की संख्या अब भारत के परमाणु भण्डार से अधिक पहुंच गई है।
एफएएस ने ये आंकडे 28 अगस्त, 2009 को जारी किए थे। आंकडों के मुताबिक रूस का परमाणु जखीरा 13 हजार बमों के साथ सबसे बडा है जबकि अमरीका 9,400 हथियारों के साथ दूसरे स्थान पर हैं। रूसी जखीरे में 2790 हथियार रणनीतिक, 2050 गैर रणनीतिक तथा 4840 ऑपरेशनल हथियार हैं। इसके विपरीत अमरीका के पास 2126 रणनीतिक, 500 गैर रणनीतिक और 2623 ऑपरेशनल हथियार हैं। रूस के पास 1991 में गैर रणनीतिक मुखास्त्र की संख्या 15 हजार थी, जो अब मात्र 5390 रह गई है। लगभग 200 मुखास्त्र निष्क्रिय अवस्था में यूरोपीय भाग में तैनात हैं तथा अतिरिक्त 2500 मुखास्त्र आरक्षित हैं।
इस सूची में चीन 300 परमाणु बमों के साथ तीसरे, 240 बमों के साथ फ्रांस चौथे तथा 185 बमों के साथ ब्रिटेन पांचवें पायदान पर है। इस तरह सुरक्षा परिषद के पांच स्थाई सदस्यों के पास कुल 23,125 परमाणु हथियार हैं जो विश्व के कुल परमाणु आयुधों का 98.5 प्रतिशत से ज्यादा हैं। अन्य घोषित परमाणु शक्तियों में पाकिस्तान का परमाणु जखीरा इजरायल और भारत की तुलना में कहीं अधिक हो गया है। भारत और पाकिस्तान के पास रणनीतिक हथियार 60-60 है लेकिन कुल हथियारों की संख्या के मामले में भारत के 60 से 80 के मुकाबले पाकिस्तान के पास 70 से 90 तक परमाणु आयुध हैं, जो इजरायल के कुल आयुधों (80) से भी ज्यादा हो सकते हैं। इस प्रकार दक्षिण और पश्चिम एशिया में पाकिस्तान सबसे बडी परमाणु शक्ति हो सकता है।
ताजा परमाणु शक्ति बने उत्तर कोरिया के पास परमाणु हथियारों का ब्यौरा यूं तो किसी के पास नहीं है, लेकिन तमाम सूचनाओं के आधार पर रिपोर्ट में बताया गया है कि उसके पास दस से अधिक परमाणु बम हैं। उत्तर कोरिया ने अब तक दो परमाणु परीक्षण किए हैं।
रिपोर्ट में इजरायल, पाकिस्तान, भारत और उत्तर कोरिया के पास गैर रणनीतिक एवं ऑपरेशनल यानि दागने के लिए तैयार हथियारों की संख्या अनुलब्ध बताई गई है।

स्वाइन फ्लू से देहरादून स्कूल की कक्षाएं स्थगित

देहरादून, 10 सितंबर। उत्तराखंड में स्वाइन फ्लू के मरीजों की लगातार बढती संख्या के बीच अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ख्याति प्राप्त दून स्कूल की कक्षाओं को अगले आदेश तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। स्कूल में सामूहिक रूप से एकत्र होने, समूह में घूमने तथा अन्य सामूहिक गतिविघियों पर रोक भी लगा दी गई है। स्कूल के सूत्रों के अनुसार संस्थान के कुछ छात्रों की स्वाइन फ्लू के लिए जांच करने पर रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई जिसके बाद यह कदम उठाया गया है। आवासीय विद्यालय होने के चलते हालांकि स्कूल को अभी तक बंद करने का फैसला नहीं किया गया है। अभिभावकों को यह अनुमति दे दी गई है कि वे चाहें तो अपने बच्चाों को घर ल जा सकते हैं। राज्य के स्वाइन फ्लू के नोडल अघिकारी डा. पंकज जैन ने आज यहां बताया कि स्कूल में पांच कर्मचारियों सहित कुल 15 छात्रों के रक्त और थूक के नमूने जांच के लिए भेजे गए थे जिनमें से नौ छात्रों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। एहतियात के तौर पर स्कूल में 50 बिस्तरों वाला आइसोलेशन वार्ड खोल दिया गया है। इसमें 26 छात्रों का इलाज भी किया जा रहा है।

पुलिस कर्मियों ने मांगी माफी

डबवाली (लहू की लौ) मंगलवार की रात को नगरपालिका का कूड़ा ढो रहे ट्रेक्टर चालक के साथ पुलिस द्वारा दुव्र्यवहार करने और पिटाई करके घायल करने का मामला दोनों पक्षों में समझौता हो जाने के बाद वीरवार को शांत हो गया। यह जानकारी देते हुए राजेन्द्र जैन ने बताया कि दोनों पक्ष अशोक चलाना के आरा पर इक्ट्ठे हुए और वहां पर आरोपी पुलिस कर्मियों ने ट्रेक्टर-ट्राली चालक को 8,000 रूपये की राशि इलाज के लिए देना स्वीकार किया और नगरपालिका अध्यक्षा से किये दुव्र्यवहार के लिये माफी मांग ली। जिस पर दोनों पक्षों में समझौता हो गया और ठेकेदार ने भी पुलिस कर्मियों के खिलाफ थाना में दी शिकायत को वापिस ले लिया।

मैनेजर पर जानलेवा हमला

डबवाली (लहू की लौ) यहां के न्यू बस स्टैण्ड रोड़ पर एक व्यक्ति ने हरियाणा अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम सिरसा के डिप्टी मैनेजर के पेट में राम्पी मारकर उसे घायल कर दिया। जिसे लोगों ने गंभीर हालत में डबवाली के सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया। यहां से प्राथमिक चिकित्सा के बाद उन्हें सिरसा रैफर कर दिया गया। घायल राजेन्द्र प्रसाद शर्मा डिप्टी मैनेजर हरियाणा अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम सिरसा ने बताया कि वह अक्सर निगम द्वारा दिये गये ऋणों की किश्त लेने के लिए डबवाली आता-जाता है। इसी संदर्भ में वीरवार को डबवाली आया था। इस सिलसिले में वह न्यू बस स्टैण्ड रोड़ पर जूती बनाने का काम करने वाले हंसराज की दुकान से बाहर निकला ही था कि अचानक एक व्यक्ति ने उस पर हमला कर दिया और आनन-फानन में ही उसके पेट में चमड़ा काटने वाली राम्पी घुसेड़ दी और फरार हो गया। शर्मा ने यह भी बताया कि उस व्यक्ति ने उससे सिर्फ इतना ही कहा था कि वह लोन लेना चाहता है। उसके यह कहने पर कि इसके लिए बीपीएल कार्ड चाहिए, जो उसके पास नहीं है। मौका पर उपस्थित दुकानदार हंसराज और पूर्ण चन्द जगरवाल ने बताया कि उन्होंने सड़क पर खड़े राजेन्द्र प्रसाद को घायल अवस्था में रिक्शा से निकटवर्ती एक प्राईवेट अस्पताल में पहुंचाया। लेकिन वहां से उन्हें सरकारी अस्पताल में चले जाने के लिए कहा गया। इस मौके पर संदीप नामक एक युवक ने घायल को मोटरसाईकिल पर बैठा कर अस्पताल पहुंचाया। सिविल अस्पताल में डॉक्टर ने प्राथमिक चिकित्सा करके गंभीर हालत में घायल को सिरसा रैफर कर दिया। आरोपी की पहचान बंसी लाल पुत्र दौलत राम के रूप में हुई है और घटना के समय वह शराब पीये हुए था।

खाली हाथ लौटे चोर

डबवाली (लहू की लौ) यहां के थाना शहर के नजदीक स्थित सेठी म्यूजिक एण्ड मोबाइल सैन्टर के मालिक मंगत राम ने बताया कि बीती रात उसकी दुकान में सेंध लगाकर तीसरी बार चोर घुसे। लेकिन उन्हें इस बार खाली हाथ लौटना पड़ा। जबकि इससे पूर्व दो बार वह करीब 30,000 रूपये का सामान चुराकर लेजा चुके हैं। उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को भी दी है।

छात्रों और ग्रामीणों ने लगाया जाम

बनवाला (जसवंत जाखड़) छात्रों के लिए पर्याप्त बस सेवा की मांग को लेकर छात्र-छात्राओं व गांववासियों ने आज सुबह पन्नीवाला मोटा से बिज्जूवाली सड़क मार्ग पर बनवाला में जाम लगा दिया जोकि साढ़े तीन घंटे जारी रहा तथा एक किलोमीटर तक वाहनों की लाइन लग गई। लोगों की मांग पर हरियाणा रोडवेज सिरसा के जीएम जोगेन्द्र सिंह ने मौके पर पहुंचकर छात्रों की मांग पूरी करने का आश्वासन दिए जाने के बाद जाम खोला गया। स्कूल व कालेज के समय पर बस सेवा की कमी के चलते आज सुबह करीब सात बजे बनवाला से रिसालियाखेड़ा जाने वाले मार्ग पर 40 छात्रों व 30 छात्राओं और 70 के लगभग बनवाला व रिसालियाखेड़ा से सिरसा जाने वाले छात्र छात्राओं ने सड़क मार्ग पर जाम लगा दिया। जाम लग जाने वाले पर सैकडों गांववासी भी उनमें शामिल हो गए तथा सड़क मार्ग को पूरी तरह से अवरूद्ध कर दिया। जाम लगने की सूचना पाकर ओढ़ां थाना इंचार्ज राजबीर सिंह एसआई व हंसराज एएसआई के नेतृत्व में पूरे दलबल के साथ मौके पर पहुंची और छात्रों व ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया लेकिन वे टस से मस न हुए और जीएम को मौके पर बुलाने की बात कहते हुए अपनी मांग पर अड़े रहे। छात्र नेता सुरेंद्र जाखड़ ने बताया कि बस सेवा की कमी के चलते विद्यार्थियों को गत 5 वर्ष से भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है लेकिन उनकी मांग पर कभी कोई ध्यान नहीं दिया गया जिसके कारण विद्यार्थियों को प्रदर्शन करने और जाम लगाने पर मजबूर होना पड़ा। उन्होंने कहा कि जब तक उनकी मांगे पूरी नहीं की जाती तब तक जाम लगा रहेगा। छात्रों की मांग के बारे में बताते हुए उन्होंने बताया कि बनवाला से डबवाली सुबह साढ़े 7 बजे और कालूआना से सिरसा के लिए पौने आठ बजे पर्याप्त बसें शुरू की जाएं ताकि विद्यार्थियों को कोई परेशानी न हो। जाम लगाने वालों में छात्र नेता सुरेंद्र जाखड़, रोहताष, रणवीर, अजय, सुशील, विक्रम, मैनपाल व राकेश और छात्राओं निरमा देवी, सुखी देवी, सुमन, सरला, ज्योति, राजबाला, सरोज, किरणबाला, मधू, शारधा, रमना, अंगूरी, दर्शना व ग्रामीण पूर्व सरपंच महावीर सिंह, श्रवण गोदारा व कुंदन सेठ आदि ने बताया कि बनवाला से डबवाली और कालूआना से सिरसा बस सेवा की कमी होने के कारण छात्र छात्राओं को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता हैऔर छात्र छात्राएं समय पर स्कूल कालेज नहीं पहुंच पाते। उसके बाद आने वाली बसों में भी भीड़ होने के कारण विद्यार्थियों को बस की छत पर बैठकर यात्रा करने पर मजबूर होना पड़ता है जिससे दुघर्टना होने का भय बना रहता है। जाम लगाकर सड़क पर बैठे छात्र छात्राओं ने हरियाणा सरकार, रोडवेज प्रशासन, कांग्रेस व जीएम मुर्दावाद के नारे लगाए और कहा कि जीएम द्वारा मौके पर पहुंचकर जब तक उनकी मांग को पूरा नहीं किया जाता तब तक वे जाम नहीं खोलेंगे। जाम लगने के बाद बनवाला से बिज्जूवाली मार्ग पर वाहनों की एक किलोमीटर लंबी कतार लग गई जबकि दूसरी ओर के वाहन घुक्कांवाली रोड से होकर निकलने लगे, ऐसा होते देख छात्रों व ग्रामीणों ने घुक्कांवाली रोड भी जाम कर दिया तथा दोनों ओर जाम लगने के बाद मार्ग पूरी तरह से अवरूद्ध हो गया तथा दोनों ओर वाहनों की कतारें लंबी होने लगी। अंतत: हरियाणा रोडवेज सिरसा के महाप्रबंधक जोगेंद्र सिंह 10 बजे के लगभग मौके पर पहुंचे और उन्होंने आधे घंटे तक छात्रों व गांववासियों से बात की। बातचीत करने और छात्रों की मांगे सुनने के बाद जोगेंद्र सिंह ने कहा कि छात्रों द्वारा की जा रही मांग के अनुसार दोनों रूट कल से ही शुरू कर दिए जाएंगे। यह आश्वासन पाने के बाद छात्र व ग्रामीण जाम खोलने पर राजी हो गए तथा साढ़े 10 बजे जाम खोल दिया गया।

कानूनी हैल्पलाईन सेवा शुरू

डबवाली (लहू की लौ) उपमण्डलीय विधिक सेवा समिति डबवाली के अध्यक्ष तथा एसडीजेएम महावीर सिंह और सचिव तथा जेएमआईसी अमरजीत सिंह ने संयुक्त रूप से बताया कि पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने हरियाणा राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के मुख्यालय, चण्डीगढ़ में हैल्पलाईन सेवा शुरू की है। जिसका उद्घाटन न्यायामूर्ति आदर्श कुमार गोयल न्यायाधीश पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय एवं कार्यकारी अध्यक्ष हरियाणा राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण ने किया। उन्होंने यह भी बताया कि इस सेवा के शुरू हो जाने से हरियाणा राज्य का कोई भी नागरिक अपनी कानूनी समस्याओं से निपटने हेतू जानकारी हासिल कर सकता है। कानूनी सलाह/सहायता चाहने वाला व्यक्ति उपरोक्त सेवा केन्द्र में व्यक्तिगत तौर पर आकर या दूरभाष नं. पर 0172-2604055 और वैबसाईट : 222.द्धह्यद्यह्यड्ड.ठ्ठद्बष्.द्बठ्ठ पर सुबह 9 से रात के 12 बजे तक सम्पर्क कर सकता है।

एनएच पर कारें टकराई, एक घायल

डबवाली (लहू की लौ) गांव सांवतखेड़ा के पास दो कारों के टकरा जाने से एक युवक घायल हो गया। जिसे गंभीर हालत में डबवाली के सिविल अस्पताल में लाया गया। गांव चोरमार निवासी अमनदीप पुत्र जसपाल सिंह ने बताया कि उनके गांव के सर्वजीत सिंह का नवांशहर के पास स्थित स्कूल में नई नियुक्ति हुई थी। वह सर्वजीत को छोड़कर, उनकी कार में ही घर वापिस लौट रहा था कि जैसे ही वह कार चलाता हुआ गांव सांवतखेड़ा के पास पहुंचा तो पीछे से आई एक कार ने उसकी कार में टक्कर मार दी। जिससे उसे गंभीर चोटें आई और उसने घायल होने की सूचना मोबाइल से सर्वजीत सिंह के घर दी। लोगों ने उसे घायल अवस्था में डबवाली के अस्पताल पहुंचाया। बताया जाता है कि पीछे से आने वाली कार भी संयोग से कार मालिक के रिश्तेदारों की निकली।

रोष दिवस मनाया

डबवाली (लहू की लौ) स्टेट कमेटी के अह्वान पर टीएसयू मंडल बादल के अन्तगर्त आने वाले पंजाब बिजली बोर्ड के उपमण्डल लम्बी, बादल, डबवाली में रोष दिवस मनाया गया और कर्मचारियों ने काले बिल्ले लगाकर रोष रैलियां की। जिसमें सैकड़ों कर्मचारियों ने भाग लिया। यह जानकारी देते हुए टीएसयू मंडल बादल के प्रधान सुन्दर पाल ने बताया कि यह रोष रैली 8 सितम्बर को चण्डीगढ़ में रोष प्रदर्शन कर रहे किसानों पर हुए लाठीचार्ज के विरोध में किया गया। जिसमें निजीकरण और निगमीकरण के विरूद्ध बिजली एक्ट 2003 रद्द करने की मांग कर रहे हजारों किसानों, मजदूरों और कर्मचारियों पर किये गये जुल्म के दौरान तीन किसानों की मौत हो गई थी और सैंकड़ों जख्मी हुए थे, अनेकों पर पुलिस केस और गिरफ्तारियां डाली गई थी। इस लाठीचार्ज में बादल और डबवाली उपमण्डल के करीब 20 कर्मचारी भी जख्मी हुए। जिनके गंभीर चोटें आई और दो कर्मचारियों की बाजू टूट गये थे। उन्होंने आगे बताया कि यह लाठीचार्ज पंजाब सरकार ने कर्मचारियों, किसानों, मजदूरों की ताकत से बौखला कर और सारे नियमों को ताक पर रखकर किया। इस कार्यवाही से कर्मचारियों में रोष पनप गया है। कर्मचारी सरकार के इस रवैये का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए और भी जोरदार अभियान चलाएंगे तथा कर्मचारी 15 सितम्बर की हड़ताल की तैयारी में आज से ही जुट गये हैं। इन रैलियों को मण्डल नेता सुखदर्शन सिंह, मनजीत सिंह, सतपाल, जगदीश राय, उपमण्डल नेता भजन सिंह, प्रकाश चन्द, जसवीर सिंह के अतिरिक्त सांझा फोर्म के हरदेव सिंह गहरी और सर्कल प्रधान हेमराज ने भी सम्बोधित किया।

पति, सास व ससुर के खिलाफ मामला दर्ज

औढ़ां (जितेन्द्र गर्ग) औढ़ां पुलिस ने इस्तगासा के आधार पर पीडि़त महिला के पिता की शिकायत पर उसके पति, सास व ससुर के खिलाफ दहेज प्रताडऩा, मारपीट व तंग करने के आरोप में मामला दर्ज करके छानबीन शुरू कर दी है। यह जानकारी देते हुए ओढ़ां थाना में कार्यरत एएसआई सुभाषचंद्र ने बताया कि ओढ़ां निवासी पतराम द्वारा अदालत में दायर किए गए इस्तगासे के अनुसार उसने अपनी पुत्री सरस्वती देवी की शादी 10—11 वर्ष पूर्व गांव शेरगढ़ निवासी धर्मपाल के साथ की थी और अपनी सामर्थ के अनुसार दान दहेज भी दिया था। लेकिन शादी के कुछ समय बाद उसका पति धर्मपाल उर्फ कालू, सास तुलसी देवी व ससुर मोटाराम उसे दहेज लाने के लिए तंग करने लगे। उसने आगे बताया कि उनकी मांग पूरी न करने पर वह उसके साथ मारपीट भी करने लगे और कई बार उसे घर से भी निकाल दिया, इस सबसे तंग आकर वो अपने माता पिता के पास ओढ़ां रहने लगी। सुभाषचंद्र एएसआई ने बताया कि मामला दर्ज कर लिया है और आरोपियों को शीघ्र ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

आवारागर्दी करते 3 युवक व युवती काबू

औढ़ां (जितेन्द्र गर्ग) ओढ़ां पुलिस में कार्यरत राजमल एसआई ने गश्त के दौरान रोहिडांवाली क्षेत्र में मम्मड़ नहर के पुल पर संदिग्ध अवस्था में बैठे तीन युवक व एक युवती को आवारागर्दी के आरोप में गिरफ्तार करके अदालत में पेश कर दिया है। पकड़े गए युवकों की पहचान सतबीर उर्फ भाला, अजयपाल पुत्र महेंद्र निवासी रोहिडांवाली व सतीश कुमार पुत्र सुरेंद्र कुमार निवासी वन मंदोरी हाल रोहिडांवाली व युवती कृष्णा उर्फ पूनम पत्नी माडूराम निवासी राजपुरा के रूप में हुई है।