युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

29 अक्तूबर 2009

सड़क दुर्घटनाओं में तीन युवकों की मौत, अनेक घायल

श्रीगंगानगर । सड़क दुर्घटनाओं में तीन युवकों की जान चली गई, जबकि अनेक घायल हो गए। घायलों में तीन की हाल गंभीर बनी हुई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार श्रीगंगानगर जिले के सूरतगढ़-अनूपगढ़ मार्ग पर सूरतगढ़ से 18 किमी. दूर सिलवानी गांव के पास आज दोपहर 12.30 बजे एक मोटरसाइकिल दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इस मोटरसाइकिल पर चक 9 एमके (मुकलावा) के निवासी तीन भाई- राजू, हरीराम, धर्मपाल (पुत्र बालचंद नायक) सवार थे, जो सूरतगढ़ जा रहे थे। इनमें से तीस वर्षीय राजू की मौके पर मौत हो गई। धर्मपाल व हरीराम को आपातकाल सेवा 108 की एंबुलेंस ने सूरतगढ़ के सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया। सूरतगढ़ सदर थाना पुलिस जांच कर रही है कि मोटरसाइकिल स्वत: दुर्घटनाग्रस्त हुआ या कोई वाहन टक्कर मार गया। उधर, हनुमानगढ़ जिले के दूरवर्ती भिरानी थाना क्षेत्र में शेरड़ा गांव के पास मंगलवार रात को एक जीप (आरजे 31 2 ए 151) मोटरसाइकिल से टकराकर पलट गई। जीप में भादरा के एक एडवोकेट अपनी पत्नी, दो बच्चों के साथ शेरड़ा से भादरा आ रहे थे। जीप को उसका चालक चला रहा था। भिरानी पुलिस ने बताया कि टक्कर लगने से मोटरसाइकिल पर सवार शेरड़ा के तीन युवक- बीस वर्षीय सज्जन कुमार पुत्र कुरड़ाराम कुम्हार, 18 वर्षीय राजवीर पुत्र नत्थूराम चमार व 22 वर्षीय घोलू पुत्र सुभाष चमार गंभीर रूप से घायल हो गए। जीप में सवार एडवोकेट तथा अन्य लोगों के मामूली चोटें आईं। घायल युवकों में से सज्जन की रास्ते में मृत्यु हो गई, जबकि प्राथमिक उपचार के बाद राजवीर तथा घोलू को हिसार के लिए रैफर कर दिया गया। इनमें राजवीर ने हिसार में दम तोड़ दिया।

आयकर सर्वे की कार्यवाही से हड़कंप मचा

श्रीगंगानगर। आयकर विभाग से बीस से अधिक अधिकारियों-कर्मचारियों के तीन दलों द्वारा आज दोपहर स्थानीय गोल बाजार से केदार चौक के समीप एक होटल तथा सोडा वाटर फैक्ट्री-रेस्टोरेंट पर अचानक सर्वे की कार्यवाही प्रारंभ करने से अन्य व्यवसायियों में हड़कंप मच गया। आयकर विभाग के एक दल ने इन दोनों प्रतिष्ठानों के मालिक के गांधीनगर स्थित निवास एवं गोदाम पर भी सर्वे की कार्यवाही शुरू की। केदार चौक के समीप राज जीरा सोडा वाटर-रेस्टोरेंट तथा इसी प्रतिष्ठान के सहयोगी होटल राज शेयटर्न पर जैसे ही सर्वे के लिए आयकर विभाग के दलों के पहुंचने की जानकारी मिली, इस मार्केट के दुकानदारों में खलबली मच गई। मार्केट के बड़े व्यवसायियों ने अपने खाते-बही इधर-उधर कर दी। उधर राज सोडा वाटर-रेस्टोरेंट एवं राज शेयटर्न होटल में पहुंचते ही आयकर दलों ने लोगों की आवाजाही बंद कर दी और दोनों प्रतिष्ठानों के बही खातों, कम्प्यूटरों को खंगाला प्रारंभ कर दिया। यह दल अपने साथ पुलिस को भी लेकर आये थे। दोनों प्रतिष्ठानों का मालिक एक ही है, जिसके गांधीनगर स्थित निवास तथा गोदाम पर भी सर्वे की कार्यवाही करने के लिए आयकर विभाग का दल पहुंचा। विभाग के संयुक्त आयुक्त अमित निगम के अनुसार यह सर्वे इस प्रतिष्ठान द्वारा दाखिल की गई। आयकर रिटर्न के सत्यापन के लिए की जा रही है। संस्थान के बही खाते तथा अन्य दस्तावेजों को प्राप्त किया जा रहा है। इनकी छानबीन कर आय का आंकलन किया जाएगा। जिसका रिटर्न से मिलान किया जाएगा। शाम को समाचार लिखे जाने तक राज सोडा वाटर तथा राज शेयटर्न होटल पर सर्वे की यह कार्यवाही जारी थी। दोनों प्रतिष्ठानों की लॉबी में पुलिस ने डेरा डाला हुआ था। उल्लेखनीय है कि नागपाल परिवार ने लगभग तीन दशक पहले राज जीरा के नाम से सोडा वाटर की लघु फैक्ट्री लगाई थी, जिसका अब कारोबार उत्तर भारत के कई शहरों में फैला हुआ है। हाल ही इस परिवार ने इसी फैक्ट्री के साथ आलीशान होटल बनाया है। इस होटल की भव्यता लगता है आयकर विभाग को खटकने लगी थी।

आयकर सर्वे की कार्यवाही से हड़कंप मचा

श्रीगंगानगर। आयकर विभाग से बीस से अधिक अधिकारियों-कर्मचारियों के तीन दलों द्वारा आज दोपहर स्थानीय गोल बाजार से केदार चौक के समीप एक होटल तथा सोडा वाटर फैक्ट्री-रेस्टोरेंट पर अचानक सर्वे की कार्यवाही प्रारंभ करने से अन्य व्यवसायियों में हड़कंप मच गया। आयकर विभाग के एक दल ने इन दोनों प्रतिष्ठानों के मालिक के गांधीनगर स्थित निवास एवं गोदाम पर भी सर्वे की कार्यवाही शुरू की। केदार चौक के समीप राज जीरा सोडा वाटर-रेस्टोरेंट तथा इसी प्रतिष्ठान के सहयोगी होटल राज शेयटर्न पर जैसे ही सर्वे के लिए आयकर विभाग के दलों के पहुंचने की जानकारी मिली, इस मार्केट के दुकानदारों में खलबली मच गई। मार्केट के बड़े व्यवसायियों ने अपने खाते-बही इधर-उधर कर दी। उधर राज सोडा वाटर-रेस्टोरेंट एवं राज शेयटर्न होटल में पहुंचते ही आयकर दलों ने लोगों की आवाजाही बंद कर दी और दोनों प्रतिष्ठानों के बही खातों, कम्प्यूटरों को खंगाला प्रारंभ कर दिया। यह दल अपने साथ पुलिस को भी लेकर आये थे। दोनों प्रतिष्ठानों का मालिक एक ही है, जिसके गांधीनगर स्थित निवास तथा गोदाम पर भी सर्वे की कार्यवाही करने के लिए आयकर विभाग का दल पहुंचा। विभाग के संयुक्त आयुक्त अमित निगम के अनुसार यह सर्वे इस प्रतिष्ठान द्वारा दाखिल की गई। आयकर रिटर्न के सत्यापन के लिए की जा रही है। संस्थान के बही खाते तथा अन्य दस्तावेजों को प्राप्त किया जा रहा है। इनकी छानबीन कर आय का आंकलन किया जाएगा। जिसका रिटर्न से मिलान किया जाएगा। शाम को समाचार लिखे जाने तक राज सोडा वाटर तथा राज शेयटर्न होटल पर सर्वे की यह कार्यवाही जारी थी। दोनों प्रतिष्ठानों की लॉबी में पुलिस ने डेरा डाला हुआ था। उल्लेखनीय है कि नागपाल परिवार ने लगभग तीन दशक पहले राज जीरा के नाम से सोडा वाटर की लघु फैक्ट्री लगाई थी, जिसका अब कारोबार उत्तर भारत के कई शहरों में फैला हुआ है। हाल ही इस परिवार ने इसी फैक्ट्री के साथ आलीशान होटल बनाया है। इस होटल की भव्यता लगता है आयकर विभाग को खटकने लगी थी।

इंटरसिटी रेलगाडिय़ों में सुरक्षा बढ़ाई

इंटरसिटी रेलगाडिय़ों में सुरक्षा बढ़ाई
श्रीगंगानगर। राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) ने श्रीगंगानगर रेलवे स्टेशन तथा यहां से दिल्ली व चंडीगढ़/हरिद्वार के बीच चलने वाली दैनिक इंटरसिटी रेलगाडिय़ों में सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबत कर दी है। इन गाडिय़ों में चलने वाले रेलवे सुरक्षाकर्मियों को सतर्क रहने की हिदायत दी गई है। स्थानीय जीआरपी प्रभारी मूलसिंह ने बताया कि जयपुर स्थित जीआरपी कंट्रोल रूम से इन गाडिय़ों में तथा रेलवे स्टेशन पर कड़ी चौकसी के निर्देश मिले हैं। किसी ने इन गाडिय़ों को बम से उड़ाने की धमकी दी है। मंगलवार देर रात को दिल्ली तथा चंडीगढ़/हरिद्वार इंटरसिटी एक्सप्रेस रेलगाडिय़ों के श्रीगंगानगर पहुंचने पर इनकी कड़ी चैकिंग की गई। आज तड़के रवानगी के समय पुन: रेलगाडिय़ों को चैक किया गया तथा यात्रियों पर कड़ी नजर रखी गई थी। प्रभारी मूलसिंह ने बताया कि रेलवे स्टेशन परिसर में गश्त बढ़ा दी गई है। संदिग्ध व्यक्तियों पर नजर रखी जा रही है। आज रात दोनों रेलगाडिय़ों के वापिस आने पर पुन: चैकिंग की जाएगी। इस बीच श्रीगंगानगर-दिल्ली रेलमार्ग और श्रीगंगानगर-चंडीगढ़/हरिद्वार रेलमार्ग पर पडऩे वाले रेलवे स्टेशनों पर भी इसी तरह की चौकसी बरते जाने की जानकारी रेलवे सूत्रों से मिली है।

अज्ञात युवती का अधजली लाश खेत में मिली

श्रीगंगानगर। हरियाणा सीमा के साथ लगते एक गांव की रोही के सुनसान खेत में आज सवेरे एक अज्ञात युवती की अधजली लाश मिलने से सनसनी फैल गई। लगभग 80 प्रतिशत जली हुई इस लाश को पुलिस ने बरामद किया, जिसे अस्पताल में सुरक्षित रखवाने के बाद अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। यह लाश नग्न अवस्था में जली हुई मिली, परंतु पास में ही एक दुपट्टे का जलने से बच गया टुकड़ा भी मिला है। पुलिस ने मृतका के हरियाणा की निवासी होने की आशंका जताई है।
यह लाश चूरू जिले में हमीरवास थानांतर्गत राजगढ़-पिलानी मार्ग पर हरपालू गांव की रोही में जिलेसिंह के खेत में झाडिय़ों के पास मिली। सुबह गड़रिये भेड़-बकरियां चराने के लिए निकले, तो उन्हें यह लाश दिखाई दी। गड़रियों ने गांव में जाकर बताया और प्रात: 9.30 बजे गांव के एक व्यक्ति ने थाने में सूचना दी। थानाधिकारी महेंद्रदत्त शर्मा, राजगढ़ के डीएसपी मिलन कुमार जोईया दल-बल सहित घटना स्थल पर पहुंचे। घटनास्थल की गहन जांच के लिए विधि-विज्ञान प्रयोगशाला की टीम को भी बुला लिया गया। चूरू के पुलिस अधीक्षक निसार अहमद फारूखी ने भी मौके पर आकर जांच-पड़ताल की।
डीएसपी मिलन जोईया ने बताया कि मृतका की आयु 20-22 वर्ष लगती है। उसे अज्ञात लोग बेहोशी की हालत में अथवा मृत अवस्था में इस स्थान पर लाये और पेट्रोल डालने के बाद उसे आग लगा दी। उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चल पायेगा कि इस युवती को जिंदा जलाया गया या मारकर। मौके पर काली धारीदार पीले रंग के दुपट्टे का टुकड़ा मिला है। देखने से लगता है कि इस युवती को नग्न अवस्था में जलाया गया। वहीं पर एक वाहन के टायरों के निशान तथा तीन-चार जने के पद चिन्ह मिले हैं। थानाधिकारी की ओर से अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि कल तक शव को सुरक्षित रखा जाएगा, उसके बाद अंतिम संस्कार कर दिया जाएगा।
पुलिस सूत्रों ने आशंका व्यक्त की है कि यह मृतका हरियाणा के साथ लगते हिसार जिले की हो सकती है, जिसे अज्ञात लोग यहां लाने के बाद जलाकर भाग गए। ऐसा आपराधियों ने बचने की नियत से किया। याद रहे कि लगभग एक महीना पहले हनुमानगढ़ जिले के भादरा थाना क्षेत्र में भी इसी तरह एक सूने खेत में महिला की जली हुई लाश मिली थी। न तो इस महिला के बारे में पुलिस कुछ पता लगा सकी और न ही आपराधियों का पता चला है।