युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

14 फ़रवरी 2011

भाखड़ा में मिला साहिल


डबवाली (लहू की लौ) थाना सदर पुलिस को गांव खुईयांमलकाना में बहती भाखड़ा नहर से एक युवक का शव मिला है। जिसकी पहचान पटियाला निवासी साहिल गर्ग (22) पुत्र भूषण गर्ग के रूप में हुई है।
पटियाला के उपकार नगर निवासी भूषण गर्ग का बेटा साहिल 6 फरवरी 2011 को अचानक घर से लापता हो गया था। परिजनों को उसकी बाईक पटियाला से बहने वाली पीसी नहर (भाखड़ा) की पटरी पर मिला था। साहिल के चाचा नरेन्द्र पाल निवासी पटियाला ने बताया कि वह अपने भतीजे तथा साहिल के भाई दीपक गर्ग के साथ साहिल को ढूंढते हुए रविवार को खुईयांमलकाना पहुंचे। पुल के नीचे एक युवक का शव तैरता हुआ मिला। इसकी सूचना उन्होंने थाना सदर डबवाली पुलिस को दी। पुलिस ने मौका पर पहुंचकर शव को बाहर निकाला, तो उसकी पहचान साहिल के रूप में हुई। उनके अनुसार संभव है कि पैर फिसलने से साहिल नहर में गिर गया होगा। मामले की जांच कर रहे थाना सदर पुलिस के एएसआई आत्मा राम ने बताया कि पुलिस को जो शव मिला वह पूर्णतय नग्न अवस्था में था। पुलिस ने नरेन्द्र पाल के उपरोक्त ब्यान दर्ज करते हुए इत्तफाकिया मौत की कार्रवाई अमल में लाई है। शव का डबवाली के सरकारी अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाने के बाद दफा 174 सीआरपीसी के तहत कार्रवाई करते हुए शव को नरेन्द्र पाल तथा दीपक गर्ग के सुपुर्द कर दिया।
खाल में गिरने से मरा
डबवाली (लहू की लौ) गांव डबवाली में ऐलनाबाद रोड़ पर स्थित खेत में पानी लगा रहा एक खेत मजदूर खाल में पानी देखने गया और पैर फिसल जाने से खाल में गिर गया। करीब एक घंटा तक खाल में पड़ा रहने की वजह से उसकी मौत हो गई।
गांव डबवाली निवासी जसविंद्र सिंह (32) ने बताया कि उसका भाई लक्ष्मण सिंह उर्फ लच्छा (20) दिहाड़ी मजदूरी करता था। शनिवार को वह गांव के किसान बेअंत सिंह के ऐलनाबाद रोड़ पर स्थित खेत में पानी लगाने के लिए गया था। लक्ष्मण खेत में पानी लगा रहा था। इसी बीच खेत से कुछ दूरी पर बने खाल में पानी देखने के लिए गया तो वहां पर पैर फिसल जाने से वह खाल में गिर गया। इधर खेतों में चारा लेने जा रहे तरसेम सिंह तथा हरविंद्र सिंह निवासी डबवाली की दृष्टि खाल पर पड़ी, तो उन्होंने देखा कि खाल में कोई व्यक्ति पड़ा हुआ है। उन्होंने खाल से युवक को बाहर निकाला। मामले की जांच कर रहे थाना शहर के एसआई मंदरूप सिंह ने बताया कि जसविंद्र के उपरोक्त ब्यान के आधार पर पुलिस ने दफा 174 सीआरपीसी के तहत कार्रवाई करते हुए शव का रविवार को सरकारी अस्पताल से पोस्टमार्टम करवाने के बाद उसे उसके वारिसों को सौंप दिया।
बुजुर्ग का शव मिला
डबवाली (लहू की लौ) रविवार सुबह गोरीवाला पुलिस चौकी को मुन्नांवाली गांव के पास बहने वाली माईनर से एक व्यक्ति का अर्धनग्न अवस्था में शव मिला है। फिलहाल इसकी पहचान नहीं हो पायी है। लेकिन शव को पहचान के लिए डबवाली के डैड हाऊस में रखा गया है।
गांव गोरीवाला का सतबीर सिंह (19) पुत्र आत्मा राम रविवार सुबह अपने खेत में पानी लगाने के लिए गया। वह जैसे ही मुन्नांवाली माईनर के पास पहुंचा तो उसने देखा कि पानी में एक व्यक्ति की लाश तैर रही थी। इसकी सूचना उसने पुलिस को दी। मौका पर गोरीवाला पुलिस चौकी के एएसआई गोपाल चन्द पहुंचे।
एएसआई गोपाल चन्द ने बताया कि मृत व्यक्ति की उम्र 60 वर्ष, रंग गेहुंआ, दाढ़ी व सिर के आधे बाल सफेद तथा आधे काले, कद साढ़े पांच फुट, दाहिने हाथ पर ओम छपा हुआ, सलेटी रंग की शर्ट तथा काले रंग की बनियान पहनी हुई है। पुलिस के अनुसार लाश 5 दिन पुरानी लगती है और संभव है कि मौत डूबने से हुई हो।

सीनियर सिटीजन ने दिखाया दमखम


डबवाली (लहू की लौ) चौ. गोपी राम वरिष्ठ नागरिक खेल मेला रविवार को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में आयोजित हुआ। जिसमें 85 वरिष्ठ नागरिकों ने भाग लिया।
रिमझिम फुहारों के बीच प्रतिभागी वरिष्ठ नागरिकों ने अपना दमखम दिखाया। आयु वर्ग के मुताबिक प्रतिभागियों में छह खेल करवाए गए। 200 मी. दौड़ में वेदप्रकाश ने पहला, अमर सिंह ने दूसरा तथा सुमित जैन ने तीसरा, 150 मी. दौड़ में रमेश चन्द्र ने पहला, वेदप्रकाश ने दूसरा तथा गोरीशंकर ने तीसरा, 100 मी. दौड़ में गोबिंद राम बांसल ने पहला, भारत भूषण ने दूसरा तथा चिमन लाल ने तीसरा, 50 मी. दौड़ में रामलाल बागड़ी ने प्रथम, नत्थू राम ने द्वितीय तथा राजा राम प्रभाकर ने तृतीय स्थान अर्जित किया।
20 मी. स्लो साईकलिंग (आयु वर्ग 60-65 साल) में कृष्ण बांसल ने प्रथम, किरण कुमार ने द्वितीय तथा अमर सिंह तृतीय, 20मी. स्लो साईकलिंग (आयु वर्ग 66-70 साल) में रमेश चन्द्र शर्मा, राम सिंह, गौरीशंकर, 15 मी. (आयु वर्ग 71-75 साल) में हरनेक सिंह गरचा, ओमप्रकाश सचदेवा, भगत शाम लाल, 15 मी. (आयु वर्ग 76 साल से ऊपर) स्लो साईकलिंग में रामलाल बागड़ी, राजा राम प्रभारक ने क्रमश: प्रथम, दूसरा एवं तृतीय स्थान अर्जित किया।
1000 मी. साईकिल रेस में कृष्ण लाल बांसल, कृष्ण चावला, सुखमंदर, 800 मी. में गोरीशंकर, राम सिंह, रमेश चन्द्र शर्मा, 500 मी. में हरनेक सिंह, सुरजीत, भली राम ने क्रमश: पहला, दूसरा तथा तीसरा स्थान प्राप्त किया। उल्टी दौड़ 50 मी. में सुमित जैन, संतोष दुआ, सुखमंदर सिंह, 40 मी. में राम सिंह, रमेश शर्मा, गोरीशंकर, 30 मी. में गोबिंद राम, भगत शाम लाल, चिमन लाल सिंगला, 20 मी. में रामलाल बागड़ी, राजा राम प्रभारक क्रमश: पहले, दूसरे तथा तीसरे नंबर पर रहे।
जबकि लॉंग जम्प आयु वर्ग 60-65 साल में सुमित जैन (2.78 मी.), एसके दुआ (2.73 मी.), वेदप्रकाश (2.52 मी.), आयु वर्ग 66-70 साल में  राम सिंह (2.66 मी.), वेदप्रकाश (2.53मी.), गोरीशंकर (2.36 मी.), आयु वर्ग 71-75 साल गोबिंद राम (1.86 मी.), ओमप्रकाश (1.55 मी.), भली राम (1.14 मी.), आयु वर्ग 76 साल से ऊपर राम लाल बागड़ी (2.44 मी.), राजा राम (1.70 मी.) क्रमश: पहले, दूसरे तथा तीसरे स्थान पर रहे। रूक-रूकर हो रही बूंदाबांदी में वरिष्ठ नागरिकों ने रस्सा कस्सी में भी हाथ अजमाए। जिसमें राम सिंह सरां की पार्टी ने हरनेक सिंह गरचा की पार्टी को शिकस्त दी। प्रतियोगिता के दौरान निर्णायक की भूमिका कुलदीप सिंह डीपीई, राजन कुमार पीटीआई तथा राकेश शर्मा डीपीई ने निभाई।
इससे पूर्व श्री महावीर जैन संस्थान ट्रस्ट द्वारा चौ. गोपी मल जैन की याद में सरदार गुलाब सिंह को समर्पित इस खेल मेले का शुभारंभ सुरेन्द्र गुप्ता ने किया। जबकि पुरस्कार वितरण कच्चा आढ़तिया एसोसिएशन डबवाली के अध्यक्ष प्रकाश चन्द बांसल तथा आत्मा राम अरोड़ा ने किया।