युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

25 मार्च 2010

गूंगी लड़की से छेड़छाड़

औढ़ां (जितेन्द्र गर्ग) गांव खाईशेरगढ़ में एक नाबालिग गूंगी लड़की के साथ छेड़छाड़ का मामला प्रकाश में आया है। ओढ़ां पुलिस ने लड़की के पिता बलबीर राम की शिकायत पर उसी गांव के रवींद्र कुमार पुत्र महावीर के खिलाफ बुरी नीयत से छेड़छाड़ करने का मामला दर्ज करके छानबीन शुरू कर दी है। बलबीर राम ने अपने बयान में बताया कि उसकी 15 वर्षीय लड़की विनोद कुमारी जो कि बोल नहीं सकती वो अपनी छोटी बहन मलकीत कौर के साथ घास लेने गई थी। जब वो घास काट रही थी तो सरसों के खेत से निकलकर रवींद्र उसके साथ छेड़छाड़ करने लगा और विनोद कुमारी का हाथ पकड़कर उसे सरसों के खेत में ले जाने लगा कि उसकी छोटी बहन मलकीत ने देख लिया और शोर मचा दिया। शोर सुनकर पड़ोसी खेत वाले किसान मदन लाल व उसके साथी भागकर आए तो उन्हें देखकर रवींद्र कुमार फरार हो गया। दोनों बहनों ने घर आकर यह बात अपने माता पिता को बताई तथा उसके पिता ने ओढ़ां थाना में आकर उसके खिलाफ मामला दर्ज करवा दिया। इस विषय में पूछे जाने पर राजमल एसआई ने बताया कि रवींद्र की तलाश जारी है और उसे शीघ्र ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

बच्चों ने उड़ाये हजारों, रिक्शा चालक की आई शामत

डबवाली (लहू की लौ) भारतीय स्टेट बैंक की स्थानीय शाखा के बाहर खड़ी एक महिला के पर्स से मंगलवार दोपहर को अज्ञात बच्चे 10 हजार रूपये की राशि उड़ा ले गये। इसकी सूचना पुलिस को दी गई और साथ में रिक्शा चालक को संदेह के आधार पर पुलिस को सौंप दिया गया।
30 वर्षीय आंचल नैय्यर पत्नी राजकुमार नैय्यर निवासी गली सिटी हाई स्कूल वाली मंडी डबवाली ने बताया कि उसका 73 वर्षीय ससुर कुन्दन लाल नैय्यर नहरी विभाग से बतौर तार बाबू सेवानिवृत्त है। वह अपने ससुर के वृद्ध होने के कारण उसके साथ भारतीय स्टेट बैंक की स्थानीय शाखा में पेंशन लेने के लिए गई थी। उस दौरान उसे करीब दो घंटे बैंक के अन्य काम निपटाते हुए बीत गये और बैंक से निकलवाई उसके ससुर की 10 हजार रूपये की पेंशन उसने अपने पास रखे पर्स में डाल ली। वह जैसे ही बैंक से बाहर आई तो उसने एक संंदिग्ध लड़की को रिक्शा चालक से बात करते हुए देखा लेकिन मौका पर कोई रिक्शा न पाकर उसे अपने ससुर के साथ उस रिक्शा पर सवार होना पड़ा। जब वह रिक्शा चालक से किराये के संबंध में बातचीत कर रही थी तो इसी दौरान रिक्शा के पास अन्य 4-5 बच्चे भी आ गये। किराया तय होने के बाद वह रिक्शा से अपने घर की ओर रवाना हो गई। घर पहुंच कर जैसे ही उसने अपना पर्स संभाला तो उपरोक्त राशि गायब थी। उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी और साथ में संदेह के आधार पर रिक्शा चालक को भी पुलिस को सौंप दिया।
पीडि़ता ने बताया कि जब वह लोग बैंक में थे तो उस समय भी उनके इर्दगिर्द दो लड़कियां मंडरा रही थीं। जब बैंक से बाहर आ रहे थे तो भी एक बच्चे ने उनसे टकराने का प्रयास किया। आंचल ने बैंक पर आरोप लगाया कि बैंक के अधिकारी बैंक व्यवस्था पर कोई ध्यान नहीं दे रहे। उनकी लापरवाही के चलते अनावश्यक रूप से बच्चे बिना किसी कारण के बैंक में घूमते रहते हैं और इस प्रकार की घटनाओं को अंजाम देते रहते हैं।
इस संबंध में बैंक के मुख्य शाखा प्रबंधक बीएस सरपाल से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इस घटना की जानकारी उन्हें आप से ही मिली है। यदि समय पर ही उन्हें इसकी सूचना दी होती तो वह तत्काल बैंक में लगे कैमरों से उन बच्चों को पहचान उन्हें करवा देते। उन्होंने कहा कि अगर घटना के समय की जानकारी पीडि़त उन्हें दें तो अगर घटना भीतर घटी होगी तो उसकी पूरी वीडियोग्राफी बैंक के कैमरा में मिल जायेगी। इस संबंध में पुलिस भी उनसे कोई सहयोग चाहेगी तो उसे पूरा सहयोग देंगे। उन्होंने यह भी कहा कि स्टाफ को इस प्रकार की घटनाओं के संबंध में सतर्क किया हुआ है। शाखा प्रबंधक ने कहा कि बैंक के बाहर होने वाली घटनाओं पर भी निगाह रखने के लिए बैंक ने बैंक के बाहर जासूसी कैमरा लगाने का निर्णय लिया है।
थाना शहर के एएसआई सत्यनारायण ने इस संबंध में बताया कि पीडि़त शिकायत लेकर उनके पास आये थे और रिक्शा चालक को उन्हें सौंप दिया गया था। पुलिस ने रिक्शा चालक से पूछताछ की, लेकिन कोई जानकारी नहीं मिल पाई। दूसरा यह कि मुद्दई ने कार्यवाही करवाने से ही इंकार कर दिया।

भाई ने बहन पर गोली चलाई

डबवाली (लहू की लौ) गांव गिदडख़ेड़ा में एक भाई ने गोली चला कर अपनी बहन को घायल कर दिया। जिसे घायल अवस्था में उपचार के लिए डबवाली के सिविल अस्पताल में लाया गया।
घायल 26 वर्षीय शुगना देवी पत्नी राजेन्द्र कुमार निवासी जण्डवाला बिश्नोइयां ने बताया कि उसकी ननद 25 वर्षीय राज बाला गांव गिदडख़ेड़ा में उसके भाई धर्मपाल के साथ शादीशुदा है। मंगलवार की रात को धर्मपाल और राजबाला के बीच किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया। इसकी सूचना पाकर वह तथा उसका पति राजेन्द्र कुमार गांव गिदड़खेड़ा बुधवार सुबह पहुंच गये।
उन्होंने धर्मपाल को समझाने-बुझाने का प्रयास किया लेकिन गुस्से में आये धर्मपाल ने अपने माता-पिता पर ईंटें फेंकी और बाद में मकान की छत पर चढ़ गया और पिस्तौल से फायर कर दिया। पिस्तौल की गोली से निकले छर्रे उसकी छाती और आंख के निचले भाग पर लगे।
इस संबंध में चौटाला पुलिस चौकी के प्रभारी एएसआई सूरजभान से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि उन्हें घटना की शिकायत मिली है और वह मामले की जांच कर रहे हैं।
इस सन्दर्भ में घायल का इलाज कर रहे चिकित्सक डॉ. राजकुमार ने बताया कि शुगना देवी के छर्रा लगा है या नहीं इसको जानने के लिए पीडि़ता का स्वेब लेकर मधुबन प्रयोगशाला में जांच के लिए भेज दिया गया है।

सड़क हादसे में युवक की मौत

डबवाली (लहू की लौ) राष्ट्रीय राजमार्ग नं. 10 पर पंजाब क्षेत्र के समीपवर्ती गांव मैहना के नजदीक बुधवार सुबह ट्रक-कैंटर टक्कर में एक युवक की मौत हो गई। जबकि दो अन्य घायल हो गये। पुलिस सूत्रों के अनुसार एक ट्रक रोपड़ से बजरी लेकर गांव सिंघेवाला आ रहा था। जबकि कैंटर दिल्ली से सब्जी लेकर मलोट की ओर जा रहा था। जैसे ही गांव मैहना के पास उपरोक्त दोनों वाहन पहुंचे तो आमने-सामने टकरा गये। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार यह टक्कर इतनी जबर्दस्त थी कि ट्रक के परखच्चे उड़ गये। दुर्घटना की सूचना पाकर मौका पर पहुंचे पंजाब पुलिस की हाईव पेट्रोलिंग पार्टी चैक पोस्ट आदनियां के एएसआई गुरमिन्द्र सिंह ने बताया कि दुर्घटना में ट्रक चालक के पांव कट गये और उसे ट्रक के अगले भाग को काटकर निकाला गया। लेकिन उसके साथ बैठे अन्य युवक के मामूली खरोंचे आई। कैंटर में सवार दो जनों को भी चोटें आई। उपरोक्त तीनों घायलों को डबवाली के सामान्य अस्पताल में लाया गया।
मिली जानकारी अनुसार डबवाली सिविल अस्पताल से ट्रक चालक 22 वर्षीय मनजिन्द्र सिंह पुत्र गुरनैब सिंह निवासी गांव मैहता थाना तपामण्डी को गंभीर हालत में बठिण्डा रैफर कर दिया गया। लेकिन जख्मों का ताप न सहते हुए बठिण्डा पहुंचते ही उसने दम तोड़ दिया। जबकि कैंटर मालिक घायल 31 वर्षीय विजय कुमार पुत्र चिमन लाल, 25 वर्षीय चालक सुनील पुत्र हंसराज निवासीगण जलालबाद (फिरोजपुर) को सिरसा रैफर कर दिया गया। पुलिस सूत्रों के अनुसार ट्रक चालक के साथ उसका चचेरा भाई कुलविन्द्र पुत्र बिकर सिंह निवासी मैहता भी बैठा हुआ था। जिसके मामूली खरोचें आई हैं।
मामले की जांच कर रहे लम्बी पुलिस के एसआई बन्ता सिंह ने बताया कि घटना के प्रत्यक्षदर्शी मैहना निवासी छिन्द्रपाल पुत्र गुरजंग सिंह की शिकायत पर कैंटर चालक के खिलाफ धारा 304ए/338/337/427/279आईपीसी के तहत मामला दर्ज करके आगामी कार्यवाही शुरू कर दी है। पुलिस ने शव का बठिण्डा के सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव को उसके वारिसों को सौंप दिया है।