युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

10 दिसंबर 2014

ई-दिशा केंद्र की बत्ती गुल, नहीं हुये कार्य

डबवाली (लहू की लौ) सोमवार को सात घंटे बिजली गुल रही। इस बीच ई-दिशा केंद्र के इंवर्टर भी जवाब दे गये। वैकल्पिक व्यवस्था न होने से रजिस्टरी, जमाबंदी, वाहन रजिस्ट्रेशन सहित सभी कार्य ठप हो गये।
दोपहर बाद 2 बजे तक चल पाया काम
ई-दिशा केंद्र में दोपहर 2 बजे तक कार्य हो सका। इसके बाद इंवर्टर जवाब दे गये। उस समय जमाबंदी, जाति प्रमाण पत्र, रजिस्टरी, आरसी, लाईसेंस आवेदकों की लंबी कतारें लगी हुई थी। इंवर्टर ठप होते ही केंद्र में अंधेरा छा गया। लोग मायूस होकर बाहर निकल आये। बिजली की वैकल्पिक व्यवस्था होने की प्रतीक्षा में बाहर खड़े रहे। लेकिन कोई समाधान नहीं हुआ। लघु सचिवालय में पड़े दो जनरेटर सफेद हाथी साबित हुये। वहीं कंप्यूटर ऑपरेटर भी शाम 5 बजे तक बत्ती गुल रहने की जानकारी पाकर खिसक गये।
ई-दिशा केंद्र में जनरेटर की व्यवस्था नहीं है। दोनों जनरेटर अलग-अलग कार्यालयों से जुड़े हुये हैं। भविष्य में उपरोक्त परेशानी न आये, इसके लिये जिला प्रशासन से जनरेटर की मांग की जायेगी।
-मातू राम नेहरा, तहसीलदार, डबवाली

कोई टिप्पणी नहीं: