युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

10 दिसंबर 2014

सायरन बजने पर ट्रेन में चढ़ी डीआरएम

-महज सात मिनट में लगा समस्याओं का अंबार
-समस्याओं को दूर करने का दिया आश्वासन
-दो मिनट देरी से चली डीआरएम की ट्रेन

डबवाली (लहू की लौ) मंगलवार को पैसेंजर ट्रेन से डबवाली के रेलवे स्टेशन पर पहुंची रेलवे के बीकानेर मंडल की डीआरएम मंजू गुप्ता का समस्याओं के साथ जोरदार स्वागत हुआ। रेल रोड़ पैसेंजर एसोसिएशन तथा रेलवे पुल निर्माण संघर्ष समिति ने समस्याओं का ऐसा अंबार लगाया कि डीआरएम निर्धारित समय पर गाड़ी पर चढऩा ही भूल गई। डीआरएम ने पहले सायरन को गंभीरता से नहीं लिया। दूसरा सायरन सुनने के बाद वे झट से गाड़ी पर सवार हो गईं। बोगी के दरवाजे में खड़े-खड़े उन्होंने रेलवे स्टेशन की स्वच्छता को बनाये रखने का संदेश दे दिया।
केवल 7 मिनट बिताये
डीआरएम सुबह 11.10 मिनट पर बठिंडा-लालगढ़ पैसेंजर ट्रेन से डबवाली के रेलवे स्टेशन पर पहुंची। ट्रेन की अंतिम बोगी का दरवाजा जैसे ही खुला तो गुलदस्तां भेंट करते ही रेलवे स्टेशन पर मौजूद लोगों ने समस्याओं की झड़ी लगा दी। डीआरएम मंजू गुप्ता सात मिनट तक रेलवे स्टेशन पर रूकी। इस दौरान सुरेश मित्तल, अवतार सिंह, विनोद नीलू, इकओंकार सिंह नामधारी, भारत भूषण समारा, गोपाल मित्तल, हरदेव गोरखी ने बताया कि गाडिय़ों के ठहराव, डीएमयू गाडिय़ां चलाये जाने की मांग उठाते हुये रेलवे ट्रेक पर फुटब्रिज बनाये जाने की मांग की।
बदल गये सब नियम
डीआरएम के आगमन में रेलवे के नियमों-कायदों की धज्जियां उड़ गईं। जिस पैसेंजर ट्रेन से डीआरएम डबवाली पहुंची, रेलवे स्टेशन पर उसके रूकने का समय पांच मिनट है। लेकिन मंगलवार को यह नियम हवा हो गये। गाड़ी सात मिनट के लिये रूकी।

रेल रोड़ पैसेंजर एसोसिएशन की मांग
1. वर्तमान में रेलवे माल गोदाम शहर के बीचों बीच स्थित है। जिस कारण माल ढुलाई के समय शहर में जाम की समस्या बनी रहती है। माल गोदाम को शहर से बाहर स्थानांतरित किया जाये।
2. फाटक संख्या सी-34 (रामबाग रेलवे फाटक) पर रेलवे अंडरब्रिज का निर्माण किया जाये।
3. गाड़ी संख्या 14707/14708 बीकानेर-बांद्रा रणकपुर एक्सप्रेस को भटिंडा तक विस्तारित किया जाये। जिससे भटिंडा, डबवाली तथा संगरिया से मुंबई के लिये सीधी गाड़ी हो जायेगी।
4. गाड़ी संख्या 19107/19108 अहमदाबाद-उदमपुर जन्म भूमि एक्सप्रैस का मंडी डबवाली में ठहराव किया जाये।
5. रेलगाड़ी संख्या 12559-12560 शिव गंगा सुपर फास्ट एक्सप्रैस बनारस से नई दिल्ली सुबह 7 बजे जाती है और सायं 7 बजे वापिस चलती है। यह गाड़ी लालगढ़ तक की जाये।
6. लालगढ़ से अमृतसर तक वाया सूरतगढ़, हनुमानगढ़, बठिंडा, बरनाला, धूरी, लुधियाना व अमृतसर तक एक दैनिक एक्सप्रैस गाड़ी चलाई जाये।
7. सुबह 8 बजे बठिंडा से अनूपगढ़ के लिये एक गाड़ी चलाई जाये। वापिस अनूपगढ़ से चलकर रात्रि 8 बजे बठिंडा पहुंचे।
8. गाड़ी नं. 15909 दिल्ली से दोपहर 3.30 बजे चलकर 10 बजे बठिंडा आ जाती है। रात्रि 11.35 मिनट पर लालगढ़ के लिये रवाना होती है। कई दफा एड़वांस में आकर खड़ी हो जाती है। इस गाड़ी को दिल्ली से ही लेट चलाया जाये या फिर पहले पहुंचाया जाये, जिससे यात्रियों के समय में बचत हो सकें।
9. बठिंडा-बीकानेर रेलवे लाईन डबल करने व विद्युतीकरण किया जाये।
10. रेलवे कलोनी में 30 वर्षों से खाली पड़ी तीन रेलवे डिग्गियों में पार्क बनाया जाये।
11. रेलवे स्टेशन पर शुद्ध जल की व्यवस्था करवाई जाये।


डीएमयू गाड़ी होंगी शुरू
लोकल रेलगाडिय़ां (डीएमयू) चल रही हैं। डबवाली के लिये भी गाड़ी जल्द शुरू हो जायेगी। लोगों ने जो मांग पत्र सौंपा है, उन मांगों पर विचार करके कार्य को गति दे दी जायेगी। रेलवे स्टेशन पर स्वच्छता जरूरी है। सामाजिक संस्थाएं आगे आयें। इसे गोद लें, ताकि स्वच्छता बनी रहे।
-मंजू गुप्ता, डीआरएम, रेलवे, मंडल बीकानेर

कोई टिप्पणी नहीं: