युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

20 नवंबर 2014

चौटाला की चंद्रकला चुनी गई सर्वश्रेष्ठ मदर

डबवाली (लहू की लौ) खंड स्तर की सर्वश्रेष्ठ महिला का खिताब गांव चौटाला की चंद्रकला को मिला है। खिताब के दौर में इस महिला से जब पुरूष प्रधान समाज में लड़के की इच्छा न रखने के बारे में पूछा गया तो चेहरे पर मुस्कान लिये चंद्रकला ने कहा कि बेटियां किसी भी कार्यक्षेत्र में पीछे नहीं है। कई मामलों में तो उन्होंने लड़कों भी पीछे छोड़ दिया है। जवाब सुनकर निर्णायक मंडल दंग रह गया। महिला की सोच तथा बेटियों के बाद ऑपरेशन करवा लेने के साथ-साथ बच्चों के पोषण संबंधी सभी सवालों का जवाब देने पर उसे सर्वश्रेष्ठ चुना गया।
प्रतियोगिता में खंड डबवाली के सभी नौ सर्कलों की सत्ताईस महिलाओं ने भाग लिया। खंड स्तर पर दूसरे स्थान पर विद्या गोरीवाला तथा शारदा भारूखेड़ा रही। निर्णायक मंडल की भूमिका एसएमओ एमके भादू तथा सीडीपीओ सरोज कंबोज ने निभाई।
सीडीपीओ ने बताया कि प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली महिला को एक हजार रूपये, दूसरा स्थान प्राप्त करने वाली महिला को 750 रूपये तथा तीसरे स्थान पर रहने वाली महिला को 500 रूपये नकद पुरस्कार दिया गया। इस मौके पर सुपरवाईजर सतिंद्र कौर, कर्मजीत कौर, पाल कौर, सेब कौर, स्वर्णकांता, सुखविंद्र पाल कौर उपस्थित थीं।

कोई टिप्पणी नहीं: