युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

06 दिसंबर 2014

नशे में तहसील पहुंचा पटवारी, जांच के आदेश


डबवाली (लहू की लौ) वीरवार को एक पटवारी के नशे में तहसील पहुंचने पर हंगामा हो गया। जैसे ही शिकायत तहसीलदार के समक्ष पहुंची तो पूरा प्रशासनिक अमला पटवारी को बचाने में कूद गया। आनन-फानन में तहसील कर्मियों ने नशेड़ी पटवारी को उठाकर कार में फेंक लिया और फरार हो गये।
बुधवार को गांव अहमदपुर दारेवाला निवासी सुरेश कुमार ने तहसीलदार को शिकायत देकर कहा कि पटवारी रामसरूप कभी कभार गांव में पहुंचता है। वह जब भी डयूटी पर होता है, शराब के नशे में धुत्त होता है। काम की एवज में उनसे दस गुणा पैसे मांगता है। अभी भी यह पटवारी तहसील में शराब पीये हुये आया है। तहसीलदार मातू राम नेहरा ने नायब तहसीलदार छोटू राम भाकर को संबंधित पटवारी को काबू करने के लिये भेजा। नायब तहसीलदार मौका पर पहुंचते इससे पहले ही पटवारी हरपाल सिंह मांगेआना तथा तहसील कर्मी गजे सिंह फौरन बाहर आये। चारपाई पर अर्धनग्न अवस्था में लेटे पटवारी को जल्दबाजी में उठाया। पटवारी के खड़े होते ही नशे में उसके पैर लडख़ड़ाने लगे। दोनों ने नशेड़ी पटवारी को घसीटते हुये ई-दिशा केंद्र के बाहर खड़ी कार में डाल लिया और फरार हो गये।
नहीं मिला पटवारी
तहसीलदार के कहने पर मैं पटवारी को काबू करने के लिये गया था। लेकिन जब मैं मौका पर पहुंचा, उस समय पटवारी वहां नहीं था। -छोटू राम, नायब तहसीलदार, डबवाली
शिकायत मिली
पटवारी रामसरूप के नशे में धुत्त होकर कार्य करने की शिकायत मिली है। लेकिन पटवारी मौका पर नहीं मिला। पटवारी आज डयूटी पर था या नहीं, वह तहसील में किस कार्य के लिये आया था? यह जानने के लिये गोरीवाला सबतहसील के नायब तहसीलदार संजय चौधरी को पत्र भेजा गया है। शिकायतकर्ता तथा पटवारी के ब्यान दर्ज करने के बाद कार्रवाई की जायेगी। पटवारी का नशे में तहसील आना सरासर गलत है।
-मातू राम नेहरा
तहसीलदार, डबवाली
डयूटी पर था पटवारी
नायब तहसीलदार संजय चौधरी छुट्टी पर चल रहे हैं। पटवारी रामसरूप के पास लंबी, अहमदपुर दारेवाला तथा झुट्टीखेड़ा गांव हैं। वह आज डयूटी पर था। लेकिन किस कार्य के लिये वह तहसील में गया था, यह मालूम नहीं।
-मलकीत सिंह, कानूनगो

कोई टिप्पणी नहीं: