युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

08 जनवरी 2011

महिला खेलकूद : रूकमा ने जीती मटका दौड़

डबवाली (लहू की लौ) डबवाली के दलबीर ङ्क्षसह खेल स्टेडियम में शुक्रवार को बाल विकास विभाग की ओर से एक दिवसीय खण्ड स्तरीय महिला खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसमे 200 महिलाओं ने भाग लिया।
18 से 30 वर्ष आयु वर्ग की 400 मीटर दौड़ में रेणू पुत्री ओमप्रकाश लखुआना प्रथम, नीतू पुत्री मदन लाल राजपुरा माजरा द्वितीय रही जबकि कमलदीप पुत्री हरि सिंह अबूबशहर ने तृतीय स्थान पाया। 5 किलोमीटर साईकिल रेस में सुलोचना पुत्री रामकुमार गोरीवाला प्रथम, कर्मजीत कौर पुत्री ठाकुर सिंह देसूजोधा द्वितीय, अनिता रानी पुत्री सुखदेव सिंह गांव डबवाली ने तृतीय स्थान पाया। 300 मीटर दौड़ में गगनदीप पुत्री गुरतेज सिंह निलियांवाली प्रथम, सुमन पुत्री जीत राम मटदादू द्वितीय, निर्मला पुत्री गुरदेव सिंह अबूबशहर तृतीय रही। 30 वर्ष से अधिक आयु वर्ग की 100 मीटर दौड़ में शिमला पत्नी जसवीर सिंह गोदीकां प्रथम, बाला रानी पत्नी इन्द्रपाल मटदादू द्वितीय, रचना पत्नी कमलजीत लखुआना ने तृतीय स्थान पाया। मटका दौड़ में रूकमा पत्नी पिरथी सिंह अबूबशहर प्रथम, सुखप्रीत कौर पत्नी जगसीर सिंह अलीकां द्वितीय, सरस्वती पत्नी भाला राम चौटाला तृतीय स्थान पर रही। आलू-चम्मच दौड़ में कैलाश पत्नी कपूर सिंह चौटाला प्रथम, जसप्रीत पत्नी राजा सिंह गंगा द्वितीय, सुनीता पत्नी सुखबीर सिंह गोदीकां तृतीय स्थान पर रही। उपरोक्त प्रतियोगिताएं दीदार सिंह कोच तथा खालसा सीनियर सैकेंडरी स्कूल के पीटीआई राजन, हरप्रीत, गुरप्रीत की देखरेख में करवाई गई। मेधावी महिलाओं को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। डबवाली खण्ड बाल विकास अधिकारी डॉ. दर्शना सिंह ने कहा कि खेलों से मनोरंजन के साथ-साथ मानसिक व शारीरिक विकास भी होता है।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ. सुखवन्त सिंह ने कहा कि इस प्रकार के कार्यक्रमों से ग्रामीण महिलाओं को आगे आने का मौका मिलता है और मंच पर अपनी प्रतिभा को निखारने का अवसर। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के कार्यक्रम समय-समय पर होते रहने चाहिएं ताकि ग्रामीण महिलाओं को भी लगे कि उनका भी समाज में कोई अस्तित्व है।

कोई टिप्पणी नहीं: