युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

29 दिसंबर 2014

ठंड पर भारी आस्था धूमधाम से मना गुरूपर्व

डबवाली (लहू की लौ) कंपकंपाती ठंड पर आस्था का सैलाब उमड़ पड़ा। रविवार को गुरूद्वारा श्री कलगीधर सिंह सभा में सिखों के 10वें गुरू गुरूगोबिंद सिंह का प्रकाशोत्सव बड़ी धूमधाम से मनाया गया। लुधियाना तथा सिरसा से आये सिख इतिहास के विद्वानों ने संगतों को गुरू गोबिंद सिंह के जीवन परिचय से अवगत करवाते हुये त्याग का मार्ग अपनाने के लिये प्रेरित किया।
प्रकाशोत्सव के मौके पर गुरूद्वारा श्री कलगीधर सिंह सभा को फूलों से सजाया गया था। श्री अखंड पाठ के भोग के बाद धार्मिक दीवान सजाये गये। जिसमें सिख मिशनरी कॉलेज लुधियाना से आये प्रचारक हरजिंद्र सिंह जम्मू ने सिख इतिहास से संगतों को परिचित करवाया। सिरसा से आये रणजीत सिंह के रागी जत्थे ने भी सिख इतिहास सांझा किया।
इस मौके पर गुरू का लंगर अटूट बरता। इस अवसर पर गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी के पूर्व अध्यक्ष जगरूप सिंह, बघेल सिंह, उपप्रधान ज्ञानी गुरबचन सिंह, जगदेव सिंह मटदादू, एसजीपीसी सदस्य जगसीर सिंह मांगेआना, एडवोकेट रणजीत सिंह, एडवोकेट सुखबीर सिंह बराड़ उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: