युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

18 नवंबर 2014

बुलाने पर नहीं आया मैनेजर कट गया बैंक का चालान

अतिक्रमण करने पर 18 के चालान कटे, जुर्माना भरने के लिये मिले तीन दिन





डबवाली (लहू की लौ) चार दिन तक हाथ जोडऩे के बाद दुकानदारों ने अतिक्रमण नहीं हटाया तो नगर परिषद ने अतिक्रमणकारियों के चालान काटने शुरू कर दिये हैं। सोमवार को नगर परिषद ने 18 दुकानदारों के चालान काटे। दुकानों के बाहर पालिका सीमा में पड़ा सामान उठा लिया।
नगर परिषद सचिव ऋषिकेश चौधरी, एमई जयवीर डुडी, जेई सुरेंद्र कुमार, सफाई निरीक्षक अविनाश सिंगला, भवन निरीक्षक सुमित ढांड़ा तथा नगर परिषद दमकल केंद्र के फायर अधिकारी अमर सिंह, बलवीर सिंह, कर्म सिंह ने दोपहर बाद अतिक्रमण के खिलाफ अभियान की शुरूआत की। न्यू बस स्टैंड रोड़ पर अतिक्रमण करने पर वीनस जनरल स्टोर का चालान काटा। पड़ौसी दुकानदार का सामान भी बाहर था। अतिक्रमण हटाने आई टीम को दुकानदार ने अपना नाम नहीं बताया। जिस पर चालान फार्म में दुकान नं. 5 भरकर टीम ने उसे दुकानदार के सुपुर्द कर दिया। इसके बाद टीम ने फैशन वल्र्ड, काले दी हट्टी, पंकज क्लॉथ हाऊस, दिल्ली वालों की कपड़े की दुकान, शमीना ब्यूटी पार्लर, अमृतसरियां दी हट्टी, बंटी लाईट हाऊस एंड इलेक्ट्रिकल के साथ-साथ कलोनी रोड़ पर चावला डिपार्टमेंटल स्टोर, बैंड बॉक्स के चालान किये। कलोनी रोड़ पर चाय की दुकान पर प्रयोग हो रहे घरेलू सिलेंडर को टीम ने कब्जे में कर लिया। सिलेंडर मालिक अविनाश ने इसे एक तरफा कार्यवाही करते हुये बवाल खड़ा कर दिया। जिस पर टीम ने शेष दुकानों पर प्रयोग हो रहे घरेलू सिलेंडरों को कब्जे में नहीं लिया, लेकिन चेतावनी जरूर दी। अभियान के दौरान कुछ दुकानदार अपनी दुकानों के नक्शे दिखाते हुये टीम से भिड़ते नजर आये। कलोनी रोड़ पर टीम ने बिजली के पोल पर लगे फ्लैक्स बोर्ड को भी कब्जे में लिया। दो बाजारों से होती हुई टीम चौटाला रोड़ पर पहुंची। टीम ने मूलजा साईकिल स्टोर, दुकानदार सुनील कुमार, शेर सिंह, श्री विश्वकर्मा स्टील, गणपति फर्नीचर, टाटा मोटर्स का चालान किया।
बैंक मैनेजर बाहर नहीं आया, टीम ने चालान थमाया
चौटाला रोड़ पर सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के बाहर अतिक्रमण मिलने पर टीम के बुलाने पर बैंक प्रबंधक बाहर नहीं आये। आखिर लंबे इंतजार के बाद जब चालान काटने की बारी आई तो प्रबंधक कुर्सी छोड़ बाहर आ गये। टीम को ऐसा करने से रोका। सफाई निरीक्षक अविनाश सिंगला ने बैंक के बाहर अतिक्रमण दिखाते हुये चालान मैनेजर को थमा दिया।

कब्जाधारियों को चौबीस घंटे का समय
कब्जाधारियों ने मंगलवार शाम 5 बजे तक स्वयं कब्जा हटा लेने की बात कही है। अगर ऐसा नहीं हुआ तो नप जेसीबी चलाएगी।
-जयवीर डुडी, एमई, नगर परिषद, डबवाली

भाजपा नेता ने रूकवाई कार्यवाही
इधर हिंदी साहित्य सदन के सामने छह मकान मालिकों ने काफी समय से नप की जमीन पर कब्जा जमा रखा है। करीब छह फुट तक बरामदे बनाये हुये हैं। एक साल पूर्व नप ने अवैध कब्जे को हटाने के लिये नोटिस जारी किया था। लेकिन एक मकान मालिक मामले को अदालत में ले गया। स्थानीय तथा सैशन में नप की जीत हुई। सोमवार को नप टीम जेसीबी लेकर मौका पर आ गई। नप ने अभी कार्रवाई शुरू करनी थी। इसी बीच एक भाजपा नेता मौका पर आ गया। नेता ने कब्जा हटाने आई टीम को रोक दिया। टीम को बैरंग वापिस लौटना पड़ा।

तीन दिन का अल्टीमेटम
नगर परिषद सचिव ऋषिकेश चौधरी ने बताया कि जिन लोगों के चालान काटे गये हैं उन्हें जुर्माना भरने के लिये तीन दिन का समय दिया गया है। हरियाणा म्यूनिसिपल एक्ट की धारा 181 तथा 182 के तहत संबंधित दुकानदार को अधिकतम दो हजार रूपये का जुर्माना हो सकता है। तय समय अवधि में जुर्माना न भरने वाले दुकानदार के खिलाफ नप अदालत का दरवाजा खटखटाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं: