युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

18 नवंबर 2014

गन प्वाईंट पर लाखों की सरसों लूट ले गये बदमाश

पुलिस ने खंगाली सीसीटीवी फुटेज, पांच के खिलाफ दर्ज हुआ लूट का मामला

डबवाली (लहू की लौ) सोमवार सुबह गांव शेरगढ़ के पास पांच बदमाश गोली दागने के बाद गन प्वाईंट पर लाखों रूपये कीमत की सरसों ट्रेक्टर-ट्राली सहित उड़ा ले गये। शहर थाना पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ लूट का मामला दर्ज करके आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।
किलियांवाली में आ रही थी सरसों : गंगानगर के गांव बीजबायला निवासी सुखदेव सिंह तथा राजू राजस्थान की फर्म संजय ट्रेडिंग कंपनी से 160 बैग में भरी 80 क्विंटल सरसों को ट्रेक्टर-ट्राली में लादकर मंडी किलियांवाली (पंजाब) की फर्म सुनील इंटरप्राईजिज में ला रहे थे। दोनों रविवार रात्रि साढ़े 8 बजे बीजबायला से चले थे। ट्रेक्टर को सुखदेव चला रहा था। जबकि राजू ट्राली में भरी सरसों के ऊपर सोया हुआ था। सोमवार अलसुबह करीब ढाई बजे चौटाला रोड़ पर गांव शेरगढ़ के निकट ट्राली पर तीन युवक चढ़ गये। जिनमें से एक के पास गन थी। राजू को कब्जे में करने के बाद एक बदमाश ने गोली दाग दी। आवाज सुनकर टायर फटने का संदेह पाकर सुखदेव ने अचानक ब्रेक लगा दी। ट्राली से उतरे युवक ने गन प्वाईंट पर सुखदेव को नीचे उतार लिया।
इसी दौरान वहां दो बाईक आकर रूकी। जिस पर दो बदमाश सवार थे। बदमाशों ने चालक तथा परिचालक को परना (कपड़ा) से बांधकर खेत में फेंक दिया। तीन बदमाश सरसों लदी ट्रेक्टर-ट्राली को गांव चौटाला की ओर लेकर चले गये। करीब आधा घंटा तक बाईक सवार दोनों बदमाश चालक तथा परिचालक के पास खड़े रहे। बाद में वे भी चौटाला की ओर फरार हो गये। सुखदेव तथा राजू ने बड़ी मुश्किल से खुद को छुड़वाया। इसकी जानकारी फर्म मालिक रमेश कुमार को दी। सूचना पाकर शहर थाना पुलिस मौका पर पहुंची। फर्म संजय ट्रेडिंग कंपनी के मालिक रमेश कुमार ने बताया कि लूटी सरसों की कीमत तीन लाख रूपये है।
पुलिस ने खंगाली सीसीटीवी फुटेज
शहर थाना पुलिस प्रभारी इंस्पेक्टर दलीप सिंह, सीआईए प्रभारी राकेश कुमार ने पंजाब के वडिंगखेड़ा क्षेत्र में लगे पेट्रोल पंप पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज देखी। इसके बाद पुलिस ने राजस्थान के हनुमानगढ़ में टोल प्लाजा की फुटेज भी देखकर तथ्य जुटाने का प्रयास किया।

बागड़ी में बात कर रहे थे आरोपी
लुटेरों की संख्या पांच बताई जा रही है। चालक का कहना है कि बदमाश मुंह ढांपे हुये थे। बागड़ी भाषा में बात कर रहे थे। चालक सुखदेव सिंह के ब्यान पर दफा 392 आईपीसी तथा आम्र्ज एक्ट के तहत मामला दर्ज करके आगामी कार्रवाई शुरू कर दी गई है। गुत्थी को सुलझाने के लिये साईबर सैल की मदद ली जा रही है।
-दलीप सिंह, प्रभारी, शहर थाना, डबवाली

कोई टिप्पणी नहीं: