युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

19 नवंबर 2014

अतिक्रमण रोकने की कवायद थहड़े होंगे तो नहीं बनेगी गली

डबवाली (लहू की लौ) अब डबवाली में नगर परिषद ऐसी कोई गली नहीं बनाएगी, जिसमें थहड़े बने होंगे। अतिक्रमण रोकने की कवायद में एसडीएम सतीश कुमार उपरोक्त प्रस्ताव लेकर आये हैं। जिस पर कार्रवाई करते हुये नगर परिषद ने वार्ड नं. 3 में बन रही एक गली पर रोक लगा दी है।
एसडीएम सतीश कुमार ने नगर परिषद के एमई जयवीर डुडी तथा जेई सुरेंद्र कुमार के साथ बैठक करके उपरोक्त प्रस्ताव को सिरे चढ़ाया। उन्होंने कहा कि हरियाणा नगरपालिका म्यूनिसिपल एक्ट के तहत घरों के बाहर बने थहड़े अवैध हैं। जिनकी वजह से गलियां तथा मार्ग चौड़ाई में छोटे रह जाते हैं। भविष्य में अतिक्रमण को जड़ से खत्म करने के लिये प्रशासन प्रस्ताव लेकर आया है, जिसके तहत अब डबवाली में गली या रोड़ का निर्माण तभी होगा, जब उपरोक्त क्षेत्र के लोग अपने मकानों या दुकानों के आगे बने थहड़ों को तोड़ेंगे।
दूसरे दिन भी कटे चालान
नगर परिषद सचिव ऋषिकेश चौधरी के नेतृत्व में दूसरे दिन भी अतिक्रमणकारियों के चालान कटे। न्यू बस स्टैंड रोड़ पर नगर परिषद टीम ने मार्ग में बाधा बन रही दो फल रेहडिय़ों को उठा लिया। इसके बाद टीम चौटाला रोड़ की ओर बढ़ गई। चौटाला रोड़ पर सुरेंद्र लाल बैल्डिंग वक्र्स, सचदेवा स्टील, ढिल्लों एग्रीकल्चर वक्र्स के दो-दो हजार रूपये के चालान काटे। जबकि एक चाय विक्रेता को चेतावनी देकर छोड़ दिया।
रेहड़ी वालों को मिलेगी जगह
अतिक्रमण हटाने की ओर एक कदम ओर बढ़ते हुये नगर परिषद ने मंगलवार को गौशाला के नजदीक जगह को चकाचक करवाकर नंबर लगा दिये हैं। इस जगह पर शहर में फल-सब्जी, चाट की रेहड़ी लगाने वालों को शिफ्ट किया जायेगा। नगर परिषद ने उपरोक्त जगह पर 71 प्वाईंट अंकित किये हैं। बुधवार को सुबह 11 बजे ड्रा सिस्टम के जरिये रेहड़ी मालिकों के टोकन नंबर निकाले जाएंगे। जैसे-जैसे टोकन नंबर बाहर आता जायेगा, वैसे-वैसे रेहड़ी मालिकों को जगह मिलती जायेगी।
बस अड्डा की कार्यशाला बनेगी पार्किंग स्टेंड
न्यू बस स्टेंड क्षेत्र में वाहनों की पार्किंग की समस्या को दूर करने के लिये प्रशासन आगे आया है। एसडीएम सतीश कुमार तथा नप सचिव ऋषिकेश चौधरी ने बताया कि बस अड्डा की कार्यशाला में हमेशा गंदगी का अंबार लगा रहता है। इस स्थिति में इस जगह को पार्किंग स्टेंड में बदलने की योजना है। इससे न्यू बस स्टेंड रोड़ पर आड़े-तिरछे लगने वाले वाहनों से छुटकारा मिल जायेगा। वहीं बस स्टेंड तथा इर्द-गिर्द गंदगी की समस्या भी समाप्त हो जायेगी।

कोई टिप्पणी नहीं: