युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

29 सितंबर 2011

कहां गए 455 पेंशनर?



जून में बंटी पेंशन में हुई गड़बड़ी, फिनो कंपनी के उच्च अधिकारियों को है सब पता
डीडी गोयल (80597-33000)
डबवाली। हरियाणा सरकार की वृद्धावस्था सम्मान भत्ता योजना जैसी वेल्फेयर स्कीम को निजी बैंकों ने अपनी बिजनेस स्कीम बना डाला है। वृद्धों को मनमर्जी की पेंशन देकर लिस्टों पर उनके अंगूठे लगवाए जा रहे हैं। यही नहीं सरकार की ओर से जारी हुई पांच माह की पेंशन के बावजूद एक-दो माह की पेंशन राशि देकर कत्र्तव्य से इतिश्री की जा रही है। योजना का लाभ उठा रहे शहर के करीब 455 लोगों को लिस्ट से गायब दिखाया गया है। पूरे मामले की जांच करने के लिए सरकार ने अगस्त माह की पेंशन पुरानी पद्धति के अनुसार करवाने का निर्णय लिया है। प्रदेश में हुए पेंशन घोटालों के बाद सरकार ने पेंशनरों को बैंक खाता के जरिए पेंशन देने की योजना चलाई थी। इसका ठेका सरकार ने प्रदेश में एक्सीस तथा यूनियन बैंक को दिया। लेकिन बैंकों ने इसमें फिनो कंपनी को भी अपने साथ ले लिया। जिला सिरसा एक्सीस बैंक के तहत आया और सरकार की योजना पर कार्य शुरू हो गया। शहर डबवाली में 3739 पेंशनर हैं। फिनो कंपनी के कर्मचारियों की ओर से पेंशनरों की फोटोग्राफी की गई तथा स्मार्ट कार्ड बनाए गए। मात्र 3084 पेंशन धारकों के खाते खोलकर जून माह के दौरान पेंशन वितरण का कार्य शुरू कर दिया गया। लेकिन 655 पेंशन धारकों का कोई पता नहीं चल पाया। शहर के पार्षदों की मांग पर उपायुक्त ने पुन: फोटोग्राफी तथा स्मार्ट बनाने के आदेश दिए। यह कार्य दोबारा शुरू हुआ। जिसमें से करीब 200 पेंशनरों की जांच करके उनकी फोटोग्राफी की गई। लेकिन अब भी 455 के करीब पेंशन धारक स्मार्ट कार्ड के लिए मारे-मारे फिर रहे हैं।
जून माह में बंटी पेंशन पर सवालिया निशान लगाते हुए वार्ड नं. 14 के पार्षद विनोद बांसल ने बताया कि जानकारी मिली है कि इस दौरान पेंशनरों को कम पेंशन दी गई और अधिक पेंशन पर अंगूठे लगवा लिए गए। जिसके चलते अब लोगों को दो या तीन माह की पेंशन दी जा रही है। वो भी बिना ब्याज के। वहीं फिनो कंपनी के कर्मचारी स्मार्ट कार्ड के लिए फोटोग्राफी करते समय लापरवाह रहे। जिसका नतीजा है कि शहर के करीब 455 लोग अब भी फोटोग्राफी के लिए भटक रहे हैं। वहीं बाद में चिन्हित हुए करीब 200 लोगों को अभी तक एक माह की पेंशन भी नसीब नहीं हुई है। बांसल के अनुसार घोटाले रोकने के लिए बनाई गई योजना में निजी बैंक घोटाला करते हुए प्रतीत हो रहे हैं और दोष सरकार पर लग रहा है।
फिनो कंपनी के जिला कोर्डिनेटर सुरेन्द्र कुमार ने बताया कि जून माह में कंपनी के पानीपत, सोनीपत तथा भिवानी से आए कर्मचारियों ने पेंशन वितरण किया था। उस समय हुए वितरण में गड़बड़ी सामने आई है। कंपनी इस मामले की जांच कर रही है। दोष सिद्ध होने पर संबंधित कर्मचारियों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि स्मार्ट कार्ड के लिए फोटोग्राफी संबंधी अधिकतर कार्य पूरा किया जा चुका है। शेष रह गए कार्य को जल्द पूरा किया जाएगा।
एक्सीस बैंक सिरसा के पेंशन मैनेजर सुमित कुमार ने बताया कि शहर डबवाली के 3084 पेंशनरों की पहचान करके पेंशन बांटी जा रही है। लेकिन ब्याज राशि काटकर दी जा रही है। उनके अनुसार इस राशि को पेंशनर के एकाऊंट में ही रखा जाएगा। पेंशन से वंचित रह रहे लोगों को जल्द पेंशन बांटी जाएगी। उनके अनुसार इस बार सरकार ने अगस्त माह की पेंशन पुरानी प्रक्रिया के अनुसार बांटने का निर्णय लिया है। इस दौरान पता चल जाएगा कि कौन सा पेंशनर कब से पेंशन से वंचित चला आ रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं: