युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

05 जून 2011

63 वर्ष की आयु में 23 का जज्बा

डबवाली- सेवानिवृत्त डाक सहायक एवं वरिष्ठ नागरिक कल्याण संघ के सदस्य मुख्तियार सिंह ने 63 वर्ष की आयु में वह कर दिखाया जो 23 वर्ष के युवा भी कठिनता से कर पाते हैं।
फरवरी 2008 में डाकघर मंडी डबवाली से सेवाविृत्त मुख्तियार सिंह अपने बचपन के एलएलबी कर वकील बनने के चिर स्वपन को साकार करने के लिए नेहरू मैमोरियल लॉ कॉलेज हनुमानगढ़ में दाखिला लेकर सभी विद्यार्थी व गुरूजनों से आयु में बड़े होकर एक अच्छे विद्यार्थी बन सदैव अग्रिम पंक्ति में रहे और अच्छे अंकों में एलएलबी परीक्षा पास की। गांव देसू मलकाना कालांवाली में 15 फरवरी 1948 में मुकन्द सिंह के घर जन्में मुख्तियार सिंह ने 1975 में बीए व 1979 में डाक विभाग में सेवा कार्य शुरू किया परन्तु वकील बनने की इच्छा सदैव बनी रही। जिसे उन्होंने सेवानिवृत्ति के बाद एलएलएम करके गरीब व बेसहारा लोगों की नि:शुल्क सेवा करने का मन बनाया है। डाक विभाग के सेवानिवृत कर्मचारी चमन लाल मिढ़ा, पीडी शर्मा और मेजर सिंह गिल ने इसका स्वागत किया है।

कोई टिप्पणी नहीं: