युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

06 जून 2011

कालांवाली में लोग सड़कों पर

बाबा रामदेव तथा अनशनकारियों पर लाठीचार्ज के विरोध में जनता का गुस्सा उफान पर
कालांवाली/डबवाली(नरेश सिंगला) दिल्ली के रामलीला मैदान में अनशन पर बैठे योग गुरू बाबा रामदेव तथा हजारों अन्य अनशनकारियों पर पुलिस द्वारा हमला करने के विरोध में पतंजलि योग समिति के बैनर तले मंडी में केंद्र सरकार के विरोध में प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में धर्मपाल, हीरा सिंह, सूरत ङ्क्षसह पूनिया, ओम प्रकाश, सतपाल, शोभा राम, ओम प्रकाश गोयल, सुखदेव सिंह, राम किश्न, राजकुमार, सुनील कुमार, सीतो देवी, कांता जैन, शांति देवी, बिमला देवी, प्रेम कुमार आदि शामिल थे। भाजपा युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष नरेश गर्ग ने बाबा रामदेव पर हमला करने की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि सरकार अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए खाकी का सहारा लेकर आंदोलन को खत्म करना चाहती है। पूर्व पार्षद प्रतिनिधि दर्शन कुमार दादू ने कहा कि सरकार के इशारे पर पुलिस ने शांतिपूर्वक ढंग से आंदोलन कर रहे लोगों पर हमला किया है, वह अति निंदनीय है। इस हमले से लोकतंत्र को दबाने की कोशिश की गई है।
इधर भारतीय जनता पार्टी के जिला महासचिव सतीश जग्गा, सतीश काला, मनोज शर्मा, विक्की शर्मा ने कहा है कि दिल्ली के रामलीला मैदान में बाबा रामदेव के नेतृत्व में शांति से चल रहे अनशन का जिस बर्बतापूर्ण तरीके से दमन किया गया है, वो केन्द्र की यूपीए सरकार की हिटलरशाही का परिचायक है। मासूम और निहत्थे बर्जुगों, महिलाओं तथा बच्चों पर लाठीचार्ज बताता है कि केन्द्र और दिल्ली की सरकार किस कद्र संविधान की भावना के परखच्चे उड़ा रही है।

कोई टिप्पणी नहीं: