युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

18 जनवरी 2011

रणजीत से होंगे बड़े खुलासे

डबवाली (लहू की लौ) हरियाणा पुलिस ने पंजाब से पिस्तौल की नोक पर लूटी गई वरना कार की गुत्थी को सुलझाते हुए एक युवक को कार सहित गिरफ्तार करके सोमवार को डबवाली की अदालत में पेश करके एक दिन का पुलिस रिमांड प्राप्त कर लिया है।  पुलिस को उम्मीद है कि जिला सिरसा में घटित दो लूट की वारदातें भी गिरफ्तार किये गये आरोपी से सुलझ सकती हैं।
सीआईए डबवाली को मुखबरी मिली थी कि लूट की एक कार को पंजाब से एक व्यक्ति बेचने के लिए बाया डबवाली सिरसा ले जा रहा है। इसी मुखबरी के आधार पर की गई नाकाबंदी के दौरान पुलिस ने एक सफेद रंग की वरना कार को राऊंडअप कर लिया और कार चालक से गाड़ी के कागजात दिखाने को कहा तो वह कागजात दिखाने में असमर्थ रहा। गहन पूछताछ के बाद युवक ने अपनी पहचान नवदीप सिंह उर्फ बिट्टू (28) पुत्र जसवन्त सिंह निवासी बबानिया थाना गिदड़बाहा के रूप में करवाते हुए बताया कि यह गाड़ी उसके दोस्त रणजीत सिंह ने बेचने के लिए दी है।
डबवाली सीआईए प्रभारी उपनिरीक्षक हवा सिंह ने बताया कि उनके नेतृत्व में डबवाली के बठिंडा चौक पर नाकाबंदी की हुई थी। इस दौरान पंजाब की तरफ से आई इस वरना कार को काबू किया गया तो गहन पूछताछ के दौरान आरोपी ने यह गाड़ी पंजाब के कोटकपूरा क्षेत्र में की गई लूटपाट के दौरान छीनी बताई और यह भी बताया कि उसके साथी रणजीत सिंह निवासी सलैचां थाना शाहकोट ने बेचने के लिए दी थी। रविवार को वह अपने बबानिया गांव से सिरसा के लिए चला था। आरोपी को सोमवार को एसडीजेएम महावीर सिंह की अदालत में पेश करके एक दिन का पुलिस रिमांड ले लिया।
उन्होंने बताया कि पुलिस रिमांड के दौरान औढां थाना क्षेत्र में 5 जनवरी की रात को बठिंडा के एलोपैथिक दवा एजेंट जतिन कीनरा की आई20 गाड़ी की लूट तथा डबवाली थाना के अन्तर्गत 17 दिसम्बर की सुबह एसआर पम्प मित्तल पेट्रो सर्विस शेरगढ़ के करिंदे से 70 हजार रूपये की नकदी लूटने की वारदातें भी सुलझ सकती हैं। पुलिस के अनुसार आरोपी से बरामद की गई वरना कार की सूचना कोटकपूरा पुलिस को दे दी गई है। पुलिस ने आरोपी के अन्य साथियों को गिरफ्तार करने के लिए प्रयास शुरू कर दिये हैं।
औढां और डबवाली थानों के अन्तर्गत लूटपाट की वारदाताओं को सुलझाने के लिए जिला पुलिस कप्तान सतेन्द्र गुप्ता ने छह टीमों का गठन किया हुआ है। जिसमें सीआईए सिरसा के इंस्पेक्टर किशोरी लाल, सीआईए डबवाली के उपनिरीक्षक हवासिंह, थाना शहर डबवाली के इंस्पेक्टर बलवन्त जस्सू, थाना सदर प्रभारी उपनिरीक्षक रतन सिंह, थाना औढां के इंस्पेक्टर हीरा सिंह, थाना कालांवाली के उपनिरीक्षक विक्रम नेहरा पर आधारित टीमें शामिल हैं।
पिस्तौल की नोक पर लूटी थी नकदी व वरना
9 जनवरी शाम 7 बजे थाना सदर कोटकपूरा के अन्तर्गत आने वाले गांव बरझराका के पास मुक्तसर के शराब ठेकेदार गौरव कुमार की कार को अज्ञात युवकों ने हथियारों के बल पर उस समय लूट लिया था जब कार चालक जगजीत सिंह निवासी मुक्तसर ठेके के करिंदों जगदीश, सोनू, बलविन्द्र के साथ कोटईसेखां के ठेका से साढ़े चार लाख रूपये की नकदी लेकर आ रहे थे।  थाना सदर पुलिस कोटकपूरा ने कार चालक के ब्यान पर साढ़े चार लाख रूपये की नकदी और कार लूटने व हवाई फायर करने के आरोप में अज्ञात युवकों के खिलाफ मामला दर्ज करके जांच का काम एसआई रूप चन्द को सौंप दिया था।

कोई टिप्पणी नहीं: