युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

20 नवंबर 2009

बोली न होने पर किसानों ने लगाया जाम

रानियां (लहू की लौ) धान की बोली सुचारू रूप से न होने से नाराज क्षेत्र के अनेक गांव के लोगों ने आज सुबह करीब साढ़े 11 बजे रानियां-सिरसा स्टेट हाईवे पर जाम लगा दिया। ग्रामीणों ने प्रशासन के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की।
इस मौके पर ढाणी सतनाम सिंह, नानू आना, गोबिंदपुरा, अभोली, नगराना आदि गांवों के ग्रामीणों कश्मीर सिंह, छिंद्रपाल, गुरबक्श सिंह, भागमल, रमेश चंद्र, माझीराम आदि ने आरोप लगाया कि अधिकारी बोली पर धान नहीं खरीदते बल्कि बाद में बिना बोली के ही धान बेचने पर दबाव बनाते हैं। उन्होंने बिना बोली के बिकवाली बंद करवाए जाने की मांग की। जाम की सूचना मिलने पर मार्केट कमेटी के सचिव मदन लाल सिहाग व एएसआई गुलजारी मौके पर पहुंचे और प्रदर्शनकारियों को आश्वस्त किया कि बोली सुचारू रूप से करवाई जाएगी। इस आश्वासन ग्रामीणों ने एक घंटे से लगाया गया जाम खोल दिया।

कोई टिप्पणी नहीं: