युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

02 अगस्त 2010

11 लाख की धोखाधड़ी का आरोपी कलकत्ता से काबू

सिरसा। जिला की शहर सिरसा पुलिस ने एसबीआई बैंक की मुख्य शाखा से 11 लाख रुपये की धोखाधड़ी करने वाले अरोपी को कलकत्ता से गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार किये हुए आरोपी की पहचान चंदन सिंह पुत्र विश्वानाथ निवासी 47 छप्पर महल, 24 परगना कलकत्ता के रूप में हुई है। आरोपी को आज मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में पेश कर रिमांड हासिल किया जाएगा, ताकि उसकी निशानदेही पर राशि बरामद की जा सके।
जानकारी के अनुसार एसबीआई बैंक की मुख्य शाखा के चीफ मैनेजर श्री एनके गुप्ता की शिकायत पर आरोपी चंदन सिंह के विरुद्ध 25 अगस्त 2008 को शहर थाना सिरसा में भादसं की धारा 420, 467, 468, 471 के तहत अभियोग दर्ज हुआ था। बैंक द्वारा दी गई शिकायत में बताया गया था कि उपरोक्त आरोपी ने सिरसा एचडीएफसी बैंक में विभिन्न तिथियों को फार्म भरकर एसबीआई मुम्बई के मिचुअल फंड के 22 चैक 50-50 हजार रुपये के फर्जी तैयार करके जमा करवाए गए। एचडीएफसी बैंक द्वारा पैसे क्रेडिट होने के लिए उक्त चैक एसबीआई मेन ब्रांच को सौंपे गये, जहां से 11 लाख रुपये क्रेडिट होकर आरोपी के खाते में जमा हो गये। आरोपी ने जमा हुए पैसे एटीएम द्वारा अपने खाते से कलकत्ता और पटना से निकलवा लिये।
शहर थाना पुलिस ने जांच का जिम्मा शहर के उपनिरीक्षक हंसराज बिश्रोई को सौंपा। उपनिरीक्षक हंसराज पर आधारित टीम आरोपी चंदन सिंह के गिरफ्तारी वारंट लेकर कलकत्ता पहुंची तथा महत्वपूर्ण सुराग जुटाते हुए उसको उसके घर से गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार कर कलकत्ता की संबंधित अदालत में पेश कर उसे राहदारी रिमांड पर सिरसा लाया गया। उपनिरीक्षक हंसराज ने बताया कि आरोपी चंदन सिंह को मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में पेश कर आज रिमांड हासिल किया जाएगा, ताकि धोखाधड़ी की राशि को उसकी निशानदेही पर बरामद किया जा सके।

कोई टिप्पणी नहीं: