युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

26 सितंबर 2009

डेरामुखी हुए अदालत में पेश

सिरसा (लहू की लौ) गुमनाम पत्र, रणजीत सिंह और पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्या कांड मामले में शनिवार को डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह सिरसा अदालत में पेश हुए और वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से सीबीआई की अंबाला स्थित अदालत में उपस्थिति दर्ज करवाई। छह घंटे तक चली सुनवाई में डेरा प्रमुख शामिल रहे। डेरा प्रमुख पेशी को लेकर शनिवार को अदालत परिसर पूरी तरह से छावनी में तबदील कर दिया गया। चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात किए गए और वाहनों को रोकने के लिए नाके लगाए गए। डेरा सच्चा सौदा के सेवादार भी सुरक्षा की कमान संभाले हुए थे। वाहनों की सघन जांच की जा रही थी। डेरा प्रमुख शनिवार की प्रात: साढे दस बजे अदालत में हाजिर हुए। वीडियो कांफेसिंग के माध्यम से उन्होंने अंबाला स्थित सीबीआई की अदालत में उपस्थिति दर्ज करवाई। बताया गया है कि शनिवार को गुमनाम पत्र, रणजीत सिंह और पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड के मामले में सुनवाई की गई। गुमनाम पत्र और रणजीत सिंह हत्याकांड मामले की सुनवाई के लिए अदालत ने अब छह अक्तूबर और छत्रपति हत्याकांड मामले में 24 अक्तूबर की तिथि निर्धारित की है। डेरा प्रमुख करीब साढे चार बजे अदालत से बाहर आए। डेरा प्रमुख के दर्शनों के लिए श्रद्धालु सड़क के दोनों ओर खड़े हुए थे।

कोई टिप्पणी नहीं: