युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

08 नवंबर 2010

हेडमास्टर सस्पेंड, टीचर डेपूटेशन पर

डबवाली (लहू की लौ) उपमण्डल डबवाली के गांव लम्बी में स्थित सरकारी मिडिल स्कूल के छात्रा छेड़छाड़ प्रकरण में आरोपी मुख्य अध्यापक को शिक्षा विभाग हरियाणा ने निलंबित करने के आदेश दिए हैं। जबकि एक अन्य अध्यापक को डेपूटेशन पर वहां से बाहर भेज दिया गया है।
गांव लम्बी के सरकारी माध्यमिक विद्यालय में 8वीं की छात्रा मनजीत कौर पुत्री डूंगर सिंह से छेड़छाड़ करने के आरोपी विद्यालय के मुख्याध्यापक मामराज को निलंबित करने और विद्यालय को स्टाफ के तबादले को लेकर ग्रामीण 29 अक्तूबर से ही स्कूल को ताला जड़े हुए थे। इस प्रकरण को लेकर आज ग्रामीण गांव के सरपंच ओमप्रकाश, पंच पाल सिंह, रामप्रताप, देवीलाल, बलदेव सिंह, डूंगर सिंह, रतन सिंह, रामकिशन, गोपीराम के नेतृत्व में धरना पर बैठे हुए थे। इसकी सूचना पाकर मंगलवार को मौका पर डीईओ आशा किरण, डिप्टी डीईओ यज्ञदत्त पहुंचे। उन्होंने पीडि़त लड़की, ग्रामीणों तथा अध्यापकों के ब्यान कलमबद्ध किए।
डीईओ आशा किरण ने जांच के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि इस मामले की जांच खण्ड शिक्षा अधिकारी डबवाली मंजू जैसवाल ने की थी और उस जांच रिपोर्ट के आधार पर ही हरियाणा शिक्षा निदेशालय चण्डीगढ़ ने आरोपी मुख्याध्यापक मामराज को निलंबित कर दिया है। उन्होंने बताया कि इसी जांच को आगे बढ़ाते हुए आज उन्होंने जांच की तो जांच के दौरान लड़की को सौंपे गए प्रेम पत्र की लिखावट आरोपी मुख्याध्यापक की लिखावट से मेल खाती हुई लग रही है। फिर भी जांच विशेषज्ञ से करवाई जाएगी। उन्होंने बताया कि ग्रामीणों की मांग पर विज्ञान अध्यापक भिन्द्र सिंह को डेपूटेशन पर लम्बी से बाहर भेज दिया गया है। ग्रामीणों को संतुष्ट करवाने का प्रयास करते हुए डीईओ ने ग्रामीणों को बताया कि मामराज के खिलाफ सख्त कार्रवाई कार्रवाई करते हुए 29 अक्तूबर से लेकर आज तक का उसका वेतन रोक दिया गया है और आगे भी विभागीय कार्रवाई जारी रहेगी। डीईओ के आश्वासन के बाद ग्रामीणों ने नरम होते हुए मंगलवार को स्कूल पर लगे ताले को खोल दिया। इस मौके पर पंचायत की शिकायत पर डीईओ ने स्कूल में कार्यरत कुक पर भी कार्रवाई करने का आश्वासन दिलाया।

कोई टिप्पणी नहीं: