युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

22 नवंबर 2014

एसडीएम से महिला बोली अच्छी तरह लगाओ झाडू

अग्रवाल धर्मशाला क्षेत्र में एसडीएम ने दो महिलाओं को पढ़ाया स्वच्छता का पाठ

डबवाली (लहू की लौ) स्वच्छता अभियान के दौरान शुक्रवार को एक महिला ने एसडीएम सतीश कुमार को सफाई कर्मी समझकर टोकना शुरू कर दिया। महिला बोली झाडू ठीक से लगाओ। इसका जवाब एसडीएम ने बिना कुछ बोले झाडू लगाते हुये बड़ी सादगी से दिया। झाडू बाले एसडीएम के बारे में पता चलने पर आलीशान बंगले की मालकिन भी दंग रह गई। सॉरी मांगने पर एसडीएम ने उसे क्षेत्र में स्वच्छता बनाये रखने का संदेश दिया।
वाक्य अग्रवाल धर्मशाला क्षेत्र का है। सुबह करीब 10 बजे एसडीएम सतीश कुमार स्वच्छता अभियान के तहत झाडू लगा रहे थे। इसी दौरान एक महिला बाहर आई। बिना कुछ देखे, समझे ही एसडीएम को टोकना शुरू कर दिया। बोली झाडू ठीक ढंग से लगाओ। कितनी गंदगी छोड़ रहे हो। बिना कुछ बोले एसडीएम अपना काम करते रहे, महिला के रौब का जवाब एसडीएम ने झाडू से गंदगी हटाकर दिया। सफाई में हाथ बंटा रहे लोक संपर्क विभाग के कर्मचारी प्रताप सिंह ने एसडीएम की पहचान करवाई। जिस पर महिला सॉरी फील करते हुये अपने बंगले में खिसकने लगी। एसडीएम ने उसे घर के चारों ओर सफाई रखने का संदेश दिया। बाद में मौका पर इक्ट्ठे हुये आस-पड़ौस के लोग एसडीएम की इस सादगी की चर्चा करते हुये देखे गये।
जब महिला ने पॉलीथीन एसडीएम के आगे फेंका
दरअसल एसडीएम ने स्वच्छता अभियान की शुरूआत मलोट रोड़ पर स्थित चौ. देवीलाल पार्क के सामने स्थित गली से की थी। लूना फेक्टरी क्षेत्र की सफाई करने के बाद वे आगे बढ़ रहे थे। इसी दौरान एक महिला ने घर के बाहर खड़ा होकर पॉलीथीन फेंका जो एसडीएम के ठीक आगे आकर गिरा। इस महिला ने अपने किये पर सॉरी फील किया। पॉलीथीन में बाजरी थी, जो पशुओं के खाने के लिये फेंकी गई थी। एसडीएम महिला को स्वच्छता का मंत्र देते हुये आगे बढ़ गये।
इस मौके पर वियोगी हरि शर्मा सहित नगर परिषद कर्मचारियों ने एसडीएम का साथ दिया। कुछ ही घंटों में पूरा क्षेत्र चकाचक हो गया।

कोई टिप्पणी नहीं: