युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

21 अप्रैल 2011

पुलिस थाना से महज 150 गज दूरी पर दिया वारदात को अंजाम चोरों ने उखाड़े शट्टर


डबवाली (लहू की लौ) चोरों ने पुलिस को चुनौती देते हुए सोमवार रात को थाना शहर से मात्र 150 गज की दूरी पर स्थित मोबाइल शॉप तथा करियाना स्टोर के शट्टर उखाड़ डाले। ऑन रोड़ पर स्थित इन दोनों दुकानों से हजारों रूपए का सामान चोरी किया। साथ लगती एक प्लाईवुड शॉप के शट्टर को भी चोरों ने तोडऩे का प्रयास किया। वारदात को अंजाम देने के बाद चोर बड़े आराम से फरार हो गए। जबकि शट्टर तोडऩे में प्रयुक्त किए गए हथियार वहीं छोड़ गए।
बठिंडा चौक से कोर्ट कॉम्पलैक्स को जाने वाली महत्वपूर्ण डिफेंस रोड़ अक्सर रात को चौबीस घंटे चलती है। इस रोड़ पर पुलिस गश्त के साथ-साथ बसों, ट्रकों का आना-जाना आम है। लेकिन इसके बावजूद भी बेखौफ चोरों ने चोरी को अंजाम देते हुए रोड़ पर स्थित प्रिंस टेलीकॉम तथा फर्म सतीश कुमार आशीष कुमार की करियाणा शॉप के शट्टर गैस बैल्डिंग के लिए प्रयुक्त होने वाले उपकरण तथा पेचकस के साथ उखाड़ दिए।
करियाना विक्रेता सतीश कुमार बब्बर (40) पुत्र महेंद्र पाल निवासी डबवाली ने बताया कि वे सोमवार रात को लगभग 9.30 बजे दुकान मंगल करके घर गये थे। मंगलवार सुबह करीब 5.30 बजे उसकी दुकान के साथ वाली गली के निवासी मास्टर सुरिंद्र सिंह ने मोबाइल करके बताया कि उसकी दुकान का शट्टर टूटा हुआ है। इस पर वह मौके पर पहुंचा। उसने इसकी सूचना पुलिस को दी। साथ में अपने पड़ौसी प्रिंस टेलीकॉम का शट्टर भी हटा होने के कारण इसकी जानकारी शॉप के मालिक पिं्रंस मोंगा को दी। वह भी मौका पर पहुंच गया। सतीश बब्बर ने बताया कि अज्ञात चोर उसकी दुकान से दस हजार रूपए कीमत का कॉस्मेटिक का सामान, पांच हजार रूपए कीमत की बीडी सिगरेट, 10 हजार रूपए कीमत का ड्राई-फ्रूट, जूस, विभिन्न प्रकार के ब्रांडेड तेल, फ्रिज में रखा हुआ कोल्ड ड्रिंक और करीब 700 रूपए की रेजगारी चुरा ले गए। उसका करीब 25 हजार रूपए का नुक्सान हुआ। टेलीकॉम मालिक प्रिंस मोंगा (35) निवासी डबवाली ने बताया कि अज्ञात चोर उसकी दुकान से 40 हजार रूपए कीमत के 40 मोबाइल, 10 हजार रूपए कीमत के 20 पुराने मोबाइल के साथ 20 हजार रूपए कीमत की असैसरी चुरा ले गए। इससे उसका करीब 70 हजार रूपए का नुक्सान हुआ।
चोरों ने इसके साथ ही तीसरी दुकान मैहता प्लाईवुड ट्रेडर्ज पर भी अपना दांव चलाने का प्रयास किया। लेकिन चोर दुकान के तालों को ही नुक्सान पहुंचा पाए। दुकान के मालिक अमित मैहता ने बताया कि चोर उसकी दुकान का शट्टर नहीं तोड़ पाए, जबकि शट्टर आदि तोडऩे के लिए प्रयोग किए जाने वाले उपकरणों को वे वहीं छोड़ गए। जिसमें पेचकस और गैस बैल्डिंग के लिए प्रयुक्त होने वाला सामान है।
चोरी की सूचना पाकर मौका पर एएसआई सतबीर सिंह दल बल के साथ पहुंचे और घटना का निरीक्षण किया। एएसआई ने कहा कि उन्होंने घटना का निरीक्षण कर लिया है। दुकानदार चोरी के सामान की लिस्ट और शिकायत देंगे तो अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं: