युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

21 अप्रैल 2011

शहर में फैला पीलिया


डबवाली (लहू की लौ) नगर में पीलिया रोग फैल गया है। इस रोग से पीडि़त व्यक्तियों के प्रतिदिन 20 से 25 मामले सामने आ रहे हैं। मौसम के आरंभ में मरीजों की संख्या सामान्य स्तर से बहुत अधिक होने से स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के माथे पर चिंता की लकीरें खिंच गई हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम सर्वे करने में जुट गई है।
यहां के सरकारी अस्पताल में रोजाना 10 से 15 मरीज इलाज के लिए आ रहे हैं। औसतन इतने ही मरीज बेहतर चिकित्सा सेवा के लिए निजी चिकित्सकों के यहां दाखिल हैं। यही नहीं यहां के सरकारी अस्पताल के स्टाफ के कुछ सदस्यों को भी पीलिया ने जकड़ा हुआ है। बड़ी संख्या में पीलिया के रोगी सामने आने से स्वास्थ्य विभाग में खलबली मची हुई है। रोग फैलने का कारण गंदे पानी की आपूर्ति और नगर में बिक रहे गले-सड़े खाद्य पदार्थों को माना जा रहा है। चूंकि पिछले काफी समय से नगर में गंदे पेयजल की आपूर्ति हो रही है। वहीं नगर में गले-सड़े खाद्य पदार्थ भी धड़ल्ले से बेचे जा रहे हैं।
स्वास्थ्य विभाग ने इस मामले  को गंभीरता से लेते हुए नगर के एक निजी अस्पताल में दाखिल पीलिया के मरीजों के क्षेत्रों का पता लगाकर उनमें सर्वे कराया। इन क्षेत्रों में जवाहर नगर, पुराना हनुमान मंदिर क्षेत्र, चौटाला रोड़ पर स्थित हैफेड गोदाम क्षेत्र, प्रेमनगर तथा लवकुश पार्क क्षेत्र शामिल हैं।
अस्पताल के कार्यकारी एसएमओ डॉ. एमके भादू ने स्वीकार किया कि इस बार पीलिया के ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। शहर में पीलिया रोग फैल गया है। प्रतिदिन करीब 10 से 15 मरीज अस्पताल में उपचार कराने के लिए पहुंच रहे हैं, जो सामान्य स्तर से बहुत अधिक हैं। उपरोक्त मामलों को ध्यान में रखते हुए हैल्थ सुपरवाईजर दर्शन सेठी को शहर का सर्वे कराने की कमान संभाली गई है। जनस्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी राजकुमार को साथ लेकर पानी के नमूने भी भरे जा रहे हैं।                                                                         यहां से भरे गए हैं पानी के सैम्पल
1. गुरू जम्भेश्वर नगर
2. अनाज मण्डी रोड़
3. पुराना हनुमान मंदिर के निकट
4. एकता नगरी की गली नं. 5
5. जीटी रोड़, नजदीक बाबा मनसा दास क्षेत्र से
6. सिविल अस्पताल में स्थित बूस्टिंग स्टेशन से
7. उत्तम नगर गली नं. 1 से
8. खाद्य एवं आपूर्ति कार्यालय क्षेत्र सेअब तक                                                                                                     यहां से मिले हैं रोगी
जवाहर नगर 1
पुराना हनुमान मंदिर क्षेत्र 5
हैफेड गोदाम क्षेत्र 2
प्रेम नगर 1
इसके अतिरिक्त गांव गंगा और गांव जोगेवाला से भी इस रोग का एक-एक केस सामने आया है।
(सरकारी आंकड़ों के अनुसार)

कोई टिप्पणी नहीं: