युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

03 फ़रवरी 2011

बदमाशों ने लूटा पेट्रोल पंप


डबवाली (लहू की लौ) यहां से 16 किलोमीटर दूर किलियांवाली-अबोहर मार्ग पर पंजाब के गांव भीटीवाला में मंगलवार की रात को अज्ञात तेजधार हथियारों से लैस लुटेरे पेट्रोल पम्प से एक लाख 82 हजार रूपये की नकदी लूट कर फरार हो गये। लुटेरों ने पम्प के करिंदों तथा पम्प पर तेल डलवाने आये लोगों से भी मारपीट करके 4 जनों को घायल कर दिया।
मंगलवार रात को करीब 8.30 बजे किलियांवाली-अबोहर रोड़ पर थाना लम्बी अन्तर्गत पडऩे वाले गांव भीटीवाला में स्थित सतगुरू फिलिंग स्टेशन पर गांव की साईड से आसमानी रंग की इंडिका कार आई। जिसमें सवार युवकों में से एक ने 600 रूपये का तेल पम्प के करिंदे हरचन्द सिंह (24) को डालने के लिए कहा। तेल डालने के बाद युवक कार से नीचे उतर आये और हरचन्द सिंह के सीने से तलवार लगा कर उसे पम्प के कैबिन में ले गये। वहां पर पहले से ही पम्प का एक अन्य करिंदा गुरजन्ट सिंह तथा एक प्राईवेट बस चालक कुलवन्त सिंह (36) मौजूद था। लुटेरों ने कैबिन को भीतर से बन्द कर लिया और उन तीनों पर तेजधार हथियारों से हमला करते हुए नकदी उनके हवाले करने के लिए कहा। भयभीत करिंदों ने साथ लगते कमरे में स्थित नकदी वाली अलमारी की चाबी लुटेरों को सौंप दी। लुटेरों ने अलमारी में रखी एक लाख 82 हजार रूपये की राशि निकाल ली तथा तीनों को चोटें मारने के बाद कमरे में बन्द करके फरार हो गये।
पम्प के करिंदे गुरजन्ट सिंह (35) निवासी मोढ़ीखेड़ा ने बताया कि लुटेरे इस दौरान उनसे नकदी के साथ-साथ मोबाइल भी छीन ले गये। वह कमरे की खिड़की खोल कर बाहर निकले तो उन्होंने देखा कि पम्प पर एक व्यक्ति घायल पड़ा है। घायल व्यक्ति ने अपना नाम संजय जाखड़ (38) निवासी हरिपुरा बताया। जाखड़ ने यह भी बताया कि वह पम्प पर ट्रेक्टर में तेल डलवाने के लिए आया था और उन्हें पम्प के बाहर न देख कर फोन मिला रहा था कि कैबिन निकले हथियारबंद युवकों ने उसका मोबाइल छीन लिया और उस पर तलवार से हमला कर दिया। गुरजन्ट ने बताया कि इस घटना के बाद वह लोग गांव भीटीवाला में गये और एक किसान का मोबाइल लेकर घटना की सूचना पम्प आपरेटर जीवन बांसल को दी।
सूचना पाकर मौका पर पहुंचे जीवन बांसल, प्रीतम बांसल निवासी डबवाली ने बताया कि उन्होंने गांव भीटीवाला में लगे इंडियन ऑयल के सतगुरू फिलिंग स्टेशन को जूही बांसल पत्नी पवन बांसल से आपरेट करने के लिए लिया हुआ है। उन्होंने मौका पर पहुंच कर इसकी सूचना थाना लम्बी में दी। सूचना मिलते ही थाना लम्बी प्रभारी हरिन्द्र ङ्क्षसह चमेली अपने दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। घायलों को उन्होंने लम्बी के सरकारी अस्पताल में पहुंचाया। बाद में उनकी गंभीर हालत को देखते हुए बादल के सिविल अस्पताल में रैफर कर दिया। जबकि संजय जाखड़ के अभिभावक उसे संगरिया के एक प्राईवेट अस्पताल में ले गये।
थाना लम्बी प्रभारी हरिन्द्र सिंह चमेली ने बताया कि घायल गुरजन्ट सिंह के ब्यान पर अज्ञात लुटेरों के खिलाफ धारा 397 आईपीसी के तहत केस दर्ज करके मामले की जांच शुरू कर दी है।

लुटेरों की तालाश में चार टीमें गठित
डबवाली (लहू की लौ) जिला मुक्तसर के गांव भीटीवाला में मंगलवार रात को इंडियन ऑयल के पम्प सतगुरू फिलिंग स्टेशन पर लूट की घटना के बाद जिला की पुलिस हरकत में आ गई है। बुधवार सुबह एसएसपी इन्द्रमोहन सिंह मुक्तसर तथा डीएसपी मुखविन्द्र सिंह भुल्लर मलोट ने घटनास्थल का निरीक्षण करके लुटेरों की तालाश के लिए चार टीमों का गठन कर दिया है।
जिला पुलिस कप्तान इन्द्रमोहन सिंह ने घटनास्थल का निरीक्षण करने बाद इस संवाददाता से बातचीत करते हुए बताया कि लुटेरों को पकडऩे के लिए जिला भर की पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है। लुटेरों की तालाश के लिए चार टीमें गठित की गई हैं। जिनमें डीएसपी मलोट मुखविन्द्रपाल सिंह भुल्लर, सीआईए मुक्तसर के प्रभारी एसआई गुरिन्द्रजीत सिंह, थाना लम्बी प्रभारी हरिन्द्र सिंह चमेली, किलियांवाली चौकी प्रभारी एएसआई कश्मीरी लाल की टीम शामिल हैं। इस संबंध में संदिग्ध स्थानों पर इन टीमों द्वारा छापामारी जारी है। एसएसपी ने बताया कि पम्प करिंदे गुरजन्ट सिंह, हरचन्द सिंह से पूछताछ के दौरान पता चला है कि लुटेरे पंजाबी बोलते थे और कुर्ता पायजामा पहने हुए थे। लुटेरों की आयु 15-25 वर्ष के बीच की थी। उनमें एक युवक को प्रिंस के नाम से लुटेरे आपसी बातचीत के दौरान सम्बोधित कर रहे थे।
बुधवार शाम को फिंगर एक्सपर्ट हवलदार जसविन्द्र सिंह मुक्तसर ने भी मौका पर पहुंच कर घटनास्थल पर फिंगर के निशान लिये।

कोई टिप्पणी नहीं: