युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

13 सितंबर 2009

हिंदी को आमजन की भाषा बनाने में भागीदारी निभाएं: मुख्यमंत्री

जयपुर, 13 सितंबर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शासन-प्रशासन और सेवाभावी संगठनों सहित सभी नागरिकों का आव्हा्न किया है कि वे हिंदी भाषा को हर स्तर पर व्यवहार में अपनाने का संकल्प लें, जिससे हिंदी आम जन की भाषा बन सके। गहलोत ने हिंदी दिवस पर जारी अपने संदेश में प्रदेशवासियों को हार्दिक बघाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा कि हमारी संविघान निर्मात्री सभा द्वारा हिंदी को राजभाषा बनाने की घोषणा आज से 60 वर्ष पहले 14 सितंबर, 1949 को की गई थी। इन छह दशकों में हिंदी का प्रयोग निरंतर बढा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आवश्यकता इस बात की है कि सूचना, संचार, आविष्कार, विज्ञान एवं तकनीक के क्षेत्र में भी हिंदी का प्रयोग अघिकाघिक हो। उन्होंने आशा व्यक्त की है कि हिंदी दिवस पर होने वाले कार्यक्रम इस भाषा के व्यापक प्रचार-प्रसार में सहायक होंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: