युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

15 सितंबर 2009

हत्या प्रकरण में नया मोड़

औढ़ां (जितेन्द्र गर्ग) खंड के गांव चोरमार में एक कलयुगी मां द्वारा अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने युवा पुत्र की हत्या करने के मामले ने एक नया मोड ले लिया है क्योंकि सुक्खा सिंह की हत्या करने में उसका सगा भाई जसमीत सिंह भी शामिल था। यह जानकारी देते हुए थाना प्रभारी हीरा सिंह ने बताया कि हत्यारिन मां मलकीत कौर व उसके प्रेमी चरणजीत ने अपना अपराध स्वीकार करने के साथ साथ यह भी बताया कि सुक्खा सिंह को मारने के लिए घास को नष्ट करने वाली स्प्रे जसमीत सिंह लाया था और वो भी इस साजिश में शामिल था। थाना प्रभारी ने बताया कि इन तीनों अभियुक्तों ने बैठकर योजना बनाई कि सुक्खा सिंह को रास्ते से कैसे हटाया जाए और जसमीत सिंह ने सुझाव दिया कि शराब में स्प्रे मिलाकर देने से उसे मारा जा सकता है। योजना के अनुसार शुक्रवार की रात को उन लोगों ने सुक्खा सिंह को शराब में स्प्रे मिलाकर पिला दी लेकिन फिर भी उसके प्राण न निकले तो जसमीत सिंह ने उसकी टांगे पकड़ी और मां ने हाथ तथा चरणजीत ने उसका गला घोंट दिया। ओढ़ां पुलिस ने आज जसमीत सिंह को गिरफ्तार कर लिया और मलकीत कौर व चरणजीत को डबवाली की अदालत में पेश करके पूछताछ के लिए एक दिन के रिमांड पर ले लिया है।

कोई टिप्पणी नहीं: