युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

15 सितंबर 2009

अपराधों के खिलाफ तीन राज्यों की पुलिस एकजुट

डबवाली (लहू की लौ) पंजाब, हरियाणा और राजस्थान के सीमावर्ती जिलों में अपराध पर रोक लगाने, पुलिस का आपसी सहयोग तथा तालमेल बढ़ाने और हरियाणा में हो रहे विधानसभा चुनाव में अपराधी किसी वारदात को अंजाम न दे सकें। इन सब मुद्दों को लेकर डबवाली के थाना शहर में तीनों राज्यों की अन्तर जिला पुलिस बैठक का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता डबवाली के डीएसपी बलवीर सिंह ने की। इस बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए डीएसपी डबवाली बलवीर सिंह ने बताया कि अन्तर जिला पुलिस अधिकारियों की इस बैठक में पुलिस के आपसी तालमेल सम्बन्धी कई मामले उठे और हरियाणा में हो रहे विधानसभा चुनाव में मद्देनजर शान्ति बनाये रखने के लिए जिला सिरसा के साथ लगते पंजाब एवं राजस्थान क्षेत्र के उन अपराधियों की सूची तैयार करना जो इन दिनों सक्रिय हैं या चुनाव के समय सक्रिय हो सकते हैं। उन्होंने यह भी बताया कि चुनाव में गड़बड़ी के लिए बदमाश साथ लगते पंजाब के बठिण्डा या फिर राजस्थान के संगरिया व हनुमानगढ़ के होटलों को अपने अड्डे न बना सकें, इसके लिए कुछ स्थानों को संदेह के घेरे में लिया गया है और वहां पर सम्बन्धित पुलिस निगह रखे और उनकी योजनाओं की जानकारी का आदान-प्रदान करे। इस मौके पर पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि अक्तसर चुनावों के दौरान पोस्त और शराब जैसे नशों की तस्करी बढ़ जाती है, इन पर लगाम कसने के लिए बैठक में विचार-विमर्श हुआ और साथ में यह भी चिन्हित किया गया कि तस्कर कहां से सामान लाते हैं और उसकी आपूर्ति करते हैं। बैठक के दौरान संगरिया के डीएसपी रामजी लाल चंदेल ने प्रश्न उठाया कि अवैध रूप से शराब बनती हरियाणा में है और बिकती राजस्थान में है। यह शराब मिलावटी होती है और इससे कोई भी बड़ा कांड हो सकता है। इसे भी रोका जाना चाहिए। बैठक का उद्देश्य बताते हुए डीएसपी बलवीर सिंह ने बताया कि सिपाही से लेकर थाना प्रभारी तक को अपराधियों और अपराधियों द्वारा अपराध करने के ढंग तथा साथ लगते जिलों के क्षेत्र की भौगोलिक स्थिति का ज्ञान हो, इस सम्बन्धी बैठक में चर्चा की गई। उनके अनुसार बैठक में संवेदनशील क्षेत्रों की पहचान कर ली गई है और वहां पर नाके भी स्थापित किये जा रहे हैं। बैठक में पंजाब, हरियाणा और राजस्थान के सीमावर्ती जिलों के पुलिस अधिकारियों के साथ अपराधिक मामलों के सम्बन्ध में सूचनाओं का आदान प्रदान करने के लिए गठित कोर्डिनेशन कमेटी के सदस्यों ने भी भाग लिया। इस कोर्डिनेशन कमेटी के तहत तीनों राज्यों के 11 जिले आते हैं। जिनमें हरियाणा के सिरसा, फतेहाबाद और हिसार, राजस्थान के हनुमानगढ़, गंगानगर, पंजाब के बठिण्डा, मानसा, मोगा, मुक्तसर, फिरोजपुर आदि जिले आते हैं। इस बैठक में पंजाब पुलिस के प्रतिनिधि के रूप में बठिण्डा के डीएसपी एच.एस. रंधावा, राजस्थान पुलिस के प्रतिनिधि के रूप में संगरिया के डीएसपी रामजी लाल चंदेल और हरियाणा पुलिस के प्रतिनिधि के रूप में डबवाली के डीएसपी बलवीर सिंह उपस्थित थे। इसके अतिरिक्त सीआईए सिरसा से इंस्पेक्टर किशोरी लाल, थाना शहर डबवाली के प्रभारी वीरेन्द्र सिंह, थाना सदर डबवाली के प्रभारी भगवान दास, डिंग, सिरसा, ऐलनाबाद, कालांवाली के थाना प्रभारी भी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: