युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

06 जून 2011

गांधी चौक पर अभय चौटाला ने सरकारी अधिकारियों को धोया

डबवाली (लहू की लौ) ऐलनाबाद के विधायक तथा इनेलो के वरिष्ठ युवा नेता अभय सिंह चौटाला ने कहा कि हरियाणा में भ्रष्टाचार, लूटपाट, मर्डर, बलात्कार की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। जिसके चलते लॉ एण्ड ऑर्डर की स्थिति प्रशासन और पुलिस अधिकारियों की मिलीभगती के चलते बिगड़ रही है।
वे शनिवार देर शाम को इनेलो के जन जागरण अभियान के तहत शहर के गांधी चौक में आयोजित एक नुक्कड़ सभा में उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने जिला सिरसा पुलिस और प्रशासन की जमकर खिंचाई करते हुए कहा कि अधिकारी जिला में लोगों की समस्याओं की तरफ ध्यान न देकर कांग्रेस के एजेंट के तौर पर काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस समय राज्य की हालत इतनी दयनीय हो चुकी है कि बिजली और पानी जैसी मूलभूत सुविधाओं से भी लोग वंचित चले आ रहे हैं। सरकार ने गांवों में बिजली के पोल लगा दिए, तारें डाल दी और चौबीस घंटे बिजली देने का वायदा किया। लेकिन उन्हें दो घंटे ही बिजली मुश्किल से मिल पा रही है। यही हालत शहरों की है।
चौटाला ने नगर की समस्याओं को उठाते हुए और डॉ. केवी सिंह का नाम लेते हुए कहा कि वह अपने चहेतों को प्रशासन से ठेके दिलाकर मोटा कमीशन वसूल रहा है। इन ठेकों के लिए कांग्रेसी आपस में लड़-झगड़ रहे हैं। इस बंदरबांट के चलते ही कांग्रेस को नपा चेयरमैन की कुर्सी खोनी पड़ी। अब जब इस कुर्सी पर इनेलो का चेयरमैन बनना तय है, तो प्रशासन कांग्रेस का एजेंट बनकर इसका चुनाव ही नहीं करवा रहा। उन्होंने कहा कि डबवाली नगर के लोगों को स्वच्छ पानी मिलना तो दूर बल्कि उन्हें गंदे पेयजल की आपूर्ति करके प्रशासन जनता को बीमार करने पर तुला हुआ है। इस अवसर पर जिला परिषद के चेयरमैन डॉ. सीता राम, राधेराम गोदारा, रणवीर सिंह राणा, डॉ. गिरधारी लाल, एडवोकेट कुलदीप सिंह सिधू, संदीप सिंह सन्नी गंगा, सर्वजीत सिंह मसीतां, विनोद अरोड़ा, दर्शन मोंगा, महेंद्र डूडी, प्रहलाद राय, टेकचन्द छाबड़ा,  लवली मैहता, केशो राम गुप्ता, नरेश मित्तल, सुरेंद्र छिंन्दा, सुभाष मित्तल, सुखविंद्र सरां, गुलजिंद्र सोना, केके सेठी, नरेंद्र बराड़, हरभगवान मैहता, ईश्वर देवी कटारिया, राकेश शर्मा, सीता देवी, पुष्पा दैड़ान, राजा पेन्टर, काका मोंगा, दीपक बागड़ी, धुनीदास गर्ग, अमरनाथ बागड़ी, लभू सेठी, महावीर सहारण, रिंका सेठी, परमजीत बराड़, जग्गा बराड़, हरबिलास निरंकारी, जगदीश अरोड़ा, नसीब गार्गी, बनी, भोला फौजी, रवि मैहता आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: