युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

17 जनवरी 2011

स्मार्ट कार्ड के बदले पेंशन धारकों से ऐंठे जा रहे पैसे

संवाददाता डीडी गोयल

(93567-22045)

डबवाली। प्रदेश सरकार की ओर से पेंशन धारकों को फ्री में दिए जाने वाले स्मार्ट कार्ड के बदले पैसे वसूलने का सनसनीखेज मामला सामने आया है।
हरियाणा सरकार ने पेंशन घोटालों को रोकने के लिए पेंशन धारकों के नि:शुल्क स्मार्ट कार्ड बनाने की योजना शुरू की थी। राज्य में स्मार्ट कार्ड बनाने का ठेका सरकार ने एक्सीज बैंक को दिया। योजना के अंतर्गत पिछले दिनों जिला सिरसा में भी पेंशन धारकों के स्मार्ट कार्ड बनने शुरू हुए। तैयार हुए कार्डों को पेंशन धारकों को बांटने के लिए एक्सीज बैंक ने जिला में अपना कार्य शुरू कर रखा है। इसी के तहत रविवार को शहर के कम्युनिटी हाल में वार्ड नं. ३ के पेंशन धारकों को स्मार्ट कार्ड बांटे जाने का कार्यक्रम था। स्मार्ट कार्ड बांटने के लिए उक्त बैंक की ओर से आए दो युवकों ने पेंशन धारकों से कार्ड के बदले बीस-बीस रूपए लेने शुरू कर दिए। सूचना पाकर यह संवाददाता भी मौका पर पहुंचा और जांच शुरू कर दी।
वार्ड नं. ३ का बशिंदा बनकर गए इस संवाददाता ने स्मार्ट कार्ड वितरित कर रहे ऑपरेटर मनप्रीत और गुड्डू से स्मार्ट कार्ड योजना के बारे में जानकारी जुटानी शुरू की। ऑपरेटरों ने बताया कि जिला के अन्य स्थानों की भांति डबवाली शहर में भी एक्सीज बैंक की ओर से पेंशन धारकों को स्मार्ट कार्ड वितरित किए जा रहे हैं। डबवाली के पेंशन धारकों को स्मार्ट कार्ड बांटने के लिए उनकी डयूटी लगी है। करीब आधा दर्जन वार्डों के पेंशन धारकों को उन्होंने कार्ड वितरित भी कर दिए हैं। प्रत्येक कार्ड के बदले पेंशन धारक से २०-२० रूपए लिए जा रहे हैं। शनिवार को वार्ड नं. २ में भी पेंशन धारकों से २०-२० रूपए लिए गए हैं। स्मार्ट कार्डों के वितरण से प्राप्त हुई राशि को वे सिरसा में एक्सीज बैंक की ओर से इस योजना के प्रभारी के पास जमा करवा देते हैं। पूरा रंग जमने के बाद संवाददाता ने जब सरकार की इस योजना से ऑपरेटर को परिचित करवाया और नजायज तरीके से वसूले जा रहे २०-२० रूपए का मुद्दा उठाया, तो ऑपरेटर हक्के-बक्के रह गए। ऑपरेटर मनप्रीत और गुड्डू ने बताया कि वे योजना के जिला प्रभारी के आदेश पर ही ऐसा कर रहे हैं।
मौका पर उपस्थित वार्ड नं. ३ के पार्षद सुभाष मित्तल ने बताया कि एक्सीज बैंक की ओर से आए दो ऑपरेटरों द्वारा स्मार्ट कार्ड के बदले पेंशन धारकों से पैसे वसूले जा रहे थे। उन्होंने योजना की जानकारी सिरसा स्थित एडीसी ऑफिस से जुटाई। उन्हें बताया गया है कि योजना के तहत स्मार्ट कार्ड के बदले कोई पैसा नहीं लिया जाता। इस मामले से उन्होंने उपमण्डलाधीश डॉ. मुनीश नागपाल को अवगत करवाया है।
इस संदर्भ में जब उपमण्डलाधीश डॉ. मुनीश नागपाल से बातचीत की गई तो उन्होंने बताया कि उपरोक्त मामले के संबंध में उन्हें मौखिक तौर पर शिकायत मिली है। स्मार्ट कार्ड के बदले पेंशन धारकों से पैसे एकत्रित कर रहे एक्सीज बैंक के ऑपरेटरों को पैसे लेने संबंधी सरकार द्वारा जारी किए गए नियमों को पेश करने के लिए कहा है। मामले की जांच की जाएगी। सरकारी नियमों के विपरीत कार्य करने वाले व्यक्ति पर कार्रवाई की जाएगी।
इधर एक्सीज बैंक की ओर से जिला सिरसा में योजना का कार्य देख रहे पाला राम ने कहा कि सरकारी नियमों के अनुसार स्मार्ट कार्ड के बदले पेंशन धारकों से पैसे लिए जाने का प्रावधान नहीं है। ऑपरेटरों ने गलती से स्मार्ट कार्ड के बदले पैसे इक्ट्ठे किए हैं। पेंशन धारकों से इक्ट्ठे किए गए पैसे सोमवार को वापिस कर दिए जाएंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: