युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

20 जनवरी 2011

बिना ढके मिट्टी से भरी ट्राली चलाई, तो खैर नहीं

डबवाली (लहू की लौ) शहर में मिट्टी ढोने का कार्य करने वाले बिना ढके टै्रक्टर-ट्रालियां चलाने वालों की अब खैर नहीं है, क्योंकि कोई भी मिट्टी से भरी टै्रक्टर-ट्राली यदि शहर में चलती पाई गई तो उन ट्रैक्टर-ट्रालियों को जब्त कर चालकों व मालिकों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाएगी।
इस संबंध में उपायुक्त सीजी रजिनीकांथन ने संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए है कि वे सुनिश्चित करें कि पूरे जिले में कोई भी मिट्टी आदि से भरी टै्रक्टर-ट्राली बिना ढके न चल पाए। प्राय: देखने में आया है कि इस प्रकार के टै्रक्टर-ट्रालियोंंं चालक ज्यादा स्पीड से अपना वाहन चलाते है जिससे सड़कों पर मिट्टी गिरने के साथ-साथ उड़ती भी रहती है, जो सड़क पर चलने वाले आम व्यक्तियों के लिए कठिनाई का कारण बनती है। उन्होंने बताया कि इन टै्रक्टर-ट्रालियों से उडऩे वाली मिट्टी हवा में फैलती है जो विभिन्न बीमारियों का कारण भी बनती है। एक तो इससे पर्यावरण में वायु प्रदूषण होता है, दूसरी ओर विभिन्न प्रकार की बीमारियां फैलने का भी खतरा बना रहता है। उन्होंने सभी टै्रक्टर-ट्राली के चालकों और मालिकों से अपील की है कि वे अपने मिट्टी से भरे वाहनों को तिरपाल आदि से ढक कर ही एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाए। इसके साथ-साथ जिला के विभिन्न स्थानों पर अवैध रुप से चल रहे पिटर रेहड़ों पर भी रोक लगाने के लिए यातायात विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए है। यदि कोई भी पीटर रेहड़ा जिला की किसी भी सड़क पर चलता पाया गया तो उसे भी जब्त कर पिटर रेहड़ा मालिक के खिलाफ कार्यवाही  की जाएगी।
उपायुक्त ने कहा कि टै्रक्टर-ट्राली चालक जो मिट्टी या भूसा ढोने आदि का कार्य करते है वे अपने टै्रक्टर-ट्रालियों पर रिफलैक्टर आदि अवश्य लगवाए जिससे पीछे व आगे से क्रॉस करने वाले वाहनों को सुविधा होती है। यदि कोई वाहन चालक ऐसा नहीं करता है तो उसके खिलाफ भी कार्यवाही की जाएगी और वाहन का चालान किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि जिला में पडऩे वाले शहरों, कस्बों और नैशनल हाईवे, स्टेट हाईवे तथा अन्य मार्गो पर यातायात व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा। राष्ट्रीय राजमार्ग पर पडऩे वाले गांवों में सड़क सुरक्षा के लिए ठोस कदम उठाए जाएंगे। इन सभी गांव में जेबरा क्रॉसिंग, कैट आई तथा विभिन्न प्रकार के चेतावनी संबंधी बोर्ड लगाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय राजमार्ग के दोनों किनारों पर पडऩे वाले बर्म आदि को ठीक करवाया जाएगा तथा विभिन्न मार्गों पर सड़क सुरक्षा से संबंधित विभिन्न इशारों को दर्शाते हुए बोर्ड भी लगाए जाएंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: